मंगल गृह का खोज किसने किया?...


user

Gulnaz

लेवल 1 (बिगिनर)

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां हम नहीं जानते हैं कि एग्जैक्ट ली जो है कौन मंगल ग्रह की खोज किया है करके हमें यह पता है कि युद्ध के रोमन ईश्वर के नाम पर इसका नाम रखा गया था और क्रिस्टीन हाइजीन क्योंकि उसके लालपन से रक्त के लोगों को याद दिला गया था वह 16592 सहाय चुन्नी लाल किला की स्थापना एक अच्छी विशेषता की खोज की थी उसके बाद से इसे ही तो है ऐसा साइंटिस्ट ने जो कहा जाता था

haan hum nahi jante hai ki exact li jo hai kaun mangal grah ki khoj kiya hai karke hamein yah pata hai ki yudh ke roman ishwar ke naam par iska naam rakha gaya tha aur christine hygiene kyonki uske lalapan se rakt ke logo ko yaad dila gaya tha vaah 16592 sahaye chunni laal kila ki sthapna ek achi visheshata ki khoj ki thi uske BA ad se ise hi toh hai aisa scientist ne jo kaha jata tha

हां हम नहीं जानते हैं कि एग्जैक्ट ली जो है कौन मंगल ग्रह की खोज किया है करके हमें यह पता ह

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  106
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Aditya Kumar Tiwari

Director, Eduvento Classes

0:24

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मंगल 13 मार्च का पहला टेलीस्कोपिक ऑब्जर्वेशन गैलीलियो गैलिली ने 1610 में किया और इसको ही है मंगल ग्रह का खोज कह सकते हैं हालांकि इसके लगभग 100 सालों बाद बाकी राष्ट्र नंबर्स में बहुत कुछ रिसीव किया उस प्लांट के बारे में उसके डिस्ट्रिक्ट एल बी 2 फीचर्स के बारे में

mangal 13 march ka pehla teliskopik observation galileo gailili ne 1610 mein kiya aur isko hi hai mangal grah ka khoj keh sakte hai halaki iske lagbhag 100 salon BA ad BA ki rashtra numbers mein BA hut kuch receive kiya us plant ke BA re mein uske district el be 2 features ke BA re mein

मंगल 13 मार्च का पहला टेलीस्कोपिक ऑब्जर्वेशन गैलीलियो गैलिली ने 1610 में किया और इसको ही

Romanized Version
Likes  121  Dislikes    views  4064
WhatsApp_icon
user

Bari khan

Practicing journalist

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मंगल ग्रह की खोज किसने आर्टिकल दिखाओ बस नहीं है किसी को पता नहीं किसने की थी उसका नाम दिया गया है वह दिया गया है क्योंकि उनकी याद दिलाता है लाखों की याद दिलाता है तो ऐसा कुछ रिलेशन है जिसकी वजह से उसका नाम से दिया गया और अमेरिका की खोज किस कृष्ण की जन्म नाम के व्यक्ति ने की कृष्ण योजना

mangal grah ki khoj kisne article dikhaao bus nahi hai kisi ko pata nahi kisne ki thi uska naam diya gaya hai vaah diya gaya hai kyonki unki yaad dilata hai laakhon ki yaad dilata hai toh aisa kuch relation hai jiski wajah se uska naam se diya gaya aur america ki khoj kis krishna ki janam naam ke vyakti ne ki krishna yojana

मंगल ग्रह की खोज किसने आर्टिकल दिखाओ बस नहीं है किसी को पता नहीं किसने की थी उसका नाम दिया

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  112
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
mangal grah ki khoj kisne ki thi ; मंगल ग्रह की खोज किसने की ; mangal grah ki khoj kisne ki ; ग्रह की खोज किसने की ; grah ki khoj kisne ki ; ग्रहों का खोज किसने किया ; गृह का खोज किसने किया था ; ग्रहों की खोज किसने की ; ग्रहों की खोज किसने की थी ; मंगल ग्रह की खोज किसने की थी ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!