जो लोग UPSC परीक्षा क्रैक कर लेते हैं, क्या उनके मन में यह डर होता है की उनकी पोस्टिंग कहाँ होगी?...


user

Pawan

Financial Planer

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं उनके मन में कोई डर नहीं होता है वैसे अक्षिता रहती है और थोड़ा सा रहता है कि अच्छी जगह मिल जाए तो अच्छा रहेगा लेकिन मुझे डर नहीं आते वह जोश से भरे रहते हैं कि उन्हें कोई सी भी जो मिलेगी कहीं भी पोस्ट कर लेंगे जो बसु ने देश की सेवा करनी

nahi unke man me koi dar nahi hota hai waise akshita rehti hai aur thoda sa rehta hai ki achi jagah mil jaaye toh accha rahega lekin mujhe dar nahi aate vaah josh se bhare rehte hain ki unhe koi si bhi jo milegi kahin bhi post kar lenge jo basu ne desh ki seva karni

नहीं उनके मन में कोई डर नहीं होता है वैसे अक्षिता रहती है और थोड़ा सा रहता है कि अच्छी जगह

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  147
WhatsApp_icon
19 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ravi Tiwari

Career Counsellor,Motivational Speaker&Life Coach

5:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो नमस्ते जैसा कि क्वेश्चन है बहुत मजबूर है ठीक है पीएससी परीक्षा ट्रैक करने के बाद क्या कंडीशन में कोई डर होता है उनकी पोस्टिंग कहां होगे कि तेरे में हो कि उनके लेवल होगा या नहीं होगा तो मैं यह कहना चाहूंगा कि पी एस सी का एग्जाम इज द मोस्ट मिस्टीरियस एग्जाम ऑफ इंडिया के जूस की प्रिपरेशन करते हैं न सिर्फ शारीरिक रूप से उनकी मानसिक रूप से भी को पूरी तरह से तैयार होते हैं उनको पहले से पता होता है कि सर्विस में सेवा में क्या-क्या चुनौतियां आएंगी उनको क्या-क्या चैलेंज एस फेस करने पड़ेंगे और वह उसके लिए पूरी तरह से तैयार होते यहां से किधर की बात होती है डेल नाम की कोई चीज होनी नहीं चाहिए यूपी का यूपी कैंडिडेट जो ज्ञान देता है पहली बात तो इतनी इतना कठिन परिश्रम करता है उस परिश्रम के बाद उन्हें जो प्रेस्टीजियस पोस्ट मिलती है मुझे बहुत महत्वपूर्ण होता है पूरी तरह से तैयार होते हैं और जहां तक मैं जानता हूं कि यूपीएससी एग्जाम फॉर्म फिलिंग होती है उसी के दौरान मैं पूरी तरह कंफर्म तो नहीं मुझे पता है तुमको कुछ ऑप्शन दिए जाते हैं उनको दिए जाते हैं यह है कि उनको वह एरिया अकॉर्डिंग मिलता नहीं है लेकिन इससे उनके क्षमता पर उनकी शक्ति पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता कि को मेंटली प्रिपेयर हो चुके होते हैं कि कोई भी सिचुएशन हो अगर आप केवल इससे डर जाएंगे कि आप की पोस्टिंग कहां हो रही है गांव के अनुसार पोस्टिंग की बॉर्डर की बात नहीं है अगर आप इस पोस्ट में आ जाओ क्लियर कर लेते हो तो आपको बहुत सारी चाहिए इसका सामना करना पड़ता है मैं जो आईएस ऑफिसर आईपीएस ऑफिसर सारी चीजें सब इसमें आते हो कि आप जीते हो पोस्ट को सर्विस को तब आपको अनेकों अनेकों अनेक ऐसे सजेशन रहते हैं जहां आपको भी फैमिली से दूर यहां पर आपको पर्सनल आप कभी पर्सनल सोच नहीं सकते फैमिली आपके लिए पहले देश हो जाता है अपने पराए जनता हो जाती है तुझे चीजें मन में लाना के कहां भेजेंगे हमें कैसे सिचुएशन होगी आपने कभी भी एसोसिएशन कभी या नहीं होता है अपने को कभी उसे शासन रखना नहीं होता है पूरी तरह से आपकी मानसिक स्थिति पे डिपेंड करता है कि आप मानसिक रूप से कितने मजबूत हैं इमोशनल इंटेलिजेंस आपका कैसा है इमोशन इमोशंस भी होने चाहिए एक ऐसा विषय इमोशंस होने चाहिए सब कुछ होना जी क्योंकि आपको हर एक अलग चीजों से आपको डील करना होता है ना कहीं दो समुदायों के बीच ऐसे कोई प्रॉब्लम होती है तो वहां पर आप पहले नींद नहीं हो सकते आपको किसी एक को लेकर नहीं चल सकते आपको दोनों पक्ष के बारे में सोचना पड़ेगा उसके अनुसार आपको ऐड करना पड़ेगा कि मुख्य रूप से जो बातें होती हैं यह बहुत मुश्किल होती है कैसा अब से खेली धीरे धीरे किस स्टेट में आता है तो अपने आप को ढाल लेता है चीजों से कैसे लड़ना है किसी को कैसे हैंडल करना है वह सीखता है अपने सीनियर से अपनी जूनियर से अपने कली से उसके साथ काम करते हैं जो से बड़े हैं जो नीचे सबसे सीखता है पूरी सीखते सीखते यह चीज उसको समझ में आती है कि एक पब्लिक लाइफ प्राइवेट लाइफ में कैसे बैलेंस करना है जहां तक मैं समझता हूं कि डर नहीं होना चाहिए हमको शौक मन में होता होगा अभी इसलिए वापस नहीं बड़ी पोस्ट पर अब जाते हैं तो आपको खुद को तैयार करना होता है चैलेंज इसके लिए और ऐसी चीजें हैं जो किसी स्कूल में पढ़ाई नहीं जाती यह रियल लाइफ सिचुएशन होता है जहां पर आपको रियल लाइफ एक्सपीरियंस एस ई विश करने होते हैं हां या फिर कर सकते हैं पर्सनलाइज कोई सीख सकते हैं आप 18 ग्रुप प्रॉब्लम था उसको कुछ को कैसे सॉल्व करते हैं आप उसे पर्सनल देखते हैं या व्यक्तिगत नहीं देखते आप उसको सोशल की अब देखते हैं सब पीजी धीरे अब सीखते हो तो मुझे लगता है कि डर होगा भी तो आपको धीरे-धीरे दूर करना पड़ेगा और अगर आप इस सर्विसेस को अपने चुना है तो आपको यह डरने की जरूरत नहीं है कि आप देश के किस कोने में जा रहे हो आपकी देश के किसी भी कोने में जाओ आपको दिलबर नहीं मिलेगा

