अंग्रेज़ी भाषा के नुकसान क्या हैं?...


user

Yogender Dhillon

Law Educator , Advocate,RTI Activist , Motivational Coach

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो अगर मैं यह बात करूं सीखने की दृष्टि से काम की दृष्टि से तो किसी भी भाषा का कोई नुकसान नहीं है ना अंग्रेजी भाषा का न किसी और भाषा का लेकिन हां यदि हम अपने समाज की दृष्टि से देखें तो नुकसान नहीं कर सकते उसमें प्रभाव कह सकते हैं उसको कि हम इसलिए जिस अपनी भाषा में जैसे मौसम को समझ सकते हैं तो वह कनेक्टिविटी जब इंग्लिश में बात करते हैं तो नहीं बन पाती है जी पहली बार दूसरी बात तो कमली केशन इजीली हम हर किसी के साथ नहीं कर पाते हैं क्योंकि आज भी इंडिया में गांव में जो लोग रहते हैं वह सब पढ़े लिखे नहीं हैं उन्हें काउंटिंग भी नहीं आती है तो हमारे लिए इजी टू ऑपरेट नहीं होता है कि अपनी बात को हम अच्छे से कह सकें जब सारा दिन हम इंग्लिश के परिवेश में रहते हैं तो हमें पूरी बात बिना किसी इंग्लिश का शब्द लिए पूरा करना मुश्किल हो जाता है तो बस यह है कि आप अगर तू और ही इन इसमें चले जाते हो तो कम्युनिकेशन कम हो जाता है समझा नहीं पाते हो सबको बात सिर्फ आपके प्रोफेशन में आप समझा पाते हो या जो जानते इंग्लिश उनको समझा पाते हो तो इसलिए यह प्रभाव पड़ता है उसका आप इंडियन हो तो आपको हिंदी पूरी तरह पुणे के करनी आनी चाहिए और उसको समझा सके बाकी अंग्रेजी को अच्छे से सीखना है से प्रोसेशन ग्लोबलाइजेशन लेवल लैंग्वेज चलती है इसके बिना हमारा काम भी नहीं चल सकता क्योंकि प्रोफेशनल सिस्टम में हमें बोलनी लिखनी समझ नहीं पड़ती है रोज का रूटीन भी बनाना पड़ता है

dekho agar main yah baat karu sikhne ki drishti se kaam ki drishti se toh kisi bhi bhasha ka koi nuksan nahi hai na angrezi bhasha ka na kisi aur bhasha ka lekin haan yadi hum apne samaj ki drishti se dekhen toh nuksan nahi kar sakte usme prabhav keh sakte hain usko ki hum isliye jis apni bhasha me jaise mausam ko samajh sakte hain toh vaah connectivity jab english me baat karte hain toh nahi ban pati hai ji pehli baar dusri baat toh kamli kaisan ijili hum har kisi ke saath nahi kar paate hain kyonki aaj bhi india me gaon me jo log rehte hain vaah sab padhe likhe nahi hain unhe counting bhi nahi aati hai toh hamare liye easy to operate nahi hota hai ki apni baat ko hum acche se keh sake jab saara din hum english ke parivesh me rehte hain toh hamein puri baat bina kisi english ka shabd liye pura karna mushkil ho jata hai toh bus yah hai ki aap agar tu aur hi in isme chale jaate ho toh communication kam ho jata hai samjha nahi paate ho sabko baat sirf aapke profession me aap samjha paate ho ya jo jante english unko samjha paate ho toh isliye yah prabhav padta hai uska aap indian ho toh aapko hindi puri tarah pune ke karni aani chahiye aur usko samjha sake baki angrezi ko acche se sikhna hai se procession globalization level language chalti hai iske bina hamara kaam bhi nahi chal sakta kyonki professional system me hamein bolani likhani samajh nahi padti hai roj ka routine bhi banana padta hai

देखो अगर मैं यह बात करूं सीखने की दृष्टि से काम की दृष्टि से तो किसी भी भाषा का कोई नुकसान

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  106
WhatsApp_icon
23 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Rajesh Ranjan Sinha

