क्या कोई भारत में IT उद्योग के कुछ गंदे रहस्यों को बता सकता है?...


play
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए भारत में आईटी उद्योग के कुछ गंदे रहस्य की बात करनी है तो यही सारी बातें है सबसे पहली बार जय को खुद मिस्टर कम जलाने की थी जो कि जब जैमिनी की हास्य रस के थे भारत में उन्होंने कहा था कि लगभग 600% तक लोग जयपुर ट्रेन नहीं आई थी मैं और सिर्फ मैं ही नहीं उन का यह भी मानना था कि उनकी जो नौकरी नौकरी नौकरी चेंज करते हैं तो वह भी हो गई पर बल नहीं होगी वह नौकरी करने के और सिर्फ यही नहीं उन्होंने यह भी देखा कि वहां हम जितने भी आईटी उद्योग में काम करने वाले लोग जो है वह कंसर्न इतनी नहीं है टेक्नोलॉजी को लेकर उन्होंने बिल्कुल ठीक नॉलेज के बारे में कुछ पता नहीं है और सिर्फ वही नहीं उनका यह भी मानना है कि कितने सारे अनप्रोफेशनल लोग आईटी इंडस्ट्री में रह चुके है कि वह मीटिंग के समय भी जो है लोकल भाषा में बोलते हैं या फिर अपनी मातृभाषा में बोलते हुए हिंदी या इंग्लिश में नहीं बोलते हैं और सेवर ही नहीं बल्कि जिस प्रकार से आगरा यूएस में देखे तो हमेशा वह दिमाग से बोलते हैं लेकिन भारत में जो है वह सब कुछ भी बोलेगा और उसके वजह से कुछ भी बोलेंगे तो वह बाबा करता है बल्कि बस में शनि हो तो यूएस में जो है वह कोई भी मैंने जगह सभी बोल रहा कर लो को अच्छा नहीं लगता तो फिर लोग उसका विरोध करते है लेकिन भारत में ऐसा नहीं देखा गया तो यह कुछ गंदे रहस्य थे आईटी उद्योग के बारे में

dekhiye bharat mein it udyog ke kuch gande rahasya ki baat karni hai toh yahi saree batein hai sabse pehli baar jai ko khud mister kam jalaane ki thi jo ki jab gemini ki hasya ras ke the bharat mein unhone kaha tha ki lagbhag 600 tak log jaipur train nahi I thi main aur sirf main hi nahi un ka yah bhi manana tha ki unki jo naukri naukri naukri change karte hain toh vaah bhi ho gayi par bal nahi hogi vaah naukri karne ke aur sirf yahi nahi unhone yah bhi dekha ki wahan hum jitne bhi it udyog mein kaam karne waale log jo hai vaah kansarn itni nahi hai technology ko lekar unhone bilkul theek knowledge ke bare mein kuch pata nahi hai aur sirf wahi nahi unka yah bhi manana hai ki kitne saare unprofessional log it industry mein reh chuke hai ki vaah meeting ke samay bhi jo hai local bhasha mein bolte hain ya phir apni matribhasha mein bolte hue hindi ya english mein nahi bolte hain aur sevar hi nahi balki jis prakar se agra US mein dekhe toh hamesha vaah dimag se bolte hain lekin bharat mein jo hai vaah sab kuch bhi bolega aur uske wajah se kuch bhi bolenge toh vaah baba karta hai balki bus mein shani ho toh US mein jo hai vaah koi bhi maine jagah sabhi bol raha kar lo ko accha nahi lagta toh phir log uska virodh karte hai lekin bharat mein aisa nahi dekha gaya toh yah kuch gande rahasya the it udyog ke bare mein

देखिए भारत में आईटी उद्योग के कुछ गंदे रहस्य की बात करनी है तो यही सारी बातें है सबसे पहली

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  145
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
gande bata ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!