मेरा दिमाग और मेरा मन अकसर शांत नहीं रहते और मुझे बहुत बेचैनी महसूस होती है। मैं क्या करूँ?...


user

Yogesh Shekhawat

Sports Coach

4:41
Play

Likes  50  Dislikes    views  1006
WhatsApp_icon
18 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

1:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन के अशांत होने के क्या कारण हो सकते हैं और यह कारण कहां से आते हैं कारण आपके दिमाग की उधेड़बुन से आते हैं आपके दिमाग में क्या चलता है क्या सोचते रहते हैं और उस हिसाब से आपका जो मन है आया तो अच्छा लगेगा उसको या अच्छा नहीं लगेगा बुरा लगेगा दुखी होगा तो यह फीलिंग से यह मौसम यह कंडीशन है जो आपके सोचने के कारण आज आते हैं आप चाय आप चुपचाप बैठकर सोच रहे हो या कुछ काम करते-करते सोच रहे हो क्या जैसा भी हो आप सोच रहे हो कोई पास चीज के बारे में क्या जो आप कर रहे हो उसके बारे में या जो होने वाला है उसके बारे में किस दिन ऐसी किसी चीज के बारे में दिमागी प्रक्रिया चल रही है जिसके कारण से आपके अंदर का वातावरण एक दिशा में जा रहा है और आपको लगता है वह दिशा सही नहीं है अगर वह दिशा सही नहीं है तो उसको ठीक करने के लिए आप दिशा को सही नहीं कर सकते आपको क्या करना है आप उस सोच से आपको मुक्ति पानी है सोच से मुक्ति कैसे मिलेगी जब आप उस सोच के बजाय आप अपना दिमाग अपनी एनर्जी किसी और कार्य में डालें क्योंकि अगर आप सोच रहे हैं और कुछ कर सकते हैं तो आपको कीजिए ताकि उस से आपको मुक्ति मिले लेकिन अगर आप कुछ नहीं कर सकते जो हो गया है होने वाला है जैसा भी कुछ है तो उसको आप लोग को लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं है कुछ और कीजिए तैयार है ना जी डाली है और कुछ और काम कीजिए आज से आपका दिमाग कहीं और रहेगा दिमाग कहीं हो रहेगा तो आपके अंदर की स्थिति कुछ और होगी जब अंदर की स्थिति कुछ और होगी तो फिर दिमाग और थोड़ा बैटर और मन लगाके उस काम को अंजाम देने की कोशिश करेगा और फिर इसी तरह आप दूसरे लोग दूसरे साइकिल में जाएंगे जो कि इस अशांत प्रक्रिया से निकलने में आपको मदद करेगा और आपको अच्छा महसूस कर आएगा

jeevan ke ashant hone ke kya karan ho sakte hain aur yah karan kahaan se aate hain karan aapke dimag ki udhedbun se aate hain aapke dimag mein kya chalta hai kya sochte rehte hain aur us hisab se aapka jo man hai aaya toh accha lagega usko ya accha nahi lagega bura lagega dukhi hoga toh yah feeling se yah mausam yah condition hai jo aapke sochne ke karan aaj aate hain aap chai aap chupchap baithkar soch rahe ho ya kuch kaam karte karte soch rahe ho kya jaisa bhi ho aap soch rahe ho koi paas cheez ke bare mein kya jo aap kar rahe ho uske bare mein ya jo hone vala hai uske bare mein kis din aisi kisi cheez ke bare mein dimagi prakriya chal rahi hai jiske karan se aapke andar ka vatavaran ek disha mein ja raha hai aur aapko lagta hai vaah disha sahi nahi hai agar vaah disha sahi nahi hai toh usko theek karne ke liye aap disha ko sahi nahi kar sakte aapko kya karna hai aap us soch se aapko mukti paani hai soch se mukti kaise milegi jab aap us soch ke bajay aap apna dimag apni energy kisi aur karya mein Daalein kyonki agar aap soch rahe hain aur kuch kar sakte hain toh aapko kijiye taki us se aapko mukti mile lekin agar aap kuch nahi kar sakte jo ho gaya hai hone vala hai jaisa bhi kuch hai toh usko aap log ko lekar pareshan hone ki zarurat nahi hai kuch aur kijiye taiyar hai na ji dali hai aur kuch aur kaam kijiye aaj se aapka dimag kahin aur rahega dimag kahin ho rahega toh aapke andar ki sthiti kuch aur hogi jab andar ki sthiti kuch aur hogi toh phir dimag aur thoda better aur man lagake us kaam ko anjaam dene ki koshish karega aur phir isi tarah aap dusre log dusre cycle mein jaenge jo ki is ashant prakriya se nikalne mein aapko madad karega aur aapko accha mehsus kar aayega

जीवन के अशांत होने के क्या कारण हो सकते हैं और यह कारण कहां से आते हैं कारण आपके दिमाग की

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  764
WhatsApp_icon
play
user

Dr. KRISHNA CHANDRA

Rehabilitation Psychologist

1:59

Likes  67  Dislikes    views  1552
WhatsApp_icon
user

Norang sharma

Social Worker

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों अगर आप का दिमाग और आपका मन अक्सर शांत नहीं रहते और आपको बहुत बेचैनी महसूस होती है तब आप क्या करें आपको ही समझ नहीं आ रहा तो देखिए सुलझाने की कोशिश करते हैं आपकी समस्या और इस चुनौती को देखे हमारा जो मन है हमारा जो दिमाग है उसकी बनावट और उसका काम ही यही है कि वो कोई ना कोई चीज सोचता रहेगा कोई ना कोई विचार जो है वह करता रहेगा तो अगर आपके मन और आपके दिमाग में अगर विचार आ रही हैं कि आप के जिंदा होने का लक्षण है तो आपको इससे बिल्कुल घबराने की कोई जरूरत नहीं है यह बहुत ही नेचुरल प्रोसेस है बहुत ही सामान्य सी बात है अब बात आती है कि आप शांत नहीं रहता क्योंकि आप अपनी जो विचार प्रक्रिया है उसे समझ नहीं पाती आपका जो सांस लेना है वह आपके विचारों को काफी हद तक कंट्रोल करता लेकिन हम लोग इतने बिजी हो गए हैं कि अपनी सांस के प्रति बिल्कुल भी अगर नहीं है क्योंकि दोस्तों जब हमारी सांस उतरी हो जाती है या बहुत ही जल्दी जल्दी हम सांस लेते हैं तो हमारा जो विचार प्रक्रिया है उसमें बाधा पड़ती है और बहुत ज्यादा विचार हमारे दिमाग में आते हैं लेकिन अगर वही शासन की जो क्रिया है उसे हम अभ्यास से योगा की सहायता से थोड़ा धीमा कर लेते हैं थोड़ा शांत कर लेते हैं तो उसका हमारे माइंड पर भी यही असर होता है कि वह भी फिर धीरे-धीरे शांत होने लगता है इसलिए जब कभी आप बेचन महसूस करे ना तो कम से कम 1 घंटे तक आपको एक स्थान चुन लेना चाहिए एकांत स्थान और अपनी सांसों को आते जाते देखना चाहिए आप विभिन्न बनार यह महसूस करेंगे कि आपका जो मन है वह पहले से कहीं ज्यादा शांत हो गया है तो ट्राई करके देखें अच्छे रिजल्ट मिलेंगे आपको धन्यवाद

namaskar doston agar aap ka dimag aur aapka man aksar shaant nahi rehte aur aapko bahut bechaini mehsus hoti hai tab aap kya kare aapko hi samajh nahi aa raha toh dekhiye suljhane ki koshish karte hain aapki samasya aur is chunauti ko dekhe hamara jo man hai hamara jo dimag hai uski banawat aur uska hi yahi hai ki vo koi na koi cheez sochta rahega koi na koi vichar jo hai vaah karta rahega toh agar aapke man aur aapke dimag mein agar vichar aa rahi hain ki aap ke zinda hone ka lakshan hai toh aapko isse bilkul ghabrane ki koi zarurat nahi hai yah bahut hi natural process hai bahut hi samanya si baat hai ab baat aati hai ki aap shaant nahi rehta kyonki aap apni jo vichar prakriya hai use samajh nahi pati aapka jo saans lena hai vaah aapke vicharon ko kaafi had tak control karta lekin hum log itne busy ho gaye hain ki apni saans ke prati bilkul bhi agar nahi hai kyonki doston jab hamari saans utari ho jaati hai ya bahut hi jaldi jaldi hum saans lete hain toh hamara jo vichar prakriya hai usme badha padti hai aur bahut zyada vichar hamare dimag mein aate hain lekin agar wahi shasan ki jo kriya hai use hum abhyas se yoga ki sahayta se thoda dheema kar lete hain thoda shaant kar lete hain toh uska hamare mind par bhi yahi asar hota hai ki vaah bhi phir dhire dhire shaant hone lagta hai isliye jab kabhi aap bechan mehsus kare na toh kam se kam 1 ghante tak aapko ek sthan chun lena chahiye ekant sthan aur apni shanson ko aate jaate dekhna chahiye aap vibhinn banar yah mehsus karenge ki aapka jo man hai vaah pehle se kahin zyada shaant ho gaya hai toh try karke dekhen acche result milenge aapko dhanyavad

नमस्कार दोस्तों अगर आप का दिमाग और आपका मन अक्सर शांत नहीं रहते और आपको बहुत बेचैनी महसूस

