मुझे 5 साल होने वाले हैं डिप्रेशन का अभी तक सही रूप से ठीक नहीं हुआ है क्या डिप्रेशन पूर्ण रूप से सही नहीं होता है इसके बारे में जानकारी दें?...


play
user

J.P. Y👌g i

Psychologist

10:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिप्रेशन कोई बीमारी नहीं होते हैं हमारे ज्ञान और सोच का अंतर होता है हम जिस प्रशस्ति और हालात में जी रहे हैं रामायण कॉल नहीं होता है मानसिकता का तनावग्रस्त होना लाज भी हो जाता है तनाव का कारण एक सूची एक्सप्रेस स्थिति है हां बहुत कुछ अज्ञानता का कारण है क्योंकि अपने दिमाग का बंदोबस्त नहीं कर पाते हैं उसका चित्र में किसी भाग में क्रियाशील रहता है टॉम आप डिप्रेशन पढ़ते किस वजह से इसके समाधान का निवारण करना चाहिए किसी साइकेट्रिक से मिलकर व्यक्तिगत प्रॉब्लम है बताना से क्योंकि समाधान है इसका एक फल होता है डिप्रेशन शंका की वजह से होता है और कुछ बाहरी वातावरण के प्रति से होता है जीवन जीने जीने की एक शैली होती है उसके आधार पर मनुष्यता है जब अपनी जिम्मेदारी को बढ़ा देते हैं राधिका डिप्रेशन में चलता है विजय ने की कुशलता नहीं रहते हैं आप एक विश्वास के लिए किसी को मेहंदी के चुने उनके वाक्यांश फ्री तेरा ध्यान देकर ग्रहण करें आपको जरूरत है एक आचार विचार की हवा फिल्म उड़ता से डिप्रेशन में आता है हमें इग्नोर करने की क्षमता नहीं रहते जैसा कहा जाता है किस आपके मुंह में छछूंदर आ गया हंस गया ना निकला जाए ना बाहर फेंका जाए डिप्रेशन में ऐसा ही होता है बॉस के लिए एक प्रमुख रूप से भेज देना चाहिए जो ज्ञान के माध्यम से प्राप्त होता है और आपको जानकारी होनी चाहिए और अपने दिनचर्या में कुछ क्षण मेडिटेशन के लिए प्रार्थना के लिए निकालना चाहिए और आस्था के मूल्यों पर अपने को स्थापित करना चाहिए कुछ अध्यात्मिक अच्छे और की पुस्तकों का अनुसरण करें लड़कियां मानसिक स्थिति को विराम दे राखी हरा सेठ पर्सन से जाहिर होता है कभी आप मानसिक दशा में निपुण नहीं है मानसिकता हमारी ही एक कार्य करने की एक व्यवस्था है इसरो के क्षेत्र अलग-अलग हैं आराम से रहित है महामृत्युंजय महामृत्युंजय जप में ऐसा प्रभाव होता है चित्र बुद्धि के निवृत्ति होती है हर प्रकृति तथा में या गया है जिस प्रकार पेड़ से हल्का करने के बाद सत्ता अलग हो जाता है और उसकी तबीयत निकला शरमाया के बढ़ते हैं किसी प्रकार की अवधारणा है जो कर्म विपाक हो जाते हैं वह निवृत हो जाता है तो प्रकृति की कलाएं हमारे अंदर से गुजरते हैं हमारे लिए हितकारी फिर जो का जन्म देती है अपने आप का पहला परेशान हो तो हम समझे सोचना चाहिए जिससे हम मर रहे हैं तकलीफ उठा रहे हैं या तो वह हमें मार चुकी है शीश हम जिंदा है और हां जिंदगी आपने सोच समझ के बनाकर काटने उत्तर साला प्रवीण से विरक्त हो जाना चाहिए उठ गया अपने आप से अपना अगर सुरक्षा नहीं करेंगे तो कौन बाहर भी करेगा अपने आप को छोड़ देना चाहिए या करती बरत रही है हमारे ऊपर जो भरत रहा है इसके गुण धर्म का प्रभाव है लेकिन एक तो तुम्हारे अंदर है जिसके द्वारा ही भान सब हो रहा है और हां अपनी मर्जी से स्कोर सास का नाम चटकानवा हमारे अंदर प्रकट हो रहा है क्यों ना हम ऐसे विषयों का परित्याग करके कोई नहीं विश्व विश्व के अंदर अपने चित्त को लगाएं अजय उसका एहसास