Spoken English Trainer

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिसएडवांटेज अल्सर कोई नहीं है एक ही डिसएडवांटेज है जो लोग इसको बना देता है यह सिक्योरिटी कुछ होता है उसकी इंग्लिश जानते हैं वह लोग इसको थोड़ा सा दूसरे लोगों को थोड़ी नीची नजर से देखता है जो नहीं जानते कि मुझे इंग्लिश नहीं आती है तुम्हें कुछ नहीं होगा आपके पास

disadvantage Ulcer koi nahi hai ek hi disadvantage hai jo log isko bana deta hai yah Security kuch hota hai uski english jante hain vaah log isko thoda sa dusre logo ko thodi nichi nazar se dekhta hai jo nahi jante ki mujhe english nahi aati hai tumhe kuch nahi hoga aapke paas

डिसएडवांटेज अल्सर कोई नहीं है एक ही डिसएडवांटेज है जो लोग इसको बना देता है यह सिक्योरिटी क

Romanized Version
Likes  139  Dislikes    views  1789
WhatsApp_icon
user

Pradeep Kumar

Modern Spoken English Classes

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वह तो क्या है कि अपना अपना अपना जबकि बस स्टैंड लैंग्वेज को आउट करते हो अपने आप लोग उसको ज्यादा फोकस नहीं कर पाते हैं जिससे क्या होता है कि वह अपना पेट में लड़की अपना अपना जो धनुष कुछ-कुछ करते हैं

vaah toh kya hai ki apna apna apna jabki bus stand language ko out karte ho apne aap log usko zyada focus nahi kar paate hain jisse kya hota hai ki vaah apna pet mein ladki apna apna jo dhanush kuch kuch karte hain

वह तो क्या है कि अपना अपना अपना जबकि बस स्टैंड लैंग्वेज को आउट करते हो अपने आप लोग उसको ज्

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  89
WhatsApp_icon
play
user

Md Javed Qurishi

Spoken English Trainer

0:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लैंग्वेज में भी तो कुछ भी नहीं है क्योंकि अगर आप यहां पर देखा जाए तो इसमें एडवांटेज बहुत जाता है जब आप अपने जिसे कहते कि मां-बाप अगर अपने आप में इंग्लिश बात करें चूंकि बच्चे की बहुत अच्छी सी इंग्लिश सीख सकती लैंग्वेज सीखने में अगर आप लोग लैंग्वेज सीखने तो लैंग्वेज सीखने में कभी भी लाइफ में डिसएडवांटेज नहीं आता ऑलवेज एडवांटेज डिसएडवांटेज की बात ही नहीं होती है

language mein bhi toh kuch bhi nahi hai kyonki agar aap yahan par dekha jaaye toh isme advantage bahut jata hai jab aap apne jise kehte ki maa baap agar apne aap mein english baat kare chunki bacche ki bahut achi si english seekh sakti language sikhne mein agar aap log language sikhne toh language sikhne mein kabhi bhi life mein disadvantage nahi aata always advantage disadvantage ki baat hi nahi hoti hai

लैंग्वेज में भी तो कुछ भी नहीं है क्योंकि अगर आप यहां पर देखा जाए तो इसमें एडवांटेज बहुत ज

Romanized Version
Likes  350  Dislikes    views  3742
WhatsApp_icon
user

Dr. Sanjeev Kumar Mishra

Spoken English Trainer

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नुकसान तो भाषा का ज्ञान का कोई नुकसान होता ही नहीं है इसमें कोई भी ऐसी चीज नहीं सिखाई जाती है जिससे आपको गलत करते हैं देखो लैंग्वेज कोई भी हो सकती है मजहब हमारा अपना होता है देश हमारा अपना होता है हम किसी भी लैंग्वेज को अगर बोलते हैं एयरटेल सेंटर कि वह हमारे कंट्री को हर्ट कर रहा है या किसी लैंग्वेज तो जैसे कुछ लोग बोल देते हैं कैमरे चले गए अंग्रेजी छोड़ गए तो आपको जवाब देना है अगर उसकी भाषा ही नहीं आती आपको आप कुछ भी बोलते भाषा ऐसी जरूर होनी चाहिए चाहे वह अमेरिकन हो जाती है जाती जाते जाते हैं वह चटनी सीखते हैं ब्रिटेन में ही पूरे वर्ल्ड में काम कर सकते हैं अमेरिकन सिली जाती है जिससे कि हम अपनी बात किसी भी तहसील में होते हुए मुझे आज तक कोई एक सिंगल इंसान है पानी मिला जैसे ही शिकायत किए हो कि भैया लैंग्वेज इंग्लिश लैंग्वेज

