क्या भगवान् बड़ा होते हैं या माता-पिता?...


play
user

Pandit Prem

शायर, पुस्तक संपादक

1:41

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सही मायने में देखा जाए तो भगवान का मतलब माता-पिता से ही होता है प्रकृति और संचालक उसका भाग और वह तो भगवान माता-पिता भी होते हैं लेकिन परमात्मा अलग चीज है तो माता-पिता स्वयं भगवान ही हैं उन्हें हम बड़ा माने उनकी सेवा करें उनके अनुसार अगर वो सही करें तो जरूर चले और साथ ही साथ में हमें हमारा फर्ज बनता है कि उन्होंने हमें जब बचपन से उंगली पकड़कर चलना सिखाया हमारी जिंदगी को संभाला और हमें इस लायक बना दिया कि हम कुछ कर सकते हैं तो हमारा फर्ज बनता है उनका सहारा हम बने और उनके हर कदम कदम पर उनके सुख-दुख में साथ दें यह हमारा फर्ज बनता है क्योंकि वह हमारे भगवान हैं हर किसी के माता-पिता उसके भगवान ही होते हैं हां परमात्मा एक अलग चीज है जो सबका पिता है जो आपके माता-पिता का भी पिता हमारी माता पिता को पिता का पिता है और उनके माता पिता का पिता यानी सबका पिता है वह वाला चीज है भगवान तो माता-पिता ही होते हैं तो भगवान और माता पिता में कोई अंतर ऐसा नहीं है जो प्रकृति में हमने अवतरित भगवान माने हैं और मेरा मानना यह है कि कई जगह संदेहास्पद चीजें पैदा होती है किसी के सबूत नहीं मिलते किसी को कुछ नहीं तो वह एक अलग बात है किसी को मारना है तो माने किसी को नहीं मानना ना माने लेकिन माता-पिता को जरूर माने और भगवान है हर किसी के अपने माता-पिता उसकी भगवान है धन्यवाद

sahi maayne mein dekha jaaye toh bhagwan ka matlab mata pita se hi hota hai prakriti aur sanchalak uska bhag aur vaah toh bhagwan mata pita bhi hote hai lekin paramatma alag cheez hai toh mata pita swayam bhagwan hi hai unhe hum BA da maane unki seva kare unke anusaar agar vo sahi kare toh zaroor chale aur saath hi saath mein hamein hamara farz BA nta hai ki unhone hamein jab BA chpan se ungli pakadakar chalna sikhaya hamari zindagi ko sambhala aur hamein is layak BA na diya ki hum kuch kar sakte hai toh hamara farz BA nta hai unka sahara hum BA ne aur unke har kadam kadam par unke sukh dukh mein saath de yah hamara farz BA nta hai kyonki vaah hamare bhagwan hai har kisi ke mata pita uske bhagwan hi hote hai haan paramatma ek alag cheez hai jo sabka pita hai jo aapke mata pita ka bhi pita hamari mata pita ko pita ka pita hai aur unke mata pita ka pita yani sabka pita hai vaah vala cheez hai bhagwan toh mata pita hi hote hai toh bhagwan aur mata pita mein koi antar aisa nahi hai jo prakriti mein humne avtarit bhagwan maane hai aur mera manana yah hai ki kai jagah sandehaspad cheezen paida hoti hai kisi ke sabut nahi milte kisi ko kuch nahi toh vaah ek alag BA at hai kisi ko marna hai toh maane kisi ko nahi manana na maane lekin mata pita ko zaroor maane aur bhagwan hai har kisi ke apne mata pita uski bhagwan hai dhanyavad

सही मायने में देखा जाए तो भगवान का मतलब माता-पिता से ही होता है प्रकृति और संचालक उसका भाग

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  514
KooApp_icon
WhatsApp_icon
7 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
माता पिता ही भगवान है ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!