क्या आपको लगता है कि भूत असल में होते हैं?...


user

Dr. KRISHNA CHANDRA

Rehabilitation Psychologist

0:40
Play

Likes  838  Dislikes    views  11062
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

अभिनन्दन मिश्र

रीजनिंग एक्सपर्ट

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भूत के बारे में तो कुछ कहा नहीं हो सकता है लेकिन एक का मन में भय की वजह से जैसा आप तस्वीर बना रहते हैं ऐसा प्रतीत होता है इसकी वजह से ऐसा लोगों का कहना होता है कि नहीं हुआ भूत होते हैं बाकी कुछ होता नहीं है

bhoot ke bare me toh kuch kaha nahi ho sakta hai lekin ek ka man me bhay ki wajah se jaisa aap tasveer bana rehte hain aisa pratit hota hai iski wajah se aisa logo ka kehna hota hai ki nahi hua bhoot hote hain baki kuch hota nahi hai

भूत के बारे में तो कुछ कहा नहीं हो सकता है लेकिन एक का मन में भय की वजह से जैसा आप तस्वीर

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  94
WhatsApp_icon
user

Dr. Shakeel Akhtar

Homeopathy Doctor

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए सिर्फ एक काल्पनिक बात है यह भूत का कोई अस्तित्व नहीं होता है यह सिर्फ काल्पनिक बात है यह मन का और दिल का भय होता है एक डर होता है इंसान के मन में और यह पहली बातें थी जब अज्ञानता थी अंधविश्वास ज्यादा था उस वक्त भूत प्रेतों को माना जाता था यह भूत है भूत प्रेत है इसका कोई अस्तित्व नहीं होता है यह सिर्फ काल्पनिक बातें हैं और कुछ भी नहीं है आज के इससे साहिब के दौर में टेक्निकल टेक्नालॉजी के दौर में यह भूतों पर विश्वास करना यह निहायत जा हिलाना बात है थैंक यू

dekhiye sirf ek kalpnik baat hai yah bhoot ka koi astitva nahi hota hai yah sirf kalpnik baat hai yah man ka aur dil ka bhay hota hai ek dar hota hai insaan ke man me aur yah pehli batein thi jab agyanata thi andhavishvas zyada tha us waqt bhoot prato ko mana jata tha yah bhoot hai bhoot pret hai iska koi astitva nahi hota hai yah sirf kalpnik batein hain aur kuch bhi nahi hai aaj ke isse sahib ke daur me technical teknalaji ke daur me yah bhooton par vishwas karna yah nihayat ja hilana baat hai thank you

देखिए सिर्फ एक काल्पनिक बात है यह भूत का कोई अस्तित्व नहीं होता है यह सिर्फ काल्पनिक बात ह

Romanized Version
Likes  236  Dislikes    views  1816
WhatsApp_icon
play
user

Ashok Clinic

Sexologist

0:29

Likes  32  Dislikes    views  1001
WhatsApp_icon
user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे जैसा का प्रश्न है कि क्या आपको लगता है कि भूत असली में होते हैं तो यहां पर बताना चाहेंगे कि भूत प्रेत तो नहीं लेकिन हां कुछ पैरानॉर्मल एक्टिविटीज को तो साइंस भी मानता है और उसके बारे में पूरी एक फील्ड है रिसर्च होती है कई सारे लोग हैं जो उस फिल्म में काम करता है तो पैरानॉर्मल एक्टिविटी इसको तो साइंस भी मानता है कि हाय सरे की कुछ चीजें होती हैं अब कोई लोगों से भूत प्रेत बोल देते हैं कोई उसको एनर्जी की फॉर्म बोल देते हो कुछ अलग उसको कहते हैं कोई एलियंस का नाम दे देते हैं तो उसमें सबके अपने अलग-अलग मत हैं अपने अलग भीम है लेकिन हां कुत्ते नॉर्मल एक्टिविटीज होती ही है धन्यवाद

dekhe jaisa ka prashna hai ki kya aapko lagta hai ki bhoot asli mein hote hain toh yahan par bataana chahenge ki bhoot pret toh nahi lekin haan kuch paranormal activities ko toh science bhi manata hai aur uske bare mein puri ek field hai research hoti hai kai saare log hain jo us film mein kaam karta hai toh paranormal activity isko toh science bhi manata hai ki hi sare ki kuch cheezen hoti hain ab koi logo se bhoot pret bol dete hain koi usko energy ki form bol dete ho kuch alag usko kehte hain koi aliens ka naam de dete hain toh usme sabke apne alag alag mat hain apne alag bhim hai lekin haan kutte normal activities hoti hi hai dhanyavad

देखे जैसा का प्रश्न है कि क्या आपको लगता है कि भूत असली में होते हैं तो यहां पर बताना चाहे

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  146
WhatsApp_icon
user

Daivagya Krishna Shastri

Astrologer, Ved, Bhagvat Mahapuran

1:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी जय श्री राधे कृष्णा बहुत ही सुंदर सवाल आपने पूछा है जी हमारे यहां जो वर्णन आया है तो भूत और प्रेत ओं के बारे में जो आप ने प्रश्न किया तो निश्चित रूप से हमारे शास्त्रों में विष्णु पुराण सत्या दिखाओ में आप जाएंगे तो वहां पर भूत प्रेत का वर्णन आया है और भगवान ने जो शिवजी है उनके तो गणेश जी भूत और प्रेत है मरने के बाद मानव की जो आत्माएं हैं वह भटकती रहती है जो भूत अर्थात बीत चुका है वहीं भूत है दूसरी बात यह है कि हमारे यहां तो सकारात्मक शक्तियां और नकारात्मक शक्तियों का विवरण आया है तो जो नकारात्मक शक्तियां है वही भूत है वही प्रेत है और उन नकारात्मक शक्तियों से मुक्ति पाने के लिए हमें सकारात्मक शक्तियों का भगवान का सहारा लेना पड़ता है उनसे बचने के लिए और तो और हनुमान चालीसा में एक चौपाई भी आती है भूत पिशाच निकट नहीं आवे महावीर जब नाम सुनावे औरतों और जब आप कभी मेहंदीपुर बालाजी जय राजस्थान में स्थित है वहां पर आपको प्रत्यक्ष देखने को मिल जाएगा कि भूत होते हैं या नहीं होते जय श्री राधे कृष्णा जय श्री बाला जी सरकार की

ji jai shri radhe krishna bahut hi sundar sawaal aapne poocha hai ji hamare yahan jo varnan aaya hai toh bhoot aur pret on ke bare mein jo aap ne prashna kiya toh nishchit roop se hamare shastron mein vishnu puran satya dikhaao mein aap jaenge toh wahan par bhoot pret ka varnan aaya hai aur bhagwan ne jo shivaji hai unke toh ganesh ji bhoot aur pret hai marne ke baad manav ki jo aatmaen hai vaah bhatakti rehti hai jo bhoot arthat beet chuka hai wahi bhoot hai dusri baat yah hai ki hamare yahan toh sakaratmak shaktiyan aur nakaratmak shaktiyon ka vivran aaya hai toh jo nakaratmak shaktiyan hai wahi bhoot hai wahi pret hai aur un nakaratmak shaktiyon se mukti paane ke liye hamein sakaratmak shaktiyon ka bhagwan ka sahara lena padta hai unse bachne ke liye aur toh aur hanuman chalisa mein ek chaupai bhi aati hai bhoot pishach nikat nahi aawe mahavir jab naam sunave auraton aur jab aap kabhi mehandipur balaji jai rajasthan mein sthit hai wahan par aapko pratyaksh dekhne ko mil jaega ki bhoot hote hai ya nahi hote jai shri radhe krishna jai shri bala ji sarkar ki

