भारत की जनता ने नरेंद्र मोदी को क्यों चुना?...


play
user

साकेत कुमार

Senior Software Developer

6:23

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देश के कई कारण थे पहला कारण तो यह कि नरेंद्र मोदी ने काफी सासूचे थी भारत की जनता को आज भी याद है कि कैसे 2 यूपीए-2 में कितने घोटाले हुए थे 2G सिम 2G कोल स्कैम स्पेक्ट्रम घोटाला एक पूरी लंबी सी लिस्ट है जो कि इस भवन में नहीं हुआ तो सरकारें आती है उनसे अपेक्षा होती है कि कुछ हो लेकिन इस मामले में घोटालों का नहीं होना एक बहुत बड़ा होना है एक साफ-सुथरी सरकार का चलना भी अपने आप में एक होना है तो पब्लिक को यह काफी पसंद आया दूसरी बात नरेंद्र मोदी ने काफी सुधरी सरकार चलाया 5 साल जिसमें कि देश की रक्षा जो है एक बहुत बड़ा मुद्दा बन कर आया पहले के लोगों को किया था कि सीमा पर क्या चल रहा है किसी को कोई मतलब नहीं है जाकर बातें होती नहीं थी निगम रिपोर्ट करता था लेकिन नरेंद्र मोदी ने सीमा को सीमा पर क्या डेवलपमेंट चल रहे हैं उसको एक राष्ट्रीय मुद्दा बनाया और राष्ट्रवाद से जोड़ दिया हालांकि मैं इसे गलत मानता हूं इस तरह की चीजों का राजनीतिकरण नहीं होना चाहिए लेकिन अब राजनीति में सही और गलत की परिभाषा डिसाइड निर्णय करने वाला मैं हूं नहीं तो जो जो पाकिस्तान से जो हमारा जो समस्या चल रहा है जो बालाकोट का स्ट्राइक हुआ फिर सर्जिकल स्ट्राइक हुआ इसे ऐसा लगा कि हां इस बंदे में दम है जो पहले कांग्रेस के समय सैनिकों के सर काट के फेंक दिए जा रहे थे अवसर मिलते नहीं थे उसे जनता काफी आहत थी इस गवर्नमेंट ने दिखाया कि नहीं मैं तुम्हें बहुत अंदर तक जाकर मार सकता हूं इन सभी चीजों से संकेत गया पब्लिक में की एक बंदा काफी मजबूत है और आजकल तो जानता है वह मजबूत लोगों के पीछे ही जाना पसंद करती है वरुण देव घोड़ा और गुजरात जैसे थर्ड पार्टी के फ्रंट के जो नेता हुआ करते थे जो कभी पीएम बन जाया करते थे कमजोर होते हुए भी तो अब वह जमाना चला गया है कि नरेंद्र मोदी के सामने कोई था ही नहीं राहुल गांधी एक सीरियस नेता नहीं है मैं उन्हें कभी सीरियस मांगता नहीं हूं दूसरी बात चांदी के चम्मच से दूध पी पी के बने हुए हैं उन्हें भारत में गांव में क्या चल जमीनी हकीकत क्या है इससे कोई सरोकार नहीं है उनका मैं भाषणों में वह चीजें डाल पाते हैं उनके भाषण जैसे लगता है किसी ने बैठकर उनको पढ़ाया हो घुट्टी पिलाई हो तो जो उनके भाषण में टच नहीं होता जो नरेंद्र मोदी के भाषणों में होता है तो एक और एडुस्किल