इश्क़ और हवस में क्या फर्क होता है?...


play
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत अच्छा प्रश्न है आपका क्या समझदारी की बात नहीं किया समर्पण होता है मर मिटने की चाहत होती है इश्क कभी बदले की कामना नहीं रखता आवश्यकता की पूर्ति है शारीरिक होती है इसमें कोई हो सकती समर्पण नहीं होता है हां एक प्रेम का एक रास्ता बहुत सकता है अंतरंगता का एक रास्ता हो सकता है लेकिन और सीमाओं के अंतर्गत सीमाओं से बाहर होगा वह कामुकता कैलाश रिंगटोन में जमीन आसमान कम इंसान को इंसान से उठा कर देता बनाता है इंसान को खाना बनाती है जानवरों ना दे शाम को प्रेरणा देता है कुछ नवनिर्माण की भावना देता है इश्क तो पंडित करता है इस इंसान को जीने की सही तौर तरीके से कहता है इश्क इंसान को रास्ता दिखाता है जबकि हवाई इंसान को जानवर बना देती है क्या बना देती है गंदगी सुकून कर देती है जहां तक बीमारियों का घर बन जाता है इंसान को अब इससे ज्यादा मैं क्या कहूं कि मानव से यदि जानवर बनाती है तो वह इसलिए हवा से तेज करना चाहिए इस करना बहुत अच्छी बातें देता है

bahut accha prashna hai aapka kya samajhdari ki BA at nahi kiya samarpan hota hai mar mitne ki chahat hoti hai ishq kabhi BA dle ki kamna nahi rakhta avashyakta ki purti hai sharirik hoti hai ismein koi ho sakti samarpan nahi hota hai haan ek prem ka ek rasta BA hut sakta hai antarangata ka ek rasta ho sakta hai lekin aur seemaon ke antargat seemaon se BA har hoga wah kaamukata kailash ringtone mein jameen aasman kam insaan ko insaan se utha kar deta BA nata hai insaan ko khana BA nati hai jaanvaro na de shaam ko prerna deta hai kuch Navanirmaṇa ki bhavna deta hai ishq toh pandit karta hai is insaan ko jeene ki sahi taur tarike se kahata hai ishq insaan ko rasta dikhaata hai jabki hawai insaan ko janwar BA na deti hai kya BA na deti hai gandagi sukoon kar deti hai jaha tak bimariyon ka ghar BA n jata hai insaan ko ab isse zyada main kya kahun ki manav se yadi janwar BA nati hai toh wah isliye hawa se tez karna chahiye is karna BA hut acchi BA tein deta hai

बहुत अच्छा प्रश्न है आपका क्या समझदारी की बात नहीं किया समर्पण होता है मर मिटने की चाहत हो

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  377
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Md Shahzad Alam

Motivational Speaker Training

0:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत बढ़िया सवाल है आपका इश्क और हवस में क्या फर्क होता है इश्क 21000 चीज है जो दिल से की जाती है और जिससे भी इश्क हो जाए उसे बिना देखे बिना उसके बात किए चैन ना मिले उसे इश्क कहते हैं इश्क में किसी तरह की कोई भेदभाव नहीं होता है इश्क में इंसान जब इश्क करता है तो उसके शरीर से नहीं बल्कि उसके दिल से किया जाता है और हवस जो होता है हवस बहुत ही गंदा और बहुत ही चीज होता है हवस की वजह से इंसान बर्बाद हो जाता है अपनी जिंदगी बर्बाद कर देता है हवा से एक ऐसा रास्ता है जिस पर चलकर इंसान कभी भी कामयाब नहीं हुआ है सिर्फ बर्बादी के इरादे जो लोग हवस के लिए इश्क करते हैं वह अपनी जिंदगियां बर्बाद कर देते हैं

bahut BA dhiya sawaal hai aapka ishq aur hawas mein kya fark hota hai ishq 21000 cheez hai jo dil se ki jaati hai aur jisse bhi ishq ho jaaye use bina dekhe bina uske BA at kiye chain na mile use ishq kehte hai ishq mein kisi tarah ki koi bhedbhav nahi hota hai ishq mein insaan jab ishq karta hai toh uske sharir se nahi BA lki uske dil se kiya jata hai aur hawas jo hota hai hawas BA hut hi ganda aur BA hut hi cheez hota hai hawas ki wajah se insaan BA rbad ho jata hai apni zindagi BA rbad kar deta hai hawa se ek aisa rasta hai jis par chalkar insaan kabhi bhi kamyab nahi hua hai sirf BA rbadi ke Irade jo log hawas ke liye ishq karte hai vaah apni jindagiyan BA rbad kar dete hain

