क्या बदला लेने से आप संतुष्ट महसूस करते हैं? क्या आप हमें इसके बारे में एक कहानी बता सकते हैं?...


play
user

Awdhesh Singh

Director AwdheshAcademy.com

1:34

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिये बदला लेना अगर आध्यात्मिक हिसाब से देखें, तो यह अच्छी चीज नहीं है और इसमें संतुष्ट नहीं मिलनी चाहिए| लेकिन एक इंसान की तरह अगर आप देखें तो अगर कोई भी आदमी आपका बुरा करता है तो हम नेचुरल ही हम चाहते हैं कि उसका भी बुरा हो, तो अगर यह नेचर ने हीं उसका बुरा कर दिया तो अच्छी बात है, अदरवाइज लोग स्वयं जो है उस आदमी का बुरा करना चाहते हैं| ये जो ऑय फॉर ऑय जो पॉलिसी होती है, आंख के लिए आंख, दांत के लिए दांत, यह जो पॉलिसी है बहुत पुरानी है| और इसमें आदमी जो है एक जस्टिस का महसूस करता है और इसीलिए जो है अगर कोई भी उसके साथ कुछ बुरा करता है तो उसका बदला लेना चाहता है| अब यह ऐसी एक कहानी बताना तो कोई संभव नहीं है, लेकिन बहुत सारे इन्सिडेंट्स है, जब हमने ऐसे लोगों को जिन्होंने हमारा बुरा करना चाहा उसको हमने रिटेलिएट किया और उसका हमने एक तरीके से हिसाब किताब बराबर किया| और अगर हम ऐसा ना करें और कभी ना करें, तो मैं समझता हूं कि लोग आपके वजूद को चैलेंज करेंगे और आपके लिए इस दुनिया में जीना मुश्किल हो जाएगा| तो अगर जो है कोई क्राइम्स नहीं होते हैं इस देश में, और बहुत सारे क्राइम्स इसीलिए नहीं होते हैं क्योंकि वह लोग डरते हैं कि इसका बदला उनको चुकाना पड़ेगा अगर वह किसी के साथ में नाइंसाफी करेंगे| और इसलिए यह जो ऑय फॉर ऑय की पॉलिसी है, इसका एक सोसाइटी में अलग रोल है| और इसके बिना जो है यह सोसाइटी नहीं चल सकती है|

dekhiye badla lena agar adhyatmik hisaab se dekhe to yeh achchhee chij nahin hai aur ismein santusht nahin milani chahie lekin ek insaan ki turha agar aap dekhe to agar koi bhi aadmi aapka bura karata hai to hum nechural hea hum chahte hain qi uska bhi bura ho to agar yeh nature ne hin uska bura car diya to achchhee baat hai otherwise log swayam joe hai oosh aadmi ka bura krna chahte hain ye joe eye for eye joe policy hoti hai aankh K lie aankh daunt K lie daunt yeh joe policy hai bahut purani hai aur ismein aadmi joe hai ek justice ka mehsoos karata hai aur isiliye joe hai agar koi bhi uske sathe kuch bura karata hai to uska badla lena chahta hai aba yeh aisi ek kahaani batana to koi sabhav nahin hai lekin bahut saare incidents hai jab humne aise logo co jinhonne hamara bura krna chaha usko humne riteliet kiya aur uska humne ek tarike se hisaab kitab barabar kiya aur agar hum aisa na karein aur kabhi na karein to main samajhataa hoon qi log aapke vajood co challenge karenge aur aapke lie is duniya mein jeena mushkil ho jaaegaa to agar joe hai koi crimes nahin hote hain is desh mein aur bahut saare crimes isiliye nahin hote hain kyonki wah log darte hain qi iska badla unko chukaana padega agar wah kisi K sathe mein nainsafi karenge aur eeslie yeh joe eye for eye ki policy hai iska ek society mein eluga roll hai aur iske binaa joe hai yeh society nahin chal sakti hai