होता है एक वक्ता का स्किल होता है कुशलता होती है जो नरेंद्र मोदी के पास है मोदी एक बहुत वक्त डूबा कुशल नेता है और उनके सामने राहुल गांधी उनके चरणों में भी आने लायक नहीं है तो इससे जो प्रतिबंधित है दूसरी बात भारत की जनता ने यह देखा कि नरेंद्र मोदी के आने से कैसे सारे दल छटपटा के एक दूसरे से गठबंधन करने लगे उनके मन में चोर है और इससे यह पता चलता है कि नरेंद्र मोदी काफी अच्छे हैं इसलिए इनको हटाने के लिए लोग ऐसा था तो यह एक संकेत गया जिससे की अनुभूति पैदा हो इस बंदे को हराने के लिए सब एकजुट हो रहे हैं तुझ को जीता दो तो यह भी है कि जनता ने बोला कि नहीं सर सारे चोरों ने उस को जीता दो उसमें भी काफी ज्यादा प्रबल बनकर उभरे तुझे चार कारण मैंने आपको बताएं एक गरीब वर्ग है जो जात पात को छोड़कर अब खुद को हिंदू हिंदू दिखाने में ज्यादा रुचि रख रहा है पहले लोग याद आते भूमिहार थे बनिया थे अब ऐसा लग रहा है कि लोग हिंदू होना चाह रहे हैं और चिंटू जी सी नेट हो गया आपको भी पता है कि इस देश में सिर्फ वही टिकेगा राजनीति में जो हिंदुओं की बात करता है और हिंदू की बात कौन करता है सिर्फ एक पार्टी करते भाजपा बुरा कहे सही कहे अच्छा कहे जो कहना है कह लेकिन अगर सारे हिंदू जात पात को छोड़कर हिंदुओं के हित में अगर मत करने लग गया तो देश का कबाड़ा हो जाएगा यह पता जान ले क्योंकि जैसे ही इस तरह कीजिए लोकी मन मन में आ जाती है कि वोट डालने से देखना है तो फिर आप एक बूथ संख्या वादी समाज का निर्माण करती है सिख जैन बुध सबको बराबर अधिकार है यह अधिकार भविष्य छीन जाएंगे गलत पक्ष मानता हूं हमें भूषण शादी से दूर रहना है तो नरेंद्र मोदी जी तरह की राजनीति कर रहे हैं उसे आगे चलकर मिलिट्री समाज की स्थापना हो सकती है इसे हमें दूर रहना है लेकिन यह इस चुनाव में हुआ है काफी ध्रुवीकरण हुआ जिसमें किलो लोगों ने हिंदू बन के वोट किया और मुसलमान तो पहले से मुसलमान थे तो अगर मुसलमान मुसलमानों को उनका भविष्य देश में सुरक्षित रखना है उनके ऐक्टर के तौर पर वोट देना होगा अगर मुसलमानों के वोट देंगे तो हिंदू हिंदू बन के वोट देगा यह चुनाव में यह साबित हो चुका है और अगर हिंदू 80% 83% लोग खतरनाक हो जाएगा हमारे लोकतंत्र के लिए लोकतंत्र खतरे में पड़ जाएगा बस यही कहना चाहता हूं और मैं चाहूंगा कि इस 5 साल नरेंद्र मोदी थोड़ा सा सेना सेना कम करें पाकिस्तान पाकिस्तान कम करें नेहरु नेहरु कम करें और कुछ करके दिखाएं नहीं तो उनका भी जो है इतिहास बनाते जनता देख नहीं लगाएगी

