आपको अपने माता पिता के बारे में क्या पसंद है?...


user

Porshia Chawla Ban

Psychologist

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां मुझे अपने माता-पिता के बारे में यह पसंद है कि वह बहुत ही ईमानदार हैं सीधे-साधे हैं और जो सत्य है जो सच है उसी का साथ देते हैं और वह जो शिक्षा दी है वह आज तक काम आ रही है अभी भी काम आ रही है और उसी के बलबूते पर आज हम जो भी हैं वह हम बन पाए हैं तो वह जो संस्कार हैं वह मुझे उनसे तो मिले हैं वह बात पसंद है मुझे और उनके अंदर चलेगी हेक्सामिता है वह मुझे बहुत 4 टच करती है वह मेरे को बहुत प्राउड फील होता है कि वह मेरे पैरंट्स

haan mujhe apne mata pita ke bare mein yah pasand hai ki vaah bahut hi imaandaar hain seedhe saadhe hain aur jo satya hai jo sach hai usi ka saath dete hain aur vaah jo shiksha di hai vaah aaj tak kaam aa rahi hai abhi bhi kaam aa rahi hai aur usi ke balbute par aaj hum jo bhi hain vaah hum ban paye hain toh vaah jo sanskar hain vaah mujhe unse toh mile hain vaah baat pasand hai mujhe aur unke andar chalegi heksamita hai vaah mujhe bahut 4 touch karti hai vaah mere ko bahut proud feel hota hai ki vaah mere Parents

हां मुझे अपने माता-पिता के बारे में यह पसंद है कि वह बहुत ही ईमानदार हैं सीधे-साधे हैं और

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  295
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Niraj Devani

PHILOSOPHER

1:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए माता-पिता सब के ज्यादातर एक जैसे होते हैं बच्चों के लिए आम जिंदगी में अलग अलग हो गया लेकिन बच्चों के लिए तो माता पिता का प्यार सब माता-पिता का सब बच्चों के लिए सही होता है लेकिन अगर माता-पिता के गुण की बात करें और सुना लिया कर कि मेरे माता-पिता की सबसे अच्छा क्या है तो अगर मैं अपने पिताजी की बात करूं तो पिताजी मेरे हैं वह तो मैं मानो कि अगर धरती पर मैंने कहीं भगवान देखा है तो मेरे पिताजी क्योंकि उनका स्वभाव इतना अच्छा है आज तक उन्हें करीब 8 साल अभी होने लेकिन आज तक उन्होंने अपने लिए कभी कुछ नहीं लिया शौक से ज्यादातर वह सब चीजें परिवार को खुश रखने के लिए ही करते हैं खरीदते हैं और हम अगर कोई चीज उनको खरीद के दे दो ही वह यूज करते हैं जीवन जरूरी चीजों की बात अलग है लेकिन अपने शॉप वगैरह वह हमारे सब पूरे करते हैं और सब परिवार का ख्याल रखते अच्छी-अच्छी चीजें खिलाना पिलाना सबको खुश रखना और मेरी मम्मी है उनका नेचर भी ऐसा वैसा नहीं है वह अपने लिए भी कुछ सब करती है लेकिन दूसरों को खिलाना कुछ पैसे इकट्ठा करके जो गरीब हो उनकी मदद करना मेहमान को घर आए तो उनको अच्छी तरह से रखना यह सब उनकी पसंदीदा चीज है और वह आम जिंदगी में भी सबके साथ बहुत अच्छी तरह से व्यवहार करती है तो दोनों ही बहुत अच्छे हैं बस यही कह सकता हूं और शायद सबके मां-बाप को ऐसे ही होंगे मैं ऐसी कामना करता हूं

dekhiye mata pita sab ke jyadatar ek jaise hote hai baccho ke liye aam zindagi mein alag alag ho gaya lekin baccho ke liye toh mata pita ka pyar sab mata pita ka sab baccho ke liye sahi hota hai lekin agar mata pita ke gun ki baat kare aur suna liya kar ki mere mata pita ki sabse accha kya hai toh agar main apne pitaji ki baat karu toh pitaji mere hai vaah toh main maano ki agar dharti par maine kahin bhagwan dekha hai toh mere pitaji kyonki unka swabhav itna accha hai aaj tak unhe kareeb 8 saal abhi hone lekin aaj tak unhone apne liye kabhi kuch nahi liya shauk se jyadatar vaah sab cheezen parivar ko khush rakhne ke liye hi karte hai kharidte hai aur hum agar koi cheez unko kharid ke de do hi vaah use karte hai jeevan zaroori chijon ki baat alag hai lekin apne shop vagera vaah hamare sab poore karte hai aur sab parivar ka khayal rakhte achi achi cheezen khilana pilaana sabko khush rakhna aur meri mummy hai unka nature bhi aisa waisa nahi hai vaah apne liye bhi kuch sab karti hai lekin dusro ko khilana kuch paise ikattha karke jo garib ho unki madad karna mehmaan ko ghar aaye toh unko achi tarah se rakhna yah sab unki pasandida cheez hai aur vaah aam zindagi mein bhi sabke saath bahut achi tarah se vyavhar karti hai toh dono hi bahut acche hai bus yahi keh sakta hoon aur shayad sabke maa baap ko aise hi honge main aisi kamna karta hoon

देखिए माता-पिता सब के ज्यादातर एक जैसे होते हैं बच्चों के लिए आम जिंदगी में अलग अलग हो गया

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  583
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

3:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे माता-पिता का डिसिप्लिन बजे शुरू से पसंद आया उनका डिसिप्लिन पर अच्छा था मेरी मां फिल्म का डिसिप्लिन रखती थी प्रेम से वैसे समझाती थी एक एक बात के लिए सचेत करती थी मेरा एक मित्र था बचपन का जो बहुत खराब संगत का था उसकी पढ़ने में मानसिकता कम थी और वह लोग ससुरा में पड़ा हुआ था मेरी मां ने मुझे एक दिन बड़ा करके समझाया इसके साथ रहोगे तो पढ़नी पाओगे बेहतर तुमको यही है तुम इस विसंगति छोड़ दो तो भी तुम इस गलती की में फंस गए तो ना बेस्ट कॉलेजेस इन प्राप्त कर पाओगी ना एबीसी प्राप्त होगी जो सपने हम लोगों ने देखे हैं वह कभी पूरे नहीं होंगे बेटा और तुम गुड जॉब प्राप्त नहीं कर सकोगे वाली लाइफ बर्बाद हो जाए उसकी बात को माना और मजदूरों से दूर हो क्या मेरी लाइफ तो बनाने में मेरी मां का बहुत बड़ा हाथ है मैं मेरी मां को हमेशा इस बात के लिए याद करता रहूंगा कि वह पढ़ी-लिखी नहीं थी लेकिन उन्हें पढ़ने के प्रति बच्चों को हमेशा प्रेरित किया सकती थी क्योंकि उस दौर में पढ़ाई लिखाई नहीं चला करती थी इसलिए मेरी मां पढ़ने सकी लेकिन मैं उसकी एक बात आज भी आ सकता हूं कि दूसरों को पढ़ने में प्रेरणा देने में उसका कोई मुकाबला नहीं था मेरे पिता मेरे पिता एक गवर्नमेंट अरविंद को जानते थे उन्होंने मुझे कभी भी ना रोका न टोका लेकिन हां उनको दो चार बातें बहुत पक्की थी उनकी नंबर 1 आप दिनभर कहीं भी किसी मित्र के साथ नहीं बैठी है लेकिन रात को 8:00 8:30 बजे अब घर में घुस जाएंगे उसके बाद भी आप आए तो आपको पनिश पर मिलेगा इतना पागल बना दिया टाइम का यह टाइम की पंचवटी मेरे पिता ने भेजी थी और बाकी मैंने सर्विस में इसका पूरा लाभ उठाया टाइम पंकज व्यक्ति से अफसर भी डरता है ईमानदार व्यक्ति से अफसर भी डरता है अफसर को भी डर लगता है ईमानदारी का एक बहुत बड़ा नशा होता है ईमानदारी का एक बहुत बड़ा दुख तब होता है ईमानदार व्यक्ति को हर कोई चाहता है क्योंकि उसके पास जिसके पास केबीटी है जो डिसिप्लिन का पक्का है टाइम का फंक्शन है वह व्यक्ति हमेशा दबंग तहसील सर्विस करता है परिणाम स्वरूप मेरी पूरी सर्विस मनी सलमान के साथ अच्छी तरह से पूर्ण कि इन सब बातों में में मेरे माता-पिता का बहुत बड़ा ऋणी हूं और माता-पिता किरण को तो कहा नहीं जा सकता है सिर्फ मैं उनके प्रति कृतज्ञता जाहिर कर सकता हूं और आज आपको मैं अपनी बात शेयर कर रहा हूं

mere mata pita ka discipline baje shuru se pasand aaya unka discipline par accha tha meri maa film ka discipline rakhti thi prem se waise samjhati thi ek ek baat ke liye sachet karti thi mera ek mitra tha bachpan ka jo bahut kharab sangat ka tha uski padhne mein mansikta kam thi aur vaah log sasura mein pada hua tha meri maa ne mujhe ek din bada karke samjhaya iske saath rahoge toh padhani paoge behtar tumko yahi hai tum is visangati chod do toh bhi tum is galti ki mein fans gaye toh na best colleges in prapt kar paogi na ABC prapt hogi jo sapne hum logo ne dekhe hain vaah kabhi poore nahi honge beta aur tum good job prapt nahi kar sakoge wali life barbad ho jaaye uski baat ko mana aur majduro se dur ho kya meri life toh banane mein meri maa ka bahut bada hath hai meri maa ko hamesha is baat ke liye yaad karta rahunga ki vaah padhi likhi nahi thi lekin unhe padhne ke prati baccho ko hamesha prerit kiya sakti thi kyonki us daur mein padhai likhai nahi chala karti thi isliye meri maa padhne saki lekin main uski ek baat aaj bhi aa sakta hoon ki dusro ko padhne mein prerna dene mein uska koi muqabla nahi tha mere pita mere pita ek government arvind ko jante the unhone mujhe kabhi bhi na roka na toka lekin haan unko do char batein bahut pakki thi unki number 1 aap dinbhar kahin bhi kisi mitra ke saath nahi baithi hai lekin raat ko 8 00 8 30 baje ab ghar mein ghus jaenge uske baad bhi aap aaye toh aapko punish par milega itna Pagal bana diya time ka yah time ki panchawati mere pita ne bheji thi aur baki maine service mein iska pura labh uthaya time pankaj vyakti se officer bhi darta hai imaandaar vyakti se officer bhi darta hai officer ko bhi dar lagta hai imaandaari ka ek bahut bada nasha hota hai imaandaari ka ek bahut bada dukh tab hota hai imaandaar vyakti ko har koi chahta hai kyonki uske paas jiske paas KBT hai jo discipline ka pakka hai time ka function hai vaah vyakti hamesha dabang tehsil service karta hai parinam swaroop meri puri service money salman ke saath achi tarah se purn ki in sab baaton mein mein mere mata pita ka bahut bada rini hoon aur mata pita kiran ko toh kaha nahi ja sakta hai sirf main unke prati kritagyata jaahir kar sakta hoon aur aaj aapko main apni baat share kar raha hoon

मेरे माता-पिता का डिसिप्लिन बजे शुरू से पसंद आया उनका डिसिप्लिन पर अच्छा था मेरी मां फिल्म

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  542
WhatsApp_icon
user

Gurudev Jyotish Kendra, Call-09334552913

Online Astrologer & Palmist, Gemstones Advice, Astrology Solution/Remedies

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे मुझे मेरे माता-पिता में दो चीजें पसंद है जो इतने सालों से लगता है व्यक्ति आया हूं सादा जीवन और उन दृष्टि यह दो चीजें बहुत पसंद है मैं इतने सालों से काम करता हूं बिजनेस करता हूं अट्ठारह उन्नीस साल हो गए मैंने यह दो चीजें को बरकरार रखा है अपने लाइफ में मेरा लाइफ भी सादा जीवन है उन्हें सिटी से भरा हुआ है इंदु रीजन के कारण मुझको कभी मन में अशांति नहीं होती है मन हमेशा शांत रहता है मैं एक ऑनलाइन एस्ट्रोलॉजर हूं किसी प्रकार के कोई एडवाइस चाहिए तो आप मुझे कॉल कर सकते हैं मेरा नंबर है 93425 29913 मेरे वेबसाइट डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट माय गुड लक डॉट इन

mere mujhe mere mata pita mein do cheezen pasand hai jo itne salon se lagta hai vyakti aaya hoon saada jeevan aur un drishti yah do cheezen bahut pasand hai itne salon se kaam karta hoon business karta hoon attharah unnis saal ho gaye maine yah do cheezen ko barkaraar rakha hai apne life mein mera life bhi saada jeevan hai unhe city se bhara hua hai indu reason ke karan mujhko kabhi man mein ashanti nahi hoti hai man hamesha shaant rehta hai ek online Astrologer hoon kisi prakar ke koi advice chahiye toh aap mujhe call kar sakte hain mera number hai 93425 29913 mere website WWW dot my good luck dot in

मेरे मुझे मेरे माता-पिता में दो चीजें पसंद है जो इतने सालों से लगता है व्यक्ति आया हूं साद

