शिक्षित भारतीयों की बेरोज़गारी का मूल कारण क्या है?...


user

Vikas Singh

Political Analyst

1:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शिक्षित भारतीयों की बेरोजगारी का मुख्य कारण हमारे देश में ऐसी व्यवस्था नहीं है जहां पर लोग जॉब कर सके दूसरा हमारे देश के जो लोग एजुकेटेड होकर निकल रहे हैं बहुत सारे लोग तो ऐसे हैं जिनको पैसे से डिग्री मिल जाती है तो वह लोग भी बेरोजगारी के लाइन में खड़े हैं तो बेरोजगारी का बहुत सारा कारण है हमारे देश में हमारे देश की बढ़ती जनसंख्या देश का मुख्य कारण है तो सबके ऊपर रोक लगानी पड़ेगी हमारे देश में बड़ी-बड़ी कंपनियों को खोलना होगा प्रधानमंत्री जी ने एफडीआई के ऊपर ध्यान दिया फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट आ मोदी जी ने बोला कि आप फर्स्ट डेवलपमेंट ऑफ इंडिया है बहुत सारी कंपनियां बारी हमारी देश में कंपनी खोल रही है जिसके माध्यम से बेरोजगारी के ऊपर लगाम लग रही है दिन पर दिन आज हमारा देश बहुत तरक्की कर रहा है हमारे देश में आज बहुत चीजों की मैन्युफैक्चरिंग हो रही है थोड़ा टाइम लगेगा बेरोजगारी को खत्म करने के लिए क्योंकि एक बहुत लंबी लाइन है तो इस लंबी लाइन को खत्म करने के लिए 5 साल का और टाइम लगेगा आई एम सभी लोग मिलजुलकर अपना महत्वपूर्ण वोट भारतीय जनता पार्टी को दें ताकि हमारे देश से बेरोजगारी का खात्मा हो सके हमारे देश में शिक्षा व्यवस्था अच्छी की जा सके और हमारे देश से कांग्रेस का खात्मा हो सके धन्यवाद

shikshit bharatiyon ki berojgari ka mukhya karan hamare desh mein aisi vyavastha nahi hai jaha par log job kar sake doosra hamare desh ke jo log educated hokar nikal rahe hain bahut saare log toh aise hain jinako paise se degree mil jaati hai toh vaah log bhi berojgari ke line mein khade hain toh berojgari ka bahut saara karan hai hamare desh mein hamare desh ki badhti jansankhya desh ka mukhya karan hai toh sabke upar rok lagani padegi hamare desh mein badi badi companion ko kholna hoga pradhanmantri ji ne IFDI ke upar dhyan diya foreign direct investment aa modi ji ne bola ki aap first development of india hai bahut saree companiya baari hamari desh mein company khol rahi hai jiske madhyam se berojgari ke upar lagaam lag rahi hai din par din aaj hamara desh bahut tarakki kar raha hai hamare desh mein aaj bahut chijon ki manufacturing ho rahi hai thoda time lagega berojgari ko khatam karne ke liye kyonki ek bahut lambi line hai toh is lambi line ko khatam karne ke liye 5 saal ka aur time lagega I M sabhi log miljulakar apna mahatvapurna vote bharatiya janta party ko de taki hamare desh se berojgari ka khatma ho sake hamare desh mein shiksha vyavastha achi ki ja sake aur hamare desh se congress ka khatma ho sake dhanyavad

शिक्षित भारतीयों की बेरोजगारी का मुख्य कारण हमारे देश में ऐसी व्यवस्था नहीं है जहां पर लोग

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  366
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Aamir Saleem Khan

Chief Reporter/News editor

0:53

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एमपी एंप्लॉयमेंट का कारण जो मुझे समझ में आता है वह सरकारों की अनदेखी है सरकारों में 80 कदम जी ने काम किया करो और ज्यादा कानपुर

mp employment ka kaaran jo mujhe samajh mein aata hai wah sarkaro ki andekha hai sarkaro mein 80 kadam ji ne kaam kiya karo aur zyada kanpur

एमपी एंप्लॉयमेंट का कारण जो मुझे समझ में आता है वह सरकारों की अनदेखी है सरकारों में 80 कदम

Romanized Version
Likes  33  Dislikes    views  393
WhatsApp_icon
user

Ghanshyam Mehar

Indian Politician

2:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सरकारों की सरकार की अनदेखी रही है भारतीय जनता पार्टी के पेट ज्यादा प्राइवेट सेक्टर को बढ़ावा दिया सरकार के खिलाफ बुधवार को बढ़ाओ आप कैसे बनाया जाए बनाया कुछ भी करेगा लगाएगा इस देश में कितनी है कोई पाबंदी नहीं है वह मनमर्जी दो लोगों को लगा ते मनमाड आते हैं तो सरकार उनको प्राइवेट कंपनियों पर विश्वास बढ़ेगा ही बेरोजगारी बढ़ेगी मनमर्जी लाता है 2000 4000 5000 में अनपढ़ लोगों के बाद हर डिपार्टमेंट में प्राइवेट सेक्टर में जा रहे थे तो जा रहे हैं तो ठीक है तो 1:00 बजे कम से कम पैसे में आदमी लगातार काम करके इस पोस्ट पर काम करेगा

sarkaro ki sarkar ki andekha rahi hai bharatiya janta party ke pet zyada private sector ko badhawa diya sarkar ke khilaf budhavar ko badhao aap kaise banaya jaye banaya kuch bhi karega lagaega is desh mein kitni hai koi pabandi nahi hai wah manmarzi do logo ko laga te manmad aate hain toh sarkar unko private companiyo par vishwas badhega hi berojgari badhegi manmarzi lata hai 2000 4000 5000 mein anpad logo ke baad har department mein private sector mein ja rahe the toh ja rahe hain toh theek hai toh 1:00 baje kam se kam paise mein aadmi lagatar kaam karke is post par kaam karega

