न्याय प्रक्रिया में 'लाई डिटेक्टर' मशीन को इस्तेमाल क्यों नहीं किया जाता?...


user

Ansh jalandra

Motivational speaker

0:20
Play

Likes  106  Dislikes    views  2098
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

shubham dadheech

Motivational counsellor

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए न्याय व्यवस्था में कुछ केस ऐसे होते हैं जाए जहां लाई डिटेक्टर मशीन का इस्तेमाल नहीं होता अलाइव ट्रैक्टर मशीन का मतलब यह होता है कि एक झूठ पकड़ने वाली मशीन होती है जो इंसान या अपराधियों के हाव भाव पहचान करके एक सटीक आपको प्रमाण देती है कि वह झूठ बोल रहा है यह सही बोल रहा है देखिए यह वहां काम आती है जहां कोई मिस्ट्री कॉल करनी है जहां कोई धोखेबाजी हुई हो जा घोटाले हुए हो जो मर्डर हुआ वह जहां पर अपहरण हुआ हो क्या बहुत ही गंभीर मामला हो तो वहां लाइट ट्रैक्टर टेस्ट काम आता है अगर कोई गवाह झूठ रोटी का बयान बाजी कर रहा है और सचिन और आपको जानना है तो और वहां लाई डिटेक्टर टेस्ट काम आता है लेकिन इसके लिए आपको या वकील को यह पुलिस को कोर्ट से परमिशन लेनी होती है क्योंकि यह हर जगह आप इस्तेमाल नहीं कर सकते क्योंकि कोशिश के भी नियम कायदे हैं लेकिन जहां तक बात है अगर आप से चाहेंगे की अदालत में कंपलसरी रुप से लागू हो तो वह पॉसिबल नहीं है जो हमारी न्याय व्यवस्था है उसमें इफेक्ट यह है कि जब भी केस शुरू होता है तो वकील अपनी दलील देते हैं कब वापस होते हैं और गवाहों के बयान होते हैं और वकीलों के जो तर्क होते हैं उनके दोस्त बहुत होते हैं उसको सुनकर जज अपने विवेक से फैसला देता तो उसके लिए आपको मुझे लगता है कि भारत का जो सफेद संविधान है यह भारत की जो न्याय प्रणाली है जितने भी कानून हैं आपको जाना चाहिए और इसके लिए आपको भारत के जो कानून के जो अब एक्सपोर्ट्स है उनसे भी सलाह जरूर लेनी चाहिए

dekhiye nyay vyavastha mein kuch case aise hote hain jaaye jaha lai detector machine ka istemal nahi hota alive tractor machine ka matlab yah hota hai ki ek jhuth pakadane wali machine hoti hai jo insaan ya apradhiyon ke hav bhav pehchaan karke ek sateek aapko pramaan deti hai ki vaah jhuth bol raha hai yah sahi bol raha hai dekhiye yah wahan kaam aati hai jaha koi mystery call karni hai jaha koi dhokhebaji hui ho ja ghotale hue ho jo murder hua vaah jaha par apahran hua ho kya bahut hi gambhir maamla ho toh wahan light tractor test kaam aata hai agar koi gavah jhuth roti ka bayan baazi kar raha hai aur sachin aur aapko janana hai toh aur wahan lai detector test kaam aata hai lekin iske liye aapko ya vakil ko yah police ko court se permission leni hoti hai kyonki yah har jagah aap istemal nahi kar sakte kyonki koshish ke bhi niyam kayade hain lekin jaha tak baat hai agar aap se chahenge ki adalat mein compulsory roop se laagu ho toh vaah possible nahi hai jo hamari nyay vyavastha hai usme effect yah hai ki jab bhi case shuru hota hai toh vakil apni dalil dete hain kab wapas hote hain aur gavahon ke bayan hote hain aur vakilon ke jo tark hote hain unke dost bahut hote hain usko sunkar judge apne vivek se faisla deta toh uske liye aapko mujhe lagta hai ki bharat ka jo safed samvidhan hai yah bharat ki jo nyay pranali hai jitne bhi kanoon hain aapko jana chahiye aur iske liye aapko bharat ke jo kanoon ke jo ab exports hai unse bhi salah zaroor leni chahiye

देखिए न्याय व्यवस्था में कुछ केस ऐसे होते हैं जाए जहां लाई डिटेक्टर मशीन का इस्तेमाल नहीं

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  140
WhatsApp_icon
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लाई डिटेक्टर मशीन जो है वह कई सारी केसे इसमें यूज होती है ऐसा नहीं है कि अगर कोई नॉर्मल के साथ चलना है तो उसमें जो है डायरेक्ट लाई डिटेक्टर टेस्ट कर दिया जाए जब कोई एक्टिवेशन होता है जहां पर डाउट होता है पुलिस को किस जो गुनाहगार है वह झूठ बोल रहा है आजकल पता लगाना होता है जैसे किसका मर्डर हुआ या कुछ शेरों को एक्टिंग कैसे जो होते हैं उनमें जो है वह लाई डिटेक्टर टेस्ट किया जाता है और उसमें से जो है हकीकत सामने आती है और जो स्टेटमेंट दिया जाता है उसको जो है सब कोई रिकॉर्ड करके फिर उस पर प्रपोज एक्शन लिया जाता है

lai detector machine jo hai vaah kai saree kaise isme use hoti hai aisa nahi hai ki agar koi normal ke saath chalna hai toh usme jo hai direct lai detector test kar diya jaaye jab koi activation hota hai jaha par doubt hota hai police ko kis jo gunahgar hai vaah jhuth bol raha hai aajkal pata lagana hota hai jaise kiska murder hua ya kuch sheron ko acting kaise jo hote hain unmen jo hai vaah lai detector test kiya jata hai aur usme se jo hai haqiqat saamne aati hai aur jo statement diya jata hai usko jo hai sab koi record karke phir us par propose action liya jata hai

लाई डिटेक्टर मशीन जो है वह कई सारी केसे इसमें यूज होती है ऐसा नहीं है कि अगर कोई नॉर्मल के

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  210
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!