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user

Vivek Shukla

Life coach

1:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो वैसे तुम्हारी सबसे ज्यादा अपनी माता से प्रेम करता हूं लेकिन फिर भी मेरे पिताजी का कहना है कि मैं उनका बेटा हूं या फिर भाई बहन अपनी मां के हैं मेरे पिताजी ज्यादा तक मुझसे प्रेम करते हैं अभी तुम्हारे लेकिन मैं फिर भी अपने माता-पिता दोनों से ही बहुत लगाव है बहुत ही प्रेम करता हूं उनका हमेशा मन में हमारे प्रति यह लगाव होता है इसे मुझे बहुत ज्यादा पसंद है वह हमेशा मुझे माने कुछ अच्छा या फिर कुछ नया करने में बहुत यारा मदद करते हैं क्योंकि जब भी मैं किसी फैसले पर लेना चाहता हूं तो मेरे पास बात मेरी आदत है कि मैं लड़का होकर भी अपनी मां या पिता जी से ज्यादा बातें नहीं छुपाते गीत में किसी से प्रेम करता हूं ये किसी की चाहत रखता हूं तो अपनी पिक चाहिए माता जी को तुरंत बता देता हूं मैं से चाहता हूं क्या क्या हुआ पानी इंटर कास्ट की हो क्या कि गांव का मै बिलॉन्ग करता हूं गांव में आप जानते हैं कि बड़ा दिक्कत होता है ऐसे माता पिता माता पिता बहुत ही सही चला और बहुत ही अच्छी बातों को सिखाते हैं क्योंकि कहते हैं कि मेरे पास बताइए किस चीज का थे कि बेटा सब कुछ करना कभी भी जिंदगी में किसी के विश्वास के साथ मत करना क्योंकि उसका आदमी का विश्वास आज तुम खो दोगे 1 दिन ऊपर वाला तुम्हारे साथ भी भाई करेगा इसलिए बेहतर होगा कि अपनी जिंदगी में वह कभी मत करना जो तुम खुद के साथ होता ना देख सकूं बस तभी से मेरी जिंदगी सुधर गया और मैंने आज तक कभी किसी के साथ क्यों नहीं की वजह नहीं बना ओके बाय फ्रेंड

dekho waise tumhari sabse zyada apni mata se prem karta hoon lekin phir bhi mere pitaji ka kehna hai ki main unka beta hoon ya phir bhai behen apni maa ke hain mere pitaji zyada tak mujhse prem karte hain abhi tumhare lekin main phir bhi apne mata pita dono se hi bahut lagav hai bahut hi prem karta hoon unka hamesha man mein hamare prati yah lagav hota hai ise mujhe bahut zyada pasand hai vaah hamesha mujhe maane kuch accha ya phir kuch naya karne mein bahut yaara madad karte hain kyonki jab bhi main kisi faisle par lena chahta hoon toh mere paas baat meri aadat hai ki main ladka hokar bhi apni maa ya pita ji se zyada batein nahi chhupaate geet mein kisi se prem karta hoon ye kisi ki chahat rakhta hoon toh apni pic chahiye mata ji ko turant bata deta hoon main se chahta hoon kya kya hua paani inter caste ki ho kya ki gaon ka mai Belong karta hoon gaon mein aap jante hain ki bada dikkat hota hai aise mata pita mata pita bahut hi sahi chala aur bahut hi achi baaton ko sikhaate hain kyonki kehte hain ki mere paas bataye kis cheez ka the ki beta sab kuch karna kabhi bhi zindagi mein kisi ke vishwas ke saath mat karna kyonki uska aadmi ka vishwas aaj tum kho doge 1 din upar vala tumhare saath bhi bhai karega isliye behtar hoga ki apni zindagi mein vaah kabhi mat karna jo tum khud ke saath hota na dekh sakun bus tabhi se meri zindagi sudhar gaya aur maine aaj tak kabhi kisi ke saath kyon nahi ki wajah nahi bana ok bye friend

देखो वैसे तुम्हारी सबसे ज्यादा अपनी माता से प्रेम करता हूं लेकिन फिर भी मेरे पिताजी का कहन

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  743
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

2:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए हमको हमारे माता पिता के बारे में सबसे अधिक पसंद यही आता है कि हमारे माता-पिता बहुत ईमानदार हैं हमेशा दूसरों की मदद के लिए खड़े होते हैं और हम लोगों को अपने बच्चों को कभी हमारे माता-पिता ने अपना अपनी की भावना नहीं सिखाया हमेशा यही सिखाया कि बेटा जहां भी रहना ईमानदारी से रहना अच्छाई से रहना और गरीब लोगों का हमेशा मदद करना और खासतौर पर लड़कियों का हमेशा सम्मान करना महिलाओं का हमेशा सम्मान करना बुजुर्गों का भी सम्मान करना और इस भावना से कार्य करना और अपना कैरेक्टर हमेशा अच्छा रखना तो हमें लगता है कि हमारे माता-पिता भी इंडिया के सबसे अच्छे माता-पिता हैं प्रधानमंत्री मोदी जी के जी की मां बहुत अच्छी हैं उनके जैसा कोई नहीं है लेकिन मेरी मां मेरे पिताजी बहुत अच्छे हैं मेरे पापा ने आज तक कभी किसी का ₹1 इधर-उधर नहीं किया होगा उन्होंने किसी दूसरे को दिया होगा लेकिन आज तक उन्होंने कभी ₹1 ही दर्द नहीं किया आज के डेट में हम हमारी पूरी फैमिली एजुकेटेड है और सब लोग अच्छे जगह है सेटल तो ईमानदारी से रहना चाहिए देखे जिसके माता-पिता अच्छे होते हैं ना उनके बच्चे बुलंदियों को छूते हैं आज प्रधानमंत्री मोदी देश के प्रधानमंत्री बन गए चाय बनाने वाले का बेटा देश का प्रधानमंत्री बन गया वह कैसे बन गया उसके पीछे उसके माता-पिता का बहुत बड़ा योगदान है माता पिता के संस्कारों का असर है तब जाके वह इतने बड़े बड़े आदमी बने तो अगर आपके माता-पिता अच्छा से रहते हैं अच्छा सोचते हैं अच्छा कार्य करते हैं तो पक्का आप आगे बढ़ो गे तो बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जो बहुत सारे लोग आप देखे होंगे बहुत सारी स्टूडेंट ऐसे होते हैं जो बहुत तेज होते हैं पढ़ने में लेकिन उनके माता-पिता का कर्म खराब होता है नंबर दो का पैसा अपने घर लेकर आती हैं दूसरों के साथ उनके पिताजी नाइंसाफी करते हैं जबरदस्ती किसी की जमीन पर कब्जा कर लेते हैं तो ऐसे लोगों की जो बच्चे होते हैं जो पढ़ने में बहुत इंटेलिजेंट होते हैं आपने देखा होगा वह एकदम डाइवर्ट हो जाता है उनका माइंड डाइवर्ट क्यों हो जाता है गलती उस लड़के की नहीं है गलती उनके माता-पिता की है तो माता-पिता को ईमानदार रहना चाहिए और दुनिया के हर एक माता-पिता को एक सबक अपने बच्चे को अवश्य सिखाना चाहिए वह है अपना अपनी की भावना मत करो बेटा हमेशा दूसरों को भी अपना अपना परिवार समझो दूसरों के माता-पिता को अपने माता पिता की तरह ट्रीट करो दूसरों की बहन बेटियों को अपनी बहन बेटियों की नजर से देखो यह सबसे बड़ा सजेशन होता है और यह जो बच्चे सीख लेते हैं वह महान बनते हैं धन्यवाद