nuksan toh bhasha ka gyaan ka koi nuksan hota hi nahi hai isme koi bhi aisi cheez nahi sikhai jaati hai jisse aapko galat karte hain dekho language koi bhi ho sakti hai majhab hamara apna hota hai desh hamara apna hota hai hum kisi bhi language ko agar bolte hain airtel center ki vaah hamare country ko heart kar raha hai ya kisi language toh jaise kuch log bol dete hain camera chale gaye angrezi chod gaye toh aapko jawab dena hai agar uski bhasha hi nahi aati aapko aap kuch bhi bolte bhasha aisi zaroor honi chahiye chahen vaah american ho jaati hai jaati jaate jaate hain vaah chatni sikhate hain britain mein hi poore world mein kaam kar sakte hain american silly jaati hai jisse ki hum apni baat kisi bhi tehsil mein hote hue mujhe aaj tak koi ek singles insaan hai paani mila jaise hi shikayat kiye ho ki bhaiya language english language

नुकसान तो भाषा का ज्ञान का कोई नुकसान होता ही नहीं है इसमें कोई भी ऐसी चीज नहीं सिखाई जाती

Romanized Version
Likes  232  Dislikes    views  1327
WhatsApp_icon
user

Deepak Sharma

Spoken English Trainer

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत सारे लोग करते हैं अपने लव के बारे जिन लोगों को इस बोली बिल्कुल भी नहीं आती उसके साथ में भी वह कहने का शौक करते हैं तो वह गलत है और नहीं करना चाहिए अगर लग रहा है कि सामने वाले को बिल्कुल भी नहीं आती और वह हेरिटेज क्लिक कर रहा है और सामने वाले के सामने कहीं ना कहीं उसे दिक्कत आ रही है तो उसका नहीं चाहिए न कि वैसे तो और डिसएडवांटेज तो कुछ नहीं देते कि ज्यादा लैंग्वेज ना आती हैं हमेशा बेनिफिटिंग मिलता है

bahut saare log karte hain apne love ke bare jin logo ko is boli bilkul bhi nahi aati uske saath mein bhi vaah kehne ka shauk karte hain toh vaah galat hai aur nahi karna chahiye agar lag raha hai ki saamne waale ko bilkul bhi nahi aati aur vaah heritage click kar raha hai aur saamne waale ke saamne kahin na kahin use dikkat aa rahi hai toh uska nahi chahiye na ki waise toh aur disadvantage toh kuch nahi dete ki zyada language na aati hain hamesha benefitting milta hai

बहुत सारे लोग करते हैं अपने लव के बारे जिन लोगों को इस बोली बिल्कुल भी नहीं आती उसके साथ म

Romanized Version
Likes  311  Dislikes    views  2680
WhatsApp_icon
user

Shashikant Tayagi

Spoken English Trainer

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिसएडवांटेज है कि हम अपनी कल्चर को भूलते जा रहे हैं इंग्लिश के जरिए हम लोग जो अपनी मातृभाषा है उसको अगर मैं आज की डेट में बात करो तो नहीं जानती है उसको हम बोल रहे हैं डिसएडवांटेज न्यूज नेशन के ऊपर आ रहा है

disadvantage hai ki hum apni culture ko bhulte ja rahe hain english ke jariye hum log jo apni matrubhasha hai usko agar main aaj ki date mein baat karo toh nahi jaanti hai usko hum bol rahe hain disadvantage news nation ke upar aa raha hai

डिसएडवांटेज है कि हम अपनी कल्चर को भूलते जा रहे हैं इंग्लिश के जरिए हम लोग जो अपनी मातृभाष

Romanized Version
Likes  104  Dislikes    views  1755
WhatsApp_icon
user

Komal Chaudhary

Spoken English Trainer

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कॉल ही डिपार्टमेंटल नहीं है केवल और केवल एडवांटेज चलो ठीक है मुबारक हो उसके कुछ मिला लो आप उसका वहां डिस्टर्ब कर दिया वहां की नजर से देखें और पढ़ें

call hi departmental nahi hai keval aur keval advantage chalo theek hai mubarak ho uske kuch mila lo aap uska wahan disturb kar diya wahan ki nazar se dekhen aur padhen

कॉल ही डिपार्टमेंटल नहीं है केवल और केवल एडवांटेज चलो ठीक है मुबारक हो उसके कुछ मिला लो आप