desh ke kai kaaran the pehla kaaran toh yeh ki narendra modi ne kaafi sasuche thi bharat ki janta ko aaj bhi yaad hai ki kaise 2 UPA mein kitne ghotale hue the 2G sim 2G coal scam spectrum ghotala ek puri lambi si list hai jo ki is bhawan mein nahi hua toh sarkaren aati hai unse apeksha hoti hai ki kuch ho lekin is mamle mein ghotalo ka nahi hona ek bahut bada hona hai ek saaf suthri sarkar ka chalna bhi apne aap mein ek hona hai toh public ko yeh kaafi pasand aaya dusri baat narendra modi ne kaafi sudhari sarkar chalaya 5 saal jisme ki desh ki raksha jo hai ek bahut bada mudda ban kar aaya pehle ke logo ko kiya tha ki seema par kya chal raha hai kisi ko koi matlab nahi hai jaakar batein hoti nahi thi nigam report karta tha lekin narendra modi ne seema ko seema par kya development chal rahe hain usko ek rashtriya mudda banaya aur rashtravad se jod diya halaki main ise galat manata hoon is tarah ki chijon ka rajneetikaran nahi hona chahiye lekin ab rajneeti mein sahi aur galat ki paribhasha decide nirnay karne vala main hoon nahi toh jo jo pakistan se jo hamara jo samasya chal raha hai jo balakot ka strike hua phir surgical strike hua ise aisa laga ki haan is bande mein dum hai jo pehle congress ke samay sainikon ke sar kaat ke fenk diye ja rahe the avsar milte nahi the use janta kaafi aahat thi is government ne dikhaya ki nahi main tumhe bahut andar tak jaakar maar sakta hoon in sabhi chijon se sanket gaya public mein ki ek banda kaafi majboot hai aur aajkal toh jaanta hai wah majboot logo ke peeche hi jana pasand karti hai varun dev ghoda aur gujarat jaise third party ke frant ke jo neta hua karte the jo kabhi pm ban jaya karte the kamjor hote hue bhi toh ab wah jamana chala gaya hai ki narendra modi ke saamne koi tha hi nahi rahul gandhi ek serious neta nahi hai unhein kabhi serious mangta nahi hoon dusri baat chaandi ke chammach se doodh p p ke bane hue hain unhein bharat mein gaon mein kya chal zameeni haqiqat kya hai isse koi sarokar nahi hai unka main bhashano mein wah cheezen daal paate hain unke bhashan jaise lagta hai kisi ne baithkar unko padhaya ho ghutti pilaiye ho toh jo unke bhashan mein touch nahi hota jo narendra modi ke bhashano mein hota hai toh ek aur eduskil hota hai ek vakta ka skill hota hai kushalata hoti hai jo narendra modi ke paas hai modi ek bahut waqt dooba kushal neta hai aur unke saamne rahul gandhi unke charno mein bhi aane layak nahi hai toh isse jo pratibandhit hai dusri baat bharat ki janta ne yeh dekha ki narendra modi ke aane se kaise saare dal chatpata ke ek dusre se gathbandhan karne lage unke man mein chor hai aur isse yeh pata chalta hai ki narendra modi kaafi acche hain isliye inko hatane ke liye log aisa tha toh yeh ek sanket gaya jisse ki anubhuti paida ho is bande ko harane ke liye sab ekjoot ho rahe hain tujhe ko jita do toh yeh bhi hai ki janta ne bola ki nahi sar saare choron ne us ko jita do usme bhi kaafi zyada prabal bankar ubhre tujhe char kaaran maine aapko bataye ek garib varg hai jo jaat pat ko chhodkar ab khud ko hindu hindu dikhane mein zyada ruchi rakh raha hai pehle log yaad aate bhumihar the baniya the ab aisa lag raha hai ki log hindu hona chah rahe hain aur chintu ji si net ho gaya aapko bhi pata hai ki is desh mein sirf wahi tikegaa rajneeti mein jo hinduon ki baat karta hai aur hindu ki baat kaun karta hai sirf ek party karte bhajpa bura kahe sahi kahe accha kahe jo kehna hai keh lekin agar saare hindu jaat pat ko chhodkar hinduon ke hit mein agar mat karne lag gaya toh desh ka kabada ho jayega yeh pata jaan le kyonki jaise hi is tarah kijiye laukee man man mein aa jati hai ki vote dalne se dekhna hai toh phir aap ek buth sankhya wadi samaj ka nirmaan karti hai sikh jain buddha sabko barabar adhikaar hai yeh adhikaar bhavishya chin jaenge galat paksh manata hoon humein bhushan shadi se dur rehna hai toh narendra modi ji tarah ki rajneeti kar rahe hain use aage chalkar miltary samaj ki sthapna ho sakti hai ise humein dur rehna hai lekin yeh is chunav mein hua hai kaafi dhruvikaran hua jisme kilo logo ne hindu ban ke vote kiya aur muslim toh pehle se muslim the toh agar muslim musalmanon ko unka bhavishya desh mein surakshit rakhna hai unke actor ke taur par vote dena hoga agar musalmanon ke vote denge toh hindu hindu ban ke vote dega yeh chunav mein yeh saabit ho chuka hai aur agar hindu 80% 83% log khataranaak ho jayega hamare loktantra ke liye loktantra khatre mein pad jayega bus yahi kehna chahta hoon aur main chahunga ki is 5 saal narendra modi thoda sa sena sena kam karein pakistan pakistan kam karein nehru nehru kam karein aur kuch karke dikhaen nahi toh unka bhi jo hai itihas banate janta dekh nahi lagaegi