hello namaste jaisa ki question hai bahut majboor hai theek hai PSC pariksha track karne ke baad kya condition me koi dar hota hai unki posting kaha hoge ki tere me ho ki unke level hoga ya nahi hoga toh main yah kehna chahunga ki p S si ka exam is the most mistiriyas exam of india ke juice ki preparation karte hain na sirf sharirik roop se unki mansik roop se bhi ko puri tarah se taiyar hote hain unko pehle se pata hota hai ki service me seva me kya kya chunautiyaan aayengi unko kya kya challenge S face karne padenge aur vaah uske liye puri tarah se taiyar hote yahan se kidhar ki baat hoti hai dell naam ki koi cheez honi nahi chahiye up ka up candidate jo gyaan deta hai pehli baat toh itni itna kathin parishram karta hai us parishram ke baad unhe jo prestijiyas post milti hai mujhe bahut mahatvapurna hota hai puri tarah se taiyar hote hain aur jaha tak main jaanta hoon ki upsc exam form feeling hoti hai usi ke dauran main puri tarah confirm toh nahi mujhe pata hai tumko kuch option diye jaate hain unko diye jaate hain yah hai ki unko vaah area according milta nahi hai lekin isse unke kshamta par unki shakti par koi prabhav nahi padta ki ko mentally prepare ho chuke hote hain ki koi bhi situation ho agar aap keval isse dar jaenge ki aap ki posting kaha ho rahi hai gaon ke anusaar posting ki border ki baat nahi hai agar aap is post me aa jao clear kar lete ho toh aapko bahut saari chahiye iska samana karna padta hai main jo ias officer ips officer saari cheezen sab isme aate ho ki aap jeete ho post ko service ko tab aapko anekon anekon anek aise suggestion rehte hain jaha aapko bhi family se dur yahan par aapko personal aap kabhi personal soch nahi sakte family aapke liye pehle desh ho jata hai apne parae janta ho jaati hai tujhe cheezen man me lana ke kaha bhejenge hamein kaise situation hogi aapne kabhi bhi association kabhi ya nahi hota hai apne ko kabhi use shasan rakhna nahi hota hai puri tarah se aapki mansik sthiti pe depend karta hai ki aap mansik roop se kitne majboot hain emotional intelligence aapka kaisa hai emotion emotional bhi hone chahiye ek aisa vishay emotional hone chahiye sab kuch hona ji kyonki aapko har ek alag chijon se aapko deal karna hota hai na kahin do samudayo ke beech aise koi problem hoti hai toh wahan par aap pehle neend nahi ho sakte aapko kisi ek ko lekar nahi chal sakte aapko dono paksh ke bare me sochna padega uske anusaar aapko aid karna padega ki mukhya roop se jo batein hoti hain yah bahut mushkil hoti hai kaisa ab se kheli dhire dhire kis state me aata hai toh apne aap ko dhal leta hai chijon se kaise ladana hai kisi ko kaise handle karna hai vaah sikhata hai apne senior se apni junior se apne kalee se uske saath kaam karte hain jo se bade hain jo niche sabse sikhata hai puri sikhate sikhate yah cheez usko samajh me aati hai ki ek public life private life me kaise balance karna hai jaha tak main samajhata hoon ki dar nahi hona chahiye hamko shauk man me hota hoga abhi isliye wapas nahi badi post par ab jaate hain toh aapko khud ko taiyar karna hota hai challenge iske liye aur aisi cheezen hain jo kisi school me padhai nahi jaati yah real life situation hota hai jaha par aapko real life experience S E wish karne hote hain haan ya phir kar sakte hain personalize koi seekh sakte hain aap 18 group problem tha usko kuch ko kaise solve karte hain aap use personal dekhte hain ya vyaktigat nahi dekhte aap usko social ki ab dekhte hain sab PG dhire ab sikhate ho toh mujhe lagta hai ki dar hoga bhi toh aapko dhire dhire dur karna padega aur agar aap is services ko apne chuna hai toh aapko yah darane ki zarurat nahi hai ki aap desh ke kis kone me ja rahe ho aapki desh ke kisi bhi kone me jao aapko dilbar nahi milega

