हमें मेहनत क्यों करनी चाहिए?...


user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमें मेहनत करनी चाहिए मेहनत नहीं करोगे तो कर्म कैसे कर पाओगे कैसे अपना कर्तव्य निभा पाओगे किसी कार्य को सक्सेस पुलिस कैसे कर पाओगे सफलता आप अपने हाथ से खाना उठाकर मुंह में मत डालो कोई दिक्कत होता है देखो तो मेहनत कोई ऐसी क्रिया नहीं है क्या कोई ऐसी चीज नहीं उठा कर यह हमारी आंतरिक शक्ति है जिसके माध्यम से हम कुछ कर गुजरते और सफलता हासिल करते हैं और यह आप कह रहे हो कि हम मेहनत क्यों करें अरे आप खाना क्यों खाते हैं आप जिंदा क्यों जिस तरह से आप जिंदा है जिसका से आप खाना खा जिस तरह से आप सांस लेते हैं उसी तरह से आपको मेहनत भी करना

hamein mehnat karni chahiye mehnat nahi karoge toh karm kaise kar paoge kaise apna kartavya nibha paoge kisi karya ko success police kaise kar paoge safalta aap apne hath se khana uthaakar mooh me mat dalo koi dikkat hota hai dekho toh mehnat koi aisi kriya nahi hai kya koi aisi cheez nahi utha kar yah hamari aantarik shakti hai jiske madhyam se hum kuch kar gujarate aur safalta hasil karte hain aur yah aap keh rahe ho ki hum mehnat kyon kare are aap khana kyon khate hain aap zinda kyon jis tarah se aap zinda hai jiska se aap khana kha jis tarah se aap saans lete hain usi tarah se aapko mehnat bhi karna

हमें मेहनत करनी चाहिए मेहनत नहीं करोगे तो कर्म कैसे कर पाओगे कैसे अपना कर्तव्य निभा पाओगे

Romanized Version
Likes  510  Dislikes    views  5387
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Dr S K Goel

Astrologer

0:25

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ईश्वर ने हमें शरीर मेहनत के लिए दिया है और उस शरीर में हर प्रकार का बल प्रदान किया है इसलिए जब तक आप मेंटेन करेंगे कौन सी जॉब प्राप्त नहीं कर सकते बिना मेहनत के टो सिंग भी अपना कोई गौर नहीं खा सकता इसलिए ईश्वर के विधान के अनुसार आपको मेहनत करनी होगी

ishwar ne hamein sharir mehnat ke liye diya hai aur us sharir mein har prakar ka bal pradan kiya hai isliye jab tak aap maintain karenge kaun si job prapt nahi kar sakte bina mehnat ke toe sing bhi apna koi gaur nahi kha sakta isliye ishwar ke vidhan ke anusaar aapko mehnat karni hogi

ईश्वर ने हमें शरीर मेहनत के लिए दिया है और उस शरीर में हर प्रकार का बल प्रदान किया है इसलि

Romanized Version
Likes  113  Dislikes    views  1550
WhatsApp_icon
user

Niraj Devani

PHILOSOPHER

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बीके जीवन में आगे बढ़ने के लिए आपको मेहनत करनी पड़ेगी क्योंकि बिना मेहनत के जो मिलता है कई बार ऐसा होता है कि कई लोगों को बिना मेहनत के मिल जाता है तो वह चला भी जल्दी जाता है या फिर दुख देता है तो जितनी मेहनत करेंगे उतना आपको अच्छा मिलेगा और वह लंबे समय तक टिके रहेगा जब मेहनत से मिलेगा वह ठीक है इसलिए मेहनत करनी चाहिए

BK jeevan mein aage badhne ke liye aapko mehnat karni padegi kyonki bina mehnat ke jo milta hai kai baar aisa hota hai ki kai logo ko bina mehnat ke mil jata hai toh vaah chala bhi jaldi jata hai ya phir dukh deta hai toh jitni mehnat karenge utana aapko accha milega aur vaah lambe samay tak tike rahega jab mehnat se milega vaah theek hai isliye mehnat karni chahiye

बीके जीवन में आगे बढ़ने के लिए आपको मेहनत करनी पड़ेगी क्योंकि बिना मेहनत के जो मिलता है कई

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  580
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमने मेहनत क्यों करनी चाहिए हमें मेहनत अपने लिए करनी चाहिए अपने परिवार के लिए चाय करनी चाहिए ठीक है न कि किसी के सामने हम हाथ ना फैलाएं और अपने आत्म सम्मान के लिए आत्मरक्षा के लिए मेहनत करनी चाहिए

humne mehnat kyon karni chahiye hamein mehnat apne liye karni chahiye apne parivar ke liye chai karni chahiye theek hai na ki kisi ke saamne hum hath na failaen aur apne aatm sammaan ke liye aatmraksha ke liye mehnat karni chahiye

हमने मेहनत क्यों करनी चाहिए हमें मेहनत अपने लिए करनी चाहिए अपने परिवार के लिए चाय करनी चाह