dekhiye hamko hamare mata pita ke bare mein sabse adhik pasand yahi aata hai ki hamare mata pita bahut imaandaar hain hamesha dusro ki madad ke liye khade hote hain aur hum logo ko apne baccho ko kabhi hamare mata pita ne apna apni ki bhavna nahi sikhaya hamesha yahi sikhaya ki beta jaha bhi rehna imaandaari se rehna acchai se rehna aur garib logo ka hamesha madad karna aur khaasataur par ladkiyon ka hamesha sammaan karna mahilaon ka hamesha sammaan karna bujurgon ka bhi sammaan karna aur is bhavna se karya karna aur apna character hamesha accha rakhna toh hamein lagta hai ki hamare mata pita bhi india ke sabse acche mata pita hain pradhanmantri modi ji ke ji ki maa bahut achi hain unke jaisa koi nahi hai lekin meri maa mere pitaji bahut acche hain mere papa ne aaj tak kabhi kisi ka Rs idhar udhar nahi kiya hoga unhone kisi dusre ko diya hoga lekin aaj tak unhone kabhi Rs hi dard nahi kiya aaj ke date mein hum hamari puri family educated hai aur sab log acche jagah hai settle toh imaandaari se rehna chahiye dekhe jiske mata pita acche hote hain na unke bacche bulandiyon ko chhute hain aaj pradhanmantri modi desh ke pradhanmantri ban gaye chai banane waale ka beta desh ka pradhanmantri ban gaya vaah kaise ban gaya uske peeche uske mata pita ka bahut bada yogdan hai mata pita ke sanskaron ka asar hai tab jake vaah itne bade bade aadmi bane toh agar aapke mata pita accha se rehte hain accha sochte hain accha karya karte hain toh pakka aap aage badho gay toh bahut saare log aise hote hain jo bahut saare log aap dekhe honge bahut saree student aise hote hain jo bahut tez hote hain padhne mein lekin unke mata pita ka karm kharab hota hai number do ka paisa apne ghar lekar aati hain dusro ke saath unke pitaji nainsafi karte hain jabardasti kisi ki jameen par kabza kar lete hain toh aise logo ki jo bacche hote hain jo padhne mein bahut Intelligent hote hain aapne dekha hoga vaah ekdam Divert ho jata hai unka mind Divert kyon ho jata hai galti us ladke ki nahi hai galti unke mata pita ki hai toh mata pita ko imaandaar rehna chahiye aur duniya ke har ek mata pita ko ek sabak apne bacche ko avashya sikhaana chahiye vaah hai apna apni ki bhavna mat karo beta hamesha dusro ko bhi apna apna parivar samjho dusro ke mata pita ko apne mata pita ki tarah treat karo dusro ki behen betiyon ko apni behen betiyon ki nazar se dekho yah sabse bada suggestion hota hai aur yah jo bacche seekh lete hain vaah mahaan bante hain dhanyavad

देखिए हमको हमारे माता पिता के बारे में सबसे अधिक पसंद यही आता है कि हमारे माता-पिता बहुत ई

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  527
WhatsApp_icon
user

Mehmood Alum

Law Student

0:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे माता-पिता की कोई भी ऐसी चीज नहीं है जो मुझे पसंद ना हो वह मेरे लिए आदर्श और आइडियल इंसान है

mere mata pita ki koi bhi aisi cheez nahi hai jo mujhe pasand na ho vaah mere liye adarsh aur ideal insaan hai

मेरे माता-पिता की कोई भी ऐसी चीज नहीं है जो मुझे पसंद ना हो वह मेरे लिए आदर्श और आइडियल इं

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  379
WhatsApp_icon
user

Vimla Bidawatka

Spiritual Thinker

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे अपने माता पिता के बारे में पसंद है कि मैं बहुत पसंद है जो हर मां-बाप ही देते होंगे मालूम नहीं मुझे लेकिन मेरे मां-बाप ने तो मेरे माता पिता ने मुझे बहुत बहुत बहुत प्यार दिया जब उनका वह प्यार वाला सोफा हर समय आप सपोर्ट करना या के रिंग इसको बोल सकते हैं यह ध्यान रखना सपोज अगर मैंने कुछ पा लिया और अगर उनकी हैसियत है तो वह कोशिश करके जरूर उसको देने की कोशिश करेंगे करते थे ऐसा मेरा कहना है तो उनका बुक प्यार वाला ही स्वभाव मुझे बहुत पसंद है कभी उन्होंने मुझे गुस्सा नहीं किया ऐसा नहीं कि डांटा हो पढ़ाई के लिए भी प्रेरित करते थे तो माता-पिता के बारे में बस इतना ही बोल सकती हूं मतलब उनके बारे में तो ऐसे शब्द नहीं है बोलने के लिए लेकिन फिर भी जितना एक मां अपने बच्चों को प्यार करती है मुझे लगता है उससे ज्यादा ही शायद उन्होंने किया होगा और एक पिता जी ने पिता ने हमेशा ध्यान रखा कि हमारी बच्ची को कोई तकलीफ तो नहीं है या हर हर तरह से उन्होंने हर फील्ड में मदद की है तो उनको नहीं भूल सकती हो मैं तो अपने माता पिता का प्यार बहुत ज्यादा पसंद है

mujhe apne mata pita ke bare mein pasand hai ki main bahut pasand hai jo har maa baap hi dete honge maloom nahi mujhe lekin mere maa baap ne toh mere mata pita ne mujhe bahut bahut bahut pyar diya jab unka vaah pyar vala Sofa har samay aap support karna ya ke ring isko bol sakte hain yah dhyan rakhna suppose agar maine kuch paa liya aur agar unki haisiyat hai toh vaah koshish karke zaroor usko dene ki koshish karenge karte the aisa mera kehna hai toh unka book pyar vala hi swabhav mujhe bahut pasand hai kabhi unhone mujhe gussa nahi kiya aisa nahi ki danta ho padhai ke liye bhi prerit karte the toh mata pita ke bare mein bus itna hi bol sakti hoon matlab unke bare mein toh aise shabd nahi hai bolne ke liye lekin phir bhi jitna ek maa apne baccho ko pyar karti hai mujhe lagta hai usse zyada hi shayad unhone kiya hoga aur ek pita ji ne pita ne hamesha dhyan rakha ki hamari bachi ko koi takleef toh nahi hai ya har har tarah se unhone har field mein madad ki hai toh unko nahi bhool sakti ho main toh apne mata pita ka pyar bahut zyada pasand hai