देखिये बदला लेना अगर आध्यात्मिक हिसाब से देखें, तो यह अच्छी चीज नहीं है और इसमें संतुष्ट न

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  454
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Vatsal

Engineering Student

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस सवाल के जवाब में हर इंसान की सोच अलग-अलग हो सकती है लेकिन मेरा छुट्टी रहती है हमें किसी से भी कभी बदला नहीं लेना चाहिए अगर कोई भी हमारे साथ गलत कर रहा है किसी ने हमसे झूठ बोला धोखा दिया कुछ भी किया लड़ाई अगर आप जितना बोलेंगे जितना सुनाएंगे इतना गुस्सा निकालेंगे बात इतनी बढ़ेगी सामने वाले इंसान को सबक भी नहीं मिलेगा एहसास भी नहीं होगा आपके बीच में हो जाएगी धारा 8 आपको और ज्यादा हो जाएगी टेंशन इससे अच्छा तरीका है कि अगर आपके साथ किसी ने कुछ गलत किया झूठ बोला धोखा दिया लड़ाई कि आप यह मान लो यह व्यक्ति आपके लिए यह व्यक्ति आपकी परवाह नहीं करता है या नहीं इस सेवा को रिश्ता कोई नहीं सकता हो ही नहीं सकता जो हमारे लिए बना ही नहीं है जिसके लिए हमें धोखा दिया उस व्यक्ति से कुछ बोलने का क्या फायदा उसे चुपचाप धीरे-धीरे अपनी लाइफ से डिस्टेंस बना लो उसे और उसे खत्म कर दो चीजें एक नूर करो एक चीज होती है इस चीज में आपको जितना सुकून मिलेगा जितना अच्छा लगेगा और सामने वाले बंदे को उतना ही रह लाइव दर्शन हो गए हैं एहसास होगा वह किसी और तरीके से नहीं हो सकता तुम मेरा मानना है

is sawal K jawab mein her insaan ki soch eluga eluga ho sakti hai lekin mera chutti rehti hai human kisi se bhi kabhi badla nahin lena chahie agar koi bhi hamare sathe galat car raha hai kisi ne humse jhuth bolla dhokha diya kuch bhi kiya ladai agar aap jitna bolenge jitna sunaenge itna gussa nikalenge baat itni badhegi samne wale insaan co sabka bhi nahin milega ehsaas bhi nahin hoga aapke beach mein ho jaaegi dhara 8 aapko aur jyada ho jaaegi tension issase accha tarika hai qi agar aapke sathe kisi ne kuch galat kiya jhuth bolla dhokha diya ladai qi aap yeh maan low yeh vyakti aapke lie yeh vyakti aapki parvaah nahin karata hai ya nahin is seva co rishta koi nahin sakta ho hea nahin sakta joe hamare lie banna hea nahin hai jiske lie human dhokha diya oosh vyakti se kuch bolne ka kya fayda usse chupachap dheere dheere apni life se distens banna low usse aur usse khatma car though chijen ek noor karo ek chij hoti hai is chij mein aapko jitna sukun milega jitna accha lagega aur samne wale bande co utana hea rah laiv darshan ho ge hain ehsaas hoga wah kisi aur tarike se nahin ho sakta tum mera manna hai

इस सवाल के जवाब में हर इंसान की सोच अलग-अलग हो सकती है लेकिन मेरा छुट्टी रहती है हमें किसी

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  166
WhatsApp_icon
user

.