depression koi bimari nahi hote hain hamare gyaan aur soch ka antar hota hai hum jis prashasti aur haalaat mein ji rahe hain ramayana call nahi hota hai mansikta ka tanaavgrast hona laj bhi ho jata hai tanaav ka kaaran ek suchi express sthiti hai haan bahut kuch agyanata ka kaaran hai kyonki apne dimag ka bandobast nahi kar paate hain uska chitra mein kisi bhag mein kriyasheel rehta hai tom aap depression padhte kis wajah se iske samadhan ka nivaran karna chahiye kisi psychiatric se milkar vyaktigat problem hai batana se kyonki samadhan hai iska ek fal hota hai depression shanka ki wajah se hota hai aur kuch bahri vatavaran ke prati se hota hai jeevan jeene jeene ki ek shaili hoti hai uske aadhaar par manushyata hai jab apni jimmedari ko badha dete hain radhika depression mein chalta hai vijay ne ki kushalata nahi rehte hain aap ek vishwas ke liye kisi ko mehendi ke chune unke vakyansh free tera dhyan dekar grahan karein aapko zarurat hai ek aachar vichar ki hawa film udta se depression mein aata hai humein ignore karne ki kshamta nahi rehte jaisa kaha jata hai kis aapke mooh mein chhachhundar aa gaya hans gaya na nikala jaye na bahar fainkaa jaye depression mein aisa hi hota hai boss ke liye ek pramukh roop se bhej dena chahiye jo gyaan ke maadhyam se prapt hota hai aur aapko jankari honi chahiye aur apne dincharya mein kuch kshan meditation ke liye prarthna ke liye nikalna chahiye aur astha ke mulyon par apne ko sthapit karna chahiye kuch adhyatmik acche aur ki pustakon ka anusaran karein ladkiyan mansik sthiti ko viram de rakhi hara seth person se jaahir hota hai kabhi aap mansik dasha mein nipun nahi hai mansikta hamari hi ek karya karne ki ek vyavastha hai isro ke kshetra alag alag hain aaram se rahit hai mahameitunjaya mahameitunjaya jap mein aisa prabhav hota hai chitra buddhi ke sevanervit hoti hai har prakriti tatha mein ya gaya hai jis prakar pedh se halka karne ke baad satta alag ho jata hai aur uski tabiyat nikala sarmaya ke badhte hain kisi prakar ki avdharna hai jo karm vipak ho jaate hain wah nivrit ho jata hai toh prakriti ki kalaen hamare andar se gujarate hain hamare liye hitkari phir jo ka janam deti hai apne aap ka pehla pareshan ho toh hum samjhe sochna chahiye jisse hum mar rahe hain takleef utha rahe hain ya toh wah humein maar chuki hai sheesh hum zinda hai aur haan zindagi aapne soch samajh ke banakar katne uttar sala praveen se virakt ho jana chahiye uth gaya apne aap se apna agar suraksha nahi karenge toh kaun bahar bhi karega apne aap ko chod dena chahiye ya karti barat rahi hai hamare upar jo Bharat raha hai iske gun dharm ka prabhav hai lekin ek toh tumhare andar hai jiske dwara hi bhan sab ho raha hai aur haan apni marji se score saas ka naam chatakanva hamare andar prakat ho raha hai kyon na hum aise vishyon ka parityag karke koi nahi vishwa vishwa ke andar apne chitt ko lagaye ajay uska ehsaas

डिप्रेशन कोई बीमारी नहीं होते हैं हमारे ज्ञान और सोच का अंतर होता है हम जिस प्रशस्ति

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  917
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!