एक IAS अफ़सर के रूप में आपका दिन कैसा होता है इसके बारे में कुछ बताएँ?...


play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक आईएएस अफसर ग्रुप में दिन कैसा होता है यह काफी इंटरेस्टिंग क्वेश्चन है दिन सामान्य होता है डिपेंड करता है कि मैं किस असाइनमेंट को देख रहा हूं मैं पहले एक नागालैंड में कुछ साल था तो वहां पर एक अलग रूटीन होता था फिर दिल्ली में था अब एक अलग रोटी होता था नाम नहीं चाहता है कि जब आप सुबह की है तो हमें जल्दी उठते हैं क्योंकि यह फैमिली के साथ टाइम बिताने को कम मिलता है तो सुबह-सुबह अपने बच्चे के साथ थोड़ा बहुत देर में थोड़ा देर रहता हूं उसके साथ उसके साथ में थोड़ा खेल तो अपने बच्चे के साथ तो बनर्जी मिलती है फिर 8:00 बजे में काम अपना शुरू कर देता हूं अपनी फाइलों को पहले पुलिस करता हूं आज से नवसारी ना हो उसके बाद पब्लिक से मिलता हूं उनके समस्याएं कोई रहता है तो कॉल करता हूं ऑफिशियल वर्क करते हैं फिर बहुत हर तरह की प्रॉब्लम साथी कैसा डिपार्टमेंट को आप को डिलीट करते हैं सी चीजों का सामान रहता है असाइनमेंट पर डिपेंड करता है जब मैं डिस्टलरी में कलेक्टर था तब उस टाइम सुबह 7:00 बजे का दिन शुरू हो जाता था लिखवा पहले अपनी सारी फाइलों को देखे ना आशीर्वाद पब्लिक जो मिलने आती है उनको उनसे मिल लेना फिर उनके समस्याओं की सूची बनाने लाकर उनको क्या टाइप करना फिर आप जाते हैं तो डिजास्टर मैनेजमेंट के काम देखना डेवलपमेंट के काम रिसीव लिखना कोई भी दिन सुबह से शाम रात को ऐसा नहीं रहता कि कब क्या हो जाए अपनी पार्टी बनानी पड़ती है दिन के लिए हुए काम कभी खत्म न पाएंगे तो आप पर टाइप करते कि पहले सारे काम कौन-कौन से जिनको आप को तुरंत न्यूज़ करना है कौन-कौन से अर्जुन समझते हैं पब्लिक से जो आ रही है तू मैनेजमेंट हम लोग करना सीखते हैं कि सिलेबस इंपॉसिबल संयुक्त और होलसेल हाउ टू मैनेज आज के बाद कभी टाइम मिल गया तो फैमिली के साथ भी टाइम बताना जो कि मुश्किल से ही मिलता है तो

ek IAS officer group mein din kaisa hota hai yah kaafi interesting question hai din samanya hota hai depend karta hai ki main kis assignment ko dekh raha hoon main pehle ek nagaland mein kuch saal tha toh wahan par ek alag routine hota tha phir delhi mein tha ab ek alag roti hota tha naam nahi chahta hai ki jab aap subah ki hai toh hamein jaldi uthte hain kyonki yah family ke saath time bitane ko kam milta hai toh subah subah apne bacche ke saath thoda bahut der mein thoda der rehta hoon uske saath uske saath mein thoda khel toh apne bacche ke saath toh banerjee milti hai phir 8 00 baje mein kaam apna shuru kar deta hoon apni filon ko pehle police karta hoon aaj se navsari na ho uske baad public se milta hoon unke samasyaen koi rehta hai toh call karta hoon official work karte hain phir bahut har tarah ki problem sathi kaisa department ko aap ko delete karte hain si chijon ka saamaan rehta hai assignment par depend karta hai jab main distalari mein collector tha tab us time subah 7 00 baje ka din shuru ho jata tha likhva pehle apni saree filon ko dekhe na ashirvaad public jo milne aati hai unko unse mil lena phir unke samasyaon ki suchi banane lakar unko kya type karna phir aap jaate hain toh disaster management ke kaam dekhna development ke kaam receive likhna koi bhi din subah se shaam raat ko aisa nahi rehta ki kab kya ho jaaye apni party banani padti hai din ke liye hue kaam kabhi khatam na payenge toh aap par type karte ki pehle saare kaam kaun kaunsi jinako aap ko turant news karna hai kaun kaunsi arjun samajhte hain public se jo aa rahi hai tu management hum log karna sikhate hain ki syllabus Impossible sanyukt aur wholesale how to manage aaj ke baad kabhi time mil gaya toh family ke saath bhi time bataana jo ki mushkil se hi milta hai toh

एक आईएएस अफसर ग्रुप में दिन कैसा होता है यह काफी इंटरेस्टिंग क्वेश्चन है दिन सामान्य होता

Romanized Version
Likes  272  Dislikes    views  4247
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!