चांद रात में क्यों निकलता है?...


user

Abhay Pratap

Advocate | Social Welfare Activist

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चांद मतलब चंद्रमा जिसको हिंदू धर्म में चंद्र देव के नाम से जाना जाता है और उनका महिमा वर्णन अनंत है वह भगवान महादेव जो स्वयं शंभू है उनकी मस्तक पर विराजमान रहते हैं ऐसे चंद्र बेवकूफी नूर कहते हैं मुस्लिम धर्म के लोग यह उनके लिए भी इतने ही पूज्य हैं क्योंकि जिस तरह से हम इन्हें अपने देव के मस्तक पर सुशोभित सम्मान समझते हैं उसी तरह से यह भी चांद की पूजा महाशिव की महान गुरु की या अल्लाह की सबसे कीमती मूरों में से एक होते हैं यह चंद्र देव इसीलिए इनका नाम नूर है और हिंदू धर्म के हिसाब से ही का पूजा होता है धर्म का अर्थ है लोगों को प्रकृति से जोड़कर उन्हें जीने में और सरलता और योगिता प्रदान करना यही प्रश्न का एक कोशिश है उत्तर की तरह

chand matlab chandrama jisko hindu dharm mein chandra dev ke naam se jana jata hai aur unka mahima varnan anant hai vaah bhagwan mahadev jo swayam sambhu hai unki mastak par viraajamaan rehte hain aise chandra bewakoofi noor kehte hain muslim dharm ke log yah unke liye bhi itne hi PUJYA hain kyonki jis tarah se hum inhen apne dev ke mastak par sushobhit sammaan samajhte hain usi tarah se yah bhi chand ki puja mahashiv ki mahaan guru ki ya allah ki sabse kimti muron mein se ek hote hain yah chandra dev isliye inka naam noor hai aur hindu dharm ke hisab se hi ka puja hota hai dharm ka arth hai logo ko prakriti se jodkar unhe jeene mein aur saralata aur yogita pradan karna yahi prashna ka ek koshish hai uttar ki tarah

चांद मतलब चंद्रमा जिसको हिंदू धर्म में चंद्र देव के नाम से जाना जाता है और उनका महिमा वर्

Romanized Version
Likes  171  Dislikes    views  1197
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Mehmood Alum

Law Student

0:19

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए चांद सिर्फ रात में ही नहीं बल्कि दिन में भी निकला हुआ होता है अगर आपको दिन में चांद देखना है तो आप किसी भी सख्त से कह सकते हैं वह आपको चांद दिखा देगा बशर्ते कि वह अमावस्या के दो-तीन दिन ना हो

dekhiye chand sirf raat mein hi nahi balki din mein bhi nikala hua hota hai agar aapko din mein chand dekhna hai toh aap kisi bhi sakht se keh sakte hain vaah aapko chand dikha dega basharte ki vaah amavasya ke do teen din na ho

देखिए चांद सिर्फ रात में ही नहीं बल्कि दिन में भी निकला हुआ होता है अगर आपको दिन में चांद

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  21
WhatsApp_icon
user

Randheer

Student

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां नमस्कार आपकी प्रस्तुति चांद रात में क्यों निकलता है तो चांद जो है वह पृथ्वी की परिक्रमा करते हैं और एक परिक्रमा करने में 27d लगाते हैं तो चंद्रमा अपनी जब परिक्रमा करते हैं तो शर्मा का अपने पास कोई लाइट नहीं है बस उसके लाइट से प्रकाशित होता है तो इसलिए चंद्रमा रात दिन दोनों में ही निकलती है लेकिन सूर्य की रोशनी की तेज होने के कारण चंद्रमा जो है वह पृथ्वी पर दिन में नहीं दिखाई पड़ता लेकिन कभी देखे होंगे आपके दूध जब ठंडा के बाद जो मौसम आती है उसमें कुछ जो होती है कि सूर्य की रोशनी नहीं पड़ती जब वर्षा होती है तो सूर्य की रोशनी नहीं पड़ती है उसने चंद्रमा दिखाई पड़ती है क्योंकि कुछ भी नहीं पड़ती है और सूरज की रोशनी तेज होने के कारण दिन में चंद्रमा नहीं दिखाई पड़ते हैं लेकिन कभी-कभी दिखाई पड़ जाते हैं लेकिन रात में सूर्य की रोशनी नहीं आती है इसलिए मैं रात में नहीं आते

ji haan namaskar aapki prastuti chand raat me kyon nikalta hai toh chand jo hai vaah prithvi ki parikrama karte hain aur ek parikrama karne me 27d lagate hain toh chandrama apni jab parikrama karte hain toh sharma ka apne paas koi light nahi hai bus uske light se prakashit hota hai toh isliye chandrama raat din dono me hi nikalti hai lekin surya ki roshni ki tez hone ke karan chandrama jo hai vaah prithvi par din me nahi dikhai padta lekin kabhi dekhe honge aapke doodh jab thanda ke baad jo mausam aati hai usme kuch jo hoti hai ki surya ki roshni nahi padti jab varsha hoti hai toh surya ki roshni nahi padti hai usne chandrama dikhai padti hai kyonki kuch bhi nahi padti hai aur suraj ki roshni tez hone ke karan din me chandrama nahi dikhai padate hain lekin kabhi kabhi dikhai pad jaate hain lekin raat me surya ki roshni nahi aati hai isliye main raat me nahi aate