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  245
WhatsApp_icon
user

Pankaj Tanna

Spoken English Trainer

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक्चुली तो पूरा ही यह डिसएडवांटेज है जैसे कि मैंने एडवांटेजेस में बताएं वह एचडी सैड मंत्री जी हमारे जो भी किताबें हैं हायर एजुकेशन की या फिर हर स्टडीज की इंग्लिश में क्यों आती है हमारी भाषा में आएगी तो हमको कोई जरूरत ही नहीं है आपके पास किया जाता है क्यों किया जाता है हमारी अपनी लैंग्वेज में हम लोग के अच्छे नहीं लगते हैं तो यह चीज हमारी गुजराती में कहा था मैं जानता नहीं आप गुजराती समझते हैं या नहीं मुसीबतों नाम महात्मा गांधी ऐसा इसलिए आपको ठीक नहीं पड़ रही है क्या हमारी जो देश है हमारा वह इंडिया है हमारी राष्ट्रभाषा है तो सारी चीजें होनी चाहिए सारे ज्यादातर सारी चीजें इंग्लिश में आ रही है जिसकी वजह से सीख नहीं पड़ रही है तो यह एक बहुत बड़ा एडवांटेजेस कर सकता है उसको लोगों के आगे यह लो इंग्लिश बोलता है उनका स्टैंडर्ड इंग्लिश टीचर हूं फिर भी है जिसमें मानता नहीं हूं

ekchuli toh pura hi yah disadvantage hai jaise ki maine advantages mein bataye vaah hd sad mantri ji hamare jo bhi kitaben hain hire education ki ya phir har studies ki english mein kyon aati hai hamari bhasha mein aayegi toh hamko koi zarurat hi nahi hai aapke paas kiya jata hai kyon kiya jata hai hamari apni language mein hum log ke acche nahi lagte hain toh yah cheez hamari gujarati mein kaha tha main jaanta nahi aap gujarati samajhte hain ya nahi musibaton naam mahatma gandhi aisa isliye aapko theek nahi pad rahi hai kya hamari jo desh hai hamara vaah india hai hamari rashtrabhasha hai toh saree cheezen honi chahiye saare jyadatar saree cheezen english mein aa rahi hai jiski wajah se seekh nahi pad rahi hai toh yah ek bahut bada advantages kar sakta hai usko logo ke aage yah lo english bolta hai unka standard english teacher hoon phir bhi hai jisme manata nahi hoon

एक्चुली तो पूरा ही यह डिसएडवांटेज है जैसे कि मैंने एडवांटेजेस में बताएं वह एचडी सैड मंत्री

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  328
WhatsApp_icon
user

Abhishek Srivastava

Spoken English Trainer And Director of GLOBUS ENGLISH SPEAKING INSTITUTE

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

टीचर से जो इंग्लिश बोलना सिखा रहे हैं उनके पास कुछ खास क्वालिफिकेशन नहीं है उनकी क्वालिफिकेशन नहीं है जिससे वह ठीक है तो इंग्लिश इंफॉर्मेशन को अपनी नॉलेज को लोगों को शेयर करते हैं तो उनको उसका वह अपनी जगह मिलती है पैसे मिलते हैं तब अपना दिन कर रहे हो अच्छी खासी कमाई करते हैं

teacher se jo english bolna sikha rahe hain unke paas kuch khaas qualification nahi hai unki qualification nahi hai jisse vaah theek hai toh english information ko apni knowledge ko logo ko share karte hain toh unko uska vaah apni jagah milti hai paise milte hain tab apna din kar rahe ho achi khasee kamai karte hain

टीचर से जो इंग्लिश बोलना सिखा रहे हैं उनके पास कुछ खास क्वालिफिकेशन नहीं है उनकी क्वालिफिक

