चुनाव क्या है?...


user

सपना शर्मा

सामाजिक कार्यकर्ता

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है चुनाव क्या है कि मैं आपको बताना चाहूंगा चुनाव जिसके माध्यम से जनता सही सरकार का चुनाव कर सकती है यह चुनाव जनता के लिए एक अवसर होता है एक समय होता है ताकि देश की जनता सही निर्णय लेकर सही पहचान करके देश के लिए सही सरकार चुन सकें और सही नेता का चुनाव कर सकें सपना शर्मा जय हिंद जय भारत आपका दिन शुभ रहे

aapka prashna hai chunav kya hai ki main aapko batana chahunga chunav jiske madhyam se janta sahi sarkar ka chunav kar sakti hai yah chunav janta ke liye ek avsar hota hai ek samay hota hai taki desh ki janta sahi nirnay lekar sahi pehchaan karke desh ke liye sahi sarkar chun sake aur sahi neta ka chunav kar sake sapna sharma jai hind jai bharat aapka din shubha rahe

आपका प्रश्न है चुनाव क्या है कि मैं आपको बताना चाहूंगा चुनाव जिसके माध्यम से जनता सही सरका

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  277
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr Padmakar Jha

Lekkchr Pol Sc Tmprori

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चुनाव से तात्पर्य चुनाव व्यवस्था लोकतांत्रिक शासन प्रणाली की आधारित है लोकतांत्रिक व्यवस्था में सबसे महत्वपूर्ण विषय होता है कि व्यक्ति को अधिकारों की पूर्ण रक्षा चुनाव व्यक्ति के हाथों में वह शक्ति होता जिसके माध्यम से सम्मान आदमी की शासन वर्ग पर नियंत्रण रख सकता है और अपने अधिकारों की रक्षा कर सकता है इन चुनावों के माध्यम से जनता अपने शासन जनप्रतिनिधि प्रतिनिधियों का चयन करती है और सरकार की वैधता प्रदान करती है युद्ध के बाद आजाद हुए देश में बढ़ती है जो घर से सिर उठा कर खा सकते हैं उसमें एक जीवित लोकतंत्र बनाए रखा है या एक कीर्तिमान है जो जो वर्तमान व सोने स्वतंत्र हुए देशों के अद्वितीय स्वतंत्र भारत में सावधानी से सेवाओं की राजनीति अलग रखा गया वर्तमान में देश के समान आदमी में भी प्रबल चेतना व्याप्त हो चुकी है कि चुनाव को साफ सुथरा और निष्पक्ष होना चाहिए धन्यवाद

chunav se tatparya chunav vyavastha loktantrik shasan pranali ki aadharit hai loktantrik vyavastha me sabse mahatvapurna vishay hota hai ki vyakti ko adhikaaro ki purn raksha chunav vyakti ke hathon me vaah shakti hota jiske madhyam se sammaan aadmi ki shasan varg par niyantran rakh sakta hai aur apne adhikaaro ki raksha kar sakta hai in chunavon ke madhyam se janta apne shasan janapratinidhi pratinidhiyo ka chayan karti hai aur sarkar ki vaidhata pradan karti hai yudh ke baad azad hue desh me badhti hai jo ghar se sir utha kar kha sakte hain usme ek jeevit loktantra banaye rakha hai ya ek kirtiman hai jo jo vartaman va sone swatantra hue deshon ke adwitiya swatantra bharat me savdhani se sewaon ki raajneeti alag rakha gaya vartaman me desh ke saman aadmi me bhi prabal chetna vyapt ho chuki hai ki chunav ko saaf suthara aur nishpaksh hona chahiye dhanyavad

चुनाव से तात्पर्य चुनाव व्यवस्था लोकतांत्रिक शासन प्रणाली की आधारित है लोकतांत्रिक व्यवस्थ

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  113
WhatsApp_icon
play
user

Gulnaz

लेवल 1 (बिगिनर)

0:13

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक राजनीतिक कार्यालय या किसी अन्य पद के लिए किसी व्यक्ति का वोट करके एक औपचारिक और संगठित विकल्प को चुनाव कहा जाता है

ek raajnitik karyalay ya kisi anya pad ke liye kisi vyakti ka vote karke ek aupcharik aur sangathit vikalp ko chunav kaha jata hai

एक राजनीतिक कार्यालय या किसी अन्य पद के लिए किसी व्यक्ति का वोट करके एक औपचारिक और संगठित

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  36
WhatsApp_icon
user

Ridhima

Mass Communications Student

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चुनाव या निर्वाचन यानी इलेक्शन लोकतंत्र का एक महत्वपूर्ण प्रक्रिया है जिसके द्वारा जनता अपने प्रतिनिधियों को चुनती है चुनाव के द्वारा ही आधुनिक लोकतंत्र के लोग विधायिका और कभी-कभी न्यायपालिका एवं कार्यपालिका के विभिन्न पदों पर आसीन होते हैं होने के लिए व्यक्तियों को चुनते हैं चुनाव के द्वारा क्षेत्रीय एवं स्थानीय नेताओं के लिए भी व्यक्तियों का चुनाव होता है वस्तुत चुनाव का प्रयोग व्यापक स्तर पर होने लगा हेलो होने लगा है और यह निजी स्थानों क्लबों विश्वविद्यालयों धार्मिक स्थान संस्थानों आदि में भी प्रयुक्त होता है

chunav ya nirvachan yani election loktantra ka ek mahatvapurna prakriya hai jiske dwara janta apne pratinidhiyo ko chunati hai chunav ke dwara hi aadhunik loktantra ke log vidhayika aur kabhi kabhi nyaypalika evam karyapalika ke vibhinn padon par aaseen hote hain hone ke liye vyaktiyon ko chunte hain chunav ke dwara kshetriya evam sthaniye netaon ke liye bhi vyaktiyon ka chunav hota hai vastut chunav ka prayog vyapak sthar par hone laga hello hone laga hai aur yah niji sthano klabon vishvavidyalayon dharmik sthan sansthano aadi mein bhi prayukt hota hai

चुनाव या निर्वाचन यानी इलेक्शन लोकतंत्र का एक महत्वपूर्ण प्रक्रिया है जिसके द्वारा जनता अप

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  72
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
चुनाव क्या है ; chunav kya hai ; chunav prakriya se aap kya samajhte hain ; chunav se aap kya samajhte hain ; chunav kya hota hai ; चुनाव किसे कहते हैं ; chunav kise kahate hain ; chunav kya hote hain ; चुनाव क्या होता है ; चुनाव प्रक्रिया से आप क्या समझते हैं ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!