सरकारों की सरकार की अनदेखी रही है भारतीय जनता पार्टी के पेट ज्यादा प्राइवेट सेक्टर को बढ़ा

Romanized Version
Likes  52  Dislikes    views  660
WhatsApp_icon
user

Girish Soni

Indian Politician

2:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मूल कारण यह सरकारों ने कभी भी ध्यान ही नहीं दिया गया ना अगर हम अगर हम यह देखें हमारे देश में कितने बेरोजगार हैं आपने कभी उन्होंने कभी सरकारों ने अपने छोटे उद्योग धंदे हैं उनको उनको इस तरह का ट्रेनिंग क्यों नहीं दिया गया उनके साथियों को ट्रेनिंग देते कभी छोटा अगर वह आज अपने अपना धंधा कर ले सबको सरकारी नौकरियां मिल जाएंगे आपको लग रहा है कितने सरकारी नौकरी मिल जाएगा दिल देकर उसको कहा कि तुम खुद तो रोजगार लो और साथ ही साथ 50 लोगों को रोजगार और तो और कॉमेंट्स को प्रमोट करती है कुछ भी करती है उसको हर तरह से प्रमोट करके उसके बिजनेस को बढ़ावा दिया जाए ताकि वह ज्यादा ज्यादा मतलब जो है तरक्की करने के तरीके बल्कि मैं समझता हूं इस देश के अंदर कोई धंधा या कारखाना या कोई भी चीज लगाना चाहता है तो भ्रष्टाचार एक दिन कारण है और भ्रष्टाचार के साथ ही उसको यह दिक्कत आती है पहले ऑफिसर ऑफिसर आएगा फिर लाइसेंस प्रैक्टिकल विवा सभी कंपनियां बड़े-बड़े रोजगार नहीं है यहां वह कंपनी या नहीं है नहीं तो वो कंपनियां आज पता करें यहीं आकर आज हमारे युवाओं को नौकरी देती काम आप एक अंदाजा लगाइए दिए क्या बनाता है और यह जितने भी पिज्जा और बर्गर कंपनियां है वह क्या सामान अपने देश से लेकर आती हैं लेबर भी यही का सामान भी यही क्या है शिमला मिर्च लेकिन क्या है प्रॉफिट उनके पास जाता है अब बनाने वाले

mul karan yah sarkaro ne kabhi bhi dhyan hi nahi diya gaya na agar hum agar hum yah dekhen hamare desh mein kitne berozgaar hain aapne kabhi unhone kabhi sarkaro ne apne chote udyog dhande hain unko unko is tarah ka training kyon nahi diya gaya unke sathiyo ko training dete kabhi chota agar vaah aaj apne apna dhandha kar le sabko sarkari naukriyan mil jaenge aapko lag raha hai kitne sarkari naukri mil jaega dil dekar usko kaha ki tum khud toh rojgar lo aur saath hi saath 50 logo ko rojgar aur toh aur comments ko promote karti hai kuch bhi karti hai usko har tarah se promote karke uske business ko badhawa diya jaaye taki vaah zyada zyada matlab jo hai tarakki karne ke tarike balki main samajhata hoon is desh ke andar koi dhandha ya karkhana ya koi bhi cheez lagana chahta hai toh bhrashtachar ek din karan hai aur bhrashtachar ke saath hi usko yah dikkat aati hai pehle officer officer aayega phir license practical viva sabhi companiya bade bade rojgar nahi hai yahan vaah company ya nahi hai nahi toh vo companiya aaj pata kare yahin aakar aaj hamare yuvaon ko naukri deti kaam aap ek andaja lagaaiye diye kya banata hai aur yah jitne bhi pizza aur burger companiya hai vaah kya saamaan apne desh se lekar aati hain labour bhi yahi ka saamaan bhi yahi kya hai shimla mirch lekin kya hai profit unke paas jata hai ab banane waale

मूल कारण यह सरकारों ने कभी भी ध्यान ही नहीं दिया गया ना अगर हम अगर हम यह देखें हमारे देश म

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  509
WhatsApp_icon
user

robinsinghrajput510

Bsc,NEBOSH H.S.W,HSE,DFSE

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

और भारत में बेरोजगारी का कारण देखें तो सबसे बड़ा कारण यही है कि हमें सिर्फ किताबी ज्ञान दिया जाता है हमें प्रेक्टिकली चीजें सिखाई नहीं जाती जैसे कि अगर आप जापान की तुलना करें तो जापान में थर्ड क्लास का बच्चा खुद की घड़ी बना लेता है यानी कि उसके पास जॉब का ऑफर पहले से ही है वह बेरोजगार नहीं हो तो हमारी शिक्षा में कुछ ऐसी जरूरत है क्या में प्रेक्टिकल सिखाया जाता की दूरी

aur bharat mein berojgari ka karan dekhen toh sabse bada karan yahi hai ki hamein sirf kitabi gyaan diya jata hai hamein prektikali cheezen sikhai nahi jaati jaise ki agar aap japan ki tulna kare toh japan mein third class ka baccha khud ki ghadi bana leta hai yani ki uske paas job ka offer pehle se hi hai vaah berozgaar nahi ho toh hamari shiksha mein kuch aisi zarurat hai kya mein practical sikhaya jata ki doori

और भारत में बेरोजगारी का कारण देखें तो सबसे बड़ा कारण यही है कि हमें सिर्फ किताबी ज्ञान दि

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  45
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
शिक्षित बेरोजगारी के कारण ; शिक्षित बेरोजगारी किसे कहते हैं ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!