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  200
WhatsApp_icon
user

Sudha Agrawal

Founder of Perfect Spoken English

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं है कोई भी लैंग्वेज सीखना कभी डिसएडवांटेज नहीं होता है लेकिन हमारी लैंग्वेज को हमने भूलना क्यों है और हम क्यों बोलेंगे जब हम पैदा हुए तब से हम उस भाषा को बोल रहे हैं अपने घर में मातृभाषा को अपनी बोल रहे हैं अपनी मातृभाषा को हम क्यों बोलेंगे नहीं लैंग्वेज देखने का मतलब अपनी मातृभाषा भूल ना तो नहीं होता है तो हम अपनी मातृभाषा को न भूले ना ना भूल सकते हैं ना भूलेंगे और एकता भी लैंग्वेज अमोरशिपिंग लिखने में तो कोई बुराई नहीं है चाहे वह ब्रिटिश की हो चाहे वह अमेरिकन हो चाहे वह भारत हमारे भारत में कितनी सारी भाषाएं बोली जाती हैं वैसे ही इंग्लिश में आज हम लोग पूरा दिन बिजी हो क्या है तो पॉइंट जाते हैं तो हर चलती है इंग्लिश थोड़ा सा जरूरी हो जाता है ताकि हमारा विदेशी लोगों के साथ में अपना कम्युनिकेशन हो सके हमारी जरूरत की चीजें हम उनके साथ बात करके पूरी कर सके नहीं तो हम एक दूसरे के साथ में अपना काम कैसे निकालेंगे

nahi hai koi bhi language sikhna kabhi disadvantage nahi hota hai lekin hamari language ko humne bhoolna kyon hai aur hum kyon bolenge jab hum paida hue tab se hum us bhasha ko bol rahe hain apne ghar mein matrubhasha ko apni bol rahe hain apni matrubhasha ko hum kyon bolenge nahi language dekhne ka matlab apni matrubhasha bhool na toh nahi hota hai toh hum apni matrubhasha ko na bhule na na bhool sakte hain na bhulenge aur ekta bhi language amorshiping likhne mein toh koi burayi nahi hai chahen vaah british ki ho chahen vaah american ho chahen vaah bharat hamare bharat mein kitni saree bhashayen boli jaati hain waise hi english mein aaj hum log pura din busy ho kya hai toh point jaate hain toh har chalti hai english thoda sa zaroori ho jata hai taki hamara videshi logo ke saath mein apna communication ho sake hamari zarurat ki cheezen hum unke saath baat karke puri kar sake nahi toh hum ek dusre ke saath mein apna kaam kaise nikalenge

नहीं है कोई भी लैंग्वेज सीखना कभी डिसएडवांटेज नहीं होता है लेकिन हमारी लैंग्वेज को हमने भू

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  256
WhatsApp_icon
user

Mohammed Akbar

Spoken English Trainer

0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिसएडवांटेज इंग्लिश में क्या बोलते हैं

disadvantage english mein kya bolte hain

डिसएडवांटेज इंग्लिश में क्या बोलते हैं

Romanized Version
Likes  116  Dislikes    views  1508
WhatsApp_icon
play
user

Vivekanand Shukla

Sociologist, Selected In 11 Government Job

3:06

Likes  11  Dislikes    views  117
WhatsApp_icon
user

Ajit Y

ncc Student

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी आप का सवाल है कि अंग्रेजी भाषा से नुकसान किया है तो यह किसी भी देश की भाषा हो या कोई भी भाषा को किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचाते हैं अगर आपको बोलने में तकलीफ है तो समझने वाले कॉल पर हो सकता है आपको लाइन को छोड़ो समझाएं कुछो अंग्रेजी पास कोई नुकसान नहीं है अगर आप उसके बारे में जानते हैं तो आप बोलिए उसे कोई नुकसान नहीं होगा और नहीं आता है तो आप सीख सकते हैं इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स

dekhi aap ka sawaal hai ki angrezi bhasha se nuksan kiya hai toh yah kisi bhi desh ki bhasha ho ya koi bhi bhasha ko kisi prakar ka nuksan nahi pahunchate hain agar aapko bolne me takleef hai toh samjhne waale call par ho sakta hai aapko line ko chodo samjhaye kucho angrezi paas koi nuksan nahi hai agar aap uske bare me jante hain toh aap bolie use koi nuksan nahi hoga aur nahi aata hai toh aap seekh sakte hain english speaking course

देखी आप का सवाल है कि अंग्रेजी भाषा से नुकसान किया है तो यह किसी भी देश की भाषा हो या कोई

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  116
WhatsApp_icon
user

Sharik Sheikh

Founder of Gift Spoken English Academy

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

खेतान है क्योंकि हमारा जो जैसे भी मदद करनी है तो मुझे तो कभी ऐसा लगा हिंदी और उसमे आधी से ज्यादा बोर्ड इंग्लिश के रहते लेकिन उतना तो आजकल लोग कंप्यूटर उनको समझ में आ जाता है लेकिन वह डिसएडवांटेज तो मैं नहीं कहूंगा मतलब इंग्लिश

khetan hai kyonki hamara jo jaise bhi madad karni hai toh mujhe toh kabhi aisa laga hindi aur usme aadhi se zyada board english ke rehte lekin utana toh aajkal log computer unko samajh mein aa jata hai lekin vaah disadvantage toh main nahi kahunga matlab english