जी जय श्री राधे कृष्णा बहुत ही सुंदर सवाल आपने पूछा है जी हमारे यहां जो वर्णन आया है तो भू

Romanized Version
Likes  120  Dislikes    views  1575
WhatsApp_icon
user

Dr Raj Kumar Kochar

Ayurvedic Doctors ( Researcher )

1:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसे तो आज अभी मैं बातें कर रहा हूं क्योंकि वह तो वाकई में होते हैं आप भूति हैं और नहीं तो कुछ दिनों के बाद जब आप का स्वर्गवास हो जाएगा तो आप भूतकाल में चले जाएंगे भूत होते हैं असल में होते हैं अगर आपकी सोच है मेरे को तो लगता है मेरे हिसाब से दुनिया में सबसे बड़े भूत आप खुद क्योंकि आपने जो सवाल किया है कि भूत होते हैं क्या तो आप ही सबसे बड़े भूत हैं और आपको ही लगता है कि भूत होते हैं मेरे को तो ऐसा कभी कोई भूत भूत से मुलाकात नहीं हुई और ना मैं आपसे अभी मिलना जाऊंगा क्योंकि आप भूत दें कि आप अपना ध्यान रखें और लोगों से कब मुलाकात करें क्योंकि भूत का सुनते हैं कि भूत खा जाता है दूध पी जाता है भूत को निकाल लेता है तो आप वैसे तो नहीं हो आप किस तरह के लोगों पता नहीं लेकिन मैं आपसे मिलना नहीं चाहूंगा बिल्कुल भी नहीं जाऊंगा क्योंकि आप भूत्वा अपनी बात कर रहे हो कि भूत असल में होते हैं क्या मेरे को लगता है आप ही असल में भूतों

aise toh aaj abhi main batein kar raha hoon kyonki vaah toh vaakai mein hote hain aap bhuti hain aur nahi toh kuch dino ke baad jab aap ka swargavas ho jaega toh aap bhootkaal mein chale jaenge bhoot hote hain asal mein hote hain agar aapki soch hai mere ko toh lagta hai mere hisab se duniya mein sabse bade bhoot aap khud kyonki aapne jo sawaal kiya hai ki bhoot hote kya toh aap hi sabse bade bhoot hain aur aapko hi lagta hai ki bhoot hote hain mere ko toh aisa kabhi koi bhoot bhoot se mulakat nahi hui aur na main aapse abhi milna jaunga kyonki aap bhoot de ki aap apna dhyan rakhen aur logo se kab mulakat kare kyonki bhoot ka sunte hain ki bhoot kha jata hai doodh p jata hai bhoot ko nikaal leta hai toh aap waise toh nahi ho aap kis tarah ke logo pata nahi lekin main aapse milna nahi chahunga bilkul bhi nahi jaunga kyonki aap bhutwa apni baat kar rahe ho ki bhoot asal mein hote kya mere ko lagta hai aap hi asal mein bhooton

ऐसे तो आज अभी मैं बातें कर रहा हूं क्योंकि वह तो वाकई में होते हैं आप भूति हैं और नहीं तो

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  514
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दरअसल भूत होते नहीं साइकोलॉजी इस बात को कहती है कि मानव का जो अंदर का दर्द होता है ना उसकी कोई उसे कुछ नजर आता है देसी विज्ञान भी लगा कि भूत नहीं होते हैं और भूत माने होता है फास्ट का जो दर्शन भूत का कोई अस्तित्व नहीं है यह तो कुछ मानकों ने कमाने खाने का रास्ता बना रखा है असल में भूत नहीं होते हैं

darasal bhoot hote nahi psychology is baat ko kehti hai ki manav ka jo andar ka dard hota hai na uski koi use kuch nazar aata hai desi vigyan bhi laga ki bhoot nahi hote hain aur bhoot maane hota hai fast ka jo darshan bhoot ka koi astitva nahi hai yah toh kuch maankon ne kamane khane ka rasta bana rakha hai asal mein bhoot nahi hote hain

दरअसल भूत होते नहीं साइकोलॉजी इस बात को कहती है कि मानव का जो अंदर का दर्द होता है ना उसकी

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  605
WhatsApp_icon
user

Liyakat Ali Gazi

Motivational Speaker, Life Coach & Soft Skills Trainer 📲 9956269300

0:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

असल में भूत होते हैं

asal mein bhoot hote hain

असल में भूत होते हैं

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  4
WhatsApp_icon
user

महेश दुबे

कवि साहित्यकार

1:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिस प्रकार फिल्मों में दिखाया जाता है और बहुत ही कहानियों में सुनाया जाता है यह किसी पीपल के पेड़ पर कोई काला साया बैठकर लोगों को डरा रहा है या पांच वाली के अंदर से कोई चुड़ैल निकल लोगों को दांत किटकिटाना काटने दौड़ रही है या सफेद साड़ी पहनकर मोमबत्ती लेकर किसी वीरान जगह में कोई महिला निरर्थक इधर-उधर घूम रही है यह सब बात मैं नहीं मानता लेकिन मैं यह जरूर मानता हूं कि मनुष्य की जो चेतना होती है वह किसी न किसी स्तर पर यात्रा भी करती है और रूकती है क्योंकि उस चेतना का अंत नहीं होता आत्मा भी कह सकते हैं और कितना भी कर सकते हैं इतना तो मैं मानूंगा भले विज्ञान कहता हूं कि यह सब बातें मन का भ्रम है लेकिन मेरा यह मानना है कि ऐसी कोई चेतना जरूर होती है जिसे आप चाहे तो भूत-प्रेत का भी नाम दे सकते हैं लेकिन यह चेतना किसी का बुरा नहीं चाह कर भी कुछ नहीं कर सकती होती है

jis prakar filmo mein dikhaya jata hai aur bahut hi kahaniya mein sunaya jata hai yah kisi pipal ke ped par koi kaala saya baithkar logo ko dara raha hai ya paanch wali ke andar se koi chudail nikal logo ko dant kitkitana katne daudh rahi hai ya safed saree pehankar mombatti lekar kisi viraan jagah mein koi mahila nirarthak idhar udhar ghum rahi hai yah sab baat main nahi manata lekin main yah zaroor manata hoon ki manushya ki jo chetna hoti hai vaah kisi na kisi sthar par yatra bhi karti hai aur rukti hai kyonki us chetna ka ant nahi hota aatma bhi keh sakte hain aur kitna bhi kar sakte hain itna toh main manunga bhale vigyan kahata hoon ki yah sab batein man ka bharam hai lekin mera yah manana hai ki aisi koi chetna zaroor hoti hai jise aap chahen toh bhoot pret ka bhi naam de sakte hain lekin yah chetna kisi ka bura nahi chah kar bhi kuch nahi kar sakti hoti hai