मुझे अपने माता पिता के बारे में पसंद है कि मैं बहुत पसंद है जो हर मां-बाप ही देते होंगे मा

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  498
WhatsApp_icon
user

Mohit Chouksey

Business Coach at MLM

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां सबसे पे

haan sabse pe

हां सबसे पे

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  488
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमको अपने माता और पिता के बारे में यह पसंद है कि हम उनके अच्छे तरह से देखभाल करें और उनके कर्तव्य उनके कहने से हम अच्छे रास्ते पर चले ताकि हम को कोई दिक्कत या परेशानी नहीं है मां-बाप का यही कर्तव्य रहता है

hamko apne mata aur pita ke bare mein yah pasand hai ki hum unke acche tarah se dekhbhal kare aur unke kartavya unke kehne se hum acche raste par chale taki hum ko koi dikkat ya pareshani nahi hai maa baap ka yahi kartavya rehta hai

हमको अपने माता और पिता के बारे में यह पसंद है कि हम उनके अच्छे तरह से देखभाल करें और उनके

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  2
WhatsApp_icon
user
1:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मां बाप के ना कहा जाए उतना कम है मां-बाप इंसान के लिए धरती पर बड़े इंसान होते हैं उनके जैसा दुनिया में कोई इंसान को प्यार नहीं दे पाता मां कोला में जन्नत बना कर भेजा उसके दिल में बेशुमार मोहब्बत कसम अंदर रख दिया अब आप को जन्नत का दरवाजा बना कर भेजा वह इन दोनों के लिए जितना भी लिखा जाए जितना भी बोला जाए वह कम है इनकी तारीफ के लिए इस दुनिया में शब्द नहीं और इनकी तारी मैं करना इस इंसान के बस की बात नहीं

maa baap ke na kaha jaaye utana kam hai maa baap insaan ke liye dharti par bade insaan hote hain unke jaisa duniya mein koi insaan ko pyar nahi de pata maa cola mein jannat bana kar bheja uske dil mein beshumar mohabbat kasam andar rakh diya ab aap ko jannat ka darwaja bana kar bheja vaah in dono ke liye jitna bhi likha jaaye jitna bhi bola jaaye vaah kam hai inki tareef ke liye is duniya mein shabd nahi aur inki tari main karna is insaan ke bus ki baat nahi

मां बाप के ना कहा जाए उतना कम है मां-बाप इंसान के लिए धरती पर बड़े इंसान होते हैं उनके जैस

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  2
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे अपने माता पिता के बारे में अच्छे संस्कार मुझे प्राप्त हो यह मुझे पसंद है

mujhe apne mata pita ke bare mein acche sanskar mujhe prapt ho yah mujhe pasand hai

मुझे अपने माता पिता के बारे में अच्छे संस्कार मुझे प्राप्त हो यह मुझे पसंद है

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  6
WhatsApp_icon
user
0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमें अपने माता पिता के बारे में या पसंद है वह हमेशा हमेशा पोस्ट करते हैं और हमारी इच्छाओं को ध्यान में रखते हुए उसे पूरा करते हैं और हमें किसी प्रकार की दिक्कत या तकलीफ नहीं होने देते

hamein apne mata pita ke bare mein ya pasand hai vaah hamesha hamesha post karte hain aur hamari ikchao ko dhyan mein rakhte hue use pura karte hain aur hamein kisi prakar ki dikkat ya takleef nahi hone dete

हमें अपने माता पिता के बारे में या पसंद है वह हमेशा हमेशा पोस्ट करते हैं और हमारी इच्छाओं

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  4
WhatsApp_icon
user

Namrata

Student

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे माता-पिता हमें जन्म देकर अच्छी राह पर चलना सिखाया और हमारा हमारे पास पालन पोषण और हर चीज पर आप ढंग से ध्यान देकर हमें पढ़ाया लिखाया हमारे लिए बहुत काफी बहुत बहुत हटके अच्छा है

hamare mata pita hamein janam dekar achi raah par chalna sikhaya aur hamara hamare paas palan poshan aur har cheez par aap dhang se dhyan dekar hamein padhaya likhaya hamare liye bahut kaafi bahut bahut hatake accha hai

हमारे माता-पिता हमें जन्म देकर अच्छी राह पर चलना सिखाया और हमारा हमारे पास पालन पोषण और हर

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  606
WhatsApp_icon
user
0:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वह हमेशा सच्चाई का साथ देते हैं

vaah hamesha sacchai ka saath dete hain

वह हमेशा सच्चाई का साथ देते हैं

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  2
WhatsApp_icon
user

Shravan Kumar jat

Sports Man And Teacher

1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कि कि मैं मेरे माता-पिता का इतना आभार जताता हूं कि उन्होंने मुझे इस दुनिया में लाया और इस दुनिया में मुझे ला करके इतना बड़ा किया इतनी इज्जत भी सम्मान भी इतना कष्ट सहा खैर उनकी भी कोई मजबूरी होती है कि वह भी आगे नहीं बढ़ पाए लेकिन उनकी जो मजबूरियां थी उनको दूर करने का हमने मन में पूरा-पूरा ध्यान रखा है उन्होंने मेरा नाम वैसे ही श्रवण कुमार रखा है अब पापा जी की तबीयत वैसे 3 साल से खराब चल रही है लेकिन जो प्राचीन काल में शुरू हुआ करता था आज उसी की नकल करके 3 साल से मेरे पापा जी की सेवा कर रहा हूं वैसे तो मैं 2005 से ही हमारे दुकान है दुकान पर मैं काम करता हूं पंचर की दुकान है उसी पर काम करता हूं और काम करके पंचर की दुकान पर काम करके फिर मैं उनकी सेवा भी क्या करता हूं सुबह शाम और उनके दुकान हेल्प करता था लेकिन अब 3 साल से उनकी तबीयत ज्यादा खराब रहने लग गई तो फिर मैं उनकी तबीयत की बहुत ज्यादा ध्यान रखने लग गया और उनकी मैं अच्छे से सेवा पानी करने लग गया और क्योंकि उनके बगैर हमारा जीवन यहां पर जीना असंभव होता है उनका एक आशीर्वाद में इतनी शक्ति होती है कि कहीं पर कोई हरा नहीं सकता और उसी आशीर्वाद के बगैर आज हमारी इतनी इज्जत है घर-परिवार समाज गांव मोहल्ले शहर में जिससे कि हम आगे बढ़ पा रहे हैं भगवान हमारे पर ऐसे ही कृपा बनाए रखें और हमारे माता-पिता को स्वस्थ सुखी रखें और हमारी नियत भी बिल्कुल सही अच्छी रखें हम उनकी ऐसे ही सेवा भाव से वफा करते रहे और वह अच्छा जीवन जिए