देश के कई कारण थे पहला कारण तो यह कि नरेंद्र मोदी ने काफी सासूचे थी भारत की जनता को आज भी

Romanized Version
Likes  500  Dislikes    views  6101
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Vivek Shukla

Life coach

1:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कि भारतीय जनता ने शायद अपने आप समझ चुकी है क्योंकि देश में विकास हो रहा है भारत का नाम हर देश में है या फिर देश के लोग भारत के साथ जोड़ना चाहते हैं यह बात बार-बार आपको यूट्यूब से फिर हर प्रकाश के चैनल पर आप को दिखाया जा रहा है भारतीय जनता जागरुक हो रही है क्योंकि पढ़ाई और शिक्षित लोग हमेशा अच्छे और या फिर से जननायक को चुनते राहुल गांधी के पास जो चीन के विपक्ष में राहुल गांधी जी खड़े उनके पास दिमाग नाम की बहुत कम चीजें जैसे वह होती है ना होने की वजह से बढ़ता गया क्योंकि मोदी जी की तरह तरह के कामों से देश का नाम भारत पाकिस्तान के ऊपर होगा इससे काफी हद तक लोग तीन तलाक से महिलाएं भारतीय मुसलमान नोटबंदी से जो भारतीय विज्ञापन विदेशों में बने जो काला धन वापस निकल आईएफ यू लोगों के चरित्र के से प्रॉब्लम से उसे भारत की आर्थिक स्थिति मजबूत हुई कामों से अपने देश को बताया कि देश में काफी हद तक यह मान विकास कर रहा है इसलिए भारतीय लोग जनता ने देश को प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री के लिए ज्योति माने सीप्रेस्ट बीजेपी को ही चुना है और ज्यादा से ज्यादा बीजेपी के नेताओं को हुई वोटिंग दी है ओके बाय फ्रंट के कि मोदी के नाम से ही ज्यादा वोटिंग मिले और किसी के नाम से नहीं बाकी लोगों को कम नाम से मिला लेकिन मोदी के नाम से 4:00 तक कि हमारे क्षेत्र में या फिर आसपास की जगह काफी हद तक से मोदी के नाम चाहिए जब उन्होंने यह नहीं टिकट कैंडिडेट कौन है सिर्फ मोदी का नाम ही काफी था उनके पार्टी को जिताने के लिए

ki bharatiya janta ne shayad apne aap samajh chuki hai kyonki desh mein vikas ho raha hai bharat ka naam har desh mein hai ya phir desh ke log bharat ke saath jodna chahte hai yeh baat baar baar aapko youtube se phir har prakash ke channel par aap ko dikhaya ja raha hai bharatiya janta jagaruk ho rahi hai kyonki padhai aur shikshit log hamesha acche aur ya phir se jannayak ko chunte rahul gandhi ke paas jo china ke vipaksh mein rahul gandhi ji khade unke paas dimag naam ki bahut kam cheezen jaise wah hoti hai na hone ki wajah se badhta gaya kyonki modi ji ki tarah tarah ke kaamo se desh ka naam bharat pakistan ke upar hoga isse kaafi had tak log teen talak se mahilaye bharatiya musalman notebandi se jo bharatiya vigyapan videshon mein bane jo kala dhan wapas nikal IF you logo ke charitra ke se problem se use bharat ki aarthik sthiti majboot hui kaamo se apne desh ko bataya ki desh mein kaafi had tak yeh maan vikas kar raha hai isliye bharatiya log janta ne desh ko Pradhanmantri ya mukhyamantri ke liye jyoti maane siprest bjp ko hi chuna hai aur zyada se zyada bjp ke netaon ko hui voting di hai ok by frant ke ki modi ke naam se hi zyada voting mile aur kisi ke naam se nahi baki logo ko kam naam se mila lekin modi ke naam se 4:00 tak ki hamare kshetra mein ya phir aaspass ki jagah kaafi had tak se modi ke naam chahiye jab unhone yeh nahi ticket candidate kaun hai sirf modi ka naam hi kaafi tha unke party ko jitaane ke liye

