बेनामी संपत्ति क्या है और ये हमारी अर्थव्यवस्था को कैसे प्रभावित कर र है हैं?...


user

CA. Ankush Sharma

Chartered Accountant

1:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए बेनामी संपत्ति को अगर परिभाषित किया जाए तो बेनामी संपत्ति ऐसी संपत्ति होती है जो नाम तो किसी और के होती है लेकिन उसका भुगतान उसका जो पेमेंट है वह किसी और के द्वारा किया जाता है जैसे इसका उपयोग ज्यादातर लोग अपने स्वार्थ के लिए करते हैं एक पर्टिकुलर व्यक्ति ज्यादा इन्वेस्टमेंट या ज्यादा प्रॉपर्टी नहीं खरीद सकता अगर उसके पास नंबर 1 का पैसा नहीं है तो तू इस तरह से वह क्या करता है अपने दोस्त यार परिवार वालों के नाम के ऊपर प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री कर आता है प्रॉपर्टी खरीदते है जिसका भुगतान में खुद करता है और दूसरे पक्ष को कई बार पता भी नहीं होता है कि मेरे नाम पर यह प्रॉपर्टी है या प्रॉपर्टी कहीं भी है तो इसके लिए क्या करते हैं इसे इसे हम बेसिकली बेनामी प्रॉपर्टी के संपत्ति कहते हैं इसके लिए सरकार ने कुछ कड़े कानून बनाए हुए हैं जो 2016 से लागू हुए जिसमें 7 साल तक की सजा और जो संपत्ति की मार्केट वैल्यू होगी शेयर मार्केट वैल्यू उसका 25% तक का मॉनिटर टाइम्स में जुर्माना देना पड़ेगा यह बेसिकली उन लोगों के लिए होते हैं उन लोगों के द्वारा की जा किया जाने वाला कार होता है जिनके पास नंबर 2 का पैसा होता है जो लीगली इन वेस्ट नहीं कर सकते संपत्ति में तो वह नंबर दो का पैसा दूसरे किसी के नाम पर इन्वेस्ट करते हैं भविष्य में हूं उसको पैसा बेस्ट प्रॉपर्टी बेचकर पैसा निकालकर जो भी है वह इस तरह से अपना एक क्रिया उनकी प्रक्रिया चलती रहती है इसी बेनामी संपत्ति के अंदर यह सारी चीजें आती है यह बहुत सारी जब ट्रांजैक्शन बड़े तो सरकार ने एक्ट को इसको जो 1988 का बेनामी संपत्ति एक था उसको मजबूत किया और इसमें बहुत कड़े प्रावधान डाले गए

dekhiye benami sampatti ko agar paribhashit kiya jaaye toh benami sampatti aisi sampatti hoti hai jo naam toh kisi aur ke hoti hai lekin uska bhugtan uska jo payment hai vaah kisi aur ke dwara kiya jata hai jaise iska upyog jyadatar log apne swarth ke liye karte hain ek particular vyakti zyada investment ya zyada property nahi kharid sakta agar uske paas number 1 ka paisa nahi hai toh tu is tarah se vaah kya karta hai apne dost yaar parivar walon ke naam ke upar property ki registry kar aata hai property kharidte hai jiska bhugtan mein khud karta hai aur dusre paksh ko kai baar pata bhi nahi hota hai ki mere naam par yah property hai ya property kahin bhi hai toh iske liye kya karte hain ise ise hum basically benami property ke sampatti kehte hain iske liye sarkar ne kuch kade kanoon banaye hue hain jo 2016 se laagu hue jisme 7 saal tak ki saza aur jo sampatti ki market value hogi share market value uska 25 tak ka monitor times mein jurmana dena padega yah basically un logo ke liye hote hain un logo ke dwara ki ja kiya jaane vala car hota hai jinke paas number 2 ka paisa hota hai jo ligli in west nahi kar sakte sampatti mein toh vaah number do ka paisa dusre kisi ke naam par invest karte hain bhavishya mein hoon usko paisa best property bechkar paisa nikalakar jo bhi hai vaah is tarah se apna ek kriya unki prakriya chalti rehti hai isi benami sampatti ke andar yah saree cheezen aati hai yah bahut saree jab transaction bade toh sarkar ne act ko isko jo 1988 ka benami sampatti ek tha usko majboot kiya aur isme bahut kade pravadhan dale gaye

देखिए बेनामी संपत्ति को अगर परिभाषित किया जाए तो बेनामी संपत्ति ऐसी संपत्ति होती है जो नाम

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  479
KooApp_icon
WhatsApp_icon
20 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!