समाज को किस सामाजिक कलंक को खत्म करने की ज़रूरत है?...


play
user

Lokesh kesharwani

Psychologist & Philosopher (Life Coach), Counsellor Of Everything.

1:17

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

समाज में सबसे बड़ा जो सामाजिक कलंक है वह है हमारे समाज की समाज हमारा समाज सोचता है कि हमारे घर की बहू बेटी अपने गेट के सामने अपने ससुर के साथ में सिर्फ मुगट होने का पैर में दिखाएं यह न करें वह न करें ऐसा करने से होता है ऐसा करने से क्या करने से क्या होता है यह सब इंसानों ने खुद बनाया पुराने जमाने के तथा पुराने जमाने पुराने जमाने के लोग इस तरीके से देखा जाए तो वह चीजें आज के जमाने में लागू करना बहुत ही बड़ी बेवकूफी होती है क्योंकि आज के जमाने में सभी लोग जागरूक हो रहे हैं और समाज में सबसे बड़ा सामाजिक कलंक हमारे सोचने हमारी नजरिया है जब तक समझ में नहीं बदलेंगे तब तक समाज से यह सामाजिक कलंक नहीं लगता वाला धन्यवाद

samaaj mein sabse bada jo samajik kalank hai vaah hai hamare samaj ki samaj hamara samaj sochta hai ki hamare ghar ki bahu beti apne gate ke saamne apne sasur ke saath mein sirf mugat hone ka pair mein dikhaen yah na kare vaah na kare aisa karne se hota hai aisa karne se kya karne se kya hota hai yah sab insano ne khud banaya purane jamane ke tatha purane jamane purane jamane ke log is tarike se dekha jaaye toh vaah cheezen aaj ke jamane mein laagu karna bahut hi badi bewakoofi hoti hai kyonki aaj ke jamane mein sabhi log jagruk ho rahe hain aur samaj mein sabse bada samajik kalank hamare sochne hamari najariya hai jab tak samajh mein nahi badalenge tab tak samaj se yah samajik kalank nahi lagta vala dhanyavad

समाज में सबसे बड़ा जो सामाजिक कलंक है वह है हमारे समाज की समाज हमारा समाज सोचता है कि हमार

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  524
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Raj Bahadur

Study Please Subscribe On YouTube

0:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

समाज को गरीबी और जातिवाद का कलंक खत्म करना चाहिए

samaaj ko garibi aur jaatiwad ka kalank khatam karna chahiye

समाज को गरीबी और जातिवाद का कलंक खत्म करना चाहिए

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!