क्या पाकिस्तान के परमाणु हथियारों का आतंकवादियों के हाथों में जाने का खतरा है?...


play
user

Suman Kumar Gupta

Politician, Social Worker

0:22

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पंजाब में मजबूत होते हैं

punjab mein majboot hote hain

पंजाब में मजबूत होते हैं

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  205
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Sandeep Sharma

Independent Social Worker, Politician

2:03
Play

Likes  13  Dislikes    views  192
WhatsApp_icon
user

Rahul Parcha

Journalist

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मुझे लगता है कि वह आतंकवादियों के हाथों में जाएंगे कि परमाणु हथियार का इस्तेमाल अपने हाथ कितने प्रदेशों से उसको पैसा मिल रहा है वह मिलना बंद हो जाएगा कहां मुंह दिखाएगा वह तो नेताओं के कहने की बातें हैं कि यह हो रहा है हमारे पास आओ आओ एटम बम है विकास की बातें अपने देश को अपनी तरफ करने के लिए करते हैं क्या आतंकवादी

dekhiye mujhe lagta hai ki vaah aatankwadion ke hathon mein jaenge ki parmanu hathiyar ka istemal apne hath kitne pradeshon se usko paisa mil raha hai vaah milna band ho jaega kaha mooh dikhaega vaah toh netaon ke kehne ki batein hain ki yah ho raha hai hamare paas aao aao atom bomb hai vikas ki batein apne desh ko apni taraf karne ke liye karte kya aatankwadi

देखिए मुझे लगता है कि वह आतंकवादियों के हाथों में जाएंगे कि परमाणु हथियार का इस्तेमाल अपने

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  48
WhatsApp_icon
user

Abhishek Sharma

Forest Range Officer, MP

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पहली बात तो मुझे नहीं लगता कि पाकिस्तान की दुनिया का कोई भी देश इस समय परमाण पतर उपयोग करने की स्थिति में है अगर होता है तो तीसरा विश्व युद्ध छिड़ जाएगा और पूरी की पूरी इंसानियत खत्म हो जाएगी हां यह बात जरूर है कि पाकिस्तान में परमाणु हथियार आतंकवादियों के हाथ में जा सकते हैं क्योंकि वहां की सेना पाकिस्तान कि आतंकवादियों को सपोर्ट करती होने ट्रेनिंग देती है उन्हें पैसा देती हथियार सप्लाई कर आती है तो यह तेरा तो हमेशा बना हुआ है और मुझे लगता है क्योंकि बाद में होगा भी लेकिन पाकिस्तान में इतनी बुद्धि तो है होगी कि वह कभी भी परमाणु हथियारों का उपयोग करने से नहीं करेगा क्योंकि यह भी जानता है कि अगर परमाणु ऊर्जा के उपयोग किया उसी दिन पाकिस्तान निपट जाएगा और वह उसका नामोनिशान इस दुनिया से मिट जाएगा इसके अलावा भारत और पाकिस्तान के बीच हर साल एक एमओयू साइन होता है उसे एमओयू पर यह लिखा रहता है कि भारत पाकिस्तान की कुछ स्थानों पर पाकिस्तान 12 दिन कुछ स्थानों पर किसी भी स्थिति में हमला नहीं कर सकता उनमें कुछ देश के कुछ स्थान होते जैसे कि भारत से मुंबई में नाम लिखकर देता है तो भारत में राष्ट्रपति भवन प्रधान हिंदी भवन आगरा का ताजमहल आगरा का किला दिल्ली का किला इन चीजों का नाम रोशन करता है इसी तरह पाकिस्तान भी वहां से अपने अमूल्य शंकर के देता है तो कुछ स्थानों के नाम लिखता है तो मुझे लगता है कि परमाणु हथियार का वर्तमान अगर किया तो इन चीजों पर जो असर पड़ सकता है वह भी काफी खतरनाक है तो इस तरह से संध्या सारी खत्म हो जाएंगी और मुझे लगता है 12 टन टन सारे खत्म हो जाएंगे तो मुझे लगता नहीं पाकिस्तान से खर्चा कौन उठाएगा लेकिन जाने का खतरा बिल्कुल है परमाणु हथियार आत्मग्लानि ऊपर को खतरा है धन्यवाद

pehli baat toh mujhe nahi lagta ki pakistan ki duniya ka koi bhi desh is samay parman patar upyog karne ki sthiti mein hai agar hota hai toh teesra vishwa yudh chid jaega aur puri ki puri insaniyat khatam ho jayegi haan yah baat zaroor hai ki pakistan mein parmanu hathiyar aatankwadion ke hath mein ja sakte hain kyonki wahan ki sena pakistan ki aatankwadion ko support karti hone training deti hai unhe paisa deti hathiyar supply kar aati hai toh yah tera toh hamesha bana hua hai aur mujhe lagta hai kyonki baad mein hoga bhi lekin pakistan mein itni buddhi toh hai hogi ki vaah kabhi bhi parmanu hathiyaron ka upyog karne se nahi karega kyonki yah bhi jaanta hai ki agar parmanu urja ke upyog kiya usi din pakistan nipat jaega aur vaah uska namonishan is duniya se mit jaega iske alava bharat aur pakistan ke beech har saal ek mou sign hota hai use mou par yah likha rehta hai ki bharat pakistan ki kuch sthano par pakistan 12 din kuch sthano par kisi bhi sthiti mein hamla nahi kar sakta unmen kuch desh ke kuch sthan hote jaise ki bharat se mumbai mein naam likhkar deta hai toh bharat mein rashtrapati bhawan pradhan hindi bhawan agra ka tajmahal agra ka kila delhi ka kila in chijon ka naam roshan karta hai isi tarah pakistan bhi wahan se apne amuly shankar ke deta hai toh kuch sthano ke naam likhta hai toh mujhe lagta hai ki parmanu hathiyar ka vartaman agar kiya toh in chijon par jo asar pad sakta hai vaah bhi kaafi khataranaak hai toh is tarah se sandhya saree khatam ho jayegi aur mujhe lagta hai 12 ton ton saare khatam ho jaenge toh mujhe lagta nahi pakistan se kharcha kaun uthayega lekin jaane ka khatra bilkul hai parmanu hathiyar atmaglani upar ko khatra hai dhanyavad

पहली बात तो मुझे नहीं लगता कि पाकिस्तान की दुनिया का कोई भी देश इस समय परमाण पतर उपयोग करन

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  92
WhatsApp_icon
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज ईद के जैसे पाकिस्तान जो है वह आतंकवादियों को सपोर्ट करता है और आतंकवादी गतिविधियों को जो है पनाह देता है अपने देश में तो ऐसा भी हो सकता है कि पाकिस्तान के जितने भी हत्यारे और रजिस्ट्री में पंचर टेक्नोलॉजी है वह आतंकवादियों को भेज दे और आतंकवादी को सपोर्ट करें ताकि में भारत के खिलाफ जो है वह अशांति फैला सके और उनके खिलाफ उसका क्या

aaj eid ke jaise pakistan jo hai vaah aatankwadion ko support karta hai aur aatankwadi gatividhiyon ko jo hai panah deta hai apne desh mein toh aisa bhi ho sakta hai ki pakistan ke jitne bhi hatyare aur registry mein puncher technology hai vaah aatankwadion ko bhej de aur aatankwadi ko support kare taki mein bharat ke khilaf jo hai vaah ashanti faila sake aur unke khilaf uska kya

आज ईद के जैसे पाकिस्तान जो है वह आतंकवादियों को सपोर्ट करता है और आतंकवादी गतिविधियों को ज

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  198
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!