हारने के बावजूद राहुल गांधी एक नैतिक जीत का दावा कर र है हैं। क्या यह सही है या गलत है? क्यों?...


user

Sefali

Media-Ad Sales

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी जो अनैतिक जीत का दावा कर रहे हैं उसमें कोई गलत बात नहीं है क्योंकि अगर देखा जब पूरा गुजरात इलेक्शन के सीईओ गुजरात करी बनाने से जीती है और कांग्रेस 7760 लक्षण जो लास्ट गुजरात इलेक्शन सागर देखा जाए तो बीजेपी ने आज काफी हारी है कपिल उसकी है और कांग्रेस ने काफी ज्यादा सीट जीती है लास्ट इलेक्शन के मुकाबले तो यह गलत नहीं होगा उनका कहना है कि उन्होंने नैतिक जीत हासिल की है और बहुत अच्छा किया है जो गुजरात में शनि किसी को नहीं वो भी इतनी उम्मीद नहीं थी कि वह इतना अच्छा करेंगे और उन्होंने bjp bjp बहुत स्ट्रांग पार्टी है मोदी की बहुत मोटी बहुत स्ट्रांग पार्टी उनके सामने डटे रहे कि इतना अच्छा परफॉर्म करना ही कोई छोटी बात नहीं है

rahul gandhi jo anaitik jeet ka daawa kar rahe hain usme koi galat baat nahi hai kyonki agar dekha jab pura gujarat election ke ceo gujarat kari banane se jeeti hai aur congress 7760 lakshan jo last gujarat election sagar dekha jaaye toh bjp ne aaj kaafi haari hai kapil uski hai aur congress ne kaafi zyada seat jeeti hai last election ke muqable toh yah galat nahi hoga unka kehna hai ki unhone naitik jeet hasil ki hai aur bahut accha kiya hai jo gujarat mein shani kisi ko nahi vo bhi itni ummid nahi thi ki vaah itna accha karenge aur unhone bjp bjp bahut strong party hai modi ki bahut moti bahut strong party unke saamne date rahe ki itna accha perform karna hi koi choti baat nahi hai

राहुल गांधी जो अनैतिक जीत का दावा कर रहे हैं उसमें कोई गलत बात नहीं है क्योंकि अगर देखा जब

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  6
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मुझे लगता है कि कांग्रेस को अगर हम पूरी तरह एनालाइज करें जिस तरह से लास्ट टाइम कांग्रेस की पप्पू मिस्त्री गुजरात के अंदर डेफिनेटली इस बात से बहुत अच्छा परफॉर्मेंस है हवा की कुछ सीटों से इलेक्शन सरकार बनाने से चुके फिर भी मैं बस इतना कहना चाहूंगा कि कांग्रेस को बिल्कुल नैतिक जी समझना चाहिए इस को जिस तरह से उनहोने परफॉर्मेंस दी गुजरात के अंदर तो मुझे लगता है कि उनको नाम भी नहीं होना चाहिए उनको उम्मीद रखनी चाहिए और जिस तरह से हम जानते हैं कि अगला इलेक्शन कर्नाटक के अंदर है जहां कहां कांग्रेस की ऑलरेडी गवर्मेंट तो अब अपनी जी जान से कांग्रेस को कर्नाटक में लगना चाहिए क्योंकि कर्नाटका पंजाब भैया कैसे स्टेटस जो बड़े स्टेटस कांग्रेस के पास है अगर भाई अगर अदर स्टेट को देखें तो वहां कांग्रेस की घमंड जय चुकी अब तो मुझे लगता है कि कांग्रेस कौन है कर्नाटक में एक नई ऊर्जा के साथ नहीं सोती के साथ जाएगी हम पूरा प्रयास करेंगे दोबारा अपनी सरकार को बनाने का वेन्यू सरकार को बचाने का