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  392
WhatsApp_icon
user

Porshia Chawla Ban

Psychologist

1:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है मेरा दिमाग और मेरा मन करता नहीं रहते और मुझे बहुत बेचैनी महसूस होती है मैं क्या करूं आपका मन शांत नहीं है दिमाग शांत नहीं है इसका मतलब बहुत सारे विचार हैं जो आपके मन में चल रहे हैं तो वह विचार इसीलिए चल रहे हैं क्योंकि क्रांति ऑफ थॉट नहीं है बहुत जब भीड़ हो जाती है जिसे कहते हैं तो हमको लाइन में लगाना है सब को ठीक है तो हमको क्या करना है यहां पर थोड़ा सा एनालाइज करना है वैल्यूएशन करना है क्या भी लाइफ में क्या चल रहा है तो कुछ तो है जो आपके लाइफ में प्रॉब्लम है कुछ तो है रिजाल नहीं हुआ है जिसको लेकर आप चिंतित रहते हैं स्ट्रेस में हैं कि कुछ ऐसी चीजें हैं जो आप चाहते होंगे कि यह मुझे मिले लाइफ में तो वह सभी को आपने विश करना है एक पेपर पर उन चीजों को लिस्ट आउट करें कि जो चीज आपको पसंद नहीं है जिनकी वजह से आपको परेशानी हो रही है और उन्हीं के बाजू में भी लिखेंगे आप उसको शार्ट करने के लिए क्या कर को सुलझाने के लिए सॉल्व करने के लिए क्या कर सकते हैं वह लिखें और उसके बाद देखेंगे वैसा करने से आपको क्या चीज से रोक रही है क्या बात है आपने आपको उत्पन्न हो रही हैं उनको देखें और फिर उसमें आप अब प्राथमिकता देंगे क्या चीज ज्यादा इंपोर्टेंट है किस को सबसे पहले सुलझाना चाहिए तो इस संसार को क्लेरिटी आफ थॉट मिलेगा और अक्सर हमें ऐसा लगता है कि बहुत परेशानियां हैं और इन को शॉट आउट नहीं कर पा रहे हैं कैसे करेंगे मैं तो नहीं कर सकता हूं लेकिन सलूशन कहीं आस-पास ही होता है हमको सिर्फ सलूशन ढूंढना है देखना है और खुद को हमने क्यों न करना है सलूशन के लिए तो हेल्प हमारे आसपास ही होती है मौसम को से साफ कर नजरों से देखना जरूरी है धन्यवाद

aapka sawaal hai mera dimag aur mera man karta nahi rehte aur mujhe bahut bechaini mehsus hoti hai kya karu aapka man shaant nahi hai dimag shaant nahi hai iska matlab bahut saare vichar hai jo aapke man mein chal rahe hai toh vaah vichar isliye chal rahe hai kyonki kranti of thought nahi hai bahut jab bheed ho jaati hai jise kehte hai toh hamko line mein lagana hai sab ko theek hai toh hamko kya karna hai yahan par thoda sa analyse karna hai vailyueshan karna hai kya bhi life mein kya chal raha hai toh kuch toh hai jo aapke life mein problem hai kuch toh hai rijal nahi hua hai jisko lekar aap chintit rehte hai stress mein hai ki kuch aisi cheezen hai jo aap chahte honge ki yah mujhe mile life mein toh vaah sabhi ko aapne wish karna hai ek paper par un chijon ko list out kare ki jo cheez aapko pasand nahi hai jinki wajah se aapko pareshani ho rahi hai aur unhi ke baju mein bhi likhenge aap usko shaart karne ke liye kya kar ko suljhane ke liye solve karne ke liye kya kar sakte hai vaah likhen aur uske baad dekhenge waisa karne se aapko kya cheez se rok rahi hai kya baat hai aapne aapko utpann ho rahi hai unko dekhen aur phir usme aap ab prathamikta denge kya cheez zyada important hai kis ko sabse pehle suljhana chahiye toh is sansar ko kleriti of thought milega aur aksar hamein aisa lagta hai ki bahut pareshaniya hai aur in ko shot out nahi kar paa rahe hai kaise karenge main toh nahi kar sakta hoon lekin salution kahin aas paas hi hota hai hamko sirf salution dhundhana hai dekhna hai aur khud ko humne kyon na karna hai salution ke liye toh help hamare aaspass hi hoti hai mausam ko se saaf kar nazro se dekhna zaroori hai dhanyavad

आपका सवाल है मेरा दिमाग और मेरा मन करता नहीं रहते और मुझे बहुत बेचैनी महसूस होती है मैं क्

Romanized Version
Likes  252  Dislikes    views  3446
WhatsApp_icon
user
3:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरा दिमाग और मेरा मन अक्सर शाम नहीं रहते ऐसी क्या वजह है जो आपका मन आपका दिमाग शांत नहीं रहता कुछ तो ऐसी बात होगी जो आपको अंदर से शान त्रिवेणी देता या तो फैमिली परेशानी या किसी को अब बहुत चाहते होंगे या कोई औरतें की वजह या कोई और बहुत सारी जिंदगी में समस्याएं होती है तू जो कुछ भी समस्या है आपकी जिंदगी में जैसा भी प्रॉब्लम हो आप इतना दिल से मत लगाइए अगर ऐसा लगता है कि आपने कोई गलती किया है किसी इंसान के साथ बुरा किया है और किसी को दिल दुखाया अपनी फैमिली वाले या फिर फ्रेंड को या किसी को भी तो अगर ऐसा होता है कि हमारी गलती करते हैं तो मतलब किसी को हम दे बजे फालतू कुछ बोल देते हैं जिसकी वजह से सामने वाला कोई गलती ना हो हम गलती करते हैं तो हमें बाद में पूछते इसके लिए भी हमारा मन हमारा दिमाग शांत नहीं रहता और हमेशा बेचैनी महसूस होती है कि हमने ऐसा गलती क्यों किया ऐसे में हमें अगर ऐसी कोई प्रॉब्लम है तो आप माफी मांगो दिल से हर गलती की माफी होती है ऐसी कोई बात नहीं होती कि हमने गलती किया तो उसकी माफी नहीं मिलेगी मिलेगी हमें अपनी गलती को हमेशा जिसे महसूस करनी चाहिए तो अगर कुछ भी ऐसा बात है तो आप उस गलती को मान लो ऐसी कोई बात नहीं है तो अंदर से अगर कोई तरीके परेशानी है अगर बीमारी है कुछ है आप डॉक्टर से भी दिखा सकते हो क्योंकि अगर मतलब है सब सही हो उसके बाद भी हमेशा आपका मन मतलब शांत नहीं रहता और बेचैनी रहती है तो इससे में तो कई बार ऐसा भी होता है जिसमें बीपी कल पूर्ण होता है उसे भी में बेचैनी होती है और मतलब मन शांत नहीं होता हमेशा दिमाग में बेचैनी सी होती है तो ऐसे हालात में भी ऐसी समस्या होती है तू जो भी हो आप डॉक्टर शिवसेना ले अगर कोई गलती हुई है उस गलती को दिल से एहसास करें और सामने वाले से माफी मांगे इसका दो ही मतलब हो सकता है या तो बीबीकुलम या कोई गलती नहीं तो अगर कोई और और कोई परेशानी है और परेशानी कितनी गवाही कोई झूठ नहीं है आप एक इंसान होने के नाते इतना तो कर ही सकते हैं कि हमारे घर में जो भी समय से हम उस समस्या को दूर करें कुछ भी कर सकते हैं कुछ लोग कमा सकते हैं क्या बिजनेस कर सकते हैं यह पढ़ाई लिखाई जो भी हो जहां तक भी हमें अच्छे करने के लिए हम कर सकते हैं तो सारी समस्या दूर हो जाएगी इसलिए इतना आपको मन को अशांत रखना जरूरी नहीं है मन शांत रखें तभी आप कुछ कर पाएंगे

mera dimag aur mera man aksar shaam nahi rehte aisi kya wajah hai jo aapka man aapka dimag shaant nahi rehta kuch toh aisi baat hogi jo aapko andar se shan triveni deta ya toh family pareshani ya kisi ko ab bahut chahte honge ya koi auraten ki wajah ya koi aur bahut saree zindagi mein samasyaen hoti hai tu jo kuch bhi samasya hai aapki zindagi mein jaisa bhi problem ho aap itna dil se mat lagaaiye agar aisa lagta hai ki aapne koi galti kiya hai kisi insaan ke saath bura kiya hai aur kisi ko dil dukhaya apni family waale ya phir friend ko ya kisi ko bhi toh agar aisa hota hai ki hamari galti karte hain toh matlab kisi ko hum de baje faltu kuch bol dete hain jiski wajah se saamne vala koi galti na ho hum galti karte hain toh hamein baad mein poochhte iske liye bhi hamara man hamara dimag shaant nahi rehta aur hamesha bechaini mehsus hoti hai ki humne aisa galti kyon kiya aise mein hamein agar aisi koi problem hai toh aap maafi mango dil se har galti ki maafi hoti hai aisi koi baat nahi hoti ki humne galti kiya toh uski maafi nahi milegi milegi hamein apni galti ko hamesha jise mehsus karni chahiye toh agar kuch bhi aisa baat hai toh aap us galti ko maan lo aisi koi baat nahi hai toh andar se agar koi tarike pareshani hai agar bimari hai kuch hai aap doctor se bhi dikha sakte ho kyonki agar matlab hai sab sahi ho uske baad bhi hamesha aapka man matlab shaant nahi rehta aur bechaini rehti hai toh isse mein toh kai baar aisa bhi hota hai jisme BP kal purn hota hai use bhi mein bechaini hoti hai aur matlab man shaant nahi hota hamesha dimag mein bechaini si hoti hai toh aise haalaat mein bhi aisi samasya hoti hai tu jo bhi ho aap doctor shivsena le agar koi galti hui hai us galti ko dil se ehsaas kare aur saamne waale se maafi mange iska do hi matlab ho sakta hai ya toh bibikulam ya koi galti nahi toh agar koi aur aur koi pareshani hai aur pareshani kitni gawaahi koi jhuth nahi hai aap ek insaan hone ke naate itna toh kar hi sakte hain ki hamare ghar mein jo bhi samay se hum us samasya ko dur kare kuch bhi kar sakte hain kuch log kama sakte kya business kar sakte hain yah padhai likhai jo bhi ho jaha tak bhi hamein acche karne ke liye hum kar sakte hain toh saree samasya dur ho jayegi isliye itna aapko man ko ashant rakhna zaroori nahi hai man shaant rakhen tabhi aap kuch kar payenge

