प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश की मूर्तियों को नुकसान पहुंचाने की घटनाओं की कड़ी निंदा की है। क्या आप उससे सहमत हैं?...


user

Anukrati

Journalism Graduate

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं इस बात से बिल्कुल सहमत हूं यह चीज हम भारतीयों में अभी तक नहीं आई है कि हम पब्लिक प्रॉपर्टी की रिस्पेक्ट करें अगर आप बाहर जाकर किसी डेवलप कंट्री में देखेंगे तो वहां के सिटीजन इन सब चीजों के काफी रिस्पेक्ट करते हैं कि पब्लिक ट्रेन को अच्छे से रखा जाए पब्लिक बस इस को अच्छे से रखा जाए जो रहने के पार के वहां पर अच्छे से रहें पर हम लोग ऐसा बिल्कुल नहीं करते हैं हमारे दिमाग में ऐसा होता है कि अगर वह पब्लिक है तो वह गवर्मेंट की है जबकि ऐसा है नहीं हमें समझ नहीं पाते हैं कि वह हमारा ही पैसा है हमारी ही चीज हमारी टेक्स्ट से निकली हुई चीजें हैं और हमारे लिए ही हैं तो मुझे लगता है यह लोगों को समझना जरूरी है और प्राइम मिनिस्टर की पोस्ट पर होते हुए इतनी बड़ी पोस्ट पर होते हुए अगर कोई इसकी निंदा करता है तो मुझे लगता है एकदम सही है यह सिर्फ उनको ही नहीं बाकी पॉलिटिशंस को बाकी गांव में

main is baat se bilkul sahmat hoon yah cheez hum bharatiyon mein abhi tak nahi I hai ki hum public property ki respect kare agar aap bahar jaakar kisi develop country mein dekhenge toh wahan ke citizen in sab chijon ke kaafi respect karte hain ki public train ko acche se rakha jaaye public bus is ko acche se rakha jaaye jo rehne ke par ke wahan par acche se rahein par hum log aisa bilkul nahi karte hain hamare dimag mein aisa hota hai ki agar vaah public hai toh vaah government ki hai jabki aisa hai nahi hamein samajh nahi paate hain ki vaah hamara hi paisa hai hamari hi cheez hamari text se nikli hui cheezen hain aur hamare liye hi hain toh mujhe lagta hai yah logo ko samajhna zaroori hai aur prime minister ki post par hote hue itni badi post par hote hue agar koi iski ninda karta hai toh mujhe lagta hai ekdam sahi hai yah sirf unko hi nahi baki politicians ko baki gaon mein

मैं इस बात से बिल्कुल सहमत हूं यह चीज हम भारतीयों में अभी तक नहीं आई है कि हम पब्लिक प्रॉप

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  180
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!