कोई अच्छा गुरु ना मिले तो जीवन कैसा रहेगा, कैसे जीना चाहिए?...


user

Manali Longia

Social Worker

1:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई गुरु ना मिले तो जीवन कैसा रहेगा कैसे जीना चाहिए हमें गुरु कि नहीं सद्गुरु की तलाश करनी चाहिए जो हमारे शास्त्रों के अनुसार भर्ती बताएं बुकून गुरु आज लाखों की संख्या में सहमत है लेकिन सतगुरु सिर्फ एक ही होता है जो हमारे सिद्धांतों के आधार पर भक्ति बताते हैं विद प्रूफ बता दें कि पूर्ण परमात्मा कौन है कैसे मिल सकता है उसी 32 में लाभ होगा अगर हमें किसी गुरु से लाभ नहीं मिल रहा है तो इसमें हमारी गलती है परमात्मा की गलती नहीं है क्योंकि हम भक्ति ही शास्त्र विरोध कर रहे हैं हमारी गीता की में भी प्रमाण है जो साधक शास्त्र विधि को त्याग कर मन माना आचरण करते हैं उनको ना कोई सुख होता है ना ही उनको कोई सिद्धि प्राप्त होती है ना ही उनकी गति यानी मुक्त होता है अर्थात शास्त्र विरुद्ध साधना करना व्यर्थ है हमें गुरु की तलाश करनी चाहिए अगर आप सतगुरु की तलाश कर रहे हैं हमें नासिक नहीं होना चाहिए अगर ₹1 में लाभ नहीं हो तो हमें दूसरा गुरु देखना चाहिए और उसके बारे में गहराई से चलना चाहिए बताना क्या चाहते हैं आप को ज्ञान गंगा पुस्तक रीट करनी चाहिए उसमें शास्त्र विरूद्ध भक्ति का खंडन किया गया है शास्त्र के अनुसार भक्ति बताई गई है जो हमारे वेद गीता बाइबिल कुरान शरीफ गुरु ग्रंथ साहिब और चीन को जिन मुद्दों को परमात्मा मिले हैं उनकी वाणी सभी को इकट्ठा एक चोर ज्ञान गंगा पुस्तक में है उसको पढ़ोगे तो आपको सब समझ में आ जाएगा कि पूर्ण परमात्मा कौन है उनको पाने की विधि क्या है आपको यह पुस्तक जरूर पढ़नी चाहिए

koi guru na mile toh jeevan kaisa rahega kaise jeena chahiye hamein guru ki nahi sadguru ki talash karni chahiye jo hamare shastron ke anusaar bharti bataye bukun guru aaj laakhon ki sankhya mein sahmat hai lekin satguru sirf ek hi hota hai jo hamare siddhanto ke aadhar par bhakti batatey hain with proof bata de ki purn paramatma kaun hai kaise mil sakta hai usi 32 mein labh hoga agar hamein kisi guru se labh nahi mil raha hai toh isme hamari galti hai paramatma ki galti nahi hai kyonki hum bhakti hi shastra virodh kar rahe hain hamari geeta ki mein bhi pramaan hai jo sadhak shastra vidhi ko tyag kar man mana aacharan karte hain unko na koi sukh hota hai na hi unko koi siddhi prapt hoti hai na hi unki gati yani mukt hota hai arthat shastra viruddh sadhna karna vyarth hai hamein guru ki talash karni chahiye agar aap satguru ki talash kar rahe hain hamein nashik nahi hona chahiye agar Rs mein labh nahi ho toh hamein doosra guru dekhna chahiye aur uske bare mein gehrai se chalna chahiye bataana kya chahte hain aap ko gyaan ganga pustak reet karni chahiye usme shastra virudh bhakti ka khandan kiya gaya hai shastra ke anusaar bhakti batai gayi hai jo hamare ved geeta bible quraan sharif guru granth sahib aur china ko jin muddon ko paramatma mile hain unki vani sabhi ko ikattha ek chor gyaan ganga pustak mein hai usko padhoge toh aapko sab samajh mein aa jaega ki purn paramatma kaun hai unko paane ki vidhi kya hai aapko yah pustak zaroor padhani chahiye

कोई गुरु ना मिले तो जीवन कैसा रहेगा कैसे जीना चाहिए हमें गुरु कि नहीं सद्गुरु की तलाश करनी

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  149
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!