बहुत बढ़िया सवाल है आपका इश्क और हवस में क्या फर्क होता है इश्क 21000 चीज है जो दिल से की

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  105
WhatsApp_icon
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

0:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विक्रम प्यार और हवस में सबसे बड़ा अंतर यह है कि जैसे प्यार होता है तो प्यार कीजिए आपके आपका जो भी गर्लफ्रेंड है आपकी जो वाइफ उसके साथ होता है और उसके साथ आपकी इंटिमेसी रिजर्वेशन होता है उस प्रकार के जो भी इंटीमेट रिलेशन होता है वह किसी और के साथ नहीं रखना चाहते हैं लेकिन हां हां पास एक ऐसी चीज है हर किसी के साथ हो सकती है जैसे आपने कोई नई लड़की देखी तो आपको उसके साथ फिल्मी गाने स्टार्ट हो जाएगी आप चाहेंगे उसके साथ इंटरकोर्स किया जाए तो दूसरी देखी तो उसके साथ भी आपका मन करेगा उसको इंटरकोर्स करने का तो मुझे लगता है कि जितनी भी लड़कियां है आपको फोन करेगा किसके साथ भी एक बार सेक्स हो जाओ उसके साथ भी सेक्स हो जाए तो वह है हवस लेकिन हर बार सेक्स करने से प्यार नहीं हो सकता और जिसके साथ आप सेक्स कर रहे हैं मतलब 10 के साथ 12 के साथ हो यह कमी तो नहीं कि आपको सभी के साथ प्यार हो सकता है प्यार कीय के साथ होता है जिससे आपके इंटीग्रेशन होते हैं अगर आपको वाकई में उस व्यक्ति के साथ प्यार है तो मुझे लगता है कि आपके अंदर जो हवस वाली फीलिंग है वह कभी आई नहीं सकती

vikram pyar aur hawas mein sabse BA da antar yah hai ki jaise pyar hota hai toh pyar kijiye aapke aapka jo bhi girlfriend hai aapki jo wife uske saath hota hai aur uske saath aapki intimacy reservation hota hai us prakar ke jo bhi intimet relation hota hai vaah kisi aur ke saath nahi rakhna chahte hai lekin haan haan paas ek aisi cheez hai har kisi ke saath ho sakti hai jaise aapne koi nayi ladki dekhi toh aapko uske saath filmy gaane start ho jayegi aap chahenge uske saath intercourse kiya jaaye toh dusri dekhi toh uske saath bhi aapka man karega usko intercourse karne ka toh mujhe lagta hai ki jitni bhi ladkiyan hai aapko phone karega kiske saath bhi ek BA ar sex ho jao uske saath bhi sex ho jaaye toh vaah hai hawas lekin har BA ar sex karne se pyar nahi ho sakta aur jiske saath aap sex kar rahe hai matlab 10 ke saath 12 ke saath ho yah kami toh nahi ki aapko sabhi ke saath pyar ho sakta hai pyar kiya ke saath hota hai jisse aapke integration hote hai agar aapko vaakai mein us vyakti ke saath pyar hai toh mujhe lagta hai ki aapke andar jo hawas wali feeling hai vaah kabhi I nahi sakti

विक्रम प्यार और हवस में सबसे बड़ा अंतर यह है कि जैसे प्यार होता है तो प्यार कीजिए आपके आपक

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  137
WhatsApp_icon
user

Rahul kumar

Junior Volunteer

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो प्यार होता है OBC के लिए फीलिंग होती है कि आपके और आपके पार्टनर के बीच में होता है और उनकी चीजें को समझ पाते हैं और क्या चाहिए उन्हें तरीके से

jo pyar hota hai OBC ke liye feeling hoti hai ki aapke aur aapke partner ke beech mein hota hai aur unki cheezen ko samajh paate hai aur kya chahiye unhe tarike se

जो प्यार होता है OBC के लिए फीलिंग होती है कि आपके और आपके पार्टनर के बीच में होता है और उ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  22
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
pyar ki hawas ; कैलाश रिंगटोन ; ladki ki hawas ; ishq kya hota hai ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!