हेलो नमस्ते जैसा कि क्वेश्चन है बहुत मजबूर है ठीक है पीएससी परीक्षा ट्रैक करने के बाद क्या

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  110
WhatsApp_icon
user

Pamela Satpathy

IAS Officer, Telangana

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आई मीन यूपीएससी का एग्जाम कब होता है इसमें आपको एक जॉब नहीं करना होता है कि सर्विस चुनना होता है तो वह सर्विस के साथ इस फैसले से आप ऑल इंडिया सर्विस ले लेते हैं आईएएस और आईपीएस हो गया फॉरेस्ट के साथ पढ़ा होता है उस देश में आपको बताना होता है तो उस टेट की भाषा वहां का रहन सहन कल्चर और सब को अपनाना पड़ता है जैसे एक शामली की तरह इस वजह से शायद थोड़ा बहुत तनाव या टेंशन रहता है कि जो सिर्फ हम चुनने वाले हैं या जो वह सीट हमको मिलेगा या नहीं या फिर हम को मिलता है कार्ड के रूप में तो बहुत हमको अपना पाएगा या नहीं थोड़ा बहुत पोस्टिंग का टेंशन तो रहता ही है क्योंकि हम अपना लाइफ अपने कैरियर से स्टार्ट करते हैं अभी खत्म करता है

I meen upsc ka exam kab hota hai isme aapko ek job nahi karna hota hai ki service chunana hota hai toh vaah service ke saath is faisle se aap all india service le lete hain IAS aur ips ho gaya forest ke saath padha hota hai us desh mein aapko bataana hota hai toh us tet ki bhasha wahan ka rahan sahan culture aur sab ko apnana padta hai jaise ek shamili ki tarah is wajah se shayad thoda bahut tanaav ya tension rehta hai ki jo sirf hum chunane waale hain ya jo vaah seat hamko milega ya nahi ya phir hum ko milta hai card ke roop mein toh bahut hamko apna payega ya nahi thoda bahut posting ka tension toh rehta hi hai kyonki hum apna life apne carrier se start karte hain abhi khatam karta hai

आई मीन यूपीएससी का एग्जाम कब होता है इसमें आपको एक जॉब नहीं करना होता है कि सर्विस चुनना ह