lekin mujhe lagta hai ki congress ko agar hum puri tarah analyse kare jis tarah se last time congress ki pappu mistiri gujarat ke andar definetli is baat se bahut accha performance hai hawa ki kuch seaton se election sarkar banane se chuke phir bhi main bus itna kehna chahunga ki congress ko bilkul naitik ji samajhna chahiye is ko jis tarah se unahone performance di gujarat ke andar toh mujhe lagta hai ki unko naam bhi nahi hona chahiye unko ummid rakhni chahiye aur jis tarah se hum jante hain ki agla election karnataka ke andar hai jaha kahaan congress ki already government toh ab apni ji jaan se congress ko karnataka mein lagna chahiye kyonki karnataka punjab bhaiya kaise status jo bade status congress ke paas hai agar bhai agar other state ko dekhen toh wahan congress ki ghamand jai chuki ab toh mujhe lagta hai ki congress kaun hai karnataka mein ek nayi urja ke saath nahi soti ke saath jayegi hum pura prayas karenge dobara apni sarkar ko banane ka VENU sarkar ko bachane ka

लेकिन मुझे लगता है कि कांग्रेस को अगर हम पूरी तरह एनालाइज करें जिस तरह से लास्ट टाइम कांग्

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  185
WhatsApp_icon
user

Vatsal

Engineering Student

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी गजनी आपने बहुत ही अच्छा सवाल किया है बहुत ही अच्छी बात कही है कि राहुल गांधी की नैतिक जीत का जीत का दावा कर रहे हैं वह बिल्कुल सच बात है राहुल गांधी चोय कर रहे हैं बिल्कुल सही कह रहे हैं क्योंकि गुजरात जो है वह कोई मामूली राज्य नहीं है उनका इलाज उसका जो इलेक्शन है वह और राज्यों के लक्षण की तरह नहीं है यह बात हमें समझ नहीं पड़ेगी गुजरात बीजेपी का गाने नरेंद्र मोदी का घर है नरेंद्र मोदी वहां पर पैदा हुए हैं पहले बड़े हैं वहां पर उनका गांव वडनगर इसकी सीट पर बीजेपी हारी है अमित शाह गुजरात के हैं बीजेपी के अध्यक्ष उसके बावजूद यदि इतनी मेहनत करने के बावजूद यदि 22 साल राज्य करने के बावजूद यदि देश का प्रधानमंत्री वहां का चीफ मिनिस्टर राय तीन बार उसके बावजूद यदि इतनी मेहनत करके भी 99 सीटें मिल रही है और दूसरी पार्टी वह भी कांग्रेस जैसी पार्टी इसका पूरे देश में नामोनिशान नहीं है जोधपुर हर राज्य में एक चौथाई सीट नहीं जीत पा रही है यदि वहां पर अच्छा प्रदर्शन कर रही है तो इसका मतलब है कि देश की जनता गुजरात की जनता बीजेपी से नरेंद्र मोदी से के फैसले से नाखुश है और इसीलिए राहुल गांधी को कांग्रेस पार्टी को 80 सीटें मिली है यह सीटों का आंकड़ा और ज्यादा अच्छा होता यदि गुजरात की जनता जो बीजेपी के विरोध थे लेकिन वह यदि कांग्रेस को एक विकल्प के रूप में मानते हैं वहां पर ज्यादा वोट नोटा के बड़े तीसरे नंबर की पार्टी अभी देखा जाए तो नोटा जीते 500008 क्योंकि वहां पर बीजेपी से तो ना कुछ है लेकिन क्योंकि गुजरात कांग्रेस को विकल्प अच्छा नहीं माना इसलिए कांग्रेस को वोट नहीं किया तो इसलिए राहुल गांधी की नैतिक जीत हुई है वह बहुत अच्छा चुनाव लड़ा है और यदि नंबर गेम देखा जाए तो BJP जीती है अंदर भाई यह कांग्रेस की जीत है कांग्रेस की जीत बीजेपी की हार

