आपने भारत के लगभग सभी कोनों का भ्रमण किया है, और वहाँ पर एक सरकारी अफ़सर के रूप में अपना कर्तव्य भी निभाया है। कौन सी जगह आपके दिल के सबसे क़रीब है और क्यों?...


play
user

Dr Jayadev Sarangi

Worked at Indian Administrative Service (AGMUT), Formerly SECRETARY,GOVERNMENT OF NCT OF DELHI/Goa Government .Formerly Expert UNODC

2:21

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एचडी क्या है कि इंडिया में आप जहां भी काम करने जाते हो तो वहां कुछ नया चीज अलग सी चीज और नया चीज देखने को मिलता है और नया सीखने को मिलता है अब जैसे मैं बैंक में ही नौकरी का किया था शुरू में साउथ में मेरी पोस्टिंग रही है क्या तमिलनाडु में और आंध्र प्रदेश में नौकरी करने की आजादी में फिर विजयनगरम आंध्र प्रदेश में साउथ में काम करते समय मुझे इतना प्रभावित हुआ कि जारी कि लोग इतना इमोशनली आपके साथ जुड़ जाते हैं क्योंकि मैं उड़ीसा से आया था और उड़ीसा के जो रहन-सहन के साथ काफी ज्यादा मिलता जुलता था तो मैं इमोशनली काफी प्रभावित होता था वहां पर ऐसे लोगों से तो जो भी कस्टमर से जो आपको बाहर दुकानदार मिलता है वह भी जिस तरह से आप से बात करता है प्रभावित करता है आपको जब हम लोग अंडमान निकोबार में काम करने गए मैं अंडमान निकोबार में 24 साल नौकरी करने में जगह है एक दूसरे को हर कोई जानता है लेकिन आप से एक्सपेक्टेशन इतना ज्यादा रहता है और एक द सेम टाइम रिस्पेक्ट बीच में ज्यादा रहता है आपको लगता है कि कहीं आप जितना आपको मिल रहा है उस हिसाब से आपको वापिस दे पानी दे पा रहे हो वह दुनिया में लोग इतने अच्छे हैं इतना मजे में रहते हैं और किसी को भी नहीं करते हैं छोटी छोटी चीजों में परेशान नहीं होते हैं आप अगर उनके लिए कुछ करती हो तो बड़ा ग्रेट फूल होते हैं तो कुछ ना कुछ खास सीखने को मिलता है बाकी दिल्ली एक ऐसी जगह दिल्ली तो हमारी सेकंड हूं मैं जिंदगी दिल्ली में जो ऐसे लगता है कि आप एक बार अगर दिल्ली में सीख जाते हो लाइफकेम तो दुनिया में कहीं पर भी जाकर आप लिख सकते हो जी आपको हर कुछ सिखा देता है क्योंकि ठोकर खा खा कर के आप पूरा सीख जाते हो कि चाहे एडमिनिस्ट्रेशन है चाय लाइफ कि मैं चाय आपकी पर्सनल भी एबी एनएचआई कुछ भी है

hd kya hai ki india mein aap jaha bhi kaam karne jaate ho toh wahan kuch naya cheez alag si cheez aur naya cheez dekhne ko milta hai aur naya sikhne ko milta hai ab jaise main bank mein hi naukri ka kiya tha shuru mein south mein meri posting rahi hai kya tamil nadu mein aur andhra pradesh mein naukri karne ki azadi mein phir vizianagaram andhra pradesh mein south mein kaam karte samay mujhe itna prabhavit hua ki jaari ki log itna emotionally aapke saath jud jaate hain kyonki main odisha se aaya tha aur odisha ke jo rahan sahan ke saath kaafi zyada milta julataa tha toh main emotionally kaafi prabhavit hota tha wahan par aise logo se toh jo bhi customer se jo aapko bahar dukaandar milta hai vaah bhi jis tarah se aap se baat karta hai prabhavit karta hai aapko jab hum log andaman nicobar mein kaam karne gaye main andaman nicobar mein 24 saal naukri karne mein jagah hai ek dusre ko har koi jaanta hai lekin aap se expectation itna zyada rehta hai aur ek the same time respect beech mein zyada rehta hai aapko lagta hai ki kahin aap jitna aapko mil raha hai us hisab se aapko vaapas de paani de paa rahe ho vaah duniya mein log itne acche hain itna maje mein rehte hain aur kisi ko bhi nahi karte hain choti choti chijon mein pareshan nahi hote hain aap agar unke liye kuch karti ho toh bada great fool hote hain toh kuch na kuch khaas sikhne ko milta hai baki delhi ek aisi jagah delhi toh hamari second hoon main zindagi delhi mein jo aise lagta hai ki aap ek baar agar delhi mein seekh jaate ho laifakem toh duniya mein kahin par bhi jaakar aap likh sakte ho ji aapko har kuch sikha deta hai kyonki thokar kha kha kar ke aap pura seekh jaate ho ki chahen administration hai chai life ki main chai aapki personal bhi ab NHI kuch bhi hai

एचडी क्या है कि इंडिया में आप जहां भी काम करने जाते हो तो वहां कुछ नया चीज अलग सी चीज और न

Romanized Version
Likes  127  Dislikes    views  2860
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr Devansh Yadav

Additional Deputy Commissioner at ADC Bordumsa, Government of Arunachal Pradesh

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन नॉर्थ सिक्किम में ज्योत उत्तर चिकन बना उसमें आर्मी के यूनिट के साथ एक बार आर्मी अटैचमेंट नाटक यह 2017 की बात है जब मेरी फरवरी के बीच में सबसे ज्यादा यादगार कितने समय तक रहे तो वह किस तरह से अपना जीवन यापन करते हैं वहां पर वह देखने का मौका मिला और वह जो उनकी जिंदादिली होती है कुछ इस तरह से आप को होस्ट करते हैं और जिस तरह 4th वेलकम करते हैं कोई बहुत ही अच्छी चीज लगती है और बड़ी खुशी होती है उनके साथ जो बातचीत हुई जो उनके साथ फोटो है वह सब एक यादगार है और मानता हूं कि मेरा सबसे ज्यादा

jeevan north Sikkim mein jyot uttar chicken bana usme army ke unit ke saath ek baar army attachment natak yah 2017 ki baat hai jab meri february ke beech mein sabse zyada yaadgaar kitne samay tak rahe toh vaah kis tarah se apna jeevan yaapan karte hain wahan par vaah dekhne ka mauka mila aur vaah jo unki jindadili hoti hai kuch is tarah se aap ko host karte hain aur jis tarah 4th welcome karte hain koi bahut hi achi cheez lagti hai aur badi khushi hoti hai unke saath jo batchit hui jo unke saath photo hai vaah sab ek yaadgaar hai aur manata hoon ki mera sabse zyada

जीवन नॉर्थ सिक्किम में ज्योत उत्तर चिकन बना उसमें आर्मी के यूनिट के साथ एक बार आर्मी अटैचम

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  1231
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!