खेतान है क्योंकि हमारा जो जैसे भी मदद करनी है तो मुझे तो कभी ऐसा लगा हिंदी और उसमे आधी से

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  171
WhatsApp_icon
user

Hari Sushmani

Spoken English

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इंग्लिश लैंग्वेज का डिसएडवांटेज यह हो सकता है कि अब जैसे कट इस वर्ष है अंग्रेजी में दम हो तो तुम जाओ सो जाओ यू इन सब में चलता है लेकिन हमारे लैंग्वेज में बड़ों का आदर से आप कहते हैं एक तो यह डिसएडवांटेज सबसे बड़ी डिफरेंट डिसएडवांटेज टू सी चीज है कि उनके यहां कुछ सुराग चलते हैं जो हमारे यहां नहीं जो हमारे कल्चर में नहीं मैं लिटरिंग इंग्लिश की बात नहीं कर रहा हूं मैं जो नॉर्मल ओपन इंग्लिश में बात करती उस में तरह-तरह के लुक्स लाइक यूज कर लेते हैं जो हमारे यहां नहीं

english language ka disadvantage yah ho sakta hai ki ab jaise cut is varsh hai angrezi mein dum ho toh tum jao so jao you in sab mein chalta hai lekin hamare language mein badon ka aadar se aap kehte hain ek toh yah disadvantage sabse badi different disadvantage to si cheez hai ki unke yahan kuch surag chalte hain jo hamare yahan nahi jo hamare culture mein nahi main littering english ki baat nahi kar raha hoon main jo normal open english mein baat karti us mein tarah tarah ke looks like use kar lete hain jo hamare yahan nahi

इंग्लिश लैंग्वेज का डिसएडवांटेज यह हो सकता है कि अब जैसे कट इस वर्ष है अंग्रेजी में दम हो

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  263
WhatsApp_icon
user

Sharad Tonpe

Spoken English Teacher

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर उसको भाषा नहीं आती इंटरनेशनल लेवल पर सब लोग आगे बढ़ चुके हो कमीनी केशन लैंग्वेज से उसे ज्ञान मिलेगा वह लोगों से संपर्क कर सकें

agar usko bhasha nahi aati international level par sab log aage badh chuke ho kamini kaisan language se use gyaan milega vaah logo se sampark kar sakein

अगर उसको भाषा नहीं आती इंटरनेशनल लेवल पर सब लोग आगे बढ़ चुके हो कमीनी केशन लैंग्वेज से उसे

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  379
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

2:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अंग्रेजी भाषा के नुकसान क्या है अंग्रेजी भाषा के नुकसान बहुत है हम अपनी मातृभाषा ठीक से बोल नहीं पाते लिख नहीं पाते रसोई घर में भी हमें भूल होती है बोलने भी बोलने बोलने में भी हमें भूल होती है कुछ शब्द अगर हम बोलना चाहते हैं गुजराती में या हिंदी में जब हम अपनी मातृभाषा में बोलने जाते मदर टंग मिलने जाते हैं इंग्लिश बोलने लगते सॉरी कुछ बोला तो सॉरी सॉरी का अपनी मातृभाषा में क्या मीनिंग हिंदी में क्या मीनिंग गुजराती में क्या मीनिंग होता है ना कि हमारी मदद कंफ्यूज में क्या कहते हैं आती है आपको रसोई दीदी में बोलती है इसमें जो मातृभाषा में बोलता है उसकी कोई दिक्कत नहीं है रखो पास कोई दिक्कत नहीं उससे वह होशियार या इंटेलिजेंट बनता नहीं चलाता ठीक है अंग्रेजी भाषा से हमें अजब अपनी मातृभाषा अब संस्कृत भाषा या कुछ भी वह नहीं आती उस टाइम पे हम कंफ्यूज होता है ठीक है या आप बिल्कुल हमें नहीं आती तो उस टाइम पर वह अपनी भाषा का अपमान चलाता है ठीक है तो अंग्रेजी भाषा से हमें अपने ही बंद हो जाता है यह है कि इंडिया में अगर हिंदी चलती है तो हिंदी चलाई हर जगह शिफ्ट वाइज़ लैंग्वेज चलती है उसे चलाइए पंजाबी पंजाबी चलाई राजस्थानी राजस्थानी चराई गुजरात में गुजराती चलाइए बंगाल में बंगाली चलाइए ठीक है कहां-कहां से चलाइए लैंग्वेज हिंदी होनी चाहिए वहां अंग्रेजी को इतना प्रभुत्व क्यों दिया जाता है उससे अपने ही लैंग्वेज का अपमान होता है नुकसान होता है और सबसे ज्यादा नुकसान है ठीक है अंग्रेजी भाषा के क्या है तो यही नुकसान है कि हम अपनी मदद लेने का ही अपमान करते हैं ठीक है आपका दिन शुभ हो धन्यवाद

