क्या बिटकॉइन लीगल है?...


play
user

akashyadav

IIT Graduate 2014 batch

0:31

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन अगर आप इंडिया की बात कर रहे हैं तो बिटकॉइन लीगल है लीगल है इसका कोई क्लियर कट जवाब नहीं है घमंड नहीं सेलिब्रेट नहीं किया तो घमंड की तरफ से लिख लाइट नहीं है व्हाट इस कम्युनिटी कॉमेंट्स टाइम बहुत कंफ्यूज है किरण के साथ क्या करना है इंडिया में इसलिए अभी तक कोई डिसीजन नहीं लिया अगर चैटिंग करना चाहते हैं बिटकॉइन ट्रेडिंग कर दो बिल्कुल कर सकते हैं जसराज गवर्मेंट ऑफिस टाइम्स नहीं है उसके ऊपर

lekin agar aap india ki BA at kar rahe hai toh bitcoin legal hai legal hai iska koi clear cut jawab nahi hai ghamand nahi celebrate nahi kiya toh ghamand ki taraf se likh light nahi hai what is community comments time BA hut confuse hai kiran ke saath kya karna hai india mein isliye abhi tak koi decision nahi liya agar chatting karna chahte hai bitcoin trading kar do bilkul kar sakte hai jasaraj government office times nahi hai uske upar

लेकिन अगर आप इंडिया की बात कर रहे हैं तो बिटकॉइन लीगल है लीगल है इसका कोई क्लियर कट जवाब न

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  76
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Anukrati

Journalism Graduate

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिटकॉइन का उपयोग करने की वैधता के बारे में सवाल अंडरस्टैंड बिल है क्योंकि अब LED सेंट्रलाइज डिजिटल करेंसी है अवैध कांटेक्ट सिर्फ मनी से विपरीत बिटकॉइन पूरी तरह से अलग है फिर भी यह ग्रे एरिया में आती है जब हम रेगुलेशंस की बात करें तो हालांकि ऐसी चिंताएं ज्यादातर कई ग़लतफ़हमियां या कॉन्क्रीट नियमों की कमी के कारण उत्पन्न हुई है कानून के उल्लंघन के वजह से नहीं यह अमेरिका कनाडा और यूरोपियन देशों में लीगल माना जाता है और अन्य देशों के बीच बांग्लादेश और नेपाल में इल्लीगल और भारत की बात करें तो रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया का कहना है कि उसने किसी भी संस्था कंपनी को ऐसी योजनाएं या बिटकॉइन या कोई आभासी मुद्रा ऑपरेट करने के लिए कोई लाइसेंस प्रधिकरण नहीं दिया है पर यह देश में इल्लीगल भी नहीं माना जाता

bitcoin ka upyog karne ki vaidhata ke BA re mein sawaal understand bill hai kyonki ab LED sentralaij digital currency hai awaidh Contact sirf money se viprit bitcoin puri tarah se alag hai phir bhi yah grey area mein aati hai jab hum reguleshans ki BA at kare toh halaki aisi chintaen jyadatar kai ghalatafahamiyan ya kankrit niyamon ki kami ke karan utpann hui hai kanoon ke ullanghan ke wajah se nahi yah america canada aur european deshon mein legal mana jata hai aur anya deshon ke beech BA ngladesh aur nepal mein illegal aur bharat ki BA at kare toh reserve BA nk of india ka kehna hai ki usne kisi bhi sanstha company ko aisi yojanaye ya bitcoin ya koi abhasi mudra operate karne ke liye koi license pradhikaran nahi diya hai par yah desh mein illegal bhi nahi mana jata

बिटकॉइन का उपयोग करने की वैधता के बारे में सवाल अंडरस्टैंड बिल है क्योंकि अब LED सेंट्रलाइ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  11
WhatsApp_icon
user

Ridhima

Mass Communications Student

1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सीधे तौर पर कहा जाए तो अभी तक भारत सरकार और आरबीआई ने बिटकॉइन या किसी भी अन्य डिजिटल करेंसी को मान्यता प्रदान नहीं की है लेकिन उन्होंने स्पष्ट रुप से इनकार 29 पर हो क्या बात भी नहीं लगाया है कुछ टाइम पहले आरबीआई ने इस संबंध उनसे कहा मैं कहा था कि इन में अधिकृत भुगतान विधि नहीं है इस कारण से इसे अप्रूवल नहीं दिया जा सकता लेकिन बहुत सारी कंपनियां बिटकॉइन का लेनदेन कर रही है जैसे जैसे Unicorn दादी इसलिए सरकार ने लोगों से इसके बारे में राय मांगी है कि बिटकॉइन जैसी डिजिटल करेंसी को रेगुलेट करना चाहिए या इनमें बंद कर देना चाहिए आरबीआई ने कहा है कि हमने इन कंपनियों का को लाइसेंस नहीं दिया है उसका कारण यह है कि यह एक नई चीज है जिस पर अभी तक कोई रूल नहीं बनी है इस कारण अगर आप अपना पैसा इस में इन्वेस्ट करते हैं तो यह आप अपने रिस्क पर करते हैं धीरे मेरी कई देश क्रिप्टो करेंसी रेगुलेशंस निर्धारित करने की तैयारी पर तैयारी कर रहे हैं लेकिन ज्यादातर देशों में अभी स्थिति स्पष्ट है

seedhe taur par kaha jaaye toh abhi tak bharat sarkar aur RBI ne bitcoin ya kisi bhi anya digital currency ko manyata pradan nahi ki hai lekin unhone spasht roop se inkar 29 par ho kya BA at bhi nahi lagaya hai kuch time pehle RBI ne is sambandh unse kaha main kaha tha ki in mein adhikrit bhugtan vidhi nahi hai is karan se ise approval nahi diya ja sakta lekin BA hut saree companiya bitcoin ka lenden kar rahi hai jaise jaise Unicorn dadi isliye sarkar ne logo se iske BA re mein rai maangi hai ki bitcoin jaisi digital currency ko regulate karna chahiye ya inme BA nd kar dena chahiye RBI ne kaha hai ki humne in companion ka ko license nahi diya hai uska karan yah hai ki yah ek nayi cheez hai jis par abhi tak koi rule nahi BA ni hai is karan agar aap apna paisa is mein invest karte hai toh yah aap apne risk par karte hai dhire meri kai desh crypto currency reguleshans nirdharit karne ki taiyari par taiyari kar rahe hai lekin jyadatar deshon mein abhi sthiti spasht hai

सीधे तौर पर कहा जाए तो अभी तक भारत सरकार और आरबीआई ने बिटकॉइन या किसी भी अन्य डिजिटल करेंस

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  22
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!