Hhhgnbhh

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां जी मुझे ऐसा लगता है कि बदला लेने पर जरूर एक सुकून मिलता है एक बहुत अच्छी फीलिंग आती है बदला लेने पर तो पर मैं आपको एक कहानी बताती हूं इस कहानी से मुझे तो बहुत अच्छी एक सीख मिलती मुझे लगता है कि आपको भी एक सीख जरूर इस कहानी से मिलेगी तो एक बार की बात है कि मेरी एक दोस्त होती थी तो मेरे और उसकी हम दोनों की ज्यादा बीच में लड़ाई हो गई हमारी बिल्कुल बातें बातें होना बंद हो गई तो उसने मेरे बारे में काफी ज्यादा फालतू बोलना शुरु कर दिया नाम है मेरी किसी काम में अब मदद तो दूर की बात है जब हम बात ही नहीं करते थे पर फ़ालतू बोलना और बहुत ज्यादा उसे तंग करना शुरू कर दिया था क्योंकि उसके पास मेरा काफी समानता और हम लोग एक दूसरे से अपनी काफी बातें शेयर कर चुके थे तो कहीं ना कहीं में को से डर भी लगता था कि मेरी काफी पर्सनल बातें उसके पास है उसके बाद हुआ क्योंकि जब यह चीजे खत्म हो गई पर मैं को उसके मैंने कभी भी कोई बात बाहर नहीं निकाले पर लोग मैं हमेशा कहते थे कि जब वह बोल रही है तो मुझे भी बोलना चाहिए बदले की भावना तो कहीं ना कहीं मेरे अंदर भी थी पर मैं कुछ समझ नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूं उसकी कुछ समय बाद दो-तीन महीने बाद हम लोग CM क्लास में पढ़ते थे तमाम ने हमें एक प्रोजेक्ट दिया तो उसका जो प्रोजेक्ट है उसको मेरे साथ ही करना था उसको उस विषय में कुछ भी नहीं आता था तो उस समय मैंने अपने घरवालों को मैंने अपने पिता को कॉल करो मैंने पूछा कि ऐसी ऐसी बात हुई है उस लड़की का मेरे पास फोन आया है मैं क्या करूं मेरा बिल्कुल मन नहीं है मैं चाहती हूं कि मैं खुद के बिना बना रहा हूं उसके बिना लगदा हूं और अगर मैं खुद प्रोजेक्ट दे दो और उसका नाम ना लिखूं तो उसके नाक नहीं लगेगी तुम्हें काफी खुश होगी क्या तुम्हें ऐसा कर लेती हूं उस समय मेरे को मेरे पिता ने बताया कि तुम ऐसा बिल्कुल मत करो बल्कि तुम वह तो कर नहीं सकती है मुझे कुछ आता नहीं तुम करो और उसका नाम जरुर दे कराओ क्योंकि अगर आप किसी के साथ अच्छा करोगे और उसने अपना पूरा करके तो इससे उसको इतना भी गिर जाएगा इंसान कि उसको अपनी गलती खुद ही समझ में आ जाएगी और मैंने जो भी है काम करो तो मैंने खुद सच्ची में देखा कि उस लड़की को अपनी गलती लगी और उसने इतना रिग्रेट फील करो मैं

han g mujhe aisa lagta hai qi badla lene per jarur ek sukun milta hai ek bahut achchhee feeling auti hai badla lene per to per main aapko ek kahaani batati hoon is kahaani se mujhe to bahut achchhee ek sikh milti mujhe lagta hai qi aapko bhi ek sikh jarur is kahaani se milegi to ek bar ki baat hai qi meri ek dost hoti thi to mere aur uski hum donon ki jyada beach mein ladai ho gi hamari bilkool batein batein hona band ho gi to usne mere baare mein kaafi jyada faltu bolna shuru car diya naam hai meri kisi kama mein aba madada to dur ki baat hai jab hum baat hea nahin karte the per faltu bolna aur bahut jyada usse tang krna shuru car diya thaa kyonki uske pass mera kaafi samanta aur hum log ek dusre se apni kaafi batein share car chuke the to kahin na kahin mein co se dar bhi lagta thaa qi meri kaafi personal batein uske pass hai uske baad hua kyonki jab yeh chije khatma ho gi per main co uske maine kabhi bhi koi baat baahar nahin nikale per log main hamesha kehte the qi jab wah bowl rahi hai to mujhe bhi bolna chahie badle ki bhavna to kahin na kahin mere andorra bhi thi per main kuch samajh nahin aa raha thaa qi main kya karoon uski kuch samay baad though tin mahine baad hum log CM class mein padhate the TUMAM ne human ek PROJECT diya to uska joe PROJECT hai usko mere sathe hea krna thaa usko oosh vishya mein kuch bhi nahin aata thaa to oosh samay maine apne gharwaalon co maine apne pita co call karo maine pucha qi aisi aisi baat hue hai oosh ladaki ka mere pass phone yaya hai kya karoon mera bilkool mana nahin hai chahti hoon qi main khud K binaa banna raha hoon uske binaa lagada hoon aur agar main khud PROJECT they though aur uska naam na likhun to uske nak nahin lagegi tumhe kaafi khush hogi kya tumhe aisa car leti hoon oosh samay mere co mere pita ne bataya qi tum aisa bilkool matt karo walkie tum wah to car nahin sakti hai mujhe kuch aata nahin tum karo aur uska naam jarur they karao kyonki agar aap kisi K sathe accha karoge aur usne apna poora karake to issase usko itna bhi gir jaaegaa insaan qi usko apni galti khud hea samajh mein aa jaaegi aur maine joe bhi hai kama karo to maine khud sachchi mein dekha qi oosh ladaki co apni galti lagi aur usne itna rigret feel karo main