जिस प्रकार फिल्मों में दिखाया जाता है और बहुत ही कहानियों में सुनाया जाता है यह किसी पीपल

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  3
WhatsApp_icon
user

Porshia Chawla Ban

Psychologist

1:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखेंगे जो शब्दों का जाल है भूत जिसको आप बोल रहे हैं अंग्रेजी में आता रेशमिया घोष को कहा जाता है बेसिकली वह शरीर है जिसको अभी आगे का उसका मार्कशीट ईयर नहीं हुआ है और मरने के बाद भी वह किसी इंसान को दिख रहा है अब वह दिख रहा है क्योंकि वैसे तो युशली नहीं दिखते हैं क्योंकि वह अलग से कौन सी पर वाइब्रेट होते हैं विकास साइंस में भी प्रूफ कर दिया है अभी की लाइफ के बाद डेथ के बाद भी लाइफ है जब के बाद भी कुछ तो भी हमारा कॉन्शसनेस है कितना है जो ट्रेवल करती है ऐसे बहुत से कमेंट हुए हैं अभी यह कैसी चीज है जिसको फिटनेस को छोड़कर के प्रमाणित नहीं किया जा सकता है लेकिन मैं अब इसमें बार में ऐसी बहुत सारी घटनाएं हैं ऐसी बहुत सारी घटनाओं का विवरण सुनते हैं और वीडियोस भी देखते हैं और उसके अल बाबा पर्सनली अगर कहे तो मैंने किसी भूत को अब जॉब नहीं किया है लेकिन मैंने महसूस किया है दूसरी शक्ति को कि जो एक्सप्लेन नहीं की जा सकती है और भूत होते हैं या नहीं हो मैं नहीं जानती हूं लेकिन हां लाइफ के बाद डेथ के बाद भी लाइफ है या नहीं लाइफ कंटिन्यू करती है सिर्फ बॉडी जो है वह अपना साथ छोड़ देती है पिकअप द डिजीज एक्सीडेंट या कोई भी रीजन की वजह से बॉडी का कनेक्शन कौन से देश के साथ टूट सकता है लेकिन कौन सी चीज है जो सुखी शरीर है उसको बोलेंगे की आत्मा को पापुलरली बोला जाता है

dekhenge jo shabdon ka jaal hai bhoot jisko aap bol rahe hain angrezi mein aata reshmiya ghosh ko kaha jata hai basically vaah sharir hai jisko abhi aage ka uska marksheet year nahi hua hai aur marne ke baad bhi vaah kisi insaan ko dikh raha hai ab vaah dikh raha hai kyonki waise toh yushli nahi dikhte hain kyonki vaah alag se kaun si par vibrate hote hain vikas science mein bhi proof kar diya hai abhi ki life ke baad death ke baad bhi life hai jab ke baad bhi kuch toh bhi hamara consciousness hai kitna hai jo travel karti hai aise bahut se comment hue hain abhi yah kaisi cheez hai jisko fitness ko chhodkar ke pramanit nahi kiya ja sakta hai lekin main ab isme baar mein aisi bahut saree ghatnaye hain aisi bahut saree ghatnaon ka vivran sunte hain aur videos bhi dekhte hain aur uske al baba personally agar kahe toh maine kisi bhoot ko ab job nahi kiya hai lekin maine mehsus kiya hai dusri shakti ko ki jo explain nahi ki ja sakti hai aur bhoot hote hain ya nahi ho main nahi jaanti hoon lekin haan life ke baad death ke baad bhi life hai ya nahi life continue karti hai sirf body jo hai vaah apna saath chod deti hai pickup the disease accident ya koi bhi reason ki wajah se body ka connection kaunsi desh ke saath toot sakta hai lekin kaun si cheez hai jo sukhi sharir hai usko bolenge ki aatma ko papularali bola jata hai

देखेंगे जो शब्दों का जाल है भूत जिसको आप बोल रहे हैं अंग्रेजी में आता रेशमिया घोष को कहा ज

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  8
WhatsApp_icon
user

J.P. Y👌g i

Psychologist

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कि आपका प्रश्न क्या आपको लगता है कि भूत असली में होते हैं तो इस पसंद के जवाब में सिर्फ भूत ही भूत होते हैं हो जाने दो अक्षर होता है एक बिता हुआ काल और एक भूत हो जिसको लोग मरने के बाद उसकी छवि की प्रतिक्रिया कुछ आभास को बताते हैं प्रभुत्व शासन में होते हैं और देखा जाए सारे सारे भूत क्योंकि आधार मानकर ही आगे बढ़ रहा है सिर्फ होने वाली घटना को नहीं जानता ना घटना प्रत्यक्ष होती है लेकिन दिमाग से बनाई गई घटना है उसे भूत बनाकर ऐसी तैसी फेरी है दिमाग के संतुलन को खराब करती है और भूत हो असल में होता है मैं दिखा सकता हूं और बता सकता हूं कैसे होते हैं आप कैसे हो जाते हैं

ki aapka prashna kya aapko lagta hai ki bhoot asli mein hote hain toh is pasand ke jawab mein sirf bhoot hi bhoot hote hain ho jaane do akshar hota hai ek bita hua kaal aur ek bhoot ho jisko log marne ke baad uski chhavi ki pratikriya kuch aabhas ko batatey hain parbhutwa shasan mein hote hain aur dekha jaaye saare saare bhoot kyonki aadhaar maankar hi aage badh raha hai sirf hone wali ghatna ko nahi jaanta na ghatna pratyaksh hoti hai lekin dimag se banai gayi ghatna hai use bhoot banakar aisi taisi pheri hai dimag ke santulan ko kharab karti hai aur bhoot ho asal mein hota hai dikha sakta hoon aur bata sakta hoon kaise hote hain aap kaise ho jaate hain

कि आपका प्रश्न क्या आपको लगता है कि भूत असली में होते हैं तो इस पसंद के जवाब में सिर्फ भूत

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  35
WhatsApp_icon
user

Drmehul_rajgor

Ayurvedic Doctor

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है कि क्या आपको लगता है कि भूत वास्तव में होते हैं जो तरक्की मान्यताएं हैं हम देखा जाए तो आजकल कोई लोग मानने को तैयार ही नहीं क्या भूत है क्योंकि उनको सारी चीजें रिसर्च पर चाहिए हम रूबरू उसको देख सकते हैं कि ऊर्जा लोग ब्लूटूथ को निकालते हैं और उनके जो भी सामने वाला परेशान व्यक्ति है उसके शरीर के अंदर आते कुछ कहता भी है ऐसा नहीं है कि नहीं है

aapka sawaal hai ki kya aapko lagta hai ki bhoot vaastav mein hote hain jo tarakki manyatae hain hum dekha jaaye toh aajkal koi log manne ko taiyar hi nahi kya bhoot hai kyonki unko saree cheezen research par chahiye hum rubaru usko dekh sakte hain ki urja log bluetooth ko nikalate hain aur unke jo bhi saamne vala pareshan vyakti hai uske sharir ke andar aate kuch kahata bhi hai aisa nahi hai ki nahi hai

आपका सवाल है कि क्या आपको लगता है कि भूत वास्तव में होते हैं जो तरक्की मान्यताएं हैं हम दे