dekhi ghazni aapne bahut hi accha sawaal kiya hai bahut hi achi baat kahi hai ki rahul gandhi ki naitik jeet ka jeet ka daawa kar rahe hain vaah bilkul sach baat hai rahul gandhi choy kar rahe hain bilkul sahi keh rahe hain kyonki gujarat jo hai vaah koi mamuli rajya nahi hai unka ilaj uska jo election hai vaah aur rajyo ke lakshan ki tarah nahi hai yah baat hamein samajh nahi padegi gujarat bjp ka gaane narendra modi ka ghar hai narendra modi wahan par paida hue hain pehle bade hain wahan par unka gaon vadnabar iski seat par bjp haari hai amit shah gujarat ke hain bjp ke adhyaksh uske bawajud yadi itni mehnat karne ke bawajud yadi 22 saal rajya karne ke bawajud yadi desh ka pradhanmantri wahan ka chief minister rai teen baar uske bawajud yadi itni mehnat karke bhi 99 seaten mil rahi hai aur dusri party vaah bhi congress jaisi party iska poore desh mein namonishan nahi hai jodhpur har rajya mein ek chauthai seat nahi jeet paa rahi hai yadi wahan par accha pradarshan kar rahi hai toh iska matlab hai ki desh ki janta gujarat ki janta bjp se narendra modi se ke faisle se nakhush hai aur isliye rahul gandhi ko congress party ko 80 seaten mili hai yah seaton ka akanda aur zyada accha hota yadi gujarat ki janta jo bjp ke virodh the lekin vaah yadi congress ko ek vikalp ke roop mein maante hain wahan par zyada vote NOTA ke bade teesre number ki party abhi dekha jaaye toh NOTA jeete 500008 kyonki wahan par bjp se toh na kuch hai lekin kyonki gujarat congress ko vikalp accha nahi mana isliye congress ko vote nahi kiya toh isliye rahul gandhi ki naitik jeet hui hai vaah bahut accha chunav lada hai aur yadi number game dekha jaaye toh BJP jeeti hai andar bhai yah congress ki jeet hai congress ki jeet bjp ki haar

देखी गजनी आपने बहुत ही अच्छा सवाल किया है बहुत ही अच्छी बात कही है कि राहुल गांधी की नैतिक

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  6
WhatsApp_icon
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तीखी नैतिक शिक्षा राहुल गांधी दावा कर रहे हैं कि गुजरात में उनकी नैतिक जीत हुई है इस तरह से यह सही भी है क्योंकि इतना दम लगाने के बावजूद कांग्रेस से वह सिर्फ 19 सीटों से जीते यह पास में कोई बहुत ज्यादा नहीं है और यह आने वाले समय में शायद ओवर कम किया भी जा सकता है और दूसरा में यह भी बोलना चाहूंगी कि शायद यह कहकर उनका मतलब राहुल गांधी का मतलब यह हुआ कि प्रधानमंत्री मोदी ने मनमोहन सिंह की देशभक्ति पर टिप्पणी की थी जब मणिशंकर अय्यर ने एक पाकिस्तानी मंत्री के लिए धन आयोजन किया था और मनमोहन जी वहां गए थे तब प्रधानमंत्री जी ने उनके ऊपर टिप्पणी की थी मनमोहन सिंह के ऊपर तो हो सकते कि राहुल गांधी कहना चाह रहे हो कि उन्होंने नैतिक रास्ता नहीं छोड़ा और उनको जो भी जीत मेरी जितनी भी सीट मिली वह नैतिक जीत थी और हां यह जरुर है ही कि वह बहुत ही कम फासले से हारे हैं और अगर राहुल गांधी से कैंपेनिंग करते रहे इसी तरह से वह काम करते रहे तो लगता है आने वाले समय में सिर्फ नैतिक जितना हो बल्कि बहुमत से वह लोग जीत जाए