Romanized Version
Likes  186  Dislikes    views  2004
WhatsApp_icon
play
user

Isha Pant

IPS Officer

0:29

Likes  353  Dislikes    views  8203
WhatsApp_icon
play
user

Rohini Katoch Sepat

Indian Police Officer

1:12

Likes  156  Dislikes    views  3070
WhatsApp_icon
user

Mittali Sethi

IAS 2017 Batch

2:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसका जवाब आप शायद हमें भी हो सकता है ना में भी हो सकता है और ऑनेस्टली इस सवाल को जनरलाइज करना ना तू कर सकती हूं नहीं करना शायद अच्छी बात होगी जहां तक का डर का सवाल है तो मैं ही कहूंगी कि डर नहीं बोल सकते पर अमेरिकन सिटी सिटी का फीलिंग होता है कि आगे क्या है वह आपको पता नहीं है तो एंजाइटी जरूर कहूंगी कि हमेशा ऐसा रहता है कि अच्छा बम कहां जाएंगे स्पेशली आपके करियर के शुरुआत के सीरीज में जैसे मैं शादी कर कर आई थी तो हमेशा से लगता था कि कैसे मैनेज करेंगे हस्बैंड कैसे मैनेज करेंगे फैमिली का क्या होगा सवाल रहते हैं एक नार्मल ह्यूमन बीइंग को यह सब सवाल लव कुश आएंगे ही और उसमें कुछ भी प्रॉब्लम नहीं है बस जनरल इतना जरूर कहूंगी कि जितने भी लोग सब इसमें आते हैं इसी माइंडसेट के साथ आते हैं उनको पता रहता है कि आपको सुनकर बहुत कम कंट्रोल है इस बात पर कि वह कहां पोस्ट होंगे और उनका ट्रांसफर कब हो जाएगा तो लाडली ऑफिस उसको इतना डर नहीं रहता है कि उनका पोस्टिंग कहां होगा हमें सबको मालूम रहता है हम उस नॉलेज के साथ आते हैं कि मिनी सस्ते जिसमें हमें रिमोट एरियाज में काम करना है और वह सब चैलेंज हमारे लिए तुम इसके लिए ऐसा नहीं बोल सकते क्या किसी को डर रहता के रहता है कि उनकी पोस्टिंग कहां होगी इंपैक्ट ऑफ असम लोगों को यह अच्छा ही लगता है कि हम किसी रिमोट एरिया में जाएं और वहां पर जो प्रॉब्लम है उसको हम आ समझाने का कोशिश करें और उसी चीज के लिए आए हैं तो बाद में धीरे-धीरे जवाब करियर में चले जाते हैं और आपको करियर में तीन-चार साल 5 साल हो जाते हैं आप सीने से मिल लेते हैं और आप देख लेते हैं कि कैसे रहती है सब चीजें आपको थोड़ा है कि मिठाई दर्शन हो जाता है उसके बाद एंजाइटी भी धीरे-धीरे कम होने लग जाती है और यह रिलायंस हो जाता है कि चीजें 3000 मेनेजेबल हर जगह का हर स्टेट का अपना-अपना सिस्टम रहता है तो आए भुट्टे के धीरे-धीरे लाइट भी चली जाती है और हम काफी अडॉप्ट हो जाते हैं सिस्टम के साथ के ठीक है ऐसे ही सिस्टम है और यह सिस्टम के साथ हमको रहना है या तो एक्सेप्ट करें या फिर उसे बदलने की कोशिश करें तो धीरे-धीरे वह हिम्मत डिवेलप होती है वह टेशन आपका धीरे-धीरे हो जाता है तो कुछ एक बहुत ही बड़ा डरने वाली चीज है कि जहां जाते हैं वहां घुटने के गवर्नमेंट टैक्स केरो शिवा का ख्याल रखा जाता है तो ऐसा नहीं है आपको सिक्योरिटी मिलता है आपको रहने का जगह मिलती है तो उसमें इतना डरने का या इतना ज्यादा परेशान होने की अंगूठी की कोई बहुत बड़ी बात नहीं है