कि भारतीय जनता ने शायद अपने आप समझ चुकी है क्योंकि देश में विकास हो रहा है भारत का नाम हर

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  858
WhatsApp_icon
user
0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तेरी उन्होंने 2014 से 2018 तक देश को संभाल कर रख संभाला देश को आगे बढ़ाया और देश के सभी नागरिकों के लिए एक अच्छा योगदान दिया उन्होंने अपने समय में एक अच्छे प्रधानमंत्री रहने का इसलिए नरेंद्र मोदी को एक बार फिर से मौका दिया गया है कि वे भारतीय जनता को आगे बढ़ाएं

teri unhone 2014 se 2018 tak desh ko sambhaal kar rakh sambhala desh ko aage badhaya aur desh ke sabhi nagriko ke liye ek accha yogdan diya unhone apne samay mein ek acche Pradhanmantri rehne ka isliye narendra modi ko ek baar phir se mauka diya gaya hai ki ve bharatiya janta ko aage badhayen

तेरी उन्होंने 2014 से 2018 तक देश को संभाल कर रख संभाला देश को आगे बढ़ाया और देश के सभी ना

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  585
WhatsApp_icon
user
0:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत की जनता ने नरेंद्र मोदी को इसलिए चुनाव के 12 देश भक्ति दिखलाइए

bharat ki janta ne narendra modi ko isliye chunav ke 12 desh bhakti dikhlaiye

भारत की जनता ने नरेंद्र मोदी को इसलिए चुनाव के 12 देश भक्ति दिखलाइए

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  534
WhatsApp_icon
user

Deepak Buddh

social Worker

1:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए यह तो सब बकवास करने वाली बातें हैं कि देश की जनता ने पीएम मोदी को क्यों चुना या फिर किस लिए चुना चुना चुना भी है या नहीं सुना यह देश का पहला ऐसा पीएम है जो अपनी खुद की मार्केटिंग करता है अपना खुद का प्रमोशन करता है खुद की मार्केटिंग करता है अखबार से लेकर यूट्यूब चैनल की गूगल ऐडसेंस के ऐड तक अपने प्रमोशन किया है आपने खुद ने फील किया होगा टीवी रेडियो जितनी बार सोशल नेटवर्क है ना ए टू जेड सब पर इसके पेज सनी कांग्रेस के ने कांग्रेस के भी है लेकिन गूगल ऐडसेंस क्यों नहीं है ना यूट्यूब चलकर जो एड्स होता है उसमें आ रही है हमारे से पहले शासनकाल रहा है सीएम का जिसमें 50 से लेकर ₹100 तक प्रमोशन में खर्च कर गया इसने पीएम मोदी ने खुद को चूस किया है प्रधानमंत्री के लिए हमने तो नहीं करा खुद की मार्केटिंग करी है और मेरे गांव के लोग इतने सक्षम नहीं है कि समझ सके सीट को उनको लगता है कि बहुत अच्छा काम कर रहा है इसलिए आजकल टीवी ब्यूटी में मोदी मीडिया पर फैला हुआ है जब बकवास करने वाली बात नहीं कि हमने चेंज किया है सब बकवास है कुछ नहीं है सब 214 में जूस किया था 2014 के जमाने में सप्लीमेंट्री चुनाव होते तब सिलेक्ट किया था लोगों ने उम्मीद से लेकिन 19 के चुनाव हुए ना ही तो पीएम ने खुद को सिलेक्ट किया है दूसरा के बारे में मैंने भी जवाब दिया अगर आप मेरा से जॉब सुनाओ तो ठीक है तगी इन्हीं का माहौल चल रहा है

