सरकारी आंकड़े कह रहे हैं जीडीपी अभी और गिरावट में आएगी 4 साल क्या कम थे जीडीपी बढ़ाने के?...


play
user

amitkul

CA student,pursuing bcom too

1:42

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

HD PK अगर बात की जाए तो दे अगर मैं 2014 की बात करो तो जब मोदी जी प्रधानमंत्री बने थे तब उनकी कैंपेन कितनी स्ट्रॉन्ग थी उनकी पर्सनालिटी टेस्ट आंसर की dp dp उस समय मैं थोड़ा बढ़ गया था नॉर्मल से लेकिन जब ऐतिहासिक फैसले लिए गए जैसे नोटबंदी जीएसटी और मैसेज ऑफिस के लिए गए तो इसके वजह से है इसके वजह से जो है बाइक भारतीय व्यापारी को अपना बिजनेस कम कम हो रहा है और जीएसटी लो इतना का जीएसटी का कानून जो इतना कॉन्प्लेक्स है कि उसकी वजह से काफी समय ऐसा होता है कि लोग व्यापारी जो है अपना इंटरनेट फाइल कर रहा है या गलत फाइल कर रहा है तो उसके उसको पेनल्टी लग रही है तो उसमें भी व्यापारियों का घाटा हो रहा है और नोटबंदी की वजह से भी जो है धंधा नहीं हो रहा था व्यापारियों का तो इसलिए जो है रोजगार जो है बहुत कम हो गए थे इस पूरी कहानी में तो तभी जीडीपी कम हो गए अब मैं तो यह तो नहीं कह रहा हूं कि 4 साल में जीडीपी बढ़नी चाहिए या फिर 4 साल में जीडीपी बढ़ाने की कोशिश नहीं की गई है पर यह जो बड़े फैसले लिए गए हैं यह एक लॉन्ग टर्म इफेक्ट को ध्यान में रखकर लिए गए हैं तो हमें एक मौका तो देना चाहिए ऐसा तो दिख नहीं रहा है कि देश बर्बाद हो रहा है तो हमें एक मौका देना चाहिए इस मोदी सरकार को क्यों नहीं जो प्लान किया है वह पूरी तरह कंप्लीट हो सके

HD PK agar baat ki jaaye toh de agar main 2014 ki baat karo toh jab modi ji pradhanmantri bane the tab unki campaign kitni strong thi unki personality test answer ki dp dp us samay main thoda badh gaya tha normal se lekin jab etihasik faisle liye gaye jaise notebandi gst aur massage office ke liye gaye toh iske wajah se hai iske wajah se jo hai bike bharatiya vyapaari ko apna business kam kam ho raha hai aur gst lo itna ka gst ka kanoon jo itna kanpleks hai ki uski wajah se kaafi samay aisa hota hai ki log vyapaari jo hai apna internet file kar raha hai ya galat file kar raha hai toh uske usko penalty lag rahi hai toh usme bhi vyapariyon ka ghata ho raha hai aur notebandi ki wajah se bhi jo hai dhandha nahi ho raha tha vyapariyon ka toh isliye jo hai rojgar jo hai bahut kam ho gaye the is puri kahani mein toh tabhi gdp kam ho gaye ab main toh yah toh nahi keh raha hoon ki 4 saal mein gdp badhani chahiye ya phir 4 saal mein gdp badhane ki koshish nahi ki gayi hai par yah jo bade faisle liye gaye hain yah ek long term effect ko dhyan mein rakhakar liye gaye hain toh hamein ek mauka toh dena chahiye aisa toh dikh nahi raha hai ki desh barbad ho raha hai toh hamein ek mauka dena chahiye is modi sarkar ko kyon nahi jo plan kiya hai vaah puri tarah complete ho sake

HD PK अगर बात की जाए तो दे अगर मैं 2014 की बात करो तो जब मोदी जी प्रधानमंत्री बने थे तब उन

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  146
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!