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  66
WhatsApp_icon
user

SUBHASH RAO

Spoken English Trainer

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं बिल्कुल नहीं भूत-प्रेत जादू-टोना कुछ नहीं होता यह सब सिर्फ उन लोगों के लिए जो पाखंडवाद को मानते हैं जो अंधविश्वास में पड़े रहते हैं और निस्वार्थ अक्सर लोग कुछ लोग होते हैं कुछ और जो बड़े लोग होते हैं वह निराश को नहीं मानते वह सीधा जो है अगर कुछ होता है तो सीधा डॉक्टर्स बजाते हैं हम भी बियर से हम यहां से या किसी हाईप्रोफाइल डिग्री धारक के पास जाते हो अपना इलाज करवाओ जादू टोना बिल्कुल नहीं मानते और ऐसा विदेशों में नहीं होता

nahi bilkul nahi bhoot pret jadu tona kuch nahi hota yah sab sirf un logo ke liye jo paakhandwaad ko maante hain jo andhavishvas mein pade rehte hain aur niswarth aksar log kuch log hote hain kuch aur jo bade log hote hain vaah nirash ko nahi maante vaah seedha jo hai agar kuch hota hai toh seedha doctors bajaate hain hum bhi beer se hum yahan se ya kisi haiprofail degree dharak ke paas jaate ho apna ilaj karwao jadu tona bilkul nahi maante aur aisa videshon mein nahi hota

नहीं बिल्कुल नहीं भूत-प्रेत जादू-टोना कुछ नहीं होता यह सब सिर्फ उन लोगों के लिए जो पाखंडवा

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  28
WhatsApp_icon
play
user

Subodh Kant upadhyay

Yoga trainer 9935638977

0:07

Likes  21  Dislikes    views  559
WhatsApp_icon
user

Vivek Shukla

Life coach

1:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखी आपने पूछा क्या भूत होते हैं कि सबसे पहली बार विज्ञान भूत नहीं मानता विज्ञान का मानना है कि मानसिक रूप से किसी गलत आदमी को वह आम हो जाता है उसके आस पास कोई है या फिर उसको एक जिंदगी में या फिर से कहीं बर्मन उसका मानसिक संतुलन खो बैठता है तो उसे जिससे वह अधिक लगाव करता है या फिर उसके दिमाग में कुछ ऐसे रह जाता है इसको ऐसा लगने लगता है कि सामने कुछ है या फिर सामने उसके साथ कुछ हो रहा है वह अपने भी मस्त हो जाता है और मेंटल हो जाता है वास्तविकता में भूत नहीं होते ज्यादातर मूवी देख कर बहुत सारे लोग के दिमाग में चढ़ जाता है कि ऐसा होता है या फिर वह अपनी सोच को 24 घंटे से सोचते-सोचते उनका पूरी तरह से मांडल उस में लिप्त हो जाते हैं और वह भी ऐसा सोचने लगते हो क्या गुरु के चर्चा मंच खराब हो जाता है और कुछ लोगों के ऊपर यह मानसिक कमजोरी की स्त्रियों के ऊपर जा सके यह पैदा होता है कि वह मानसिक रूप से पुरुषों की अपेक्षा कमजोर होती है विज्ञान कहता है इसलिए वह मानसिक तौर पर कुछ भी करने थोड़ा सा भी मेंटल हो जाती बहुत सारी पहिले बहुत ही कमाल की होती है ऐसे में उनके मन को बहुत ही जल्दी भ्रमित हो जाते हैं अक्सर आप देखते होंगे किसी भी झाड़ फूंक करने वाली के पास महिलाएं टॉनिक पर कई प्रकार की ताकत की तारीख दी जाती है जिससे उनका मानसिक व शारीरिक रूप से वह जबर हूं और उनका यह मानसिक तरह ऐसे में बेहतर होगा कि भूत प्रेत के ऊपर न पढ़ें और ज्यादा हो सके तो वास्तविकता में चाहिए ओके बाय फ्रेंड

likhi aapne poocha kya bhoot hote hain ki sabse pehli baar vigyan bhoot nahi manata vigyan ka manana hai ki mansik roop se kisi galat aadmi ko vaah aam ho jata hai uske aas paas koi hai ya phir usko ek zindagi mein ya phir se kahin burman uska mansik santulan kho baithta hai toh use jisse vaah adhik lagav karta hai ya phir uske dimag mein kuch aise reh jata hai isko aisa lagne lagta hai ki saamne kuch hai ya phir saamne uske saath kuch ho raha hai vaah apne bhi mast ho jata hai aur mental ho jata hai vastavikta mein bhoot nahi hote jyadatar movie dekh kar bahut saare log ke dimag mein chad jata hai ki aisa hota hai ya phir vaah apni soch ko 24 ghante se sochte sochte unka puri tarah se mandal us mein lipt ho jaate hain aur vaah bhi aisa sochne lagte ho kya guru ke charcha manch kharab ho jata hai aur kuch logo ke upar yah mansik kamzori ki sthreeyon ke upar ja sake yah paida hota hai ki vaah mansik roop se purushon ki apeksha kamjor hoti hai vigyan kahata hai isliye vaah mansik taur par kuch bhi karne thoda sa bhi mental ho jaati bahut saree pahile bahut hi kamaal ki hoti hai aise mein unke man ko bahut hi jaldi bharmit ho jaate hain aksar aap dekhte honge kisi bhi jhad phoonk karne wali ke paas mahilaye tonic par kai prakar ki takat ki tarikh di jaati hai jisse unka mansik va sharirik roop se vaah jabar hoon aur unka yah mansik tarah aise mein behtar hoga ki bhoot pret ke upar na padhen aur zyada ho sake toh vastavikta mein chahiye ok bye friend

लिखी आपने पूछा क्या भूत होते हैं कि सबसे पहली बार विज्ञान भूत नहीं मानता विज्ञान का मानना

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  722
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

3:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने बहुत ही अच्छा सवाल पूछा है क्या असल में भूत होते हैं देखे भूत प्रेत पर तुम्हें भरोसा नहीं करता हूं लेकिन हमारे जीवन में दो बार ऐसी घटना घटित हुई जिसके बाद मैं यह मानता हूं कि अकाल मृत्यु के बाद जो आत्मा होती है जो बचा हुआ जीवन होती है उसे भटक के जीते हैं आत्मा को तो एक बार मैं हॉस्पिटल में था ऊपर करूं था और नीचे फ्रीजर था तो मैं पानी उन्हीं थोड़ा बहुत ज्यादा पीता हूं और ठंडा पानी में ठंडी में भी पीता हूं जो कि बहुत गलत बात है लेकिन आदत है पीना ही पड़ता है तो तीन 3:30 बजे 3:30 बजे में ऊपर से ऐसे ही जिम जाता था शर्ट निकाल कर रहता था वैसे ही गया बोतल लेकर अपना पानी भरने के लिए फ्रीजर फ्रीजर के जस्ट पीछे एक लड़की खड़ी थी जस्ट पीछे मतलब एक हाथ की दूरी पर एक लड़की खड़ी थी तो मुझे भरोसा नहीं हुआ मुझे सोचा मैं सोचा कि अंधविश्वास हो रहा है मुझे तो फिर मैं देखा सामने लड़की खड़ी है एक हाथ पर की दूरी पर तो फिर फिर भी मैं भरोसा नहीं किया लेकिन मैं बोतल का पानी भरा फिर पीछे मुड़ के कुछ दूर तक धीरे धीरे चला और जब गेट आया तो फिर दौड़ के सीडी पर ऊपर गया में अगले दिन में इस कहानी को सभी लोगों को के सामने मैंने रखा जो हॉस्टल थानों का गर्ल्स हॉस्टल था मेडिकल कॉलेज का वहां पर बहुत सारे ऐसे कैसे हुए थे तो सत्य बात थी एक बार गांव में ऐसी घटना हुई थी एक बार मैं छोटा था के साथ में मैं जब पढ़ता था तो मैं रात में आ रहा था मैं डरता हूं पता नहीं हूं तुम्हें रात में आ रहा था तो एक घर के पास बाहर सभी लोग सो गए थे तो एक औरत खड़ी थी तो मैं सोचा दादी है इनके घर कि तुम्हें दादी दादी तीन चार बार बोला कोई आवाज नहीं आई और के पीछे भागा भाई साहब भूत प्रेत होते हैं लेकिन भूत प्रेत उसी को प्रभावित करते हैं जो कमजोर हिर्दय का होता है देखिए अगर आप भगवान की पूजा करते हैं भगवान में आस्था रखते हैं तो आप का भूत प्रेत कुछ नहीं बिगाड़ पाएंगे और आप कभी इनके ऊपर भरोसा भी नहीं करेंगे तो भगवान की पूजा करिए भगवान में आस्था रखिए और स्वच्छता से रहिए दिखे स्वच्छता से रहना जीवन की सबसे बड़ी उपलब्धि है जो स्वच्छता से रहेंगे तो नेगेटिव जो एनर्जी है वह कभी अट्रैक्ट नहीं करती है अगर जो लोग स्वच्छता से नहीं रहते हैं गंदगी से जाते हैं गलत सोचते हैं उनके उनका जिनका हृदय बहुत कमजोर होता है तो उनके ऊपर एक ज्यादा करते हैं तो भगवान की पूजा करें और अगर आपको लगता है कि भूत प्रेत होते हैं तो माननीय अगर नहीं लगता है तो मत मानिए धन्यवाद

aapne bahut hi accha sawaal poocha hai kya asal mein bhoot hote hain dekhe bhoot pret par tumhe bharosa nahi karta hoon lekin hamare jeevan mein do baar aisi ghatna ghatit hui jiske baad main yah manata hoon ki akaal mrityu ke baad jo aatma hoti hai jo bacha hua jeevan hoti hai use bhatak ke jeete hain aatma ko toh ek baar main hospital mein tha upar karu tha aur niche freezer tha toh main paani unhi thoda bahut zyada pita hoon aur thanda paani mein thandi mein bhi pita hoon jo ki bahut galat baat hai lekin aadat hai peena hi padta hai toh teen 3 30 baje 3 30 baje mein upar se aise hi gym jata tha shirt nikaal kar rehta tha waise hi gaya bottle lekar apna paani bharne ke liye freezer freezer ke just peeche ek ladki khadi thi just peeche matlab ek hath ki doori par ek ladki khadi thi toh mujhe bharosa nahi hua mujhe socha main socha ki andhavishvas ho raha hai mujhe toh phir main dekha saamne ladki khadi hai ek hath par ki doori par toh phir phir bhi main bharosa nahi kiya lekin main bottle ka paani bhara phir peeche mud ke kuch dur tak dhire dhire chala aur jab gate aaya toh phir daudh ke CD par upar gaya mein agle din mein is kahani ko sabhi logo ko ke saamne maine rakha jo hostel thanon ka girls hostel tha medical college ka wahan par bahut saare aise kaise hue the toh satya baat thi ek baar gaon mein aisi ghatna hui thi ek baar main chota tha ke saath mein main jab padhata tha toh main raat mein aa raha tha main darta hoon pata nahi hoon tumhe raat mein aa raha tha toh ek ghar ke paas bahar sabhi log so gaye the toh ek aurat khadi thi toh main socha dadi hai inke ghar ki tumhe dadi dadi teen char baar bola koi awaaz nahi I aur ke peeche bhaagaa bhai saheb bhoot pret hote hain lekin bhoot pret usi ko prabhavit karte hain jo kamjor hirday ka hota hai dekhiye agar aap bhagwan ki puja karte hain bhagwan mein astha rakhte hain toh aap ka bhoot pret kuch nahi bigad payenge aur aap kabhi inke upar bharosa bhi nahi karenge toh bhagwan ki puja kariye bhagwan mein astha rakhiye aur swachhta se rahiye dikhe swachhta se rehna jeevan ki sabse badi upalabdhi hai jo swachhta se rahenge toh Negative jo energy hai vaah kabhi attract nahi karti hai agar jo log swachhta se nahi rehte hain gandagi se jaate hain galat sochte hain unke unka jinka hriday bahut kamjor hota hai toh unke upar ek zyada karte hain toh bhagwan ki puja kare aur agar aapko lagta hai ki bhoot pret hote hain toh mananiya agar nahi lagta hai toh mat maniye dhanyavad

आपने बहुत ही अच्छा सवाल पूछा है क्या असल में भूत होते हैं देखे भूत प्रेत पर तुम्हें भरोसा

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  578
WhatsApp_icon
user

Ram Kumar Anil Prajapati

Civil Aspirant | Career Counsellor

1:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आपका प्रश्न है क्या आपको लगता है कि भूत असली में होते हैं जी हां मैं बिल्कुल स्पष्ट कर देना चाहता हूं भूत होते हैं इसमें कोई दो राय नहीं है लेकिन कुछ साइंस के स्टूडेंट कहते हैं कि भैया भूत मत कुछ नहीं होता तो मैं उनको एक बात स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि जो साइंस की स्टूडेंट है ना वह अपनी माता जी से पूछे उनकी अगर दादा है दादा जी से पूछे अगर उनके नाना है तो नाना जी से पूछे बूढ़े बुजुर्ग से पूछा तो वह बताएंगे आपको क्या वाकई में भूत होते हैं और एक तरीके से साइंस तो यह भी कहता है कि गॉड नहीं होता है तो हमारे स्वामी विवेकानंद जी से पूछिए विवेकानंद जी ने कोर्ट को माना है और चुकी पहली नहीं मानते थे और एक बात समझिए साइंस बनाया किसने बनाया है साइंस को डेवलप किया है यूरोप में यूरोप कभी गोट को नहीं मानता है इसीलिए हमारे यहां की स्टूडेंट बोलते हैं कि भूत होता नहीं है गॉड होता नहीं भैया मैं भी एक साइंस का स्टूडेंट हूं मगर मैं मानता हूं हमारे पूर्वजों ने माना है कि जिस जिस माता ने जन्म दिया उसे माता कहते हैं या यूरोप वाले कह दे कि भैया यूरोप वाले दूध एक बात समझ यूरोप वाले तो जिस को जन्म देते हैं उसको हमें माता कहना चाहिए माता जी कह सकते हैं अम्मा कह सकते हैं अम्मा तमिल भाषा का शब्द है लेकिन यूरोप वालों ने यहां आकर क्या कह दिया उसको कह दिया मम्मी मम्मी आप गूगल पर डाल कर देख लीजिए मम्मी किसको कहा जाता है तो मम्मी कहा जाता है मरे हुए को आप गूगल पर डाल कर देख सकते हैं मम्मी किसे कहा जाता है तो यूरोप की संस्कृति के पीछे भागते हो इंडिया का जो कल्चरल है उसे बनाकर रखी असल में यह होते हैं बाकी होते हैं थैंक यू

