भारत में रेप बढ़ने का कारण?...


user

DR. I.P.SINGH

Doctorate in Literature

4:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बेटा आपने पूछा है तो भारत में रेप बढ़ने का कारण मेरे ख्याल से रेत पहले भी होते थे बेटा सोशल मीडिया या न्यूज़ चैनल जो है अब इसमें थोड़ी दिलचस्पी ज्यादा लेने लगे स्त्री के प्रति पुरुष का आकर्षण या स्त्री द्वारा पुरुष को आकर्षित करने के स्वाभाविक प्रक्रिया है बचपन से युवावस्था की तरफ बढ़ने वाला बच्चा या बच्ची वह समय पर आया है सेक्स को लेकर केक अजीब सी कल्पना करता है उसके दिलचस्पी बढ़ती है उसके विशेष अंग जो होते हैं उन्हें वृद्धि होती है इसके कई कारण होते हैं यह तो लड़कों में आजकल मनोरंजन मानसिकता बढ़ गई है और मनोरंजन के किस्सा सेक्स हो गया है और यह कहने में कोई संकोच नहीं आज पारिवारिक रिश्तो में भी एक घटिया पर कुछ ज्यादा ही आ गई है लड़कियां कुछ फैशन के नाम पर लड़कों की तरफ आकर्षित हो रही है पहले बताइए प्राकृतिक मांग है और हमारा देश इस पर रोक लगा रहा पहले क्या होता है 14 15 साल की एज में ऐसे पहली शादी हो जाती थी और लड़की से ही नहीं होती तो उसे रोक लिया जाता था सारी होती उसे विदा कर दिया जाता था अब कम से कम 18 वर्ष की उम्र तो रखी गई है लेकिन पर आया है जब पढ़े-लिखे परिवार जाने वाली बात आ रही है मैं को रेप में उच्च और निम्न वर्ग शामिल है निम्न और का जाते इसलिए ओपन हो जाता है कि वह से छिपा नहीं पाते उच्च वर्ग जो पैसे से खेल खेला कालगर्ल रेड लाइट एरिया है तो मोबाइल के चोरी-चोरी बहुत से ऐसे वह चल रहे हैं जिसमें आईडी दे कर के लड़के लड़कियों की गंदी बातें कराई जा रही है और इससे मोबाइल कंपनियां करोड़ों अरबों रुपया कमा रही है सीधी बातें आकर्षण एक स्वाभाविक प्रक्रिया है अब ऐसे में होता क्या है कि अगर स्वेच्छा से हो जाए तो बातचीत ही रह जाती लेकिन होता क्या है कि आरंभिक वासनाओं की पूर्ति में पुरुष जो होता है अंधा हो जाता है ऐसे ही वह अपनी वासना को तत्काल संतुष्ट करने में कौन सी गलती कर जाता उसे मालूम नहीं जब वासना की गर्मी उतर जाती तब उसे महसूस किया इसके लिए पुरुषों को दोषी है लेकिन दूसरी तरफ बढ़ते हुए रिश्ते इसमें कहने में मुझे संकोच नहीं कि शिक्षा से चल रहा था तो ठीक ना कभी-कभी लड़की होती है नाराज होकर के गेट खोलने के लिए आरोप लगा देती है और कानून उसी का साथ देता है कुछ अच्छा जी सही इतने यह दूसरा लड़कियों की नग्नता है तीसरा जो एक खुलापन समाज में आ रहा है चला दे डाली जा रही है मोबाइलों पर या समाज जिस तरीके से कर रहा है 8 साल 10 साल का बच्चा परिपक्व हो जाता है उसे सेक्स के बारे में सब कुछ इस तरह से अगर आप ऐसे एवरी बढ़ने के कारण बॉक्स नैतिकता का शादी होना लड़के लड़कियों का आधुनिकता की तरफ बढ़ना कुछ तो सेक्स को एक सामान्य प्रक्रिया मान बैठे हैं मजा लेने का नया शिगूफा यौन शुचिता के भाव की कमी लड़कियों थोड़ा सा जो है अधिकार ज्यादा होना

beta aapne poocha hai toh bharat me rape badhne ka karan mere khayal se ret pehle bhi hote the beta social media ya news channel jo hai ab isme thodi dilchaspi zyada lene lage stree ke prati purush ka aakarshan ya stree dwara purush ko aakarshit karne ke swabhavik prakriya hai bachpan se yuvavastha ki taraf badhne vala baccha ya bachi vaah samay par aaya hai sex ko lekar cake ajib si kalpana karta hai uske dilchaspi badhti hai uske vishesh ang jo hote hain unhe vriddhi hoti hai iske kai karan hote hain yah toh ladko me aajkal manoranjan mansikta badh gayi hai aur manoranjan ke kissa sex ho gaya hai aur yah kehne me koi sankoch nahi aaj parivarik rishto me bhi ek ghatiya par kuch zyada hi aa gayi hai ladkiya kuch fashion ke naam par ladko ki taraf aakarshit ho rahi hai pehle bataiye prakirtik maang hai aur hamara desh is par rok laga raha pehle kya hota hai 14 15 saal ki age me aise pehli shaadi ho jaati thi aur ladki se hi nahi hoti toh use rok liya jata tha saari hoti use vida kar diya jata tha ab kam se kam 18 varsh ki umar toh rakhi gayi hai lekin par aaya hai jab padhe likhe parivar jaane wali baat aa rahi hai main ko rape me ucch aur nimn varg shaamil hai nimn aur ka jaate isliye open ho jata hai ki vaah se chhipa nahi paate ucch varg jo paise se khel khela kalagarl red light area hai toh mobile ke chori chori bahut se aise vaah chal rahe hain jisme id de kar ke ladke ladkiyon ki gandi batein karai ja rahi hai aur isse mobile companiya karodo araboon rupya kama rahi hai seedhi batein aakarshan ek swabhavik prakriya hai ab aise me hota kya hai ki agar swachcha se ho jaaye toh batchit hi reh jaati lekin hota kya hai ki aarambhik vasnaon ki purti me purush jo hota hai andha ho jata hai aise hi vaah apni vasana ko tatkal santusht karne me kaun si galti kar jata use maloom nahi jab vasana ki garmi utar jaati tab use mehsus kiya iske liye purushon ko doshi hai lekin dusri taraf badhte hue rishte isme kehne me mujhe sankoch nahi ki shiksha se chal raha tha toh theek na kabhi kabhi ladki hoti hai naaraj hokar ke gate kholne ke liye aarop laga deti hai aur kanoon usi ka saath deta hai kuch accha ji sahi itne yah doosra ladkiyon ki nagnata hai teesra jo ek khulapan samaj me aa raha hai chala de dali ja rahi hai mobailon par ya samaj jis tarike se kar raha hai 8 saal 10 saal ka baccha paripakva ho jata hai use sex ke bare me sab kuch is tarah se agar aap aise every badhne ke karan box naitikta ka shaadi hona ladke ladkiyon ka adhunikata ki taraf badhana kuch toh sex ko ek samanya prakriya maan baithe hain maza lene ka naya shigufa yaun shuchita ke bhav ki kami ladkiyon thoda sa jo hai adhikaar zyada hona

बेटा आपने पूछा है तो भारत में रेप बढ़ने का कारण मेरे ख्याल से रेत पहले भी होते थे बेटा सो

Romanized Version
Likes  159  Dislikes    views  1416
KooApp_icon
WhatsApp_icon
14 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!