हां जी मुझे ऐसा लगता है कि बदला लेने पर जरूर एक सुकून मिलता है एक बहुत अच्छी फीलिंग आती है

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  291
WhatsApp_icon
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी नहीं मुझे नहीं लगता है कि बदला लेने से संतुष्टि मिलती होगी हमें धोखा विश्वासघात भी किसी अपने या करीबी से ही मिलता है और वही हमें ज्यादा दर्द भी देता है और कुछ आता भी है अंदर तक किसी गैर या अजनबी के कुछ कहने या करने से हमें इतना फर्क नहीं पड़ता है तो इसलिए हम बदला भी अपने किसी अजीज से ही लेंगे यह कैसे संभव है कि आप अपने किसी करीबी इसी अजीज किसी अपने से बदला लेने के बाद खुश रह पाएंगे मेरा अनुभव तो यही है कि हम किसी अपने को चोट पहुंचाकर संतुष्ट और खुश नहीं रह सकते हैं उसे दिया हुआ दर्द हमें भी चैन नहीं लेने देगा उसकी तरफ उसका दुख हमें आत्मग्लानि उत्पन्न कर देगा इससे तो अच्छा है कि हम अपना दिल बड़ा कर के उसे माफ कर दें या माफ नहीं भी कर पाए तो भूलने की कोशिश अवश्य करें और बुरी चीजों को और बुरी यादों को तो भुला देना ही अच्छा है इतना लिख कर तो हम हमेशा के लिए उस पूरी याद को एक जख्म बना लेंगे जो जब चाहे रिश्ता रहेगा और जिंदगी भर हमें दर्द देता रहेगा

g nahin mujhe nahin lagta hai qi badla lene se santushti milti hogi human dhokha vishwasaghat bhi kisi apne ya karibi se hea milta hai aur whey human jyada dard bhi deta hai aur kuch aata bhi hai andorra tak kisi gar ya ajnabi K kuch kahane ya karne se human itna fark nahin padata hai to eeslie hum badla bhi apne kisi azeez se hea lengey yeh kaise sabhav hai qi aap apne kisi karibi isi azeez kisi apne se badla lene K baad khush rah paenge mera anubhav to yahi hai qi hum kisi apne co chot pahunchakar santusht aur khush nahin rah sakte hain usse diya hua dard human bhi chain nahin lene dega uski tarf uska dukh human atmaglani utpanna car dega issase to accha hai qi hum apna dil bada car K usse maf car de ya maf nahin bhi car pae to bhoolne ki koshish awashya karein aur burri chijon co aur burri yaadon co to bhula dena hea accha hai itna likh car to hum hamesha K lie oosh poori youth co ek jakhm banna lengey joe jab chahe rishta rahega aur jindagi bhora human dard deta rahega

जी नहीं मुझे नहीं लगता है कि बदला लेने से संतुष्टि मिलती होगी हमें धोखा विश्वासघात भी किसी

