बच्चियों के साथ हो र है बलात्कार को रोकने के लिए हमारी सरकार कौन से कदम उठा रही है?...


play
user

Farhan Yahiya

Chief Reporter

1:13

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई कदम नहीं उठा रही अगर सरकारों ने कदम उठाया उसे चाहे राज्य सरकार हो या चाहे केंद्र सरकार हो अगर ठोस कदम उठाएं होते और बात ही जो रेप के केस इस हैं उनको रेयरेस्ट ऑफ रेयर केस मानते हुए बेटर एंड पनिशमेंट सख्त से सख्त सजा कर दी जाती तो मुझे लगता है कि दोबारा से कोई और रेप का मामला 2012 के दामिनी रेप केस के बाद सामने नहीं आता उसके बाद चाहे आसिफा का मामला सामने आया वह चाय पीता का मामला किसी का भी समय नहीं होता और मैं आपको एक चीज और बताना चाहूंगा कि दुनिया के हर सऊदी अरब कंट्री में देखे हैं क्या एंबुलेंस में देखिए दुबई वगैरह में देखे तो वहां पर जो कैपिटल पनिशमेंट दिया जाता है उसी की वजह से वहां पर जो रेप की वारदातों 0.000% है उसकी वजह से रिक्वेस्ट करके उनको तुरंत कार्रवाई की जाती है इधर आरोपी ने रेप किया और अगले ही आने वाली फ्राइडे को उनको सूली पर चढ़ा दिया जाता है तो वहां तक ऑफिस ना आने का है उन लोगों के अंदर की कभी सोचते भी नहीं है तो हमारे स्कूल के अंदर तो यह मुझे मुमकिन लगता हुआ कभी नजर नहीं आता

koi kadam nahi utha rahi agar sarkaro ne kadam uthaya use chahe rajya sarkar ho ya chahe kendra sarkar ho agar thos kadam uthaye hote aur baat hi jo rape ke case is hai unko reyrest of reyar case maante hue better end punishment sakht se sakht saza kar di jati toh mujhe lagta hai ki dobara se koi aur rape ka maamla 2012 ke damini rape case ke baad saamne nahi aata uske baad chahe aashifa ka maamla saamne aaya wah chai pita ka maamla kisi ka bhi samay nahi hota aur main aapko ek cheez aur batana chahunga ki duniya ke har saudi arab country mein dekhe hai kya ambulance mein dekhie dubai vagera mein dekhe toh wahan par jo capital punishment diya jata hai usi ki wajah se wahan par jo rape ki vardato 0.000% hai uski wajah se request karke unko turant karyawahi ki jati hai idhar aaropi ne rape kiya aur agle hi aane wali friday ko unko shuli par chadha diya jata hai toh wahan tak office na aane ka hai un logo ke andar ki kabhi sochte bhi nahi hai toh hamare school ke andar toh yeh mujhe mumkin lagta hua kabhi nazar nahi aata

कोई कदम नहीं उठा रही अगर सरकारों ने कदम उठाया उसे चाहे राज्य सरकार हो या चाहे केंद्र सरकार

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  493
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!