क्या बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना सफल सिद्ध हो रही है या इसमें कुछ और सुधार की जरुरत है?...


play
user

Aamir Saleem Khan

Chief Reporter/News editor

0:32

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अभी की बहुत अच्छा बहुत अच्छी थी सबसे पहले जो काम होना चाहिए था वह नहीं हो पाया है

abhi ki bahut accha bahut acchi thi sabse pehle jo kaam hona chahiye tha wah nahi ho paya hai

अभी की बहुत अच्छा बहुत अच्छी थी सबसे पहले जो काम होना चाहिए था वह नहीं हो पाया है

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  417
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Abhi Kumar Rana

Journalist

1:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

काम अच्छा है कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ सोते मोदी जी पर जो हमारे समाज के लोग हैं जो खुद को नहीं समझती लड़कियां तो लड़की आज की डेट में अकबर बेटी के नाम से नफरत करते हैं किसी को बेटी हो जाए ऐसी लड़की बोली आवाज को कितना करती हो लड़की

kaam accha hai ki beti bachao beti padhao sote modi ji par jo hamare samaj ke log hain jo khud ko nahi samajhti ladkiyan toh ladki aaj ki date mein akbar beti ke naam se nafrat karte hain kisi ko beti ho jaaye aisi ladki boli awaaz ko kitna karti ho ladki

काम अच्छा है कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ सोते मोदी जी पर जो हमारे समाज के लोग हैं जो खुद को नह

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  412
WhatsApp_icon
user

Girish Soni

Indian Politician

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह सिर्फ सिर्फ एक नारा भ्रमण कराया गया इस पर जो जो इन अंडर ग्राउंड लेवल पर काम हो रहा है उस पिटल नहीं बनाएंगे होगा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ आप कहां की हो रहे हैं उनकी हालत आप उनको देखे जहां जहां बच्चे पढ़ने जाते हैं बच्चों के लिए आज हमारे पास लगभग हम भी यहां बैठे हैं लोगों का निवारण करने के लिए बैठते हैं तो पता लगता सबसे बड़ा दुख तो यह के एडमिशन नहीं मिल रहा है स्कूल है मैं समझता हूं उत्तर प्रदेश की क्या हालत होगी हरियाणा की क्या हालत होगी क्या

yah sirf sirf ek naara bhraman karaya gaya is par jo jo in under ground level par kaam ho raha hai us pital nahi banayenge hoga beti bachao beti padhao aap kahaan ki ho rahe hain unki halat aap unko dekhe jaha jahan bacche padhne jaate hain baccho ke liye aaj hamare paas lagbhag hum bhi yahan baithe hain logo ka nivaran karne ke liye baithate hain toh pata lagta sabse bada dukh toh yah ke admission nahi mil raha hai school hai samajhata hoon uttar pradesh ki kya halat hogi haryana ki kya halat hogi kya

यह सिर्फ सिर्फ एक नारा भ्रमण कराया गया इस पर जो जो इन अंडर ग्राउंड लेवल पर काम हो रहा है उ

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  492
WhatsApp_icon
user

Sachin Sinha

Journalist

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नरेंद्र सर तो बिल्कुल ही नहीं जो बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ का योजना जो लागू किया गया था बिल्कुल पाठ्य योजना और रत्ती भर भी आज की कोई परिवर्तन नहीं आया है बल्कि भरा और नीचे है इसमें सुधार की बहुत ज्यादा हो सकता है तो प्लीज में सुधार की आवश्यकता है पहले ही सिद्धांत में आकर गया होता तो कम से कम 40 परसेंट सही रहता है लेकिन अभी डराओ जीरो जीरो का आप अपने हिसाब से पता लगाइए हम तो बहुत पता लगा लिए पिछले 5 साल में भी लगाए थे और यह 5 साल में किधर 2 साल में भरा बल्कि उन 5 सालों से और नीचे दिखाएं धन्यवाद

narendra sir toh bilkul hi nahi jo beti bachao aur beti padhao ka yojana jo laagu kiya gaya tha bilkul pathy yojana aur ratti bhar bhi aaj ki koi parivartan nahi aaya hai balki bhara aur niche hai isme sudhaar ki bahut zyada ho sakta hai toh please mein sudhaar ki avashyakta hai pehle hi siddhant mein aakar gaya hota toh kam se kam 40 percent sahi rehta hai lekin abhi darao zero zero ka aap apne hisab se pata lagaaiye hum toh bahut pata laga liye pichle 5 saal mein bhi lagaye the aur yah 5 saal mein kidhar 2 saal mein bhara balki un 5 salon se aur niche dikhaen dhanyavad