जी हां नमस्कार आपकी प्रस्तुति चांद रात में क्यों निकलता है तो चांद जो है वह पृथ्वी की परिक

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  344
WhatsApp_icon
user

Raghuveer Singh

👤Teacher & Advisor🙏

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चांद रात में ही निकलता है ऐसा कोई फिक्स नहीं है जान देने में भी होता है लेकिन सूर्य की तेज रोशनी के कारण है वह हमें दिखाई नहीं देता है जैसे सूर्य ढल जाता है चांद दिखाई देने लग जाता है आप दिन में भी देख सकते हैं चांद है सूर्य की रोशनी से ही चमकता है जब सूर्य की रोशनी चांद के ऊपर करती है तो वह परावर्तित होकर के वापस धरती पर आती है और एक नए शोध एक नई जानकारी के मुताबिक चाइना है वह भी अपने एक शहर के लिए कृत्रिम चांद बनाने वाली है वह एक अंतरिक्ष में एक सी से यानी एक सफेद सफेद इसे ठीक करेगी जिससे वह सूर्य की रोशनी को अपने शहर के पर परावर्तित करा सके और यह भी दावा किया गया कि उस चांद का जो प्रकाश है इस चांद के मुकाबले 8 गुना ज्यादा भी होगा ऐसा कोई नहीं है चांद है

chand raat mein hi nikalta hai aisa koi fix nahi hai jaan dene mein bhi hota hai lekin surya ki tez roshni ke karan hai vaah hamein dikhai nahi deta hai jaise surya dhal jata hai chand dikhai dene lag jata hai aap din mein bhi dekh sakte hain chand hai surya ki roshni se hi chamakta hai jab surya ki roshni chand ke upar karti hai toh vaah paravartit hokar ke wapas dharti par aati hai aur ek naye shodh ek nayi jaankari ke mutabik china hai vaah bhi apne ek shehar ke liye kritrim chand banane wali hai vaah ek antariksh mein ek si se yani ek safed safed ise theek karegi jisse vaah surya ki roshni ko apne shehar ke par paravartit kara sake aur yah bhi daawa kiya gaya ki us chand ka jo prakash hai is chand ke muqable 8 guna zyada bhi hoga aisa koi nahi hai chand hai

चांद रात में ही निकलता है ऐसा कोई फिक्स नहीं है जान देने में भी होता है लेकिन सूर्य की तेज

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  170
WhatsApp_icon
user
0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखे चांद रात को नहीं निकलता चांद हमेशा अपने जगह पर होता है जब पृथ्वी घूमती है तो इस वजह से जब रात होती है तो चांद पर जो रौशनी उसके प्रकाश पड़ती है तो वह जब हमारी धरती तक आती है तो मैं ऐसा लगता है कि वह बहुत ही चमक रही होती लेकिन वो चांद अपनी जगह पर होती है जो कि हमें कभी-कभी दिन के समय भी दिखाई देती है तो ऐसा नहीं है कि सब रात चांद चंद्रमा से एक रात को नजर आती है दिन में भी दी लेकिन उसके रोशनी की वजह से नहीं देख पाता छिपा हुआ था कि क्यों जो वहां से रोशनी आती है वह हमारी आंखों तक नहीं पहुंची पहुंचती है

likhe chand raat ko nahi nikalta chand hamesha apne jagah par hota hai jab prithvi ghoomti hai toh is wajah se jab raat hoti hai toh chand par jo roshni uske prakash padti hai toh vaah jab hamari dharti tak aati hai toh main aisa lagta hai ki vaah bahut hi chamak rahi hoti lekin vo chand apni jagah par hoti hai jo ki hamein kabhi kabhi din ke samay bhi dikhai deti hai toh aisa nahi hai ki sab raat chand chandrama se ek raat ko nazar aati hai din mein bhi di lekin uske roshni ki wajah se nahi dekh pata chhipa hua tha ki kyon jo wahan se roshni aati hai vaah hamari aankho tak nahi pahuchi pohchti hai

लिखे चांद रात को नहीं निकलता चांद हमेशा अपने जगह पर होता है जब पृथ्वी घूमती है तो इस वजह स

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  487
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
kya din mein chand nikalta hai ; din mein chand nikalta hai ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!