न्यूटन के कितने नियम है?...


user

Roshan Prasad Jaiswal

Junior Volunteer

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

न्यूटन के लिखे के तीन नियम थे प्रथम नियम यह था कि प्रत्येक पेंट तब तक अपनी विराम अवस्था में अथवा सरल रेखा में एक समान गति की अवस्था में रहता है जब तक कोई ब्राह्मण बल उसे अन्यथा व्यवहार करने के लिए विवश नहीं करता इसे जड़त्व का नियम भी कहा जा सकता है और द्वितीय नियम यह होती कि किसी भी पिंड के संवेग परिवर्तन की दर लगाए गए बल्कि समानुपाती होती है और उसकी दिशा वही होती है जो बल्कि होती है और तृतीय नियम यह होता है प्रतिक्रिया की सदैव बराबर एवं विपरीत दिशा में प्रतिक्रिया होती है

newton ke likhe ke teen niyam the pratham niyam yah tha ki pratyek paint tab tak apni viraam avastha mein athva saral rekha mein ek saman gati ki avastha mein rehta hai jab tak koi brahman BA l use anyatha vyavhar karne ke liye vivash nahi karta ise jadatva ka niyam bhi kaha ja sakta hai aur dwitiya niyam yah hoti ki kisi bhi pind ke samveg parivartan ki dar lagaye gaye BA lki samanupati hoti hai aur uski disha wahi hoti hai jo BA lki hoti hai aur tritiya niyam yah hota hai pratikriya ki sadaiv BA rabar evam viprit disha mein pratikriya hoti hai

न्यूटन के लिखे के तीन नियम थे प्रथम नियम यह था कि प्रत्येक पेंट तब तक अपनी विराम अवस्था मे

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  78
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Gulnaz

लेवल 1 (बिगिनर)

0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

YouTube में अनेक स्थानों पर भौतिक वस्तुओं की गति से संबंधित समस्याओं की व्यवस्था व्याख्या में इनका प्रयोग किया था आपने ग्रंथ के तृतीय भाग में न्यूटन ने दशहरे की गति के तीन नियम और उनके सावित्री गुरु वचनों का नियम सम्मिलित आरोप से केपलर के आकाशीय पिंडों की गति से संबंधित नियम की व्याख्या करने से समर्थ है

YouTube mein anek sthano par bhautik vastuon ki gati se sambandhit samasyaon ki vyavastha vyakhya mein inka prayog kiya tha aapne granth ke tritiya bhag mein newton ne dussehra ki gati ke teen niyam aur unke savitri guru vachano ka niyam sammilit aarop se ceplar ke akashiy pindon ki gati se sambandhit niyam ki vyakhya karne se samarth hai

YouTube में अनेक स्थानों पर भौतिक वस्तुओं की गति से संबंधित समस्याओं की व्यवस्था व्याख्या

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  285
WhatsApp_icon
play
user

Geet Awadhiya

Aspiring Software Developer

0:39

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

न्यूटन के तीन का चिड़िया में प्रथम नियम जाता है कि प्रत्येक प्रिंट तब तक अपनी विराम अवस्था में अथवा सबला सरल रेखा में एक समान गति की अवस्था में रहता है जब तक कोई बाहरी बंद उसे अन्यथा व्यवहार करने के लिए विशेष नहीं करता इसका दुद्धी नियम कहता है कि किसी भी पिंकी संवेग परिवर्तन की दर लगाए गए बल के समानुपाती होती है और उसकी दिशा वही होती है जो बल्कि होती है इसका तीसरा नियम जाता है प्रतिक्रिया की सदैव बराबर एवं विपरीत प्रतिक्रिया होती है

newton ke teen ka chidiya mein pratham niyam jata hai ki pratyek print tab tak apni viram avastha mein athva cabala saral rekha mein ek saman gati ki avastha mein rehta hai jab tak koi BA ahri BA nd use anyatha vyavahar karne ke liye vishesh nahi karta iska duddhi niyam kahata hai ki kisi bhi pinky samveg parivartan ki dar lagaye gaye BA l ke samanupati hoti hai aur uski disha wahi hoti hai jo BA lki hoti hai iska teesra niyam jata hai pratikriya ki sadaiv BA rabar evam viprit pratikriya hoti hai

न्यूटन के तीन का चिड़िया में प्रथम नियम जाता है कि प्रत्येक प्रिंट तब तक अपनी विराम अवस्था

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  446
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
gati ka pratham niyam ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!