मेरा दिमाग और मेरा मन अक्सर शाम नहीं रहते ऐसी क्या वजह है जो आपका मन आपका दिमाग शांत नहीं

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  690
WhatsApp_icon
user

Kavita Panyam

Certified Award Winning Counseling Psychologist

1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए ऐसा कुछ होगा आपके जीवन में जो रोल नहीं हुआ होगा जो आधा अधूरा रहा होगा जिसकी वजह से वह कहीं पर आपके सबकॉन्शियस माइंड में अभी भी जागृत है जिसके वजह से आपका दिमाग और मन औरत जो स्कूल है वह अक्सर साथ नहीं रहते और काफी बेचैनी आपको महसूस होती है आपको चाहिए कि आप एक जगह बैठ जाएं अकेले में एक पेपर और पेन लीजिए और लिखिए कि ऐसी कौन सी सिचुएशन से आपकी लाइफ में जहां पर आप को क्लोज हेयर नहीं मिला है क्लोजर मतलब जो अभी भी अधूरे हैं क्या आपने किसी के साथ बुरा किया है क्या किसी ने आपका फायदा उठाया है या फिर कहीं से ऐसा कुछ हुआ है जो गलत हुआ है या फिर हो सकता है कि आप कुछ करना चाहते थे और वह नहीं कर पाए हैं चाहे वह रिलेशनशिप फॉर आपका करियर हो आपका सपना हो जो आप चाहते थे लेकिन उसको एक चीज नहीं कर पाए तो फिर आगे की पढ़ाई हो सकती है कोई भी एक एरिया आपकी लाइफ में जहां पर सुकून फ्रेंड है मतलब कुछ ट्रेन रिलेशनशिप है या फिर ऐसा कुछ है जो आधा अधूरा है यह आप को ढूंढना पड़ेगा मुझे वापस को पिन प्वाइंट कर पाएंगे कि कहां पर हो इन बैलेंस है आपके एनर्जी इसमें उस एरिया पर हमें काम कर रहा होगा और उसको नाम लाइफ करना होगा तो यह आप जो मैंने बताया पेपर पेंसिल टेस्ट उसको आप कीजिए और जैसे ही आप को पता चल जाएगा कि वह कौन सा एरिया है तो आप पगली साइकॉलजी से मिल सकते हैं और वहां पर रखी और काउंसिलिंग के द्वारा आप उस प्रॉब्लम से बाहर आ सकते हैं और हर सब को सब कुछ मिलता नहीं है काफी चीजों को हमेशा मना करना पड़ता है उसे एक्सेप्ट करना पड़ता है मुझे कभी परफेक्ट नहीं रहते लाइट जो है कभी परफेक्ट रहती नहीं है सब कुछ आपके मुताबिक नहीं होता है लेकिन फिर भी जिंदगी आपके हाथ में होती है कि आप हार को कैसे अपनाएं और जीत के लिए कैसे काम करें तो जिंदगी चलने का नाम है लेकिन कांटेक्ट मी एट कविता पर नियम डॉट कॉम फॉर काउंसलिंग

dekhiye aisa kuch hoga aapke jeevan mein jo roll nahi hua hoga jo aadha adhura raha hoga jiski wajah se vaah kahin par aapke subconscious mind mein abhi bhi jagrit hai jiske wajah se aapka dimag aur man aurat jo school hai vaah aksar saath nahi rehte aur kaafi bechaini aapko mehsus hoti hai aapko chahiye ki aap ek jagah baith jayen akele mein ek paper aur pen lijiye aur likhiye ki aisi kaun si situation se aapki life mein jaha par aap ko close hair nahi mila hai closure matlab jo abhi bhi adhure kya aapne kisi ke saath bura kiya hai kya kisi ne aapka fayda uthaya hai ya phir kahin se aisa kuch hua hai jo galat hua hai ya phir ho sakta hai ki aap kuch karna chahte the aur vaah nahi kar paye hain chahen vaah Relationship for aapka career ho aapka sapna ho jo aap chahte the lekin usko ek cheez nahi kar paye toh phir aage ki padhai ho sakti hai koi bhi ek area aapki life mein jaha par sukoon friend hai matlab kuch train Relationship hai ya phir aisa kuch hai jo aadha adhura hai yah aap ko dhundhana padega mujhe wapas ko pin point kar payenge ki kahaan par ho in balance hai aapke energy isme us area par hamein kaam kar raha hoga aur usko naam life karna hoga toh yah aap jo maine bataya paper pencil test usko aap kijiye aur jaise hi aap ko pata chal jaega ki vaah kaun sa area hai toh aap pagli psychology se mil sakte hain aur wahan par rakhi aur Counselling ke dwara aap us problem se bahar aa sakte hain aur har sab ko sab kuch milta nahi hai kaafi chijon ko hamesha mana karna padta hai use except karna padta hai mujhe kabhi perfect nahi rehte light jo hai kabhi perfect rehti nahi hai sab kuch aapke mutabik nahi hota hai lekin phir bhi zindagi aapke hath mein hoti hai ki aap haar ko kaise apanaen aur jeet ke liye kaise kaam kare toh zindagi chalne ka naam hai lekin Contact me ate kavita par niyam dot com for kaunsaling

देखिए ऐसा कुछ होगा आपके जीवन में जो रोल नहीं हुआ होगा जो आधा अधूरा रहा होगा जिसकी वजह से व

Romanized Version
Likes  68  Dislikes    views  1114
WhatsApp_icon
user

Sandeep Sastri

Motivational Speaker

1:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो भाई जो आपका यह सवाल है यह सवाल वाकई में बहुत अच्छा सवाल है और मैं आपको सलाह दूंगा छोटी-छोटी अगर आपको पसंद आए तो मुझे लाइक कीजिए और देखिए यह तो सभी के साथ हैं कि सभी का मन शांत रखने और दूसरी बात यह है कि बेचैनी महसूस होना या फिर शरीर में कुछ बदलाव महसूस कर रहे हैं आप उसके लिए योगदान का सहारा ले सकते हैं सुबह थोड़ा जल्दी उठे और भाई आप जो हैं किसी अपने विचारों को समझता हूं उससे अच्छी बातचीत करें उसे थोड़ा सा मन हल्का होगा बेचैनी होती है तो वह भाई तेरा है जैसे कि करते हैं शरीर को भी आत्मा को भी सफल बनने के लिए धन्यवाद आपका दोस्त

dekho bhai jo aapka yah sawaal hai yah sawaal vaakai mein bahut accha sawaal hai aur main aapko salah dunga choti choti agar aapko pasand aaye toh mujhe like kijiye aur dekhiye yah toh sabhi ke saath hain ki sabhi ka man shaant rakhne aur dusri baat yah hai ki bechaini mehsus hona ya phir sharir mein kuch badlav mehsus kar rahe hain aap uske liye yogdan ka sahara le sakte hain subah thoda jaldi uthe aur bhai aap jo hain kisi apne vicharon ko samajhata hoon usse achi batchit kare use thoda sa man halka hoga bechaini hoti hai toh vaah bhai tera hai jaise ki karte hain sharir ko bhi aatma ko bhi safal banne ke liye dhanyavad aapka dost

देखो भाई जो आपका यह सवाल है यह सवाल वाकई में बहुत अच्छा सवाल है और मैं आपको सलाह दूंगा छोट

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  220
WhatsApp_icon
user

Yogi Satendra

Yoga Expert & International Coach | Yoga Therapist | Life Coach | Health & Fitness Consultant

9:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत-बहुत नमस्कार मैं हूं योगी सत्येंद्र आपका बहुत-बहुत स्वागत करता हूं एक बहुत ही अच्छा प्रश्न आया हुआ है मैं आपको पढ़कर सुना रहा हूं उसके बाद में उसका आंसर दूंगा फिर से धूप से और ध्यान से सुनिए गाड़ी और तेल लेकर बैठे ताकि आप नोट कर पाएंगे आपको क्या कहती बेटी करनी है अपने मन को शांत करने के लिए चिंता मुक्त करने के लिए प्रश्न पढ़कर सबसे पहले सुना रहा है मेरा दिमाग और मेरा मन अक्सर शांत नहीं रहते और मुझे बहुत बेचैनी महसूस होती है मैं क्या करूं बहुत ही अच्छा प्रश्न है आज बहुत सारी आबादी बहुत सारी जनसंख्या पॉपुलेशन आज मानसिक परेशानियों से गुजर रही है मानसिक बीमारियों से गुजर रही है बिल्कुल आज क्या हो रहा है चाहे वह कोई स्टूडेंट हो या ग्रहणी हो या कॉर्पोरेट में जॉब कर रहे हो या गवर्नमेंट पर जॉब कर रहे हो बिजनेसमैन किसी भी प्रोफाइल की आपको आज मन की शांति की बात हर कोई करता है उनको लगता है कि मेरा मन इतना बेचैन क्यों रहता है जबकि कोई वजह है कि नहीं है तो आज मैं आपको उसका सलूशन बताऊंगा बहुत ही अच्छा सलूशन है अगर आप इस को फॉलो करते हैं मेरी बातों को गौर से सुनते हैं और इसको अपने जीवन में डालने की कोशिश करते हैं तो मुझे पूरा विश्वास है कि आपको बहुत ज्यादा आराम होगा और आप उससे निकल पाएंगे लेकिन एक बात हमेशा याद रखिए पहली बात तो यह है कि कभी भी यह आप ना सोचे कि आपने 1 दिन कोई एक्टिविटी कि जो मैं आपको बता रहा हूं और आपको आराम हो जाएगा यह एक लंबी प्रक्रिया है मन कहने का मतलब है जब आप करीब 15 दिन से आपको इसका अनुभव शुरू होगा आपको लगेगा कि हां मुझे थोड़ा सा अच्छा लगना शुरू हो रहा है मेरा मन शांत होना शुरू हो रहा है और इसको आप लगातार अपने जीवन में डाल दीजिए जो मैं आपको तरीके बता रहा हूं और जो मैं आपको डाइट प्लान बता रहा हूं कुछ होम रेमेडीज बता रहा हूं उसको ध्यान में रखकर अगर आप इसके साथ ना करेंगे तो आप इससे बाहर निकल पाएंगे सबसे पहला पॉइंट यह है कि आपका मन अशांत क्यों है इसके बारे में थोड़ा सा जाने की कोशिश करिए कि ऐसी कौन सी वजह है आपके साथ कौन से माइंड में आओ चेतन मन में यह कहीं ना कहीं तो कुछ है जिसकी वजह से आप कानपुर के एक डायरी और तेल ले लीजिए और आप उसके पॉइंट्स बनाइए कि आपके जीवन में ऐसी कौन-कौन सी चीजें हैं जो आपको परेशान कर रही है बिल्कुल आप पॉइंट बनाइए 5 पॉइंट बनाइए पहला पॉइंट दूसरा पॉइंट तीसरा प्वाइंट चौथा पॉइंट 5 वा पाइप जॉइंट बना लेंगे तो आपको काफी हल्का लगेगा आप पॉइंट बनाइए बनाइए डायरी में लिखे शब्दों में लिखिए कि ऐसी 5 पॉइंट 5 बिंदु कौन से हैं जो आपको अक्सर परेशान करते हैं आप डैडी बनाइए 5 पॉइंट लिस्ट के बाद में आप दूसरे पेज में आई है उसमें अपनी पांच फोबिया लिखिए आप अपने पांच अपने व्यक्तित्व के बारे में अच्छी बातें लिखिए देखिए हर मनुष्य के अंदर हर इंसान के अंदर अगर नेगेटिव की है अगर उसके अंदर कोई प्रॉब्लम है तो उसके अंदर दूसरा पहलू यह भी होता है किस के अंदर बहुत तारीफ पहुंचते ब्रिटिश होती है तो आप अपने क्या आपके अंदर कौन-कौन से 5 गुण हैं आप आप दिल्ली लिखिए आप डायरी लिखिए आप पांच आप जैसे आज की डेट डालिए आप लिखिए आप कौन-कौन सी कौन-कौन सी वजह है सी है जिसके कारण आप शांत रहते हैं जिसके कारण आप चिंतित रहते हैं जिसके कारण अतिक्रमण रहते हैं उसके बाद आप 5 पॉइंट दूसरे पेज में लिखिए आप की खूबियां कौन-कौन से हैं आपकी पर्सनालिटी में जो अच्छी चीजें हैं वह कौन-कौन सी है उसके पांच छह सात पॉइंट आप लिख लीजिए उसके बाद आपको मैं कुछ योगिक क्रिया बताता हूं अगर आपने उसमें योगी क्रिया को कर लिया तो आपको बहुत ज्यादा फायदा होगा आप सबसे पहला कि आप सुबह 5:00 बजे उठना शुरू ब्रह्म और पर बिल्कुल अगर 5:00 बजे उठना अगर आपको ठीक होना है अगर आपको ओवर कम करना है अगर आपको इससे इससे आपको छुटकारा चाहिए आपको उससे इस परेशानी से आपको अगर आप को दूर करना है परेशानी को तो आप 5:00 बजे उठना शुरू करिए रोज सुबह 5:00 बजे और बिस्तर पर बैठ कर आप पहले ईश्वर को धन्यवाद दीजिए कि हे ईश्वर आपने मुझे जो भी दिया है बहुत ही प्रचुरता में दिया है बहुत सारी मात्रा में दिया है आपने मुझे सब कुछ दिया है आपको बहुत-बहुत धन्यवाद और मैं आशा करता हूं कि आगे भी आप मुझे बहुत अच्छी-अच्छी चीजें प्रदान करेंगे इस तरह से आपके जीवन में जो जो चीजें हैं उसके लिए पहले आप ईश्वर को प्रकृति को ब्रह्मांड को धन्यवाद कीजिए आंखें बंद करके और उसे अक्रिय कि आप आगे भी मुझे बहुत अच्छी-अच्छी चीजें देते रहेंगे और इस तरह से आप आंखें बंद करके शांति से बैठी है मन को शांत करिए और धन्यवाद उनको दीजिए ईश्वर को ईश्वर आपको धन्यवाद धन्यवाद थैंक यू थैंक यू थैंक यू कम से कम 2 मिनट तक उनको धन्यवाद दीजिए ईश्वर को जिन्होंने आपको इस सृष्टि पर लाया है आपके अच्छे मां-बाप दिए हैं अक्षय भाई बहन दिए हैं समाज में अच्छे लोग दिए हैं आपको अच्छी चीजें दी है आपको जो भी आपके जीवन में मिला है उसके लिए आप किस तक हो जाइए आप भगवान के प्रति ईश्वर के प्रति उनका आभार मानिए कि आपने जो भी दिया है मुझे बहुत दिया है और आगे भी आप मुझे बहुत सारी चीजें देते रहेंगे उसके बाद आप सूर्य नमस्कार के साथ ना करिए कम से कम नहीं तो 2010 चक्र करिए 10 चक्र करिए फास्ट में इसरो में अवश्य करें 10 चक्र आपको सुर नमस का करना है फास्ट में सूर्य नमस्कार करने के बाद आपको आधा घंटा योगनिद्रा करना है लेकिन उसके पहले आपको प्राणायाम की साधना करनी है प्राणायाम करने के लिए कपालभाति प्राणायाम करिए कम से कम कपालभाति प्राणायाम आप करिए 50 50 50 50 में 50 बार करिए कपालभाति प्राणायाम राधे मिनट का ब्रेक लीजिए फिर 50 बार के लिए 3 मिनट का ब्रेक लिए लीजिए फिर 50 बार करिए फिर आधी मिनट का ब्रेक लीजिए इस तरह से आप को 200 बार करना है ना तू हंड्रेड टाइम्स आपको करना है कपालभाति प्राणायाम उसके बाद आपको करना है अनुलोम-विलोम प्राणायाम 3 मिनट करिए फिर आधे मिनट का ब्रेक लीजिए फिर 3 मिनट करिए फिर आधे मिनट का ब्रेक लीजिए फिर 3 मिनट करिए आपको 9 मिनट आपको करना है अनुलोम विलोम उसके बाद आपको करना है भामरी प्राणायाम भ्रामरी प्राणायाम आपको करना है 5 बार फिर आपको ब्रेक लेना है 8 मिनट का खेल करना है 5 बार फिर आधे मिनट का ब्रेक लेना है फिर करना है 5 बार इस तरह से आपको करना है 15 बार भामरी प्राणायाम 5 प्लस 5 प्लस 55 ब्रेक लीजिए 5 बार करिए यह हुआ प्राणायाम तीन तरह के प्राणायाम करना है सूर्य नमस्कार करना है 10 प्लस 10 या 10 बार फ्लोर में 10 बार फास्ट में उसके बाद आपको करना है 3:00 प्राणायाम कपालभाती प्राणायाम अनुलोम विलोम प्राणायाम और राम जी प्रणम उसके बाद आपको करना है योग निद्रा योग्यता के बहुत सारे वीडियोस और यूट्यूब आपको मिल जाएंगे आप उसको लगा लीजिए और अपने नेट पर अपने आसन पर जिसके ऊपर आप योगासन कर रहे थे उसके ऊपर आप लेट जाइए और जैसे-जैसे आप को निर्देश दिया जा रहा है उस निर्देश का अनुपालन कर ही शरीर को ढीला छोड़ दीजिए शीतल कर दीजिए और आप कम से कम आधे घंटे का योग निद्रा आप पर डे करिए पढ़ने आधे घंटे की योगनिद्रा करिए और आधे घंटे की योगनिद्रा के बाद आप हाथ शासन करिए आने की आपको हंसना है आप अपने कमरे में कहीं भी बाहर आप हंसी है किसी से कोई शर्म करने की जरूरत नहीं है आप बहुत तेज तेज हाथ को ऊपर उठा उठा कर आप बहुत तेज देश दहाड़ लगा लगा कर आपका से इस तरह से आपको करना है कम से कम 1 मिनट से 2:00 मिनट तक आपको हंसना है और बस इतनी आपने एक्टिविटी अगर कर ली तो आप बहुत जल्दी आप का मन शांत होने लगेगा आप चिंता मुक्त होने लगेगी आपके अंदर कॉन्फिडेंस आने लगेगा और आप अपने जीवन को बहुत अच्छे से चला सकते हैं साथ में डाइट प्लान करिए आप अच्छी डाइट कीजिए संतुलित डाइट लीजिए अनाज को कम करिए आप फल फ्रूट को ज्यादा खाइए हरी सब्जी को ज्यादा खाइए साइड बहुत ज्यादा खाई है साला बहुत ज्यादा खाइए और साथ में आप आप फैट फूड्स बहुत ज्यादा कहिए वेजिटेबल खाइए सपोर्ट चाहिए जो अंकुरित आइटम है और इस तरह से आप अपने डाइट प्लान को संतुलित कर दीजिए बिलकुल संतुलित कर दीजिए और रात में सोने से पहले आपको दो घंटा सोने से पहले आप को भोजन करना है ध्यान रखेगा रात में 2 घंटा सोने से पहले जी हां और उसके बाद आपको सोने से पहले एक चम्मच त्रिफला चूर्ण गुनगुने पानी से लेना है सोने के पहले दिल्ली पार्टी ध्यान रखें आंसर आपको पसंद आया होगा निश्चित ऑफिस से निकल पाएंगे आप चिंता मुक्त हो पाएंगे मैं यही आशा करता हूं आप को निरंतर अच्छा लगा हो तो मुझे फॉलो करने और कमेंट करके जरूर बताएं अगर आप फॉलो करेंगे तो अच्छा चालू जब तक मिल पाएंगे बहुत-बहुत धन्यवाद थैंक यू

