क्या आरक्षण पब्लिक को जैसी दी जा रही है वैसे ही देनी चाहिए?...


play
user

Sa Sha

Journalist since 1986

1:12

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आरक्षण हमेशा से विवाद का विषय रहा है जहां तक मेरी व्यक्तिगत राय का सवाल है तो मैं आर्थिक आधार पर आरक्षण की धर्म इसलिए कहना चाहूंगी कि काश ऐसा हो पाता आरक्षण आर्थिक आधार पर होता आरक्षण की व्यवस्था पिछड़ों को मुख्यधारा में लाने के लिए शुरू की गई थी लेकिन तब से अब तक स्थिति काफी बदल गई है अब इसमें परिवर्तन होना चाहिए और आर्थिक आधार पर ही आरक्षण मिलनी चाहिए हालांकि नरसिंह राव की सरकार ने 1991 में आर्थिक आधार पर 10% आरक्षण देने का एक नोटिफिकेशन जारी किया था लेकिन जाति के आधार पर आरक्षण के पक्षधर इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पर चले गए सुप्रीम कोर्ट ने आर्थिक आधार पर आरक्षण को अवैध ठहरा दिया इसके लिए कोटडे सुप्रीम कोर्ट ने यह कहा कि आई और संपत्ति को आरक्षण का आधार कतई नहीं माना जा सकता

aarakshan hamesha se vivaad ka vishay raha hai jaha tak meri vyaktigat rai ka sawaal hai toh main aarthik aadhaar par aarakshan ki dharm isliye kehna chahungi ki kash aisa ho pata aarakshan aarthik aadhaar par hota aarakshan ki vyavastha pichadon ko mukhyadhara mein lane ke liye shuru ki gayi thi lekin tab se ab tak sthiti kaafi badal gayi hai ab isme parivartan hona chahiye aur aarthik aadhaar par hi aarakshan milani chahiye halaki narsingh rav ki sarkar ne 1991 mein aarthik aadhaar par 10 aarakshan dene ka ek notification jaari kiya tha lekin jati ke aadhaar par aarakshan ke pakshadhar iske khilaf supreme court par chale gaye supreme court ne aarthik aadhaar par aarakshan ko awaidh thahara diya iske liye kotde supreme court ne yah kaha ki I aur sampatti ko aarakshan ka aadhaar katai nahi mana ja sakta

आरक्षण हमेशा से विवाद का विषय रहा है जहां तक मेरी व्यक्तिगत राय का सवाल है तो मैं आर्थिक आ

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  23
KooApp_icon
WhatsApp_icon
7 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!