teekhi naitik shiksha rahul gandhi daawa kar rahe hai ki gujarat mein unki naitik jeet hui hai is tarah se yah sahi bhi hai kyonki itna dum lagane ke bawajud congress se vaah sirf 19 seaton se jeete yah paas mein koi bahut zyada nahi hai aur yah aane waale samay mein shayad over kam kiya bhi ja sakta hai aur doosra mein yah bhi bolna chahungi ki shayad yah kehkar unka matlab rahul gandhi ka matlab yah hua ki pradhanmantri modi ne manmohan Singh ki deshbhakti par tippani ki thi jab manisankar iyer ne ek pakistani mantri ke liye dhan aayojan kiya tha aur manmohan ji wahan gaye the tab pradhanmantri ji ne unke upar tippani ki thi manmohan Singh ke upar toh ho sakte ki rahul gandhi kehna chah rahe ho ki unhone naitik rasta nahi choda aur unko jo bhi jeet meri jitni bhi seat mili vaah naitik jeet thi aur haan yah zaroor hai hi ki vaah bahut hi kam fasle se hare hai aur agar rahul gandhi se campaigning karte rahe isi tarah se vaah kaam karte rahe toh lagta hai aane waale samay mein sirf naitik jitna ho balki bahumat se vaah log jeet jaaye

तीखी नैतिक शिक्षा राहुल गांधी दावा कर रहे हैं कि गुजरात में उनकी नैतिक जीत हुई है इस तरह स

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  5
WhatsApp_icon
play
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:51

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

PK बिल्कुल सही है कि आने के बाद राहुल गांधी जो है वह नैतिक जीत का दावा कर रहे हैं क्योंकि बीजेपी ने जो है अपनी पूरी जी जान लगा दे सेंट्रल कमलेश उठा कर बाहर लगा दी करोड़ों रुपए खर्चे के उसके पास जाकर बीजेपी को जो है वह कांग्रेस एक सिर्फ 19 सीट ज्यादा मिली है कांग्रेस का सीट बीजेपी को 99 मिले हैं तो अगर कांग्रेस से इतना मेहनत नहीं करती इतने करोड़ रुपया खर्चा नहीं करती तो एक बार राहुल गांधी को ही गुजरात की सरकार बनानी थी उसमें कोई दो राय नहीं है क्योंकि BJP जो थी वह लास्ट 14 डेज में अच्छा गेम खेल गई इसीलिए जहाज जो है वह बहुमत में है नहीं तो इस बार कांग्रेस के चित्र से कोई नहीं रोक सकता और कांग्रेस को और 2012 के कंप्रेसर में ज्यादा शिवसेना और बीजेपी को कम सिंचाई इसलिए राहुल गांधी जो है वह नैतिक जीत का दावा कर रहे और जो बिल्कुल सही है मेरे हिसाब से

PK bilkul sahi hai ki aane ke baad rahul gandhi jo hai vaah naitik jeet ka daawa kar rahe hain kyonki bjp ne jo hai apni puri ji jaan laga de central kamlesh utha kar bahar laga di karodo rupaye kharche ke uske paas jaakar bjp ko jo hai vaah congress ek sirf 19 seat zyada mili hai congress ka seat bjp ko 99 mile hain toh agar congress se itna mehnat nahi karti itne crore rupya kharcha nahi karti toh ek baar rahul gandhi ko hi gujarat ki sarkar banani thi usme koi do rai nahi hai kyonki BJP jo thi vaah last 14 days mein accha game khel gayi isliye jahaj jo hai vaah bahumat mein hai nahi toh is baar congress ke chitra se koi nahi rok sakta aur congress ko aur 2012 ke compressor mein zyada shivsena aur bjp ko kam sinchai isliye rahul gandhi jo hai vaah naitik jeet ka daawa kar rahe aur jo bilkul sahi hai mere hisab se

PK बिल्कुल सही है कि आने के बाद राहुल गांधी जो है वह नैतिक जीत का दावा कर रहे हैं क्योंकि