bahut bahut namaskar main hoon yogi satyendra aapka bahut bahut swaagat karta hoon ek bahut hi accha prashna aaya hua hai main aapko padhakar suna raha hoon uske baad me uska answer dunga phir se dhoop se aur dhyan se suniye gaadi aur tel lekar baithe taki aap note kar payenge aapko kya kehti beti karni hai apne man ko shaant karne ke liye chinta mukt karne ke liye prashna padhakar sabse pehle suna raha hai mera dimag aur mera man aksar shaant nahi rehte aur mujhe bahut bechaini mehsus hoti hai main kya karu bahut hi accha prashna hai aaj bahut saari aabadi bahut saari jansankhya population aaj mansik pareshaniyo se gujar rahi hai mansik bimariyon se gujar rahi hai bilkul aaj kya ho raha hai chahen vaah koi student ho ya grahanee ho ya corporate me job kar rahe ho ya government par job kar rahe ho bussinessmen kisi bhi profile ki aapko aaj man ki shanti ki baat har koi karta hai unko lagta hai ki mera man itna bechain kyon rehta hai jabki koi wajah hai ki nahi hai toh aaj main aapko uska salution bataunga bahut hi accha salution hai agar aap is ko follow karte hain meri baaton ko gaur se sunte hain aur isko apne jeevan me dalne ki koshish karte hain toh mujhe pura vishwas hai ki aapko bahut zyada aaram hoga aur aap usse nikal payenge lekin ek baat hamesha yaad rakhiye pehli baat toh yah hai ki kabhi bhi yah aap na soche ki aapne 1 din koi activity ki jo main aapko bata raha hoon aur aapko aaram ho jaega yah ek lambi prakriya hai man kehne ka matlab hai jab aap kareeb 15 din se aapko iska anubhav shuru hoga aapko lagega ki haan mujhe thoda sa accha lagna shuru ho raha hai mera man shaant hona shuru ho raha hai aur isko aap lagatar apne jeevan me daal dijiye jo main aapko tarike bata raha hoon aur jo main aapko diet plan bata raha hoon kuch home remedies bata raha hoon usko dhyan me rakhakar agar aap iske saath na karenge toh aap isse bahar nikal payenge sabse pehla point yah hai ki aapka man ashant kyon hai iske bare me thoda sa jaane ki koshish kariye ki aisi kaun si wajah hai aapke saath kaun se mind me aao chetan man me yah kahin na kahin toh kuch hai jiski wajah se aap kanpur ke ek diary aur tel le lijiye aur aap uske points banaiye ki aapke jeevan me aisi kaun kaun si cheezen hain jo aapko pareshan kar rahi hai bilkul aap point banaiye 5 point banaiye pehla point doosra point teesra point chautha point 5 va pipe joint bana lenge toh aapko kaafi halka lagega aap point banaiye banaiye diary me likhe shabdon me likhiye ki aisi 5 point 5 bindu kaun se hain jo aapko aksar pareshan karte hain aap daddy banaiye 5 point list ke baad me aap dusre page me I hai usme apni paanch phobia likhiye aap apne paanch apne vyaktitva ke bare me achi batein likhiye dekhiye har manushya ke andar har insaan ke andar agar Negative ki hai agar uske andar koi problem hai toh uske andar doosra pahaloo yah bhi hota hai kis ke andar bahut tareef pahunchate british hoti hai toh aap apne kya aapke andar kaun kaun se 5 gun hain aap aap delhi likhiye aap diary likhiye aap paanch aap jaise aaj ki date daaliye aap likhiye aap kaun kaun si kaun kaun si wajah hai si hai jiske karan aap shaant rehte hain jiske karan aap chintit rehte hain jiske karan atikraman rehte hain uske baad aap 5 point dusre page me likhiye aap ki khubiya kaun kaun se hain aapki personality me jo achi cheezen hain vaah kaun kaun si hai uske paanch cheh saat point aap likh lijiye uske baad aapko main kuch yogic kriya batata hoon agar aapne usme yogi kriya ko kar liya toh aapko bahut zyada fayda hoga aap sabse pehla ki aap subah 5 00 baje uthna shuru Brahma aur par bilkul agar 5 00 baje uthna agar aapko theek hona hai agar aapko over kam karna hai agar aapko isse isse aapko chhutkara chahiye aapko usse is pareshani se aapko agar aap ko dur karna hai pareshani ko toh aap 5 00 baje uthna shuru kariye roj subah 5 00 baje aur bistar par baith kar aap pehle ishwar ko dhanyavad dijiye ki hai ishwar aapne mujhe jo bhi diya hai bahut hi prachurta me diya hai bahut saari matra me diya hai aapne mujhe sab kuch diya hai aapko bahut bahut dhanyavad aur main asha karta hoon ki aage bhi aap mujhe bahut achi achi cheezen pradan karenge is tarah se aapke jeevan me jo jo cheezen hain uske liye pehle aap ishwar ko prakriti ko brahmaand ko dhanyavad kijiye aankhen band karke aur use akriya ki aap aage bhi mujhe bahut achi achi cheezen dete rahenge aur is tarah se aap aankhen band karke shanti se baithi hai man ko shaant kariye aur dhanyavad unko dijiye ishwar ko ishwar aapko dhanyavad dhanyavad thank you thank you thank you kam se kam 2 minute tak unko dhanyavad dijiye ishwar ko jinhone aapko is shrishti par laya hai aapke acche maa baap diye hain akshay bhai behen diye hain samaj me acche log diye hain aapko achi cheezen di hai aapko jo bhi aapke jeevan me mila hai uske liye aap kis tak ho jaiye aap bhagwan ke prati ishwar ke prati unka abhar maniye ki aapne jo bhi diya hai mujhe bahut diya hai aur aage bhi aap mujhe bahut saari cheezen dete rahenge uske baad aap surya namaskar ke saath na kariye kam se kam nahi toh 2010 chakra kariye 10 chakra kariye fast me isro me avashya kare 10 chakra aapko sur namas ka karna hai fast me surya namaskar karne ke baad aapko aadha ghanta yognidra karna hai lekin uske pehle aapko pranayaam ki sadhna karni hai pranayaam karne ke liye kapalbhati pranayaam kariye kam se kam kapalbhati pranayaam aap kariye 50 50 50 50 me 50 baar kariye kapalbhati pranayaam radhe minute ka break lijiye phir 50 baar ke liye 3 minute ka break liye lijiye phir 50 baar kariye phir aadhi minute ka break lijiye is tarah se aap ko 200 baar karna hai na tu hundred times aapko karna hai kapalbhati pranayaam uske baad aapko karna hai anulom vilom pranayaam 3 minute kariye phir aadhe minute ka break lijiye phir 3 minute kariye phir aadhe minute ka break lijiye phir 3 minute kariye aapko 9 minute aapko karna hai anulom vilom uske baad aapko karna hai bhamri pranayaam bhramari pranayaam aapko karna hai 5 baar phir aapko break lena hai 8 minute ka khel karna hai 5 baar phir aadhe minute ka break lena hai phir karna hai 5 baar is tarah se aapko karna hai 15 baar bhamri pranayaam 5 plus 5 plus 55 break lijiye 5 baar kariye yah hua pranayaam teen tarah ke pranayaam karna hai surya namaskar karna hai 10 plus 10 ya 10 baar floor me 10 baar fast me uske baad aapko karna hai 3 00 pranayaam kapalbhati pranayaam anulom vilom pranayaam aur ram ji pranam uske baad aapko karna hai yog nidra yogyata ke bahut saare videos aur youtube aapko mil jaenge aap usko laga lijiye aur apne net par apne aasan par jiske upar aap yogasan kar rahe the uske upar aap late jaiye aur jaise jaise aap ko nirdesh diya ja raha hai us nirdesh ka anupaalan kar hi sharir ko dheela chhod dijiye shital kar dijiye aur aap kam se kam aadhe ghante ka yog nidra aap par day kariye padhne aadhe ghante ki yognidra kariye aur aadhe ghante ki yognidra ke baad aap hath shasan kariye aane ki aapko hansana hai aap apne kamre me kahin bhi bahar aap hansi hai kisi se koi sharm karne ki zarurat nahi hai aap bahut tez tez hath ko upar utha utha kar aap bahut tez desh dahad laga laga kar aapka se is tarah se aapko karna hai kam se kam 1 minute se 2 00 minute tak aapko hansana hai aur bus itni aapne activity agar kar li toh aap bahut jaldi aap ka man shaant hone lagega aap chinta mukt hone lagegi aapke andar confidence aane lagega aur aap apne jeevan ko bahut acche se chala sakte hain saath me diet plan kariye aap achi diet kijiye santulit diet lijiye anaaj ko kam kariye aap fal fruit ko zyada khaiye hari sabzi ko zyada khaiye side bahut zyada khai hai sala bahut zyada khaiye aur saath me aap aap fat foods bahut zyada kahiye vegetable khaiye support chahiye jo ankurit item hai aur is tarah se aap apne diet plan ko santulit kar dijiye bilkul santulit kar dijiye aur raat me sone se pehle aapko do ghanta sone se pehle aap ko bhojan karna hai dhyan rakhega raat me 2 ghanta sone se pehle ji haan aur uske baad aapko sone se pehle ek chammach Triphala churn gungune paani se lena hai sone ke pehle delhi party dhyan rakhen answer aapko pasand aaya hoga nishchit office se nikal payenge aap chinta mukt ho payenge main yahi asha karta hoon aap ko nirantar accha laga ho toh mujhe follow karne aur comment karke zaroor bataye agar aap follow karenge toh accha chaalu jab tak mil payenge bahut bahut dhanyavad thank you