dekhiye aapka prashna hai kya aapko lagta hai ki bhoot asli mein hote hain ji haan main bilkul spasht kar dena chahta hoon bhoot hote hain isme koi do rai nahi hai lekin kuch science ke student kehte hain ki bhaiya bhoot mat kuch nahi hota toh main unko ek baat spasht kar dena chahta hoon ki jo science ki student hai na vaah apni mata ji se pooche unki agar dada hai dada ji se pooche agar unke nana hai toh nana ji se pooche budhe bujurg se poocha toh vaah batayenge aapko kya vaakai mein bhoot hote hain aur ek tarike se science toh yah bhi kahata hai ki god nahi hota hai toh hamare swami vivekananda ji se puchiye vivekananda ji ne court ko mana hai aur chuki pehli nahi maante the aur ek baat samjhiye science banaya kisne banaya hai science ko develop kiya hai europe mein europe kabhi goat ko nahi manata hai isliye hamare yahan ki student bolte hain ki bhoot hota nahi hai god hota nahi bhaiya main bhi ek science ka student hoon magar main manata hoon hamare purvajon ne mana hai ki jis jis mata ne janam diya use mata kehte hain ya europe waale keh de ki bhaiya europe waale doodh ek baat samajh europe waale toh jis ko janam dete hain usko hamein mata kehna chahiye mata ji keh sakte hain amma keh sakte hain amma tamil bhasha ka shabd hai lekin europe walon ne yahan aakar kya keh diya usko keh diya mummy mummy aap google par daal kar dekh lijiye mummy kisko kaha jata hai toh mummy kaha jata hai mare hue ko aap google par daal kar dekh sakte hain mummy kise kaha jata hai toh europe ki sanskriti ke peeche bhagte ho india ka jo cultural hai use banakar rakhi asal mein yah hote hain baki hote hain thank you

देखिए आपका प्रश्न है क्या आपको लगता है कि भूत असली में होते हैं जी हां मैं बिल्कुल स्पष्ट

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  409
WhatsApp_icon
user

Shreekant

Startups

1:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी बिल्कुल नहीं मैं नहीं मानता कि भूत होते हैं दुनिया में एक चीज पर मैटर जो होता है हर ऑब्जेक्ट होता है हर चीज कुछ भी दुनिया में है मतलब हम भी तो हैं धरती के हमारी उसकी फिकर चीजों से सेव है इसलिए हमें कोई डिफरेंस नहीं दिखता कि हमें एक दूसरे दूसरे लोग हमें वाइब्रेट करते नहीं दिखते हो वैसे क्योंकि हम सब्जेक्ट है तो ऐसा भी हो सकता है कि कुछ चीजें हो कुछ एनर्जी की चीजें हो या मैटर जो ऐसा भी हो सकता है मैं मानता हूं कि दूसरे बीइंग सो सकते हैं जो कम ज्यादा फ्रिकवेंसी पर अलग फ्रिकवेंसी पर वाइब्रेट करते दिखते नहीं है दुनिया में भी होते हैं

ji bilkul nahi main nahi manata ki bhoot hote hain duniya mein ek cheez par matter jo hota hai har object hota hai har cheez kuch bhi duniya mein hai matlab hum bhi toh hain dharti ke hamari uski fikar chijon se save hai isliye hamein koi difference nahi dikhta ki hamein ek dusre dusre log hamein vibrate karte nahi dikhte ho waise kyonki hum subject hai toh aisa bhi ho sakta hai ki kuch cheezen ho kuch energy ki cheezen ho ya matter jo aisa bhi ho sakta hai manata hoon ki dusre being so sakte hain jo kam zyada frequency par alag frequency par vibrate karte dikhte nahi hai duniya mein bhi hote hain

जी बिल्कुल नहीं मैं नहीं मानता कि भूत होते हैं दुनिया में एक चीज पर मैटर जो होता है हर ऑब्

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  22
WhatsApp_icon
user

Ghanshyamvan

मंदिर सेवा

1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए जो बीत गया उसे भी भूतकाल कहते हैं भोजाई भूत होते हैं कोई अकाल मृत्यु मर जाता है कोई आत्महत्या कर लेता है या किसी की मृत्यु एक्सीडेंट में हो जाती है और उन्हें साथ में से कोई शरीर नहीं मिलता और मेंबर आत्माएं भटकती रहती है उसमें अच्छी आत्मा भी होती है और बुरी आत्मा की होती है जब तक उन्हें दूसरा शरीर नहीं मिलता वह आत्मा ही भूत चलाते हैं वैसे देखा किसी ने नहीं है शास्त्र सम्मत है यदि किसी को परेशानी हो भी जाती है उसके शरीर में बोलता भी है तो लगता है कि वास्तव में कहीं से उसके शरीर में वह बीमारी कह सकते हो भूत कह सकते हो बहुत सी ऐसी बीमारी होती है जो डॉक्टर के भी वश में नहीं होती डॉक्टर भी समझ नहीं पाता ऐसी बीमारी को बहुत से लोग कह देते हैं इसके तो भूत लग गया तो भूत तो वे होते हैं जो अकाल मरते मरते हैं जिन्हें सॉरी नहीं मिलता

dekhiye jo beet gaya use bhi bhootkaal kehte hain bhojai bhoot hote hain koi akaal mrityu mar jata hai koi atmahatya kar leta hai ya kisi ki mrityu accident mein ho jaati hai aur unhe saath mein se koi sharir nahi milta aur member aatmaen bhatakti rehti hai usme achi aatma bhi hoti hai aur buri aatma ki hoti hai jab tak unhe doosra sharir nahi milta vaah aatma hi bhoot chalte hain waise dekha kisi ne nahi hai shastra sammat hai yadi kisi ko pareshani ho bhi jaati hai uske sharir mein bolta bhi hai toh lagta hai ki vaastav mein kahin se uske sharir mein vaah bimari keh sakte ho bhoot keh sakte ho bahut si aisi bimari hoti hai jo doctor ke bhi vash mein nahi hoti doctor bhi samajh nahi pata aisi bimari ko bahut se log keh dete hain iske toh bhoot lag gaya toh bhoot toh ve hote hain jo akaal marte marte hain jinhen sorry nahi milta

देखिए जो बीत गया उसे भी भूतकाल कहते हैं भोजाई भूत होते हैं कोई अकाल मृत्यु मर जाता है कोई

