अपने सोचने की शक्ति कैसे बढ़ाएं?...


play
user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

1:35

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले आप इस बात को समझेगी सोचने की शक्ति होती क्या है आप 5 मिनट अगर शांति से अकेले बैठेंगे आंख बंद करके और आप सोचो कि मैं इस विषय पर सोच रहा हूं अभी देखो अब जॉब करो क्या होता है आप एक बात सोचते सोचते हैं आप का ध्यान कहीं और चला जाता है फिर आप किसी और बात के बारे में सोचने लगते हो 2 मिनट उस बारे में सोचते सोचते फिर ध्यान कहीं और चला जाता है फिर चला जाता है तू जैसे एक बंदर एक पेड़ से दूसरे पेड़ की तरफ जाम करते रहता है कभी भी एक जगह से नहीं बैठा वैसे ही हमारा दिमाग होता है जिसमें हजारों तरह के ख्याल आते रहते आते रहते हैं कि शादी के बाद ही कुछ सोचने की शक्ति तब बनेगी जब आप सिर्फ एक विषय पर एकाग्र होकर सोच सकोगे तो वह शक्ति जो अभी हजारों में बनी है वो एक जगह एकत्र हो जाएगी और अपने मन को एकाग्र करने के बहुत सारे रास्ते हैं जैसे प्राणायाम कर सकते हो अपनी सांसो पर ध्यान दे सकते वह तरह तरह के मेडिटेशन है आजकल दुनिया में हर इंसान अलग नई टेक्निक निकाल कर उसे अपने मन पर काबू करना सिखा जाए अगर आप भगवान की पूजा पाठ करते हो तो अपनी अपने इष्ट देव का नाम आप बार-बार बार-बार रिपीट करते हो सुबह शाम 10:00 मिनट पर इससे आपके दिमाग को एकाग्र होना चाहता है और जब आपका मन धमाके कांग्रे होना सीख जाएंगे अब आप उस एकाग्रता को इस्तेमाल कर सकते हो आप ने सोचने पर ताकि वह अपनी पूरी शक्ति के साथ आपको आकर जलते सके

sabse pehle aap is baat ko samajhegee sochne ki shakti hoti kya hai aap 5 minute agar shanti se akele baitheange aankh band karke aur aap socho ki main is vishay par soch raha hoon abhi dekho ab job karo kya hota hai aap ek baat sochte sochte hain aap ka dhyan kahin aur chala jata hai phir aap kisi aur baat ke bare mein sochne lagte ho 2 minute us bare mein sochte sochte phir dhyan kahin aur chala jata hai phir chala jata hai tu jaise ek bandar ek pedh se dusre pedh ki taraf jam karte rehta hai kabhi bhi ek jagah se nahi baitha waise hi hamara dimag hota hai jisme hazaro tarah ke khayal aate rehte aate rehte hain ki shadi ke baad hi kuch sochne ki shakti tab banegi jab aap sirf ek vishay par ekagra hokar soch sakoge toh wah shakti jo abhi hazaro mein bani hai vo ek jagah ekatarr ho jayegi aur apne man ko ekagra karne ke bahut saare raste hain jaise pranayaam kar sakte ho apni saanso par dhyan de sakte wah tarah tarah ke meditation hai aajkal duniya mein har insaan alag nayi technique nikaal kar use apne man par kabu karna sikha jaye agar aap bhagwan ki puja path karte ho toh apni apne isht dev ka naam aap baar baar baar baar repeat karte ho subah shaam 10:00 minute par isse aapke dimag ko ekagra hona chahta hai aur jab aapka man dhamake congress hona seekh jaenge ab aap us ekagrata ko istemal kar sakte ho aap ne sochne par taki wah apni puri shakti ke saath aapko aakar jalte sake

सबसे पहले आप इस बात को समझेगी सोचने की शक्ति होती क्या है आप 5 मिनट अगर शांति से अकेले बैठ

Romanized Version
Likes  89  Dislikes    views  4510
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सोचने की शक्ति आप बढ़ाना चाहते हैं तो देखिए सोचने की शक्ति आप इसी तरह बढ़ा सकता है कि आप जो भी पढ़ रहे हैं उसे अच्छी तरीके से ध्यान दें और इंटरेस्ट लेकर रुचि लेकर बड़े मेहनत करें तो इंटरेस्ट आपका किसी चीज में होगा रुचि होगी तो आपको ही मजा आएगा वह चीज करने में तो इसीलिए आप अगर सोचने की क्षमता बढ़ाना चाहते तो अच्छी सी सोचें और अच्छी मेहनत करें जो भी प्रैक्टिस कर रहे हैं जिंदगी के अंदर उस से रिलेटेड सोचे कभी भी कोई नकारात्मक फीलिंग ना आने दें अपने मन के अंदर और बढ़िया चीज ही सोचें और उसी से रिलेटेड आगे और सोचते रहे हैं और काम करते रहें तो इस तरीके से आपका जीवन भी सही चलेगा तो यही आप कर सकते हैं

sochne ki shakti aap badhana chahte hain toh dekhie sochne ki shakti aap isi tarah badha sakta hai ki aap jo bhi padh rahe hain use acchi tarike se dhyan de aur interest lekar ruchi lekar bade mehnat karein toh interest aapka kisi cheez mein hoga ruchi hogi toh aapko hi maza aaega wah cheez karne mein toh isliye aap agar sochne ki kshamta badhana chahte toh acchi si sochen aur acchi mehnat karein jo bhi practice kar rahe hain zindagi ke andar us se related soche kabhi bhi koi nakaratmak feeling na aane de apne man ke andar aur badhiya cheez hi sochen aur usi se related aage aur sochte rahe hain aur kaam karte rahen toh is tarike se aapka jeevan bhi sahi chalega toh yahi aap kar sakte hain

सोचने की शक्ति आप बढ़ाना चाहते हैं तो देखिए सोचने की शक्ति आप इसी तरह बढ़ा सकता है कि आप ज

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  342
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!