बहुत-बहुत नमस्कार मैं हूं योगी सत्येंद्र आपका बहुत-बहुत स्वागत करता हूं एक बहुत ही अच्छा प

Romanized Version
Likes  251  Dislikes    views  1512
WhatsApp_icon
user

Maruti Makwana

Performance Strategist

1:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिमाग में अलग-अलग तरह के ख्याल आना और उसकी वजह से बेचैनी महसूस करना यह बहुत ही आम बात है आज के दिनों में बहुत सारे लोग जो अपने day-to-day रूटीन में बिजी होते हैं उनको जब भी कहीं ना कहीं कोई काम कर रहे हैं या फिर उनका दिमाग किसी एक जगह से फ्री होता है तो वह सीधा ही किसी और डायरेक्शन में सोचना शुरू कर देते हैं उनको अलग अलग तरह के ख्याल आते हैं जिसमें बहुत सारे अच्छे और बहुत सारे बुरे ख्याल भी शामिल है इस तरह की बेचैनी महसूस करना और उसको कॉल करना बहुत ही आसान है इसलिए पहले तो मैसेज करना चाहूंगा कि आपको किस तरह के ख्याल आते हैं अगर आपको शेयर कर पाओ तो ज्यादा आसानी होगी इस को कॉल करने में लेकिन फिर भी एक पजेशन है जो आप कर सकते हो जब भी आपको इस तरह के ख्याल आए आप अपने दिमाग में एक इस तरह से करो कि जब भी आपको यह रियल लाइफ ओके आपका दिमाग गलत डायरेक्शन में जा रहा है तो आप कोई एक अच्छा सा टॉपिक अपने दिमाग में सोच के रखो और उस चीज के बारे में सोचना शुरु कर दो देखे दिमाग में आने वाले ख्याल को बंद करने के लिए आप दो ही रास्ते अपना सकते हो एक या दो मेडिटेशन करो और उसको फोकस में लाओ लेकिन मेरी ट्यूशन नहीं भी मैंने देखा है कि शुरुआत में बहुत सारे लोग उसको एक जगह पर केंद्रित नहीं कर पाते इसीलिए सबसे पहली चीज यह सीखनी है कि आप अपने दिमाग को सही डायरेक्शन के जो भी थॉट्स दिमाग में आएंगे उस पर केंद्रित कर सकते हो या नहीं तो जब भी आपको ऐसे ख्याल आने लगी आप अपना एक पॉजिटिव थॉट्स पॉजिटिव टॉपिक दिमाग में रखो और अपने दिमाग को उस डायरेक्शन में सोचने के लिए कंटिन्यू असली ट्रेन करते रहो ऐसा करने से आपको बेचैनी कम महसूस होगी

dimag mein alag alag tarah ke khayal aana aur uski wajah se bechaini mehsus karna yah bahut hi aam baat hai aaj ke dino mein bahut saare log jo apne day to day routine mein busy hote hai unko jab bhi kahin na kahin koi kaam kar rahe hai ya phir unka dimag kisi ek jagah se free hota hai toh vaah seedha hi kisi aur direction mein sochna shuru kar dete hai unko alag alag tarah ke khayal aate hai jisme bahut saare acche aur bahut saare bure khayal bhi shaamil hai is tarah ki bechaini mehsus karna aur usko call karna bahut hi aasaan hai isliye pehle toh massage karna chahunga ki aapko kis tarah ke khayal aate hai agar aapko share kar pao toh zyada aasani hogi is ko call karne mein lekin phir bhi ek possession hai jo aap kar sakte ho jab bhi aapko is tarah ke khayal aaye aap apne dimag mein ek is tarah se karo ki jab bhi aapko yah real life ok aapka dimag galat direction mein ja raha hai toh aap koi ek accha sa topic apne dimag mein soch ke rakho aur us cheez ke bare mein sochna shuru kar do dekhe dimag mein aane waale khayal ko band karne ke liye aap do hi raste apna sakte ho ek ya do meditation karo aur usko focus mein laao lekin meri tuition nahi bhi maine dekha hai ki shuruat mein bahut saare log usko ek jagah par kendrit nahi kar paate isliye sabse pehli cheez yah sikhni hai ki aap apne dimag ko sahi direction ke jo bhi thoughts dimag mein aayenge us par kendrit kar sakte ho ya nahi toh jab bhi aapko aise khayal aane lagi aap apna ek positive thoughts positive topic dimag mein rakho aur apne dimag ko us direction mein sochne ke liye continue asli train karte raho aisa karne se aapko bechaini kam mehsus hogi

दिमाग में अलग-अलग तरह के ख्याल आना और उसकी वजह से बेचैनी महसूस करना यह बहुत ही आम बात है आ

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  916
WhatsApp_icon
user

Rahul kumar

Junior Volunteer

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप ऐसा बोल रहे हैं कि आपका दिमाग है मनुष्य नहीं रहता है तो उसके लिए आप पर सबसे पहले आई योगा कर सकते हैं सुबह-सुबह आप हेल्दी डाइट लें और अपने आपको बिजी रखें लिखिए कुछ भी है जो भी इंटरेस्टेड है जो आपको अच्छा लगता है कहना ठीक है उनको आप करें या फिर आपको कोई परेशानी है उसके कान अगर आप का दिमाग रमन इस्त्री नहीं रहा है तो उसको दूर करने के बारे में सोचें कैसे दूर किया जाए ताकि आप अपने आप को खुश रख सके अगर खुश रहेंगे तो बिल्कुल आपका मन दिमाग भेजते रहेगा

aap aisa bol rahe hain ki aapka dimag hai manushya nahi rehta hai toh uske liye aap par sabse pehle I yoga kar sakte hain subah subah aap healthy diet le aur apne aapko busy rakhen likhiye kuch bhi hai jo bhi interested hai jo aapko accha lagta hai kehna theek hai unko aap kare ya phir aapko koi pareshani hai uske kaan agar aap ka dimag raman istree nahi raha hai toh usko dur karne ke bare mein sochen kaise dur kiya jaaye taki aap apne aap ko khush rakh sake agar khush rahenge toh bilkul aapka man dimag bhejate rahega

आप ऐसा बोल रहे हैं कि आपका दिमाग है मनुष्य नहीं रहता है तो उसके लिए आप पर सबसे पहले आई योग

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  190
WhatsApp_icon
user
1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरा दिमाग और मेरा मन अक्सर शांत नहीं रहते हैं और मुझे बहुत बेचैनी महसूस होता है मैं क्या करूं बहुत अच्छा सवाल का आपने किया है एक्चुअली होता क्या है कभी-कभी हर इंसान के साथ ऐसा होता है उसका मन उसका दिमाग जो है बेचैनी होने लगता है उसको समझ में नहीं आता है कि क्या करूं क्या ना करूं उसमें आपको धैर्य से काम लेना चाहिए आपको हर एक चीज जो है बड़ा सोच समझ कर फैसला लेना चाहिए उसमें कोई ऐसा फैसला अपना ले ले जो आपको आगे चलकर बहुत परेशानी का सामना करना पड़े तो एक्चुअली मेरा कहने का यह मतलब है कि जब आपके साथ ऐसा कभी महसूस होता है तो उसमें आप अपने आप को पहले ढेर बनाइए धीरज बनाइए और इस चीज को ध्यान रखिए कि हमें कोई भी ऐसा कदम उठाया जो आगे चलकर हमें जो है हानि न पहुंचाएं उस चीज से हमें तकलीफ ना हो क्योंकि हमारी लाइफ जो है बहुत लंबी है बहुत आगे आगे जाना है यह सब चीज को देखते हुए हमें बहुत जो है क्योंकि लाइफ है लाइफ में तो हर एक प्रकार की मुश्किलें हर एक प्रकार की परेशानियां आती रहती है ऐसा बात नहीं है कि आज हम चुप कर रहे तो कल में दुख नहीं होगा होगा लेकिन उसी से लड़ना सीखे उस चीज को संभालना सीखे वह चीज से हम आगे निडर होकर तैयार हो क्या गया मूर्छित कपड़े ताकि हमारे रास्ते का कांटा जो है वह कुछ मिनटों के लिए कुछ घंटों के लिए आता हूं चीज को हम जो है अपना घर के साथ उसको सेट कराओ चीज को आगे पार करते हुए अपनी लाइफ को आगे बढ़ाएं तो ऐसा कुछ भी नहीं है गाय अगर महसूस होता है कि हम बगैर बेचैन हो रहे हैं तो उस चीज को आप तो इधर के साथ काम करिए अब घर के साथ काम करेगा तो बिल्कुल आगे बढ़िए गा अंडे पर्सेंट आप आगे बढ़िए गा आपको कोई बाधा नहीं होगा सप्तक प्रथम भैंस के साथ काम कीजिए धन्यवाद लाइज