Romanized Version
Likes  346  Dislikes    views  5686
WhatsApp_icon
user

ANIL SINGH

Business Man | Ex-Teacher

2:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डीके हमें मत करना इसलिए आवश्यक है क्योंकि देखिए यदि आपको भूख न लगे और भोजन खाएं तो हो सकता आपको खाना तो खा लोगे लेकिन क्या भोजन कटेगा या को खूब लग रही हो ना और मनपसंद खाना मिल जाए तो स्वाद ही कुछ और होता है उसी प्रकार हम मेहनत करेंगे उसका जो फल मिलेगा तो उसका स्वाद ही कुछ और यदि सीधी सी बात कही जाए कि देखिए मेहनत इसलिए जरूरी है कि मेहनत सेना में कर्मों का ज्ञान होगा कर्म हमें मालूम पड़ेगा कि कौन से करो हमारे लिए सही है कौन सी नहीं है बिना मैं क्या खा भी लोग कुछ भी कर लोगे सब कुछ आपको एक कमरे में बंद कर दिया जाए और वहां ढेर सारा पैसा रख दिया जाए पूरा को पैसा सारा जीवन बिताना एक कमरे के अंदर तो क्या बता पाएंगे इसलिए जरूरी है कि मेहनत से ही इंसान को खुद ही कर लेते वाले मालूम पड़ता है क्या कर सकता क्या नहीं जो मेहनत करने के बारे में नहीं सोचता है उस इंसान को चोर कहा जाता है या दूसरे शब्दों में कहा जाए तो एक प्रकार का वह हरामखोर ऐसे शब्द तो नहीं करना चाहिए लेकिन मेहनत करी है जो इंसान के बारे में नहीं सोचेगा वह इंसान इंसान नहीं हो सकता कुछ पाना चाहते हो उसके लिए उसको ही मेहनत करना होती है जब जानवर को समझ सकते हैं तो हम इंसान क्यों नहीं इंसान मेहनत करता है पर कुछ लोग चालाकी करते हैं कुछ लोग चोरी करते हैं तो मेरी तलाई है कि मेहनत इसीलिए जल्दी है ताकि व्यक्ति को उसके कर्मों का ज्ञान हो सके कौन से कर्म से उसकी प्रतिभा निखर कर सामने आएगी तभी तो आगे बढ़ पाएगा सोए क्या जाग उठे हैं अभी तक कुछ भी करें यह भी कर नहीं है लेकिन मेहनत हमें उस चीज के लिए करना है जिसे हम आगे बढ़ सके बैठे-बिठाए सब कुछ नहीं मिलने वाला कब तक चलेगा धन्यवाद

DK hamein mat karna isliye aavashyak hai kyonki dekhiye yadi aapko bhukh na lage aur bhojan khayen toh ho sakta aapko khana toh kha loge lekin kya bhojan katega ya ko khoob lag rahi ho na aur manpasand khana mil jaaye toh swaad hi kuch aur hota hai usi prakar hum mehnat karenge uska jo fal milega toh uska swaad hi kuch aur yadi seedhi si baat kahi jaaye ki dekhiye mehnat isliye zaroori hai ki mehnat sena mein karmon ka gyaan hoga karm hamein maloom padega ki kaunsi karo hamare liye sahi hai kaun si nahi hai bina main kya kha bhi log kuch bhi kar loge sab kuch aapko ek kamre mein band kar diya jaaye aur wahan dher saara paisa rakh diya jaaye pura ko paisa saara jeevan bitana ek kamre ke andar toh kya bata payenge isliye zaroori hai ki mehnat se hi insaan ko khud hi kar lete waale maloom padta hai kya kar sakta kya nahi jo mehnat karne ke bare mein nahi sochta hai us insaan ko chor kaha jata hai ya dusre shabdon mein kaha jaaye toh ek prakar ka vaah haramkhor aise shabd toh nahi karna chahiye lekin mehnat kari hai jo insaan ke bare mein nahi sochega vaah insaan insaan nahi ho sakta kuch paana chahte ho uske liye usko hi mehnat karna hoti hai jab janwar ko samajh sakte hain toh hum insaan kyon nahi insaan mehnat karta hai par kuch log chalaki karte hain kuch log chori karte hain toh meri talai hai ki mehnat isliye jaldi hai taki vyakti ko uske karmon ka gyaan ho sake kaunsi karm se uski pratibha nikhar kar saamne aayegi tabhi toh aage badh payega soye kya jag uthe hain abhi tak kuch bhi kare yah bhi kar nahi hai lekin mehnat hamein us cheez ke liye karna hai jise hum aage badh sake baithe bithaye sab kuch nahi milne vala kab tak chalega dhanyavad

डीके हमें मत करना इसलिए आवश्यक है क्योंकि देखिए यदि आपको भूख न लगे और भोजन खाएं तो हो सकता

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  64
WhatsApp_icon
user

Sahanbaj

Student

0:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेहनत इसलिए करनी पड़ती है क्योंकि हर कोई काम आसान नहीं होता है उसमें मेहनत लगता ही है

mehnat isliye karni padti hai kyonki har koi kaam aasaan nahi hota hai usme mehnat lagta hi hai

मेहनत इसलिए करनी पड़ती है क्योंकि हर कोई काम आसान नहीं होता है उसमें मेहनत लगता ही है

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  2
WhatsApp_icon
user
0:39
Play

Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!