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  491
WhatsApp_icon
user

Mehmood Alum

Law Student

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वैज्ञानिकों द्वारा लाखों कोशिश किए जाने के बावजूद भी भूतों के वजूद को प्रमाणित नहीं किया जा सका है अतः या हम बंगाली तौर पर कह सकते हैं कि भूत नहीं होते हैं लेकिन विश्व भर में लोक कथाओं में भूतों का वर्णन किया जाता रहा है और इसलिए फिल्मों और विनय नाटकों में भी भूतों का प्रदर्शन किया जाता है लेकिन इसका कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है वैज्ञानिक आधार पर हम यह कह सकते हैं कि भूत नहीं होते हैं

vaigyaanikon dwara laakhon koshish kiye jaane ke bawajud bhi bhooton ke wajood ko pramanit nahi kiya ja saka hai atah ya hum bengali taur par keh sakte hain ki bhoot nahi hote hain lekin vishwa bhar mein lok kathao mein bhooton ka varnan kiya jata raha hai aur isliye filmo aur vinay natakon mein bhi bhooton ka pradarshan kiya jata hai lekin iska koi vaigyanik aadhaar nahi hai vaigyanik aadhaar par hum yah keh sakte hain ki bhoot nahi hote hain

वैज्ञानिकों द्वारा लाखों कोशिश किए जाने के बावजूद भी भूतों के वजूद को प्रमाणित नहीं किया ज

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  475
WhatsApp_icon
user

Nakul✨

Student

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे भूतों का तो नहीं पता बट आपको तारों में चीजें होती है दिखाइए यूट्यूब पर इंच नेट पर हर जगह पर इतने सारे एविडेंसेस कि हमें पता नहीं है या नहीं बट भूत आत्मा कारणों में चीजें इन सब का रूट कहीं से तो आया हूं गाना आई एम आई नोट से मुझे बीच में रहना पसंद है बस मुझे ऐसा लगता है और मुझे ऐसा भी नहीं लगता कि भूत नहीं है खुद कुछ कारणों में चीजें एक्सपीरियंस की है अपनी लाइफ में जो आई कांट एक्सप्लेन मैं नहीं बता सकता क्योंकि उसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है मेरे पास मैंने उसके बारे में बहुत रिसर्च मुझे कुछ नहीं मिला इसकी वजह से मुझे लगता है कि ऐसा कुछ होगा भी बहुत होगा इस नोट चौकन्ना चोर बाजार ऐसा कुछ तो है जो अनवेल है जैसे हवा में कुछ होता है या अनएक्सप्लेनेबल उसे प्ले नहीं किया जा सकता वह कुछ और ही होता है

mujhe bhooton ka toh nahi pata but aapko taaron mein cheezen hoti hai dikhaaiye youtube par inch net par har jagah par itne saare evidences ki hamein pata nahi hai ya nahi but bhoot aatma karanon mein cheezen in sab ka root kahin se toh aaya hoon gaana I M I note se mujhe beech mein rehna pasand hai bus mujhe aisa lagta hai aur mujhe aisa bhi nahi lagta ki bhoot nahi hai khud kuch karanon mein cheezen experience ki hai apni life mein jo I kant explain main nahi bata sakta kyonki uska koi side effect nahi hai mere paas maine uske bare mein bahut research mujhe kuch nahi mila iski wajah se mujhe lagta hai ki aisa kuch hoga bhi bahut hoga is note chaukanna chor bazaar aisa kuch toh hai jo unwell hai jaise hawa mein kuch hota hai ya unexplainable use play nahi kiya ja sakta vaah kuch aur hi hota hai

मुझे भूतों का तो नहीं पता बट आपको तारों में चीजें होती है दिखाइए यूट्यूब पर इंच नेट पर हर

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  657
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वह सिर्फ हमारा वह होता है

vaah sirf hamara vaah hota hai

वह सिर्फ हमारा वह होता है

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  44
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एचडी भूत वगैरह तो कुछ नहीं होता है हमारे यहां हम जो यह अगर हम कुछ गलत कर लेता है या कुछ ऐसा होता है जो हम सोच मतलब कुछ भी ऐसा हो जाए भूत तो नहीं होता है कि यह सिर्फ एक भ्रम होता है कि यह है वह है आप कुछ गलत करोगे यार कॉमेडी बैठ जा बैठ जा वह डर ही तुम्हारा भूत बन जाता है बहुत कुछ नहीं होता है

hd bhoot vagera toh kuch nahi hota hai hamare yahan hum jo yah agar hum kuch galat kar leta hai ya kuch aisa hota hai jo hum soch matlab kuch bhi aisa ho jaaye bhoot toh nahi hota hai ki yah sirf ek bharam hota hai ki yah hai vaah hai aap kuch galat karoge yaar comedy baith ja baith ja vaah dar hi tumhara bhoot ban jata hai bahut kuch nahi hota hai

एचडी भूत वगैरह तो कुछ नहीं होता है हमारे यहां हम जो यह अगर हम कुछ गलत कर लेता है या कुछ ऐस

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  478
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां बिलकुल होते हैं जैसे कोई कोई बेमौत मारा होता है पहले से 1 दिन हुआ कुछ भी हुआ उनकी आत्मा भटकती फिरती हैं

ji haan bilkul hote hain jaise koi koi bemaut mara hota hai pehle se 1 din hua kuch bhi hua unki aatma bhatakti firti hain

जी हां बिलकुल होते हैं जैसे कोई कोई बेमौत मारा होता है पहले से 1 दिन हुआ कुछ भी हुआ उनकी आ

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  4
WhatsApp_icon
user

Priya MI

Student

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या आपको लगता है कि भूत असली में होते हैं भूत असल में नहीं होते यह सिर्फ हम सबका वहम होता है यह जो आत्माएं होती है यह जो मतलब कि अनजाने में किसी से गलती से किसी की मौत हो जाती है उनकी थोड़ी बहुत आत्माएं भटकती है इधर उधर और वह हमसे कुछ नहीं कहते हैं होते तो है पर वह आपको कोई कुछ मतलब कि कुछ तक लंदा दे नहीं करते वो सिर्फ इधर-उधर भटकते रहते हैं आत्माएं हमारे पास 24 घंटे रहती है कभी कोई आत्मा आती है कभी कोई आत्मा आती है

kya aapko lagta hai ki bhoot asli mein hote hain bhoot asal mein nahi hote yah sirf hum sabka vaham hota hai yah jo aatmaen hoti hai yah jo matlab ki anjaane mein kisi se galti se kisi ki maut ho jaati hai unki thodi bahut aatmaen bhatakti hai idhar udhar aur vaah humse kuch nahi kehte hain hote toh hai par vaah aapko koi kuch matlab ki kuch tak landa de nahi karte vo sirf idhar udhar bhatakte rehte hain aatmaen hamare paas 24 ghante rehti hai kabhi koi aatma aati hai kabhi koi aatma aati hai

क्या आपको लगता है कि भूत असली में होते हैं भूत असल में नहीं होते यह सिर्फ हम सबका वहम होत

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  167
WhatsApp_icon
user

gaurav singh

studying

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

परदुषण क्या आपको लगता है कि भूत असली में होते हैं तो देखें दोस्तों भूत वह होता है जो बीत चुका होता है तथा हमारे माइंड में प्रिवेंट हमारी यादें होती हैं और यदि आप सोच रहे हो वह फिल्मों वाले विलन भूत ऐसा कुछ नहीं होता है क्योंकि ऐसा साइंस के अनुसार माना जाता है यह सभी 1 तरीके की पावर सोती हैं कुछ हाई पावर स्कूल ऑफ आवर बेड और गुड पावर इन हम बेड पावर समान सकते हैं लेकिन इन्हें भूत मारना अच्छा नहीं होगा

paradushan kya aapko lagta hai ki bhoot asli mein hote hain toh dekhen doston bhoot vaah hota hai jo beet chuka hota hai tatha hamare mind mein prevent hamari yaadain hoti hain aur yadi aap soch rahe ho vaah filmo waale vilen bhoot aisa kuch nahi hota hai kyonki aisa science ke anusaar mana jata hai yah sabhi 1 tarike ki power soti hain kuch high power school of hour bed aur good power in hum bed power saman sakte hain lekin inhen bhoot marna accha nahi hoga