ki ki main mere mata pita ka itna abhar jataata hoon ki unhone mujhe is duniya mein laya aur is duniya mein mujhe la karke itna bada kiya itni izzat bhi sammaan bhi itna kasht saha khair unki bhi koi majburi hoti hai ki vaah bhi aage nahi badh paye lekin unki jo majabooriyan thi unko dur karne ka humne man mein pura pura dhyan rakha hai unhone mera naam waise hi shravan kumar rakha hai ab papa ji ki tabiyat waise 3 saal se kharab chal rahi hai lekin jo prachin kaal mein shuru hua karta tha aaj usi ki nakal karke 3 saal se mere papa ji ki seva kar raha hoon waise toh main 2005 se hi hamare dukaan hai dukaan par main kaam karta hoon puncher ki dukaan hai usi par kaam karta hoon aur kaam karke puncher ki dukaan par kaam karke phir main unki seva bhi kya karta hoon subah shaam aur unke dukaan help karta tha lekin ab 3 saal se unki tabiyat zyada kharab rehne lag gayi toh phir main unki tabiyat ki bahut zyada dhyan rakhne lag gaya aur unki main acche se seva paani karne lag gaya aur kyonki unke bagair hamara jeevan yahan par jeena asambhav hota hai unka ek ashirvaad mein itni shakti hoti hai ki kahin par koi hara nahi sakta aur usi ashirvaad ke bagair aaj hamari itni izzat hai ghar parivar samaj gaon mohalle shehar mein jisse ki hum aage badh paa rahe hain bhagwan hamare par aise hi kripa banaye rakhen aur hamare mata pita ko swasthya sukhi rakhen aur hamari niyat bhi bilkul sahi achi rakhen hum unki aise hi seva bhav se wafa karte rahe aur vaah accha jeevan jiye

कि कि मैं मेरे माता-पिता का इतना आभार जताता हूं कि उन्होंने मुझे इस दुनिया में लाया और इस

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  453
WhatsApp_icon
user
0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मम्मी पापा के बारे में तो हर किसी को बहुत अच्छा पसंद रहता है मां-बाप दुनिया का सबसे अनमोल तोहफा है जिसको मिलता है उसकी उसको उसकी कदर नहीं होती है पर भाई समझ भी सकता है क्योंकि मम्मी है है कितनी भी कुछ भी कमाते हो झगड़े हो मम्मी पापा साथ नहीं छोड़ते अगर हमारे लाइफ में बहुत बड़ी से बड़ी ट्रेजरी आती है तो वही मां बाप ने सपोर्ट करते हैं भले कुछ भी बोलते हैं हमें लेकिन टाइम आने पर वही साथ देते तो मम्मी पापा मैं वही चीजें बहुत पसंद है तू अपने बच्चों को हमेशा लेकर चलते वह कैसा भी वह मेंटल हो या जो भी है

mummy papa ke bare mein toh har kisi ko bahut accha pasand rehta hai maa baap duniya ka sabse anmol tohfa hai jisko milta hai uski usko uski kadar nahi hoti hai par bhai samajh bhi sakta hai kyonki mummy hai hai kitni bhi kuch bhi kamate ho jhagde ho mummy papa saath nahi chodte agar hamare life mein bahut badi se badi treasury aati hai toh wahi maa baap ne support karte hain bhale kuch bhi bolte hain hamein lekin time aane par wahi saath dete toh mummy papa main wahi cheezen bahut pasand hai tu apne baccho ko hamesha lekar chalte vaah kaisa bhi vaah mental ho ya jo bhi hai

मम्मी पापा के बारे में तो हर किसी को बहुत अच्छा पसंद रहता है मां-बाप दुनिया का सबसे अनमोल

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
play
user
0:09

Likes  9  Dislikes    views  288
WhatsApp_icon
user

gaurav singh

studying

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एप्लीकेशन आपका अपने माता पिता में क्या पसंद है देखिए दोस्तों मुझे अपने माता-पिता में सारी खूबियां सभी चीजें पसंद है लेकिन मैं उनकी एक बात को हमेशा आगे रखूंगा कि उन्होंने मुझ पर बहुत विश्वास किया है और मैं उनके विश्वास को कभी डगमगाने नहीं दूंगा तथा अपने कार्यों मैं अपने प्रयासों से उनका विश्वास अंततः बनाए रखूंगा

application aapka apne mata pita mein kya pasand hai dekhiye doston mujhe apne mata pita mein saree khubiya sabhi cheezen pasand hai lekin main unki ek baat ko hamesha aage rakhunga ki unhone mujhse par bahut vishwas kiya hai aur main unke vishwas ko kabhi dagamagane nahi dunga tatha apne karyo main apne prayaso se unka vishwas antatah banaye rakhunga

एप्लीकेशन आपका अपने माता पिता में क्या पसंद है देखिए दोस्तों मुझे अपने माता-पिता में सारी

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  605
WhatsApp_icon
user

Er Jaisingh

Mathematics Solution, 1:00PM TO 2:00PM

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको अपने माता पिता के बारे में क्या पसंद है क्योंकि मेरे माता-पिता है नहीं है फ्री में बताना चाहूंगा कि माता-पिता के बारे में क्या पसंद है माता पिता के बारे में उनकी आज्ञा का पालन करना हमारा परम कर्तव्य

aapko apne mata pita ke bare mein kya pasand hai kyonki mere mata pita hai nahi hai free mein bataana chahunga ki mata pita ke bare mein kya pasand hai mata pita ke bare mein unki aagya ka palan karna hamara param kartavya

आपको अपने माता पिता के बारे में क्या पसंद है क्योंकि मेरे माता-पिता है नहीं है फ्री में बत