iska jawab aap shayad hamein bhi ho sakta hai na mein bhi ho sakta hai aur anestali is sawaal ko janaralaij karna na tu kar sakti hoon nahi karna shayad achi baat hogi jaha tak ka dar ka sawaal hai toh main hi kahungi ki dar nahi bol sakte par american city city ka feeling hota hai ki aage kya hai vaah aapko pata nahi hai toh anxiety zaroor kahungi ki hamesha aisa rehta hai ki accha bomb kahaan jaenge speshli aapke career ke shuruat ke series mein jaise main shadi kar kar I thi toh hamesha se lagta tha ki kaise manage karenge husband kaise manage karenge family ka kya hoga sawaal rehte hain ek normal human being ko yah sab sawaal love kush aayenge hi aur usme kuch bhi problem nahi hai bus general itna zaroor kahungi ki jitne bhi log sab isme aate hain isi mindset ke saath aate hain unko pata rehta hai ki aapko sunkar bahut kam control hai is baat par ki vaah kahaan post honge aur unka transfer kab ho jaega toh laadalee office usko itna dar nahi rehta hai ki unka posting kahaan hoga hamein sabko maloom rehta hai hum us knowledge ke saath aate hain ki mini saste jisme hamein remote areas mein kaam karna hai aur vaah sab challenge hamare liye tum iske liye aisa nahi bol sakte kya kisi ko dar rehta ke rehta hai ki unki posting kahaan hogi impact of assam logo ko yah accha hi lagta hai ki hum kisi remote area mein jayen aur wahan par jo problem hai usko hum aa samjhane ka koshish kare aur usi cheez ke liye aaye hain toh baad mein dhire dhire jawab career mein chale jaate hain aur aapko career mein teen char saal 5 saal ho jaate hain aap seene se mil lete hain aur aap dekh lete hain ki kaise rehti hai sab cheezen aapko thoda hai ki mithai darshan ho jata hai uske baad anxiety bhi dhire dhire kam hone lag jaati hai aur yah reliance ho jata hai ki cheezen 3000 menejebal har jagah ka har state ka apna apna system rehta hai toh aaye bhutte ke dhire dhire light bhi chali jaati hai aur hum kaafi adopt ho jaate hain system ke saath ke theek hai aise hi system hai aur yah system ke saath hamko rehna hai ya toh except kare ya phir use badalne ki koshish kare toh dhire dhire vaah himmat develop hoti hai vaah teshan aapka dhire dhire ho jata hai toh kuch ek bahut hi bada darane wali cheez hai ki jaha jaate hain wahan ghutne ke government tax kero shiva ka khayal rakha jata hai toh aisa nahi hai aapko Security milta hai aapko rehne ka jagah milti hai toh usme itna darane ka ya itna zyada pareshan hone ki anguthi ki koi bahut badi baat nahi hai

इसका जवाब आप शायद हमें भी हो सकता है ना में भी हो सकता है और ऑनेस्टली इस सवाल को जनरलाइज क

Romanized Version
Likes  210  Dislikes    views  2402
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

2:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो लोग यूपी की परीक्षा क्रैक कर लेते हैं उनके मन में यह डर होता है किन की पोस्टिंग कहां होगी स्तंभ होता है क्योंकि पहली पोस्टिंग के लिए वह चिंतित होते हैं क्योंकि अभी तक उन्होंने भले ही कितनी कठोर परिश्रम किया है भले ही उन्होंने बहुत संघर्ष किया है एक्जाम क्रैक किया है लेकिन माता-पिता का आशीर्वाद और परिवार का सानिध्य और जो बुजुर्ग हैं उनका प्रेम हमेशा उनके साथ रहे क्योंकि उनकी पोस्टिंग कहां हुई इस विषय में एक सुनता रहता है और उस समय से थोड़ा कान के मन में रहता है परिवार से दूर होने का न कर तू कितनी उम्र हो जाए कितने पढ़े लिखे हो लेकिन यह कैसा समय आता है जब दोनों माता-पिता को भी और उस कैंडिडेट को भी खुशी के साथ-साथ मन में चिंता होती है और मन करेगा उनको एक तरफ से अपने से अलग होने का एहसास कराता है बेटी को विदा करने के बाद हमेशा के लिए बेटी पराई हो जाती है लेकिन क्यों चढ़ाते टूट जाते हैं नौकरी ज्वाइन करने की चीज का भय नहीं उठाते नहीं होता कि कहां जंगल में पोस्टिंग होगी कहां किसी खतरनाक शहर में पोस्टिंग होगी या आतंकवादियों के बीच में पोस्टिंग होगी या कहीं बहुत ज्यादा कड़क राजनेता के अंडर में पोस्टिंग होगी अपने काम से काम रखिए बच्चे ध्यान रखिए अपने कर्तव्य कोई समझौता नहीं अपने सिद्धांत सोचे कोई समझौता नहीं तो डरने की क्या बात है किस बात का डर मोहन कैसा भी हो अपनी काबिलियत से मॉल बदल लीजिए देख लीजिए आपके सामने आज का एग्जांपल सीबीआई ने अपनी काबिलियत से मॉल बदल दिया इसमें सरकार की कोई योगदान नहीं है सीबीआई की काबिलियत है जो मारी चीफ जस्टिस आएं उन्होंने उन्होंने जो परिचय दिया है अपने समूह के साथ को तारीफ काबली तुम्हें कहना चाहूंगा अपने आप निश्चित रूप से अच्छा परिणाम दीजिए और डरने की कोई आवश्यकता नहीं है पाया यह मन में होता है