angrezi bhasha ke nuksan kya hai angrezi bhasha ke nuksan bahut hai hum apni matrubhasha theek se bol nahi paate likh nahi paate rasoi ghar mein bhi hamein bhool hoti hai bolne bhi bolne bolne mein bhi hamein bhool hoti hai kuch shabd agar hum bolna chahte hain gujarati mein ya hindi mein jab hum apni matrubhasha mein bolne jaate mother tongue milne jaate hain english bolne lagte sorry kuch bola toh sorry sorry ka apni matrubhasha mein kya meaning hindi mein kya meaning gujarati mein kya meaning hota hai na ki hamari madad confuse mein kya kehte hain aati hai aapko rasoi didi mein bolti hai isme jo matrubhasha mein bolta hai uski koi dikkat nahi hai rakho paas koi dikkat nahi usse vaah hoshiyar ya Intelligent banta nahi chalata theek hai angrezi bhasha se hamein ajab apni matrubhasha ab sanskrit bhasha ya kuch bhi vaah nahi aati us time pe hum confuse hota hai theek hai ya aap bilkul hamein nahi aati toh us time par vaah apni bhasha ka apman chalata hai theek hai toh angrezi bhasha se hamein apne hi band ho jata hai yah hai ki india mein agar hindi chalti hai toh hindi chalai har jagah shift wise language chalti hai use chalaiye punjabi punjabi chalai rajasthani rajasthani charai gujarat mein gujarati chalaiye bengal mein bengali chalaiye theek hai kahaan kahaan se chalaiye language hindi honi chahiye wahan angrezi ko itna parbhutwa kyon diya jata hai usse apne hi language ka apman hota hai nuksan hota hai aur sabse zyada nuksan hai theek hai angrezi bhasha ke kya hai toh yahi nuksan hai ki hum apni madad lene ka hi apman karte hain theek hai aapka din shubha ho dhanyavad

अंग्रेजी भाषा के नुकसान क्या है अंग्रेजी भाषा के नुकसान बहुत है हम अपनी मातृभाषा ठीक से बो

Romanized Version
Likes  464  Dislikes    views  4464
WhatsApp_icon
user

Irfan U. Khan

Spoken English Trainer

1:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इंग्लिश लैंग्वेज को कांटेक्ट के लिए गाड़ियों की माता की आरती

english language ko Contact ke liye gadiyon ki mata ki aarti

इंग्लिश लैंग्वेज को कांटेक्ट के लिए गाड़ियों की माता की आरती

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  282
WhatsApp_icon
user
0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसमें कोई भी नुकसान नुकसान नहीं है कोई भी भाषा को सीखने का इंग्लिश में से बेस्ट लैंग्वेज सूची से हमको क्या कॉन्फिडेंस चाहता है कि हम एक जो कम कम्युनिटी है उसके बीच में हम खड़े होकर चुपना नया एक लैंग्वेज सीख कर आए हैं नई लैंग्वेज हमारे इंडिया में देखी जा रही है उनकी तो पर्सनल लैंग्वेज

isme koi bhi nuksan nuksan nahi hai koi bhi bhasha ko sikhne ka english mein se best language suchi se hamko kya confidence chahta hai ki hum ek jo kam community hai uske beech mein hum khade hokar chupna naya ek language seekh kar aaye hain nayi language hamare india mein dekhi ja rahi hai unki toh personal language

इसमें कोई भी नुकसान नुकसान नहीं है कोई भी भाषा को सीखने का इंग्लिश में से बेस्ट लैंग्वेज स