mera dimag aur mera man aksar shaant nahi rehte hai aur mujhe bahut bechaini mehsus hota hai kya karu bahut accha sawaal ka aapne kiya hai actually hota kya hai kabhi kabhi har insaan ke saath aisa hota hai uska man uska dimag jo hai bechaini hone lagta hai usko samajh mein nahi aata hai ki kya karu kya na karu usme aapko dhairya se kaam lena chahiye aapko har ek cheez jo hai bada soch samajh kar faisla lena chahiye usme koi aisa faisla apna le le jo aapko aage chalkar bahut pareshani ka samana karna pade toh actually mera kehne ka yah matlab hai ki jab aapke saath aisa kabhi mehsus hota hai toh usme aap apne aap ko pehle dher banaiye dheeraj banaiye aur is cheez ko dhyan rakhiye ki hamein koi bhi aisa kadam uthaya jo aage chalkar hamein jo hai hani na paunchaye us cheez se hamein takleef na ho kyonki hamari life jo hai bahut lambi hai bahut aage aage jana hai yah sab cheez ko dekhte hue hamein bahut jo hai kyonki life hai life mein toh har ek prakar ki mushkilen har ek prakar ki pareshaniya aati rehti hai aisa baat nahi hai ki aaj hum chup kar rahe toh kal mein dukh nahi hoga hoga lekin usi se ladna sikhe us cheez ko sambhaalna sikhe vaah cheez se hum aage nidar hokar taiyar ho kya gaya murchit kapde taki hamare raste ka kanta jo hai vaah kuch minaton ke liye kuch ghanto ke liye aata hoon cheez ko hum jo hai apna ghar ke saath usko set karao cheez ko aage par karte hue apni life ko aage badhaye toh aisa kuch bhi nahi hai gaay agar mehsus hota hai ki hum bagair bechain ho rahe hai toh us cheez ko aap toh idhar ke saath kaam kariye ab ghar ke saath kaam karega toh bilkul aage badhiye jaayega ande percent aap aage badhiye jaayega aapko koi badha nahi hoga saptak pratham bhains ke saath kaam kijiye dhanyavad lies

मेरा दिमाग और मेरा मन अक्सर शांत नहीं रहते हैं और मुझे बहुत बेचैनी महसूस होता है मैं क्या

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  256
WhatsApp_icon
play
user

Likes  51  Dislikes    views  1181
WhatsApp_icon
user

Ruchi Garg

Counsellor and Psychologist(Gold MEDALIST)

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अा देखें जरा जो यह बहुत ही फास्ट पेस जिंदगी है जो जिंदगी आजकल जो हम जिंदगी जी रहे हैं वह बहुत ही भागती हुई जिंदगी है जिसकी जिसकी वजह से हम अपने मेंटल हेल्थ अपने-अपने एवं मानसिक जो है हेल्थ पर स्वास्थ पर बिल्कुल ध्यान नहीं देते हैं और इसका सबसे बड़ा रिजल्ट जो है आज के टाइम में बहुत पाया गया है कि लोग जो है वह अपने जो है वह शांति महसूस नहीं करते इसके लिए आप काफी कुछ चीजें कर सकते हैं अपनी मेंटल हेल्थ के लिए कि जैसे कि आपकी मेडिटेशन अप्लाई कर सकते हैं लेकिन और योगा ट्राई कर सकते हैं लेकिन हमेशा ध्यान रखें कि आप ऐसी चीज है करते हैं तो उन्हें समय देना होगा अगर कहेंगे आप ने 2 दिन किया यह हफ्ते भर की और आप कहीं कुछ रिजल्ट नहीं आ रहा है कुछ रिजल्ट नहीं आ रही तो बिल्कुल ही बेकार निकला रनिंग जो लोग सब बोलते हैं या मेरे पास तो समय नहीं है सब में पहले बात अपनी मानसिक स्वास्थ्य के लिए आपको समय निकालना होगा दूसरी बात यह सारी चीजें तब जो है काम करती है जब मैंने लंबे समय तक करा जाए जैसे कि 1 महीने कम से कम 40 दिन उसके बाद आपको जो है असर दिखना जो फिर शुरू हो जाएगा इसके अलावा आप कुछ सेल्फ डेवलपमेंट बुक से पढ़ सकते हैं इन्हें कहते हैं कि इन्हें कहते हैं अगर आप हिंदी में बोले तो अपने अपने आप को बदलने के लिए जो पर्सनालिटी डेवलपमेंट बुक साथिया प्रेरित कर सकते हैं उनमें जो है जीवन की काफी सारी परेशानियों को जनों का को कैसे सॉल्व किया जाए उनसे वह आपको जो है आपको मेंटल स्ट्रैंथ देंगी अपने दिमागी तौर पर मजबूती देंगी और मेडिटेशन को मत भूल ही म्यूजिक मेडिटेशन करिए जिसमे यूट्यूब में आप मेडिटेशन को सुन म्यूजिक मेडिटेशन को सुनकर अपने मन को शांत कर दो

a dekhen zara jo yah bahut hi fast pass zindagi hai jo zindagi aajkal jo hum zindagi ji rahe hai vaah bahut hi bhaagti hui zindagi hai jiski jiski wajah se hum apne mental health apne apne evam mansik jo hai health par swaasth par bilkul dhyan nahi dete hai aur iska sabse bada result jo hai aaj ke time mein bahut paya gaya hai ki log jo hai vaah apne jo hai vaah shanti mehsus nahi karte iske liye aap kaafi kuch cheezen kar sakte hai apni mental health ke liye ki jaise ki aapki meditation apply kar sakte hai lekin aur yoga try kar sakte hai lekin hamesha dhyan rakhen ki aap aisi cheez hai karte hai toh unhe samay dena hoga agar kahenge aap ne 2 din kiya yah hafte bhar ki aur aap kahin kuch result nahi aa raha hai kuch result nahi aa rahi toh bilkul hi bekar nikala running jo log sab bolte hai ya mere paas toh samay nahi hai sab mein pehle baat apni mansik swasthya ke liye aapko samay nikalna hoga dusri baat yah saree cheezen tab jo hai kaam karti hai jab maine lambe samay tak kara jaaye jaise ki 1 mahine kam se kam 40 din uske baad aapko jo hai asar dikhana jo phir shuru ho jaega iske alava aap kuch self development book se padh sakte hai inhen kehte hai ki inhen kehte hai agar aap hindi mein bole toh apne apne aap ko badalne ke liye jo personality development book sathiya prerit kar sakte hai unmen jo hai jeevan ki kaafi saree pareshaniyo ko jano ka ko kaise solve kiya jaaye unse vaah aapko jo hai aapko mental strainth dengi apne dimagi taur par majbuti dengi aur meditation ko mat bhool hi music meditation kariye jisme youtube mein aap meditation ko sun music meditation ko sunkar apne man ko shaant kar do

अा देखें जरा जो यह बहुत ही फास्ट पेस जिंदगी है जो जिंदगी आजकल जो हम जिंदगी जी रहे हैं वह ब

Romanized Version
Likes  68  Dislikes    views  1518
WhatsApp_icon
user

Nupur Gupta

( Licensed Clinical Psychologist)

1:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका दिमाग कौन मंजू है अक्सर शान नहीं रहते और इससे आपको बहुत बेचैनी महसूस होती है तो इसके लिए आपको क्लिनिकल साइकॉलजिस्ट करना चाहिए या अगर आपको लग रहा है कि आपके जो सिम्टम्स है बहुत सीरियस है और आप कंट्रोल नहीं कर पा रहे तो आपको साइकैटरिस्ट के साथ जाकर के पास जाकर आपको दवा भी लेनी चाहिए तुझसे क्या होगा वह आप कुछ मेडिसिंस देंगे उससे आपको राहत मिलेगी और क्लीनिकल साइकोलॉजिस्ट के पास जाएंगे तो आपको वह टेक्निक्स बताएंगे आपको चैट बताएंगे जिसकी वजह से आप थोड़ा काम डाउन हो जाओगे आपका मन जो है वह शांत हो जाएगा और अक्सर आप अपने मन और शरीर को कंट्रोल कर पाएंगे तुमको एक रिलैक्सेशन टेक्निक्स एंड जाएंगे जिसके थ्रू आपकी बॉडी काम हो जाएगी और कुछ बातचीत करेंगे जिससे आपको रिलैक्सेशन सीन होगा आप अपनी मन की बात शेयर कर सकते हैं उनके साथ और एप्रोप्रियेट सलूशन बताएंगे अगर आपको ऐसा लगता है आप को शेयर करना है तो आप जरूर मुझसे संपर्क करें मेरे कांटेक्ट डिटेल्स दे रखी है आप मुझसे बात करें मैं आपको सही राइटिंग देखकर आपका जो बेचैनी है आपके मन में जो आ कमजोरी महसूस हो रही है आपको लग रहा है आप शांत नहीं रह पा रहे तो वह सब ठीक हो जाएगा

aapka dimag kaun manju hai aksar shan nahi rehte aur isse aapko bahut bechaini mehsus hoti hai toh iske liye aapko clinical psychologist karna chahiye ya agar aapko lag raha hai ki aapke jo Symptoms hai bahut serious hai aur aap control nahi kar paa rahe toh aapko saikaitrist ke saath jaakar ke paas jaakar aapko dawa bhi leni chahiye tujhse kya hoga vaah aap kuch medisins denge usse aapko rahat milegi aur clinical psychologist ke paas jaenge toh aapko vaah techniques batayenge aapko chat batayenge jiski wajah se aap thoda kaam down ho jaoge aapka man jo hai vaah shaant ho jaega aur aksar aap apne man aur sharir ko control kar payenge tumko ek Relaxation techniques and jaenge jiske through aapki body kaam ho jayegi aur kuch batchit karenge jisse aapko Relaxation seen hoga aap apni man ki baat share kar sakte hain unke saath aur epropriyet salution batayenge agar aapko aisa lagta hai aap ko share karna hai toh aap zaroor mujhse sampark kare mere Contact details de rakhi hai aap mujhse baat kare main aapko sahi writing dekhkar aapka jo bechaini hai aapke man mein jo aa kamzori mehsus ho rahi hai aapko lag raha hai aap shaant nahi reh paa rahe toh vaah sab theek ho jaega