jo log up ki pariksha crack kar lete hain unke man mein yah dar hota hai kin ki posting kahaan hogi stambh hota hai kyonki pehli posting ke liye vaah chintit hote hain kyonki abhi tak unhone bhale hi kitni kathor parishram kiya hai bhale hi unhone bahut sangharsh kiya hai exam crack kiya hai lekin mata pita ka ashirvaad aur parivar ka sanidhya aur jo bujurg hain unka prem hamesha unke saath rahe kyonki unki posting kahaan hui is vishay mein ek sunta rehta hai aur us samay se thoda kaan ke man mein rehta hai parivar se dur hone ka na kar tu kitni umr ho jaaye kitne padhe likhe ho lekin yah kaisa samay aata hai jab dono mata pita ko bhi aur us candidate ko bhi khushi ke saath saath man mein chinta hoti hai aur man karega unko ek taraf se apne se alag hone ka ehsaas karata hai beti ko vida karne ke baad hamesha ke liye beti parai ho jaati hai lekin kyon chadhate toot jaate hain naukri join karne ki cheez ka bhay nahi uthate nahi hota ki kahaan jungle mein posting hogi kahaan kisi khataranaak shehar mein posting hogi ya aatankwadion ke beech mein posting hogi ya kahin bahut zyada kadak raajneta ke under mein posting hogi apne kaam se kaam rakhiye bacche dhyan rakhiye apne kartavya koi samjhauta nahi apne siddhant soche koi samjhauta nahi toh darane ki kya baat hai kis baat ka dar mohan kaisa bhi ho apni kabiliyat se mall badal lijiye dekh lijiye aapke saamne aaj ka example cbi ne apni kabiliyat se mall badal diya isme sarkar ki koi yogdan nahi hai cbi ki kabiliyat hai jo mari chief justice aaen unhone unhone jo parichay diya hai apne samuh ke saath ko tareef kabli tumhe kehna chahunga apne aap nishchit roop se accha parinam dijiye aur darane ki koi avashyakta nahi hai paya yah man mein hota hai

जो लोग यूपी की परीक्षा क्रैक कर लेते हैं उनके मन में यह डर होता है किन की पोस्टिंग कहां हो

Romanized Version
Likes  69  Dislikes    views  1360
WhatsApp_icon
user
0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपके पास नहीं है आपने जो एग्जाम है वह कमरे हमसे एनी कम रेंज से पास किया तो आपके मन में डर तो रहते हैं कि आप की पोस्टिंग कहां हो आप उस दिन कहीं भी हो सकती हैं अगर आपके सब आपके ऊपर हो तो आपके जो पोस्टिंग है वह आपकी रिकॉर्डिंग होगी जहां आप जाएंगे वहां पर आपकी पोस्टिंग होगी

agar aapke paas nahi hai aapne jo exam hai vaah kamre humse any kam range se paas kiya toh aapke man mein dar toh rehte hain ki aap ki posting kahaan ho aap us din kahin bhi ho sakti hain agar aapke sab aapke upar ho toh aapke jo posting hai vaah aapki recording hogi jaha aap jaenge wahan par aapki posting hogi

अगर आपके पास नहीं है आपने जो एग्जाम है वह कमरे हमसे एनी कम रेंज से पास किया तो आपके मन में

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  162
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भाई जो लोग यूपीएससी कह कर लेते हैं वह अपने अनुसार जिस कैडर दबाते हैं और किस कंट्री में भेजे हमको कहीं भी लाइक कर कर सकते हैं

bhai jo log upsc keh kar lete hain vaah apne anusaar jis cadre dabate hain aur kis country mein bheje hamko kahin bhi like kar kar sakte hain

भाई जो लोग यूपीएससी कह कर लेते हैं वह अपने अनुसार जिस कैडर दबाते हैं और किस कंट्री में भेज

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  80
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पोस्टिंग आदमी जहां होगी भाई सरकार देगी वहीं पर आपको जाना होगा क्योंकि सरकारी नौकरी एक ऐसी होती है जो कि समय पर पहुंचे समय पर वह काम हो आग को कहां भेज दें यह सरकार की योजना है मगर आज के आदमी जो है वह पैसा देकर अपना जगह ही बदल देते हैं क्योंकि पैसों में इतनी इतनी ताकत हो गई है कि आदमी को जहां रहना चाहिए वहां नहीं रह पाता ठीक सरकार भी अगर चाहे कि वह वहां भेज दे तो वहां आदमी लगे रहेंगे क्यों अगर कह देगा कि यही अगर पैसा वाला आदमी है तो उसको वही डर देते हैं

posting aadmi jaha hogi bhai sarkar degi wahi par aapko jana hoga kyonki sarkari naukri ek aisi hoti hai jo ki samay par pahuche samay par vaah kaam ho aag ko kaha bhej de yah sarkar ki yojana hai magar aaj ke aadmi jo hai vaah paisa dekar apna jagah hi badal dete hain kyonki paison me itni itni takat ho gayi hai ki aadmi ko jaha rehna chahiye wahan nahi reh pata theek sarkar bhi agar chahen ki vaah wahan bhej de toh wahan aadmi lage rahenge kyon agar keh dega ki yahi agar paisa vala aadmi hai toh usko wahi dar dete hain