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  249
WhatsApp_icon
user

Apurva D

Optimistic Coder

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए इस बात ही कुछ अलग पहलू है कुछ बातें ऐसी होती है जिनके ऊपर अगर हम बदला लिया जाए तो हमें ही क्षमता खत्म होती है कि नहीं यार फाइनली मतलब अभी साबुन कैसे रहता है और दूसरे ने मारी तो फटाफट हो जाती है ऐसा बोला जाता है तो फिर वह संतुष्टता की भावना लोगों में जागृति है फिर भी अगर गौर से देखें तो ब्लास्ट होने का बिल्कुल भी मन नहीं है कि मैं तुम लोगों को क्या लगता है कि नहीं मैंने ऐसा काम कर दिया है मतलब आप हमारे साथ ऐसा कुछ काम हुआ है किसी दूसरे ने किया है तो मैं उसका बदला तो जरूर लूंगा उसको उसके साथ ऐसा करुंगा वैसा करूंगा यह बात बिल्कुल भी अच्छी नहीं रहती कि आप अगर आपस में झगड़ा करके बैठा हूं इस बात पर बदला लेने पर यह बोल्ड तो रहेगा ही नहीं हर कोई आपस में झगड़ा करेगा हर कोई आपस के लिए बदला लेने के ऊपर मतलब तुला हुआ होगा ऐसा है कि हम किसी ना किसी दूसरे से हमारा पढ़ता तो नहीं है पर इसमें हम एडजस्टमेंट कर लेता डिसमिल जमीन पिली बताना चाहूंगी कि मुझे कोई पसंद नहीं कर सकता क्योंकि मेरी एक फ्रेंड है तो उसकी वजह से हमारी एक मदद है उसको सजा दी थी रीजन का मतलब मेरे फ्रेंड की ही गलती थी बस मेरे फ्रेंड ने से सोचा कि नहीं मुझको के पास जाके कंप्लीट करो कि उनको निकाल दूंगी हालांकि वह मैं बहुत ही अच्छा सिखाती थी बट वह बहुत सख्त की संस्कृति भी और उनको निकाल देने की बात मेरे फ्रेंड को फिर से ऐसा लगा कि उनको

dekhiye is baat hea kuch eluga pahaloo hai kuch batein aisi hoti hai jinke upar agar hum badla liya jae to human hea kshamta khatma hoti hai qi nahin your finally matlab abhi sabun kaise rehta hai aur dusre ne mary to fataafat ho jaati hai aisa bolla jaata hai to phir wah santushtata ki bhavna logo mein jagriti hai phir bhi agar gaur se dekhe to blast hone ka bilkool bhi mana nahin hai qi main tum logo co kya lagta hai qi nahin maine aisa kama car diya hai matlab aap hamare sathe aisa kuch kama hua hai kisi dusre ne kiya hai to main uska badla to jarur lunga usko uske sathe aisa karunga waisa karunga yeh baat bilkool bhi achchhee nahin rehti qi aap agar apsha mein jhagada karake baitha hoon is baat per badla lene per yeh bold to rahega hea nahin her koi apsha mein jhagada karega her koi apsha K lie badla lene K upar matlab tula hua hoga aisa hai qi hum kisi na kisi dusre se hamara padhata to nahin hai per ismein hum edajastament car lata dismil jamin pili batana chahungi qi mujhe koi pasad nahin car sakta kyonki meri ek friend hai to uski vajaha se hamari ek madada hai usko saja they thi reason ka matlab mere friend ki hea galti thi bus mere friend ne se soocha qi nahin mujhko K pass jake complete karo qi unko nikaal dungi halaki wah main bahut hea accha sikhaati thi but wah bahut sakht ki sanskriti bhi aur unko nikaal dane ki baat mere friend co phir se aisa laga qi unko

देखिए इस बात ही कुछ अलग पहलू है कुछ बातें ऐसी होती है जिनके ऊपर अगर हम बदला लिया जाए तो हम

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  200
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!