अग्नि को परमात्मा क्यों माना जाता है?...


user

Dr. Mahesh Mohan Jha

Asst. Professor,Astrologer,Author

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है अग्नि को परमात्मा क्यों बोला जाता है अगली को पर मुकदमा नहीं माना जाता है अग्नि को कुछ बनाना और कुछ इसलिए बोला जाता है कि रची तनहाई आकाश जल का योगदान है उसी तरह अग्नि का भी योगदान सृष्टि की रचना हुई थी ऑफिस सृष्टि जो अभी तक चल नहीं और जीव आत्मा शरीर रूपी धारण कर यह भुगतान है उसमें भी पंचतत्व का योगदान है उसको तत्व अग्नि और बुक इसलिए अग्नि को कुछ बदल जाता है दो कि परमात्मा

aapka prashna hai agni ko paramatma kyon bola jata hai agli ko par mukadma nahi mana jata hai agni ko kuch banana aur kuch isliye bola jata hai ki rachi tanhai akash jal ka yogdan hai usi tarah agni ka bhi yogdan shrishti ki rachna hui thi office shrishti jo abhi tak chal nahi aur jeev aatma sharir rupee dharan kar yah bhugtan hai usme bhi panchatatwa ka yogdan hai usko tatva agni aur book isliye agni ko kuch badal jata hai do ki paramatma

आपका प्रश्न है अग्नि को परमात्मा क्यों बोला जाता है अगली को पर मुकदमा नहीं माना जाता है अग

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  111
KooApp_icon
WhatsApp_icon
18 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!