नरेंद्र सर तो बिल्कुल ही नहीं जो बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ का योजना जो लागू किया गया था बिल्

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  171
WhatsApp_icon
user

Prem Verma

Journalist

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना जो है सफल तो बहुत दूर है अभी इसमें इस योजना की तरफ कुछ प्रतिशत ही बड़े हैं कुसुम स्कीम लागू हुई है जैसे बेटी बचाओ के तहत सहतवार यह जितने भी मैच में सचिन मैगनों को जागरूक होने की जरूरत है

beti bachao beti padhao yojana jo hai safal toh bahut dur hai abhi isme is yojana ki taraf kuch pratishat hi bade hain kusum scheme laagu hui hai jaise beti bachao ke tahat sahatwar yah jitne bhi match mein sachin maiganon ko jagruk hone ki zarurat hai

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना जो है सफल तो बहुत दूर है अभी इसमें इस योजना की तरफ कुछ प्रतिशत

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  147
WhatsApp_icon
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजना बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ सरकार से रिक्शा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना कॉल सेंटर में बहुत ही कम हो गई है जिस प्रकार से कोई शिकवा नहीं है इसको देख रही है यार बहुत बुरी तरीके से ध्यान नहीं दे रहे तो जाओ आंदोलन में जो प्रोग्राम सेक्स रेश्यो बहुत देखे तो हरियाणा में जो है प्यार की मां चोद दूंगा था लेकिन अभी तक सुखी रहे तिवारी औकात गाना दोबारा इस प्रकार कंपटीशन बजे तक भूल नहीं पाया ही नहीं पंजाब के ग्रंथ से जिले से देखे तो बहुत परेशान करते हो दादा की रोशनी नहीं देखी हुई है बल्कि सेक्स रेश्यो बहुत ज्यादा बहुत मजा की तरह से दूर करने से बचाओ बेटी पढ़ाओ आंदोलन जो है वह पूरी तरीके से खर्चा सरकार देती है सरकार देती है अगर हम गाइडलाइन देखे UC बदला कि तुम्हारे हसबैंड ने पंजाब के जिले में स्विच ऑफ है एक लाख रूपय में देनी चाहिए थे आपसे हजारद्वारी सरकार से नौकरी करो उसे सस्पेंड होने चाहिए और लोकगीत अब से 5 पुलिस बैंड भर्ती परीक्षा 2017 होने चाहिए

pradhanmantri narendra modi ki yojana beti bachao beti padhao sarkar se riksha beti bachao beti padhao yojana call center mein bahut hi kam ho gayi hai jis prakar se koi shikwa nahi hai isko dekh rahi hai yaar bahut buri tarike se dhyan nahi de rahe toh jao andolan mein jo program sex ratio bahut dekhe toh haryana mein jo hai pyar ki maa chod dunga tha lekin abhi tak sukhi rahe tiwari aukat gaana dobara is prakar competition baje tak bhool nahi paya hi nahi punjab ke granth se jile se dekhe toh bahut pareshan karte ho dada ki roshni nahi dekhi hui hai balki sex ratio bahut zyada bahut maza ki tarah se dur karne se bachao beti padhao andolan jo hai vaah puri tarike se kharcha sarkar deti hai sarkar deti hai agar hum guideline dekhe UC badla ki tumhare husband ne punjab ke jile mein switch of hai ek lakh rupay mein deni chahiye the aapse hajaradwari sarkar se naukri karo use Suspend hone chahiye aur lokgeet ab se 5 police band bharti pariksha 2017 hone chahiye

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजना बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ सरकार से रिक्शा बेटी बचाओ बेटी पढ़