परदुषण क्या आपको लगता है कि भूत असली में होते हैं तो देखें दोस्तों भूत वह होता है जो बीत च

Romanized Version
Likes  34  Dislikes    views  800
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी नहीं हम तो बहुत नहीं मानते हैं होते हैं कि नहीं यह तो हम बता नहीं सकते

ji nahi hum toh bahut nahi maante hain hote hain ki nahi yah toh hum bata nahi sakte

जी नहीं हम तो बहुत नहीं मानते हैं होते हैं कि नहीं यह तो हम बता नहीं सकते

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  4
WhatsApp_icon
user

Rounak Romi

Philosopher & Activist

2:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है क्या आपको लगता है कि भूत असली में होते हैं मेरा उत्तर है जी हां जिस तरह हम इस दुनिया में रहते हैं यानी हमारी जीवित जीवो की दुनिया है इसमें हम मनुष्य रूप में जी रहे हैं और हमारे साथ साथ ही कई पशु-पक्षी पेड़-पौधे इत्यादि भी जीव रूप में स्थित है इसी जगत के साथ एक और जगत है जिसे पर अनोखी दुनिया या फिर आना वर्ल्ड कहते हैं जो कि इस दृश्य जगत के साथ ही एक अदृश्य जगत के रूप में चल रही है जिसमें कहा जाता है कि हम हमारे अंदर भी वही आत्मा है लेकिन जब वह आत्मा श्री रूप में नहीं होती है तो वह पैरानॉर्मल वर्ल्ड में पर अनोखी दुनिया में विचरण कर रही होती है और उनके पास भी कुछ शक्ति सामर्थ और ऊर्जा का उपयोग करने की क्षमता होती है जिसके माध्यम से वे कुछ एक्टिविटीज करती है जिनसे हम या तो भयभीत हो जाते हैं या प्रभावित हो जाते जिन्हें पैरानॉर्मल या प्रायोगिक गतिविधियां कहते हैं तो असल में अगर कहें कि भूत यानी पैरानॉर्मल वर्ल्ड पर अनोखी दुनिया जो कि हमारे जो दुनिया है हमारे साथ साथ ही वह दुनिया भी चल रही है वह अदृश्य जगत में होती है उसमें हो रही गतिविधि हम देख नहीं सकते हैं लेकिन हां कुछ गतिविधियों को महसूस किया जा सकता है इससे संबंधित विज्ञान भी है जिसके माध्यम से कई पूर्व में घटित हुई और वर्तमान में घटित हो रही घटनाओं को जांच में लिया गया उन पर शोध किया गया रिसर्च किया गया जिससे यह सिद्ध होता है कि हां अदृश्य जगत में विचरण कर ही आत्माएं कुछ गतिविधियां करती है जिसे हमने भूत प्रेत इत्यादि का नाम दिया गया है तुझे साकी प्रश्न है कि आपको लगता है कि भूत असली में होते हैं इसका उत्तर में कमवा जी हां भूत होते हैं वह होती आत्मा ही है जो पायलों की दुनिया में विचरण कर रही होती है और कुछ गतिविधियों के माध्यम से हमें प्रभावित करती है जिसे हमने भूत का नाम दिया होता है

prashna hai kya aapko lagta hai ki bhoot asli mein hote hain mera uttar hai ji haan jis tarah hum is duniya mein rehte hain yani hamari jeevit jeevo ki duniya hai isme hum manushya roop mein ji rahe hain aur hamare saath saath hi kai pashu pakshi ped paudhe ityadi bhi jeev roop mein sthit hai isi jagat ke saath ek aur jagat hai jise par anokhi duniya ya phir aana world kehte hain jo ki is drishya jagat ke saath hi ek adrishya jagat ke roop mein chal rahi hai jisme kaha jata hai ki hum hamare andar bhi wahi aatma hai lekin jab vaah aatma shri roop mein nahi hoti hai toh vaah paranormal world mein par anokhi duniya mein vichran kar rahi hoti hai aur unke paas bhi kuch shakti samarth aur urja ka upyog karne ki kshamta hoti hai jiske madhyam se ve kuch activities karti hai jinse hum ya toh bhayabhit ho jaate hain ya prabhavit ho jaate jinhen paranormal ya prayogik gatividhiyan kehte hain toh asal mein agar kahein ki bhoot yani paranormal world par anokhi duniya jo ki hamare jo duniya hai hamare saath saath hi vaah duniya bhi chal rahi hai vaah adrishya jagat mein hoti hai usme ho rahi gatividhi hum dekh nahi sakte hain lekin haan kuch gatividhiyon ko mehsus kiya ja sakta hai isse sambandhit vigyan bhi hai jiske madhyam se kai purv mein ghatit hui aur vartaman mein ghatit ho rahi ghatnaon ko jaanch mein liya gaya un par shodh kiya gaya research kiya gaya jisse yah siddh hota hai ki haan adrishya jagat mein vichran kar hi aatmaen kuch gatividhiyan karti hai jise humne bhoot pret ityadi ka naam diya gaya hai tujhe saqi prashna hai ki aapko lagta hai ki bhoot asli mein hote hain iska uttar mein kamwa ji haan bhoot hote hain vaah hoti aatma hi hai jo payalon ki duniya mein vichran kar rahi hoti hai aur kuch gatividhiyon ke madhyam se hamein prabhavit karti hai jise humne bhoot ka naam diya hota hai

प्रश्न है क्या आपको लगता है कि भूत असली में होते हैं मेरा उत्तर है जी हां जिस तरह हम इस द

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  27
WhatsApp_icon
user
0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिसका भूतों में विश्वास होता है उसके लिए होता है जिसका नहीं होता उनके लिए नहीं होता यह वास्तविकता और विज्ञान के बारे में तो विज्ञान कभी समानता नहीं है दिमाग कुछ चीजें होती है उनके बीच अलग कर देता कुछ भी जैसा मतलब है विद्युत चुंबकीय चीजें का देता था जो ज्ञान नहीं है तो ऐसी चीज होती है जो झूठ बताइए अच्छा भाभी जी

jiska bhooton mein vishwas hota hai uske liye hota hai jiska nahi hota unke liye nahi hota yah vastavikta aur vigyan ke bare mein toh vigyan kabhi samanata nahi hai dimag kuch cheezen hoti hai unke beech alag kar deta kuch bhi jaisa matlab hai vidyut chumbakiye cheezen ka deta tha jo gyaan nahi hai toh aisi cheez hoti hai jo jhuth bataiye accha bhabhi ji

जिसका भूतों में विश्वास होता है उसके लिए होता है जिसका नहीं होता उनके लिए नहीं होता यह व

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  620
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
bhabhi ji aur bhoot ; सुखी डीसी गांव का भूत ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!