ज़िन्दगी का लक्ष्य क्या होना चाहिए?...


user

Narendra Bhardwaj

Spirituality Reformer

2:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आध्यात्मिक दृष्टि से जिंदगी का लक्ष्य या भौतिक दृष्टि से जिंदगी का लक्ष्य जिंदगी का लक्ष्य क्या होना चाहिए सवाल अधूरा है जिंदगी का लक्ष्य की दृष्टि से तो पैसा होता है ज्यादा से ज्यादा पैसा ज्यादा से ज्यादा सुख सुविधाएं हो नाम हो यशु लोग हमें जाने यह महत्वाकांक्षा हर आदमी के अंदर होती है लेकिन जीवन का लक्ष्य क्या है हम क्यों आए हैं अगर यह सवाल हो इसका जवाब हम क्यों आए हैं कि अगर समझ में आ जाए तो जीवन का लक्ष्य ढूंढ आसान होता है वैसे तो किसी ने कहा है आए थे हरि भजन को ओटन लगे कपास शरीर रामायण जी में भी लिखा है गोस्वामी तुलसीदास जी महाराज ने रामायण में लिखा है देह धरे कर यह फल भाई वजीराम सब काम भाई सब छोड़कर शरीर मिलने का एक ही अर्थ है भजन किया जाए जिसके लिए शरीर मिला है शायद काटने के लिए शरीर मिला शरीर यह साधन है इस से यात्रा करने और यात्रा कहां की करनी है यह अगर पता हो तो लक्ष्य साधना बड़ा सरल हो जाए इसलिए इस जीवन का लक्ष्य तो सिर्फ ईश्वर को प्राप्त करना है बाकी जीवन के लक्ष्य समय परिस्थिति काल देश के अनुसार बदलते रहते हैं भौतिक जीवन के लक्ष्य दिन प्रतिदिन समय परिस्थिति उम्र के हिसाब से बदलते रहते हैं फिर भी ईश्वर को ना भूलो ईश्वर को याद रखो ईश्वर को प्राप्त करने के लिए मनुष्य शरीर मिलता है क्योंकि बड़े भाग्य मानुष तन पावा बड़ी मुश्किल से जब शरीर मिला है तो उसका उद्देश्य तो तभी पूरा होगा जब एक ही लक्ष्य परमात्मा से मिलन ईश्वर की प्राप्ति हुई अंतिम लक्ष्य है वही सर्वोत्तम ल और कोई लक्ष्य नहीं है बाकी के सारे लक्की झूठे हैं सारे लक्ष्णास और इसलिए एक ही मात्र जीवन का लक्ष होना चाहिए वह ईश्वर प्राप्ति

aadhyatmik drishti se zindagi ka lakshya ya bhautik drishti se zindagi ka lakshya zindagi ka lakshya kya hona chahiye sawaal adhura hai zindagi ka lakshya ki drishti se toh paisa hota hai zyada se zyada paisa zyada se zyada sukh suvidhaen ho naam ho yashu log hamein jaane yah mahatwakanksha har aadmi ke andar hoti hai lekin jeevan ka lakshya kya hai hum kyon aaye hain agar yah sawaal ho iska jawab hum kyon aaye hain ki agar samajh me aa jaaye toh jeevan ka lakshya dhundh aasaan hota hai waise toh kisi ne kaha hai aaye the hari bhajan ko otan lage kapaas sharir ramayana ji me bhi likha hai goswami tulsidas ji maharaj ne ramayana me likha hai deh dhare kar yah fal bhai wajiram sab kaam bhai sab chhodkar sharir milne ka ek hi arth hai bhajan kiya jaaye jiske liye sharir mila hai shayad katne ke liye sharir mila sharir yah sadhan hai is se yatra karne aur yatra kaha ki karni hai yah agar pata ho toh lakshya sadhna bada saral ho jaaye isliye is jeevan ka lakshya toh sirf ishwar ko prapt karna hai baki jeevan ke lakshya samay paristhiti kaal desh ke anusaar badalte rehte hain bhautik jeevan ke lakshya din pratidin samay paristhiti umar ke hisab se badalte rehte hain phir bhi ishwar ko na bhulo ishwar ko yaad rakho ishwar ko prapt karne ke liye manushya sharir milta hai kyonki bade bhagya maanush tan pawa badi mushkil se jab sharir mila hai toh uska uddeshya toh tabhi pura hoga jab ek hi lakshya paramatma se milan ishwar ki prapti hui antim lakshya hai wahi sarvottam l aur koi lakshya nahi hai baki ke saare lucky jhuthe hain saare lakshnas aur isliye ek hi matra jeevan ka lakshya hona chahiye vaah ishwar prapti

आध्यात्मिक दृष्टि से जिंदगी का लक्ष्य या भौतिक दृष्टि से जिंदगी का लक्ष्य जिंदगी का लक्ष्य

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  120
KooApp_icon
WhatsApp_icon
30 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
insan apni jindagi ke kitne sal sote hue batata hai ; insan apni zindagi ke kitne saal sote hue batata hai ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!