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  20
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना है वह काफी हद तक सफल हो रही है और हम देख रहे हैं क्या आज की जो बच्चियां है वह काफी हद तक पढ़ी लिखी पढ़े लिखे होने की कोशिश कर रही है और जो सरकारी स्कूल है वह काफी हद तक बेटियों को पढ़ाने की प्रयास कर रहे हैं लेकिन अगर इसमें कोई और सुधार की जरूरत है वह यह है कि हम सभी जानते हैं और किशोर लड़कियों के ऊपर हो रहे दीपक एजुकेशन है वह बहुत ज्यादा बढ़ गए हैं तो यह एक बहुत बड़ा कारण है कि जिसकी वजह से मां-बाप अपनी बेटियों को पढ़ने के लिए स्कूल नहीं भेजना पसंद करते और जैसे कि जो गांव का एरिया होता है वहां पर स्कूल बहुत दूर दूर होते हैं और लड़कियों को अपने घर से स्कूल जाने में काफी ज्यादा दूरी तय करनी होती है जिसमें उनके साथ किसी भी तरह का कोई भी कांड होने की कोई भी केस होने की बहुत ज्यादा चांसेस होते हैं तो यही कारण है कि काफी हद तक मां बाप उनको नहीं भेजता पसंद करते हैं और उनको घर पर ही रहना पसंद करते हैं तो यह एक बहुत ही बड़ा ड्रॉपबॉक्स है एक बहुत ही बड़ी मजबूरी है लोगों की जिसकी वजह से बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ आंदोलन जो है सही से नहीं काम कर पा रहा है और वह उन तक नहीं उन सभी लोगों तक नहीं पहुंच पा रहा है जिनको उस की आवश्यकता है उसके अलावा अलावा दूसरी चीज है इस कोशिश में सुधार करने के लिए वह यह है कि आप जो स्कूल है उसमें इस चीज का अच्छे से नॉलेज होनी चाहिए और लड़कियों की सिक्योरिटी के लिए काफी सारी चीजें रखनी चाहिए क्योंकि हम सभी जानते हैं कि जो लड़कियां हैं उनके साथ यह सब चीज है रास्ते में भी हो सकते हैं लेकिन स्कूलों में भी वह लड़कियां सुरक्षित नहीं है और हमें कई सारे कैसे स्कूलों में भी सुनने को मिले हैं ऐसे कि तुम मेरे साथ से जो सिक्योरिटी है लड़कियों की उसको सुनिश्चित करना चाहिए वह सबसे बड़ा ड्रॉपबॉक्स है बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के लिए तो अगर लड़कियां सुरक्षित रहेंगे तो पढ़ना जरूर पसंद करेंगे

beti bachao beti padhao yojana hai vaah kaafi had tak safal ho rahi hai aur hum dekh rahe kya aaj ki jo bachchiyan hai vaah kaafi had tak padhi likhi padhe likhe hone ki koshish kar rahi hai aur jo sarkari school hai vaah kaafi had tak betiyon ko padhane ki prayas kar rahe hain lekin agar isme koi aur sudhaar ki zarurat hai vaah yah hai ki hum sabhi jante hain aur kishore ladkiyon ke upar ho rahe deepak education hai vaah bahut zyada badh gaye hain toh yah ek bahut bada karan hai ki jiski wajah se maa baap apni betiyon ko padhne ke liye school nahi bhejna pasand karte aur jaise ki jo gaon ka area hota hai wahan par school bahut dur dur hote hain aur ladkiyon ko apne ghar se school jaane mein kaafi zyada doori tay karni hoti hai jisme unke saath kisi bhi tarah ka koi bhi kaand hone ki koi bhi case hone ki bahut zyada chances hote hain toh yahi karan hai ki kaafi had tak maa baap unko nahi bhejta pasand karte hain aur unko ghar par hi rehna pasand karte hain toh yah ek bahut hi bada drapabaks hai ek bahut hi badi majburi hai logo ki jiski wajah se beti bachao beti padhao andolan jo hai sahi se nahi kaam kar paa raha hai aur vaah un tak nahi un sabhi logo tak nahi pohch paa raha hai jinako us ki avashyakta hai uske alava alava dusri cheez hai is koshish mein sudhaar karne ke liye vaah yah hai ki aap jo school hai usme is cheez ka acche se knowledge honi chahiye aur ladkiyon ki Security ke liye kaafi saree cheezen rakhni chahiye kyonki hum sabhi jante hain ki jo ladkiyan hain unke saath yah sab cheez hai raste mein bhi ho sakte hain lekin schoolon mein bhi vaah ladkiyan surakshit nahi hai aur hamein kai saare kaise schoolon mein bhi sunne ko mile hain aise ki tum mere saath se jo Security hai ladkiyon ki usko sunishchit karna chahiye vaah sabse bada drapabaks hai beti bachao beti padhao ke liye toh agar ladkiyan surakshit rahenge toh padhna zaroor pasand karenge

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना है वह काफी हद तक सफल हो रही है और हम देख रहे हैं क्या आज की जो

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  188
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
nibandh beti bachao beti padhao ; beti bachao par nibandh ; beti bachao beti padhao par nibandh ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!