dekhie yeh toh sab bakwas karne wali batein hain ki desh ki janta ne pm modi ko kyon chuna ya phir kis liye chuna chuna chuna bhi hai ya nahi suna yeh desh ka pehla aisa pm hai jo apni khud ki marketing karta hai apna khud ka promotion karta hai khud ki marketing karta hai akhbaar se lekar youtube channel ki google AdSense ke aid tak apne promotion kiya hai aapne khud ne feel kiya hoga TV radio jitni baar social network hai na a to z sab par iske page sunny congress ke ne congress ke bhi hai lekin google AdSense kyon nahi hai na youtube chalkar jo aids hota hai usme aa rahi hai hamare se pehle shasankal raha hai cm ka jisme 50 se lekar Rs tak promotion mein kharch kar gaya isne pm modi ne khud ko chus kiya hai Pradhanmantri ke liye humne toh nahi kara khud ki marketing kari hai aur mere gaon ke log itne saksham nahi hai ki samajh sake seat ko unko lagta hai ki bahut accha kaam kar raha hai isliye aajkal TV beauty mein modi media par faila hua hai jab bakwas karne wali baat nahi ki humne change kiya hai sab bakwas hai kuch nahi hai sab 214 mein juice kiya tha 2014 ke jamane mein supplementary chunav hote tab select kiya tha logo ne ummid se lekin 19 ke chunav hue na hi toh pm ne khud ko select kiya hai doosra ke bare mein maine bhi jawab diya agar aap mera se job sunao toh theek hai tagi inhin ka maahaul chal raha hai

देखिए यह तो सब बकवास करने वाली बातें हैं कि देश की जनता ने पीएम मोदी को क्यों चुना या फिर

Romanized Version
Likes  46  Dislikes    views  882
WhatsApp_icon
user

shekhar11

Volunteer

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्वेश्चन है भारत की जनता ने नरेंद्र मोदी को क्यों चुना लेकिन जहां तक हम सभी जानते हैं कि एक बार फिर से नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री बनाए गए हैं तो नरेंद्र मोदी क्यों कोई और क्यों नहीं तो देखा जाए तो यहां पर जो अभी तक सबसे अच्छा चेहरा था प्रधानमंत्री के लिए जो सबसे अच्छे दावेदार थे जो सबसे पर फौजी डर की बात किया तो उनमें से अभी नरेंद्र मोदी ही है और लास्ट पिछले 5 सालों में वह भारत के प्रधानमंत्री रह चुके हैं और उन्हें काफी अच्छे काम भी किए हैं तो दिखा दे तो इसलिए जनता के पास सबसे अच्छे ऑप्शन सभी नरेंद्र मोदी के तौर पर थे इसलिए जनता एक बार फिर उन्हें चुना है और उन्हें अगले प्रधानमंत्री भी बनाया गया

question hai bharat ki janta ne narendra modi ko kyon chuna lekin jaha tak hum sabhi jante hain ki ek baar phir se narendra modi bharat ke pradhanmantri banaye gaye hain toh narendra modi kyon koi aur kyon nahi toh dekha jaaye toh yahan par jo abhi tak sabse accha chehra tha pradhanmantri ke liye jo sabse acche davedaar the jo sabse par fauji dar ki baat kiya toh unmen se abhi narendra modi hi hai aur last pichle 5 salon mein vaah bharat ke pradhanmantri reh chuke hain aur unhe kaafi acche kaam bhi kiye hain toh dikha de toh isliye janta ke paas sabse acche option sabhi narendra modi ke taur par the isliye janta ek baar phir unhe chuna hai aur unhe agle pradhanmantri bhi banaya gaya

क्वेश्चन है भारत की जनता ने नरेंद्र मोदी को क्यों चुना लेकिन जहां तक हम सभी जानते हैं कि ए

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  575
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!