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  463
WhatsApp_icon
user

Imran Ansari

Electrician at Treasure Xpart

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मुझे अपने माता पिता के बारे में सबसे अच्छी बात लगती है उनकी यात्रा लगती है खैर मेरी मां तो है नहीं मगर पापा है उनकी सबसे प्यारी अदा यह लगती है मुझे कि मैं जब भी तुमको देखता हूं या वह मुझे देख लेते हैं अगर हम एक दूसरे को देख ले तो वह मुझे देख कर मुस्कुराते हैं वह मुस्कुराहट जब उनकी देखता हूं तो मैं जीवन को सफल मानता हूं और मैं अपने आप को खुशनसीब समझता हूं तुम जैसे पिता की छत्रछाया मेरी जिंदगी गुजारने का जो वक्त मिला है इस दुनिया में आकर उन्होंने मुझे जी मालधारी का वफादारी का और जिंदगी जीने का सबक दिया है शायद ही मुझे स्कूल की पढ़ाई से मिला है तो यह उनकी अदा मुझे बहुत पसंद आती है और जिनको देखकर मैं खुश होता हूं मेरे पापा है

lekin mujhe apne mata pita ke bare mein sabse achi baat lagti hai unki yatra lagti hai khair meri maa toh hai nahi magar papa hai unki sabse pyaari ada yah lagti hai mujhe ki main jab bhi tumko dekhta hoon ya vaah mujhe dekh lete hain agar hum ek dusre ko dekh le toh vaah mujhe dekh kar muskurate hain vaah muskurahat jab unki dekhta hoon toh main jeevan ko safal manata hoon aur main apne aap ko khushnaseeb samajhata hoon tum jaise pita ki chatrachaya meri zindagi gujarne ka jo waqt mila hai is duniya mein aakar unhone mujhe ji maldhari ka wafadaaree ka aur zindagi jeene ka sabak diya hai shayad hi mujhe school ki padhai se mila hai toh yah unki ada mujhe bahut pasand aati hai aur jinako dekhkar main khush hota hoon mere papa hai

लेकिन मुझे अपने माता पिता के बारे में सबसे अच्छी बात लगती है उनकी यात्रा लगती है खैर मेरी

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  776
WhatsApp_icon
user

Lokesh kesharwani

Psychologist & Philosopher (Life Coach), Counsellor Of Everything.

0:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे माता-पिता द्वारा मेरा ख्याल रखा जाना है मुझे सबसे अधिक पसंद है धन्यवाद

mere mata pita dwara mera khayal rakha jana hai mujhe sabse adhik pasand hai dhanyavad

मेरे माता-पिता द्वारा मेरा ख्याल रखा जाना है मुझे सबसे अधिक पसंद है धन्यवाद

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  280
WhatsApp_icon
user

MOHIT KUMAR

COMPANY WORKER

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं अपने माता पिता के बारे में या पसंद करता हूं कि उन्होंने मुझे इतनी फैसिलिटी जितनी इतना मान सम्मान दिया है कि कितना मान सम्मान दिया है कि मैं उनका एहसान कभी नहीं भूल सकता हूं पूरा सबसे ज्यादा मेहंदी या पसंद करता हूं कि मेरे माता-पिता मुझसे ज्यादा मेरी ना पसंद पसंद को जानते हैं ई-मेल लिए काफी है धन्यवाद

main apne mata pita ke bare mein ya pasand karta hoon ki unhone mujhe itni facility jitni itna maan sammaan diya hai ki kitna maan sammaan diya hai ki main unka ehsaan kabhi nahi bhool sakta hoon pura sabse zyada mehendi ya pasand karta hoon ki mere mata pita mujhse zyada meri na pasand pasand ko jante hain ee male liye kaafi hai dhanyavad

मैं अपने माता पिता के बारे में या पसंद करता हूं कि उन्होंने मुझे इतनी फैसिलिटी जितनी इतना

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  30
WhatsApp_icon
user

Ramesh Prajapati

||....Be....Legendary......||

2:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पीके मेरे माता पिता के बारे में मैं आपको बताऊंगा मेरे माता-पिता बहुत सीधे-साधे हैं और वह एक दिल के हैं साहब के उनके काम कोई आए चाहे चाहे ना आए वह सब के काम आते हैं मेरे मम्मी पापा ने आज तक पर कभी हाथ नहीं उठाया बचपन से लेकर अब तक एकदम तरीके से सलीके से हमको पाला पोसा है और मेरे मम्मी पापा मुझे हमेशा एक ही रास्ता दिखाते और सही रास्ते पर चलने के लिए हमेशा कहते हैं मेरे मम्मी पापा बोलते ही घमंड इंसान को पर बात कर लेता है मेरे मम्मी पापा से किसी एक पैसे का भी घमंड नहीं है पापा क्या तो यह दुनिया नफरत से नहीं चलती है सहूलियत से ईमानदारी से चलती है दिल दिमाग में अगर घमंड है तो पीछे रह जाओगे अन्यथा अन्यथा अब आगे कभी नहीं बढ़ सकते दिलशाद रखे मन साफ रखिए अब तो कोई कुछ आपका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता और मेरे मम्मी पापा यह भी कहते हैं कि जो जो अगर दूसरे के दूसरों के बारे में बुरा सोचता है ना कुछ नहीं होता बुरा सोचने वाले का ही बहुत कुछ हो जाता है और मेरे मम्मी पापा कहते हैं कि भगवान पर विश्वास रखिए और खुद पर विश्वास रखिए विनीत श्यामली रिश्ते पर विश्वास रखिए अगर कोई हमारे साथ धोखा करता है तो शांत स्वभाव से उस उस धोखे को सही है ब्लड वारना चीजें ऊपरवाला अपने आप उसको सबक सिखाएगा क्योंकि मां-बाप की बातें सब कुछ रखते हैं और आपका सवाल जो है आपको अपने माता पिता के बारे में क्या पसंद है तो बस यह जो सारे मेरे बातें बताई आपको मुझे अपने माता-पिता में सारी बातें पसंद है धन्यवाद

pk mere mata pita ke bare mein main aapko bataunga mere mata pita bahut sidhe saadhe hain aur vaah ek dil ke hain saheb ke unke kaam koi aaye chahen chahen na aaye vaah sab ke kaam aate hain mere mummy papa ne aaj tak par kabhi hath nahi uthaya bachpan se lekar ab tak ekdam tarike se salike se hamko pala posa hai aur mere mummy papa mujhe hamesha ek hi rasta dikhate aur sahi raste par chalne ke liye hamesha kehte hain mere mummy papa bolte hi ghamand insaan ko par baat kar leta hai mere mummy papa se kisi ek paise ka bhi ghamand nahi hai papa kya toh yah duniya nafrat se nahi chalti hai sahuliyat se imaandaari se chalti hai dil dimag mein agar ghamand hai toh peeche reh jaoge anyatha anyatha ab aage kabhi nahi badh sakte dilshad rakhe man saaf rakhiye ab toh koi kuch aapka koi kuch nahi bigad sakta aur mere mummy papa yah bhi kehte hain ki jo jo agar dusre ke dusro ke bare mein bura sochta hai na kuch nahi hota bura sochne waale ka hi bahut kuch ho jata hai aur mere mummy papa kehte hain ki bhagwan par vishwas rakhiye aur khud par vishwas rakhiye vineet shyamali rishte par vishwas rakhiye agar koi hamare saath dhokha karta hai toh shaant swabhav se us us dhokhe ko sahi hai blood varna cheezen uparwala apne aap usko sabak sikhayenge kyonki maa baap ki batein sab kuch rakhte hain aur aapka sawaal jo hai aapko apne mata pita ke bare mein kya pasand hai toh bus yah jo saare mere batein batai aapko mujhe apne mata pita mein saree batein pasand hai dhanyavad

