बिजली कड़कती क्यूँ है?...


play
user

Vishal Singh Suryavanshi

Pharmaceutical LectureS

0:30

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिजली क्यों बैठती है इसका कारण बनेगा जब तो बादल एक दूसरे के सामने आकर टकराते हैं और टकराने के बाद उनमें सुधार निकलती है तो एकदम लड़ा हट के धनी है उसे भी बिजली कड़कती है टकराने के पश्चात इसमें प्रकाश भी उत्पन्न होता है सूर्य प्रकाश की चाल जो है वह ध्वनि की चाल से अधिक है इसलिए जब हमेशा बिजली कड़कती है उससे पहले चमकता है उसके बाद ही बिजली की आवाज आएगी धन्यवाद

bijli kyon baithati hai iska kaaran banega jab toh badal ek dusre ke saamne aakar takaraate hain aur takrane ke baad unmen sudhaar nikalti hai toh ekdam lada hut ke dhani hai use bhi bijli kadakati hai takrane ke pashchat ismein prakash bhi utpann hota hai surya prakash ki chaal jo hai wah dhwani ki chaal se adhik hai isliye jab hamesha bijli kadakati hai usse pehle chamakta hai uske baad hi bijli ki awaaz aayegi dhanyavad

बिजली क्यों बैठती है इसका कारण बनेगा जब तो बादल एक दूसरे के सामने आकर टकराते हैं और टकराने

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  677
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!