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
user

Mahii Vishnoi

Spoken English

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नो नथिंग कोई डिसएडवांटेज नहीं है बिकॉज़ थिंग इज द लैंग्वेज का जितनी आप लैंग्वेज दान करते हो उसका बेनिफिट डिसएडवांटेज कोई चीज का होता ही नहीं लैंग्वेज क्योंकि लैंग्वेज फॉर एग्जांपल अगर में साउथ में गया तो साउथ में मालूम हिंदी भी लोग नहीं समझ पाते आया श्याम आया तो वहां की लोकल लैंग्वेज या फिर इंग्लिश लोकल लैंग्वेज या फिर वो इंग्लिश को इंपॉर्टेंट देते हिंदी में वह आपको रिप्लाई भी नहीं करते तो इंग्लिश का कोई मारो लैंग्वेज का कोई डिसएडवांटेज डिसएडवांटेज नहीं है राइटिंग

no nothing koi disadvantage nahi hai because thing is the language ka jitni aap language daan karte ho uska benefit disadvantage koi cheez ka hota hi nahi language kyonki language for example agar mein south mein gaya toh south mein maloom hindi bhi log nahi samajh paate aaya shyam aaya toh wahan ki local language ya phir english local language ya phir vo english ko important dete hindi mein vaah aapko reply bhi nahi karte toh english ka koi maaro language ka koi disadvantage disadvantage nahi hai writing

नो नथिंग कोई डिसएडवांटेज नहीं है बिकॉज़ थिंग इज द लैंग्वेज का जितनी आप लैंग्वेज दान करते ह

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  304
WhatsApp_icon
user
0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अंग्रेजी भाषा का कोई भी नुकसान नहीं है इसके फायदे हैं बहुत सारे फायदे हैं हमें यह नहीं सोचना चाहिए कि हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा है तो इंग्लिश में क्यों सीखनी चाहिए हां हिंदी में राष्ट्रपति रिश्ता करते हैं पर आज के वक्त में लोगों से कदम से कदम मिलाने के लिए अंग्रेजी का आना बहुत जरूरी है

angrezi bhasha ka koi bhi nuksan nahi hai iske fayde bahut saare fayde hamein yah nahi sochna chahiye ki hindi hamari rashtrabhasha hai toh english mein kyon sikhni chahiye haan hindi mein rashtrapati rishta karte hai par aaj ke waqt mein logo se kadam se kadam milaane ke liye angrezi ka aana bahut zaroori hai

अंग्रेजी भाषा का कोई भी नुकसान नहीं है इसके फायदे हैं बहुत सारे फायदे हैं हमें यह नहीं सोच

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  68
WhatsApp_icon
user

हेमन्त कुमार

कनिष्ठ लिपिक, राजकीय माध्यमिक विद्यालय, बुरड़ी तहसील जायल जिला नागौर

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए किसी भी भाषा को सीखना किसी को ज्ञान को सीखने से कोई नुकसान नहीं होता है वो हमेशा फायदा ही करता है अंग्रेजी सीखने में कुछ भी नुकसान नहीं है अंग्रेजी फायदा करेगी लेकिन अंग्रेजी को किसी पर थोपना गलत है अगर वह चाहता है कि मैं अपनी मातृभाषा में ऐसी पढ़ाई करो अपनी मातृभाषा से को तो वह उसके लिए बहुत अच्छा है अंग्रेजी है तो बहुत अच्छा लेकिन किसी पर थोपना अच्छा नहीं है

dekhiye kisi bhi bhasha ko sikhna kisi ko gyaan ko sikhne se koi nuksan nahi hota hai vo hamesha fayda hi karta hai angrezi sikhne mein kuch bhi nuksan nahi hai angrezi fayda karegi lekin angrezi ko kisi par thopna galat hai agar vaah chahta hai ki main apni matrubhasha mein aisi padhai karo apni matrubhasha se ko toh vaah uske liye bahut accha hai angrezi hai toh bahut accha lekin kisi par thopna accha nahi hai

देखिए किसी भी भाषा को सीखना किसी को ज्ञान को सीखने से कोई नुकसान नहीं होता है वो हमेशा फाय

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  24
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
nuksan in english ; nuksan ko english mein kya bolte hain ; nuksan ko english mein kya kahate hain ; इंग्लिश भाषा करो ; नुकसान को इंग्लिश में क्या कहते हैं ; नुकसान को इंग्लिश में क्या बोलते हैं ; भैंसा को इंग्लिश में क्या कहते हैं ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!