पोस्टिंग आदमी जहां होगी भाई सरकार देगी वहीं पर आपको जाना होगा क्योंकि सरकारी नौकरी एक ऐसी

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  178
WhatsApp_icon
user

Poonamgupta

housewife

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो लोग ईपीसी पर चक्र कर लेते हैं उनके मन में यह डर नहीं होता है कि वह किस पोस्ट में पड़ जाएंगे वह तो निर्भय के बिना डर के इश्क उस पोस्ट पर जाने के लिए तैयार होते हैं जिस पर उन्हें नियुक्त किया जाता है

jo log epc par chakra kar lete hain unke man me yah dar nahi hota hai ki vaah kis post me pad jaenge vaah toh nirbhay ke bina dar ke ishq us post par jaane ke liye taiyar hote hain jis par unhe niyukt kiya jata hai

जो लोग ईपीसी पर चक्र कर लेते हैं उनके मन में यह डर नहीं होता है कि वह किस पोस्ट में पड़ जा

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  509
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पोस्टिंग का कोई दिक्कत नहीं है बस एक बार आईएएस बनने की बातें यूपीएससी क्लियर हो जाए ट्रैक करने के बाद भी आएगी टेंशन वाली बात

posting ka koi dikkat nahi hai bus ek baar IAS banne ki batein upsc clear ho jaaye track karne ke baad bhi aayegi tension wali baat

पोस्टिंग का कोई दिक्कत नहीं है बस एक बार आईएएस बनने की बातें यूपीएससी क्लियर हो जाए ट्रैक

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  77
WhatsApp_icon
user

RAVI

Teacher and Poet

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे जैसे कि आप ने प्रश्न किया यूपीएससी परीक्षा टक्कर लेने लेने के बाद क्या मन में डर होता है कि किसी व्यक्ति विशेष की कहीं पोस्टिंग की जा रही है तो आप थोड़ा सा समझ ले कि यूपीएससी परीक्षाओं के करना अपने में काफी बड़ी बात होती है और दूसरी बात यह कि पोस्टिंग को लेकर जो चीज आपके सामने है ही नहीं या आपके सामने जिस चीज को भी पेश किया ही नहीं गया रखा ही नहीं गया तो उस चीज को लेकर इंसान के मन में कहीं ना कहीं व्याकुलता होती है और वही व्याकुलता उसकी थोड़ी सी चिंता में भी बदल जाती है तो इस चीज को लेकर हम यह कह सकते हैं कि हां हो सकता है उसे लोगों के मन में इसको लेकर चिंता बनी रहती धन्यवाद

dekhe jaise ki aap ne prashna kiya upsc pariksha takkar lene lene ke baad kya man mein dar hota hai ki kisi vyakti vishesh ki kahin posting ki ja rahi hai toh aap thoda sa samajh le ki upsc parikshao ke karna apne mein kaafi badi baat hoti hai aur dusri baat yah ki posting ko lekar jo cheez aapke saamne hai hi nahi ya aapke saamne jis cheez ko bhi pesh kiya hi nahi gaya rakha hi nahi gaya toh us cheez ko lekar insaan ke man mein kahin na kahin vyakulta hoti hai aur wahi vyakulta uski thodi si chinta mein bhi badal jaati hai toh is cheez ko lekar hum yah keh sakte hain ki haan ho sakta hai use logo ke man mein isko lekar chinta bani rehti dhanyavad

देखे जैसे कि आप ने प्रश्न किया यूपीएससी परीक्षा टक्कर लेने लेने के बाद क्या मन में डर होता