आपका दिमाग कौन मंजू है अक्सर शान नहीं रहते और इससे आपको बहुत बेचैनी महसूस होती है तो इसके

Romanized Version
Likes  141  Dislikes    views  992
WhatsApp_icon
user

Bhim Singh Kasnia

Acupunctrist,Motivational Speaker

0:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका सवाल है कि आपका दिमाग और मन रक्षक शांत ही रहते आपको बहुत बेचैनी महसूस होती है क्या करें देखिए एकाग्र बने रही है शांत चित्त रही है और सकारात्मक सोच का साहित्य पढ़े और बिल्कुल आप बहुत ज्यादा फ्री ना रहे कुछ न कुछ करते रहे तो आपकी बेचैनी बिल्कुल कम हो जाएगी नमस्कार धन्यवाद

namaskar aapka sawaal hai ki aapka dimag aur man rakshak shaant hi rehte aapko bahut bechaini mehsus hoti hai kya kare dekhiye ekagra bane rahi hai shaant chitt rahi hai aur sakaratmak soch ka sahitya padhe aur bilkul aap bahut zyada free na rahe kuch na kuch karte rahe toh aapki bechaini bilkul kam ho jayegi namaskar dhanyavad

नमस्कार आपका सवाल है कि आपका दिमाग और मन रक्षक शांत ही रहते आपको बहुत बेचैनी महसूस होती है

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  346
WhatsApp_icon
user

Subhasini

Counsellor

2:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई ना कोई बात जरूर होगी जिससे आपका दिमाग आपका मन शांत नहीं रहता है आप बहुत बेचैनी महसूस करते होंगे तो वजह जानने का प्रयास कीजिए लोगों से शेयर की थी जिसे भी अपना करीबी समझते हैं और जिसे आप अपनी मन की बातों को शेयर कर सकते हैं उनसे प्लीज शेयर कीजिए और किसी भी एक बात को लेकर बहुत ज्यादा मत सोचिए अगर कुछ काम करना है तो उसको कर डाली बहुत ज्यादा उसमें प्लानिंग हो बहुत ज्यादा एक कन्वर्ट करके उसको डिलीट करके काम करो कि रहने से मन बेचैन होगा तो फिर कुछ करना है कुछ कहना है किसी से उसको कह डालिए कुछ करना है तो कर डाली और बहुत ज्यादा अपना नहीं बहुत ज्यादा सोचने से क्या होता है कि मन तो बेचैन होगा ही तो सबसे पहला है तो यह बात है कि पानी का एंटीक बढ़ाइए पानी खूब पिएं और ध्यान दीजिए कि आप किस तरह का भोजन करते हैं सुबह ही बहुत तलाब * * भोजन नाक से क्या होता है कि गैस पड़ता हर देश हमारे मन को बहुत बेचैन करता है सुबह में थोड़ा संभोग करने का प्रयास कीजिए मॉर्निंग वॉक किया कीजिए खुली हवा में घूमने का प्रयास कीजिए इससे क्या होगा कि मन धीरे-धीरे शांत होगा और आपके अंदर की बेचैनी दूर हो जैसा मैंने पहले भी कहा कि अपनी बातों को शेयर करने का प्रयास कीजिए कि आपके अंदर ऐसा क्या बात है जो आप बार-बार सोचते रहते हैं हमेशा सोचते रहते हैं और अमन विचार होता है तो हो सकता है कि शेयर करने से कुछ आपको तो सलूशन भी मिल जाए और अकेले मत रहा कीजिए क्योंकि अकेले हम जब भी रहते हैं तो बहुत ज्यादा इंसान सोचने लगता है और जब ज्यादा अच्छा है बहुत ज्यादा सोचेगा सामंत बेचैन हो गए अकेले ना रहे दोस्तों के साथ रहे घर दीवार के साथ रहिए जिनकी साथ रहना आपको अच्छा लगता है उनके साथ रहिए और किसी काम में अपने मन को अपने आपको बिजी करने का प्रयास कीजिए कोई अपने क्रिएटिव एक्टिविटी जरूर होगा तो उस क्रिएटिविटी को बढ़ाइए अपना क्रिएटिव वर्क कीजिए उससे मन ही मन आपका शांत होगा और इस तरीके से प्रयास करें और बहुत ज्यादा सोचिए नहीं क्योंकि बहुत ज्यादा सोच बहुत बेचैनी मानसिक विकार उत्पन्न करता है तो इससे बचने के लिए आपको खुद प्रयास करना होगा खुद आगे बढ़ना होगा और मन को शांत रखना होगा धन्यवाद

koi na koi baat zaroor hogi jisse aapka dimag aapka man shaant nahi rehta hai aap bahut bechaini mehsus karte honge toh wajah jaanne ka prayas kijiye logo se share ki thi jise bhi apna karibi samajhte hain aur jise aap apni man ki baaton ko share kar sakte hain unse please share kijiye aur kisi bhi ek baat ko lekar bahut zyada mat sochiye agar kuch kaam karna hai toh usko kar dali bahut zyada usme planning ho bahut zyada ek convert karke usko delete karke kaam karo ki rehne se man bechain hoga toh phir kuch karna hai kuch kehna hai kisi se usko keh daaliye kuch karna hai toh kar dali aur bahut zyada apna nahi bahut zyada sochne se kya hota hai ki man toh bechain hoga hi toh sabse pehla hai toh yah baat hai ki paani ka entik badhaiye paani khoob pien aur dhyan dijiye ki aap kis tarah ka bhojan karte hain subah hi bahut talab bhojan nak se kya hota hai ki gas padta har desh hamare man ko bahut bechain karta hai subah mein thoda sambhog karne ka prayas kijiye morning walk kiya kijiye khuli hawa mein ghoomne ka prayas kijiye isse kya hoga ki man dhire dhire shaant hoga aur aapke andar ki bechaini dur ho jaisa maine pehle bhi kaha ki apni baaton ko share karne ka prayas kijiye ki aapke andar aisa kya baat hai jo aap baar baar sochte rehte hain hamesha sochte rehte hain aur aman vichar hota hai toh ho sakta hai ki share karne se kuch aapko toh salution bhi mil jaaye aur akele mat raha kijiye kyonki akele hum jab bhi rehte hain toh bahut zyada insaan sochne lagta hai aur jab zyada accha hai bahut zyada sochega samant bechain ho gaye akele na rahe doston ke saath rahe ghar deewaar ke saath rahiye jinki saath rehna aapko accha lagta hai unke saath rahiye aur kisi kaam mein apne man ko apne aapko busy karne ka prayas kijiye koi apne creative activity zaroor hoga toh us creativity ko badhaiye apna creative work kijiye usse man hi man aapka shaant hoga aur is tarike se prayas kare aur bahut zyada sochiye nahi kyonki bahut zyada soch bahut bechaini mansik vikar utpann karta hai toh isse bachne ke liye aapko khud prayas karna hoga khud aage badhana hoga aur man ko shaant rakhna hoga dhanyavad

कोई ना कोई बात जरूर होगी जिससे आपका दिमाग आपका मन शांत नहीं रहता है आप बहुत बेचैनी महसूस क

Romanized Version
Likes  239  Dislikes    views  3409
WhatsApp_icon
user

Sonika Mishra

Research & Poetry

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरा दिमाग और मेरा मन अक्सर शांत नहीं रहते और मुझे बहुत बेचैनी महसूस होती मैं क्या करूं देखें यह व्यवस्था होती है जब आपके दिमाग के अंदर मस्तिष्क में बहुत सारे विचारों का आदान-प्रदान हो रहा विचार आ रहे हो और आप किसी पार्टी को एक चीज के बारे में नहीं सोचते हैं और टाइम बहुत सारी चीजों के बारे में सोचें तो इससे बहुत उलझन है बढ़ती बेचैनी हो अपने आप को मेडिटेस्ट कीजिए मेडिटेशन कीजिए विचार आना कम हो जाए या खत्म हो जाएंगे यह कारण है

mera dimag aur mera man aksar shaant nahi rehte aur mujhe bahut bechaini mehsus hoti main kya karu dekhen yah vyavastha hoti hai jab aapke dimag ke andar mastishk mein bahut saare vicharon ka aadaan pradan ho raha vichar aa rahe ho aur aap kisi party ko ek cheez ke bare mein nahi sochte hain aur time bahut saree chijon ke bare mein sochen toh isse bahut uljhan hai badhti bechaini ho apne aap ko meditest kijiye meditation kijiye vichar aana kam ho jaaye ya khatam ho jaenge yah karan hai

मेरा दिमाग और मेरा मन अक्सर शांत नहीं रहते और मुझे बहुत बेचैनी महसूस होती मैं क्या करूं दे

Romanized Version
Likes  75  Dislikes    views  2247
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!