डिस्ट्रिक्ट मॅजिस्ट्रेट का क्या क्या काम है?...


play
user
1:18

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिस्टिक मजिस्ट्रेट यानी कि जिलाधिकारी चैंपियन भी कहते हैं भारतीय प्रशासनिक सेवा का एक प्रमुख प्रशासनिक पद है जिससे जिसमें अंग्रेजी में डिस्टिक कलेक्टर या सिर्फ कलेक्टर के नाम से भी जाना जाता है भारत के प्रत्येक जिले का एक अपना उपायुक्त होता है अंग्रेज शासन के दौरान सन 1772 में लॉर्ड वारेन हेस्टिंग्स द्वारा बुनियादी रूप से नागरिक प्रशासन भू राजस्व की वसूली के लिए गठित जिला अधिकारी का पद अब राज्य के लोक प्रशासन के सर्वाधिक महत्वपूर्ण पदों में से प्रमुख स्थान रखता है जिलाधीश यानी कलेक्टर का जीत के रूप में जिले का सब राज्य सरकार का सर्वोच्च अधिकार संपन्न प्रतिनिधि तथा प्रथम लोक सेवक होता है जो मुख्य जिला विकास अधिकारी के रूप में सारे प्रमुख सरकारी विभागों पंचायत एवं ग्रामीण विकास चिकित्सा एवं स्वास्थ्य आयुर्वेद अल्पसंख्यक कल्याण कृषि भूमि संरक्षण संरक्षण जिला महिला अधिकारिता ऊर्जा उद्योग श्रम कल्याण खनन खेल पशुपालन इत्यादि और कानून-व्यवस्था सिंचाई सार्वजनिक निर्माण विभाग स्थानीय प्रशासन के आदि सारे कार्यक्रमों और नीतियों का प्रभावी क्रियान्वयन करने के लिए जिला के लिए अकेले उत्तरदाई होता है

district magistrate yani ki jiladhikari champion bhi kehte hai bharatiya prashasnik seva ka ek pramukh prashasnik pad hai jisse jisme angrezi mein district collector ya sirf collector ke naam se bhi jana jata hai bharat ke pratyek jile ka ek apna upaayukt hota hai angrej shasan ke dauran san 1772 mein lord Warren hesting dwara buniyadi roop se nagarik prashasan bhu rajaswa ki vasuli ke liye gathit jila adhikari ka pad ab rajya ke lok prashasan ke sarvadhik mahatvapurna padon mein se pramukh sthan rakhta hai jiladhish yani collector ka jeet ke roop mein jile ka sab rajya sarkar ka sarvoch adhikaar sampann pratinidhi tatha pratham lok sevak hota hai jo mukhya jila vikas adhikari ke roop mein saare pramukh sarkari vibhagon panchayat evam gramin vikas chikitsa evam swasthya ayurveda alpsankhyak kalyan krishi bhoomi sanrakshan sanrakshan jila mahila adhikarita urja udyog shram kalyan khanan khel pashupalan ityadi aur kanoon vyavastha sinchai sarvajanik nirmaan vibhag sthaniye prashasan ke aadi saare karyakramon aur nitiyon ka prabhavi kriyanwayan karne ke liye jila ke liye akele uttardai hota hai

डिस्टिक मजिस्ट्रेट यानी कि जिलाधिकारी चैंपियन भी कहते हैं भारतीय प्रशासनिक सेवा का एक प्रम

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  182
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!