जीवन में समय का महत्व क्या है?...


play
user

Ivy Chakraborty

Transformation Coach & Trainer

2:38

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पीके जीवन में समय का महत्व कितना है यह आप इसी बात से समझ सकते हैं कि आपका पूरा जीवन समय का ही बना हुआ है समय का पहिया उस दिन से चलना स्टार्ट हो जाता है जिस दिन आप का जन्म होता है आप इस धरती पर आते हैं और यह पहिया गोल गोल तब तक घूमता रहता है जब तक आप इस धरती पर रहते हैं आप की मृत्यु नहीं हो जाती है इसका मतलब है कि आपके पास उतना ही समय है जितनी बड़ी आपकी जिंदगी है तो आपके पूरा जीवन ही आप समय से बना हुआ है हमें तो ज्यादातर लोग समय को अनलिमिटेड समझते हैं और से मित्रता मेरे पास बहुत समय है अगर कोई काम है जो जरूरी है मैं भी एक फिटनेस का चक्कर बॉडी चेकअप जरूरी है जिम जाना जरूरी है कोई कोर्स करना जरूरी है डालते रहते हैं तब तक नहीं किया कल करेंगे कल नहीं किया अगले हफ्ते अगले महीने अगले साल लेकिन हममें से किसी को भी नहीं पता कि हम इस धरती पर कितने दिन के लिए आए हैं इसका मतलब हुआ कि हममें से किसी को यह भी नहीं पता अपने समय कितना है दूसरी बात यह है कि 24 घंटे दिन के यह एक ऐसा साधन है जो आज तक जिस भी इंसान ने धरती पर जन्म लिया उसको 24 घंटे ही मिले हैं चाहे वह इंसान नरेंद्र मोदी जी हूं या महात्मा गांधी हूं या धीरूभाई अंबानी हूं किसी को भी 24 घंटे से ना तो 1 सेकंड ज्यादा मिला है ना तो 1 सेकंड का मेला है तो जिसने भी जितना बड़ा काम किया है जितना महान काम किया है इसी 24 घंटे का इस्तेमाल करके ही किया है तो अगर कोई चीज हमें करना चाहिए पर हमें लगता है मेरे पास टाइम नहीं है हम बहुत बिजी हैं तो हम इस बात को समझना चाहिए कि दिन के 24 घंटे घर एक इंसान के पास है और अगर कोई और इसी 24 घंटे का इस्तेमाल करके सफलता के शिखर पर पहुंच सकता है तो हम भी कर सकते हैं डिपेंड करता है कि आप अपने समय का कर क्या रहे हैं ऐसा कहा जाता है कि टाइम मैनेजमेंट लाइफ मैनेजमेंट अगर कोई इंसान अपने समय का सही उपयोग करना सीख जाए वह एक ऐसी चीज है तो वह अपने जीवन का कहीं क्यों करना सीख जाता है तो आप अपने समय को किस तरह से इस्तेमाल करेंगे आप अपने समय का अपने दिन के 24 घंटे का क्या यूज करेंगे यह डिपेंड करता है कि आपकी गोत्र क्या है आपका नाम क्या है आप क्या करना चाहते हो अपने जीवन में क्या हासिल करना चाहते हो क्या बनना चाहते हो किस तरह के चेंज अपने लाइफ में लाना चाहते हो फिर आप को डिसाइड करना है कि तिनके 24 घंटे के कितना पाठ आप उन सारी चीजों को डेडीकेट करेंगे और इसके हिसाब से आपका टाइम मैनेजमेंट होगा अगर अपने आप टाइम को मैनेज करना सीख लिया तो मानो आपने अपने जीवन को भी मैनेज करना

pk jeevan mein samay ka mahatva kitna hai yah aap isi baat se samajh sakte hain ki aapka pura jeevan samay ka hi bana hua hai samay ka pahiya us din se chalna start ho jata hai jis din aap ka janam hota hai aap is dharti par aate hain aur yah pahiya gol gol tab tak ghoomta rehta hai jab tak aap is dharti par rehte hain aap ki mrityu nahi ho jaati hai iska matlab hai ki aapke paas utana hi samay hai jitni badi aapki zindagi hai toh aapke pura jeevan hi aap samay se bana hua hai hamein toh jyadatar log samay ko unlimited samajhte hain aur se mitrata mere paas bahut samay hai agar koi kaam hai jo zaroori hai bhi ek fitness ka chakkar body checkup zaroori hai gym jana zaroori hai koi course karna zaroori hai daalte rehte hain tab tak nahi kiya kal karenge kal nahi kiya agle hafte agle mahine agle saal lekin hammen se kisi ko bhi nahi pata ki hum is dharti par kitne din ke liye aaye hain iska matlab hua ki hammen se kisi ko yah bhi nahi pata apne samay kitna hai dusri baat yah hai ki 24 ghante din ke yah ek aisa sadhan hai jo aaj tak jis bhi insaan ne dharti par janam liya usko 24 ghante hi mile hain chahen vaah insaan narendra modi ji hoon ya mahatma gandhi hoon ya dheerubhai ambani hoon kisi ko bhi 24 ghante se na toh 1 second zyada mila hai na toh 1 second ka mela hai toh jisne bhi jitna bada kaam kiya hai jitna mahaan kaam kiya hai isi 24 ghante ka istemal karke hi kiya hai toh agar koi cheez hamein karna chahiye par hamein lagta hai mere paas time nahi hai hum bahut busy hain toh hum is baat ko samajhna chahiye ki din ke 24 ghante ghar ek insaan ke paas hai aur agar koi aur isi 24 ghante ka istemal karke safalta ke shikhar par pohch sakta hai toh hum bhi kar sakte hain depend karta hai ki aap apne samay ka kar kya rahe hain aisa kaha jata hai ki time management life management agar koi insaan apne samay ka sahi upyog karna seekh jaaye vaah ek aisi cheez hai toh vaah apne jeevan ka kahin kyon karna seekh jata hai toh aap apne samay ko kis tarah se istemal karenge aap apne samay ka apne din ke 24 ghante ka kya use karenge yah depend karta hai ki aapki gotra kya hai aapka naam kya hai aap kya karna chahte ho apne jeevan mein kya hasil karna chahte ho kya banna chahte ho kis tarah ke change apne life mein lana chahte ho phir aap ko decide karna hai ki tinke 24 ghante ke kitna path aap un saree chijon ko dedicate karenge aur iske hisab se aapka time management hoga agar apne aap time ko manage karna seekh liya toh maano aapne apne jeevan ko bhi manage karna

पीके जीवन में समय का महत्व कितना है यह आप इसी बात से समझ सकते हैं कि आपका पूरा जीवन समय का

Romanized Version
Likes  50  Dislikes    views  694
KooApp_icon
WhatsApp_icon
11 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!