पीके मेरे माता पिता के बारे में मैं आपको बताऊंगा मेरे माता-पिता बहुत सीधे-साधे हैं और वह ए

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  535
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ईमानदारी और ढेर सारा प्यार

imaandaari aur dher saara pyar

ईमानदारी और ढेर सारा प्यार

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  498
WhatsApp_icon
user

Priya MI

Student

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको अपने माता पिता के बारे में क्या पसंद है माता पिता एक ऐसी चीज होती है जो जिंदगी में दोबारा कभी नहीं मिल सकती कभी भी नहीं उनकी तो हर चीज ही हमें पसंद आती है सिर्फ एक थोड़ा बहुत डांट पसंद नहीं आती वरना अगस्त बाद में जाकर अच्छी लगने लगती है बाबा ओके मैं तो हर चीज में हमें अच्छी लगती है

aapko apne mata pita ke bare mein kya pasand hai mata pita ek aisi cheez hoti hai jo zindagi mein dobara kabhi nahi mil sakti kabhi bhi nahi unki toh har cheez hi hamein pasand aati hai sirf ek thoda bahut dant pasand nahi aati varna august baad mein jaakar achi lagne lagti hai baba ok main toh har cheez mein hamein achi lagti hai

आपको अपने माता पिता के बारे में क्या पसंद है माता पिता एक ऐसी चीज होती है जो जिंदगी में द

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  166
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए इसमें तो सब के माता पिता भाई को प्यार करते हैं लेकिन मेरे माता-पिता को ऐसे हैं कि कोई भी लिख देना होता है आपस में रहकर की कोई भी देते हैं

dekhiye isme toh sab ke mata pita bhai ko pyar karte hain lekin mere mata pita ko aise hain ki koi bhi likh dena hota hai aapas mein rahkar ki koi bhi dete hain

देखिए इसमें तो सब के माता पिता भाई को प्यार करते हैं लेकिन मेरे माता-पिता को ऐसे हैं कि को

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user

Preeti

Political Science Teacher

1:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसे कि आपका सवाल है कि आप को अपने माता पिता के बारे में क्या क्या पसंद करते हैं तो मैं आपको बताना चाहूंगी मैं अपने माता पिता के बारे में उनके विश्वास है उनका जज्बा और उनमें काम करने के लिए गए क्षमता होती है उनकी लगन होती है उनको काम करने का एक तरीका होता है वह किस परिस्थिति में किस प्रकार से खड़े रहते हैं यह तरीका मुझे बहुत पसंद है और मैं अपनी माता जी हमारे साथ खड़ी रहती हैं और कैसे भी करके हम लोगों को एक नई ऊर्जा प्रदान करते हैं कि हमेशा अंदर से दुखी होते हुए अंदर से दुखी होते हुए भी वहां एकदम देखते हैं हंसते खेलते मुस्कुराते रहते हैं यहां मुझे बहुत विश्वास होता ना देता और डिस्कवरी विषम परिस्थितियों में खड़ा रहना चाहिए यह है कि अपने महत्वपूर्ण होता है

jaise ki aapka sawaal hai ki aap ko apne mata pita ke bare mein kya kya pasand karte hain toh main aapko bataana chahungi main apne mata pita ke bare mein unke vishwas hai unka jajba aur unmen kaam karne ke liye gaye kshamta hoti hai unki lagan hoti hai unko kaam karne ka ek tarika hota hai vaah kis paristithi mein kis prakar se khade rehte hain yah tarika mujhe bahut pasand hai aur main apni mata ji hamare saath khadi rehti hain aur kaise bhi karke hum logo ko ek nayi urja pradan karte hain ki hamesha andar se dukhi hote hue andar se dukhi hote hue bhi wahan ekdam dekhte hain hansate khelte muskurate rehte hain yahan mujhe bahut vishwas hota na deta aur discovery visham paristhitiyon mein khada rehna chahiye yah hai ki apne mahatvapurna hota hai

जैसे कि आपका सवाल है कि आप को अपने माता पिता के बारे में क्या क्या पसंद करते हैं तो मैं आप

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  491
WhatsApp_icon
user

Amar

Competition Preparation

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे अपने माता-पिता के बारे में यही सबसे ज्यादा पसंद है कि हमें उन्होंने पैदा किया और हमें गांव से शहर मिला है हमें अच्छी शिक्षा भी दिलाई अच्छे संस्कार दें सच बोलना सिखाया ईमानदारी से जीना सिखाया यही सब मुझे अपने माता-पिता के बारे में पसंद है

mujhe apne mata pita ke bare mein yahi sabse zyada pasand hai ki hamein unhone paida kiya aur hamein gaon se shehar mila hai hamein achi shiksha bhi dilai acche sanskar de sach bolna sikhaya imaandaari se jeena sikhaya yahi sab mujhe apne mata pita ke bare mein pasand hai

मुझे अपने माता-पिता के बारे में यही सबसे ज्यादा पसंद है कि हमें उन्होंने पैदा किया और हमे

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहली बात तो माता-पिता के बारे में क्या पसंद है यह क्वेश्चन गलत है भाई कि माता-पिता जो होते हैं वही सब कुछ सब के पसंद के लोग होते दुनिया में सबसे सुंदर अगर कोई है तो वह माता और पिटाई है ना जो पहले टीचर होते हैं हमारे नाम और बेड और उनकी पसंद की चीज हो बहुत से के पास करके अपने बच्चों के लिए कौन सी चीज पसंद के पास था ना होता है माता और पिता ने क्या पसंद है यह नहीं पता कि पसंद

sabse pehli baat toh mata pita ke bare mein kya pasand hai yah question galat hai bhai ki mata pita jo hote hain wahi sab kuch sab ke pasand ke log hote duniya mein sabse sundar agar koi hai toh vaah mata aur pitai hai na jo pehle teacher hote hain hamare naam aur bed aur unki pasand ki cheez ho bahut se ke paas karke apne baccho ke liye kaun si cheez pasand ke paas tha na hota hai mata aur pita ne kya pasand hai yah nahi pata ki pasand

सबसे पहली बात तो माता-पिता के बारे में क्या पसंद है यह क्वेश्चन गलत है भाई कि माता-पिता जो

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  228
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!