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  12
WhatsApp_icon
user

Apurva D

Optimistic Coder

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हारने के बावजूद राहुल गांधी नैतिक जीत का दावा कर रहे हैं यह बात अच्छी नहीं सही है क्योंकि अब तक के 22 साल में पहली बार बीजेपी ने सबसे कम सीटें जीती है बिखर जाए तो हार कर भी राहुल जी ने अगर थोड़ा सा सुख प्राप्त किया है तो वह यह है कि वह 77 सीटों पर जीत कर आया है और बीजेपी सिर्फ 19 सीटों पर जीती हे बीजेपी बाल-बाल अपनी जगह बचाने में सफल हुए हैं देखा जाए तो बहुत सारा प्रचार और मोदी जी की लोकप्रियता के वजूद पर ही इन्होंने कांग्रेस से ज्यादा 19 सीटें प्राप्त हुई है वैसे राहुल गांधी के नैतिक जीत का दावा कर रहे हैं इसका यह भी रीजन है क्योंकि उन्होंने बीजेपी के गढ़ को चुनौती देने की अखिलेश कोशिश तो की है

haarne ke bawajud rahul gandhi naitik jeet ka daawa kar rahe hain yah baat achi nahi sahi hai kyonki ab tak ke 22 saal mein pehli baar bjp ne sabse kam seaten jeeti hai bikhar jaaye toh haar kar bhi rahul ji ne agar thoda sa sukh prapt kiya hai toh vaah yah hai ki vaah 77 seaton par jeet kar aaya hai aur bjp sirf 19 seaton par jeeti hai bjp baal baal apni jagah bachane mein safal hue hain dekha jaaye toh bahut saara prachar aur modi ji ki lokpriyata ke wajood par hi inhone congress se zyada 19 seaten prapt hui hai waise rahul gandhi ke naitik jeet ka daawa kar rahe hain iska yah bhi reason hai kyonki unhone bjp ke garh ko chunauti dene ki akhilesh koshish toh ki hai

हारने के बावजूद राहुल गांधी नैतिक जीत का दावा कर रहे हैं यह बात अच्छी नहीं सही है क्योंकि

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  8
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां हारने के बाद भी राहुल गांधी जी एक नैतिक जीत का दावा दावा कर रहे हैं वह इसलिए कर रहे हैं क्योंकि उन्होंने जो पिछली बार जब भी उनकी हार हुआ करती थी तो उनको सीटें बहुत कम मिला करती थी हारने के बाद लेकिन स्पर्म की सीटों का नंबर बढ़ा है मतलब गुजरात के लोग उनको थोड़ा बहुत पसंद करने लगे हैं उनको ऐसा लगने लगा है तो इस बार इसे कहते हम भी कह सकते हैं कि उनकी नैतिक जीत हुई है उनकी उनकी कांग्रेस की है जो पार्टी है उसकी थोड़ी बहुत बड़ा तो यहां पर सीटों में तो थोड़ा बहुत ही सही लेकिन उनके काम में काम को दर्शाया गया है कि लोग उनका काम पसंद कर रहे हैं तो कह सकते हैं कि यह सोचना गलत बिल्कुल भी नहीं धीरे-धीरे करते हैं उनकी उनको उनकी मंजिल मिलेगी

ji haan haarne ke baad bhi rahul gandhi ji ek naitik jeet ka daawa daawa kar rahe hain vaah isliye kar rahe hain kyonki unhone jo pichali baar jab bhi unki haar hua karti thi toh unko seaten bahut kam mila karti thi haarne ke baad lekin sperm ki seaton ka number badha hai matlab gujarat ke log unko thoda bahut pasand karne lage hain unko aisa lagne laga hai toh is baar ise kehte hum bhi keh sakte hain ki unki naitik jeet hui hai unki unki congress ki hai jo party hai uski thodi bahut bada toh yahan par seaton mein toh thoda bahut hi sahi lekin unke kaam mein kaam ko darshaya gaya hai ki log unka kaam pasand kar rahe hain toh keh sakte hain ki yah sochna galat bilkul bhi nahi dhire dhire karte hain unki unko unki manjil milegi

जी हां हारने के बाद भी राहुल गांधी जी एक नैतिक जीत का दावा दावा कर रहे हैं वह इसलिए कर रहे

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  5
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!