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  163
WhatsApp_icon
user

Pragti Tripathi

UPSC Aspirant

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

संजू यूपीएससी की परीक्षा क्लिक कर लेते हैं उनके लिए तो सबसे बड़ी खुशी की बात होती क्या है उन्होंने खली की बिकॉज थे तो टिकट नहीं होती है ना की एग्जाम किसी भी तरीके से फ्री हो जाओ ठीक है निकाली तेरी मेहनत हो जाती है 2 साल की 1 साल ग्राम के और 1 साल पर है कि इसे दिमाग से भी होता है यार किसकी तरीके तुम्हारा सिलेक्शन हो जाए बस ठीक है पोस्टिंग का क्या है यार कहीं भी पोस्टिंग होगी तो काम तो मैं सब जगह करना है ठीक है यह तो हमने मन में ठान करके इसकी तैयारी शुरू की थी कि मतलब कहीं भी पोस्टिंग मिल सकती है अपने कोडिंग तो पोस्टिंग मिलेगी नहीं ओके सो काम करना ज्यादा इंपॉर्टेंट पोस्टिंग खातिर कहीं भी हो वर्क इंपॉर्टेंट पोस्टिंग

sanju upsc ki pariksha click kar lete hain unke liye toh sabse badi khushi ki baat hoti kya hai unhone khali ki because the toh ticket nahi hoti hai na ki exam kisi bhi tarike se free ho jao theek hai nikali teri mehnat ho jaati hai 2 saal ki 1 saal gram ke aur 1 saal par hai ki ise dimag se bhi hota hai yaar kiski tarike tumhara selection ho jaaye bus theek hai posting ka kya hai yaar kahin bhi posting hogi toh kaam toh main sab jagah karna hai theek hai yah toh humne man me than karke iski taiyari shuru ki thi ki matlab kahin bhi posting mil sakti hai apne coding toh posting milegi nahi ok so kaam karna zyada important posting khatir kahin bhi ho work important posting

संजू यूपीएससी की परीक्षा क्लिक कर लेते हैं उनके लिए तो सबसे बड़ी खुशी की बात होती क्या है

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  85
WhatsApp_icon
user
0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी नहीं उनको पोस्टिंग की कोई भी डर नहीं रहता है क्योंकि मैं उस समय राज्य के उस जुलूस में प्रमुख अधिकारी बन चुके होते हैं तथा उनका विधवा किया जाता है

ji nahi unko posting ki koi bhi dar nahi rehta hai kyonki main us samay rajya ke us jhullus mein pramukh adhikari ban chuke hote hain tatha unka vidva kiya jata hai

जी नहीं उनको पोस्टिंग की कोई भी डर नहीं रहता है क्योंकि मैं उस समय राज्य के उस जुलूस में प

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
user
0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यूपीएससी परीक्षा करने वाले भारत के ही होते हैं और वह आत्मविश्वास से इतने भरे होते हैं और उन्हें पता भी होता है इस परीक्षा को करेक्ट करने के बाद हमारी पोस्टिंग भारत के किसी भी क्षेत्र में हो सकती है इसलिए उन्हें ऐसा डर नहीं होता है कि उनकी पोस्टिंग कहां होगी

upsc pariksha karne waale bharat ke hi hote hain aur vaah aatmvishvaas se itne bhare hote hain aur unhe pata bhi hota hai is pariksha ko correct karne ke baad hamari posting bharat ke kisi bhi kshetra mein ho sakti hai isliye unhe aisa dar nahi hota hai ki unki posting kahaan hogi

यूपीएससी परीक्षा करने वाले भारत के ही होते हैं और वह आत्मविश्वास से इतने भरे होते हैं और उ

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  130
WhatsApp_icon
user

Gaurav Kumar IAS

IAS Officer

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं उनके मन में यह डर नहीं जाता इनकी पोस्टिंग कहीं भी होगी तो 1 जिले का राजा बना कर ही रखा जाता है कोई भी पैक करने वाला यूपीएससी टॉपर ऐसा नहीं सोचता है

nahi unke man mein yah dar nahi jata inki posting kahin bhi hogi toh 1 jile ka raja bana kar hi rakha jata hai koi bhi pack karne vala upsc topper aisa nahi sochta hai

नहीं उनके मन में यह डर नहीं जाता इनकी पोस्टिंग कहीं भी होगी तो 1 जिले का राजा बना कर ही रख

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  108
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सभी ग्रुप में सेंड कीजिए

sabhi group mein send kijiye

सभी ग्रुप में सेंड कीजिए

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  29
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी नहीं क्योंकि यूपीएससी का परीक्षा पास करने के बाद आदमी को यह अनुभव हो जाता है कि वह अब समाज से लड़ सकता है

ji nahi kyonki upsc ka pariksha paas karne ke baad aadmi ko yah anubhav ho jata hai ki vaah ab samaj se lad sakta hai

जी नहीं क्योंकि यूपीएससी का परीक्षा पास करने के बाद आदमी को यह अनुभव हो जाता है कि वह अब स

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  140
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!