मानव जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा क्या है?...


user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मानव जीवन का महत्व है भैया मानव जीवन के सभी क्षेत्रों चाहे बचपन हो किशोरावस्था और युवावस्था हो वृद्धावस्था हुआ देश में कुछ कहना गलत नहीं है आप अपनी जिंदगी को जितना भी वही है जितना अच्छा समय कट जाएगा वही अच्छा है

manav jeevan ka mahatva hai bhaiya manav jeevan ke sabhi kshetro chahen bachpan ho kishoraavastha aur yuvavastha ho vriddhavastha hua desh me kuch kehna galat nahi hai aap apni zindagi ko jitna bhi wahi hai jitna accha samay cut jaega wahi accha hai

मानव जीवन का महत्व है भैया मानव जीवन के सभी क्षेत्रों चाहे बचपन हो किशोरावस्था और युवावस्थ

Romanized Version
Likes  535  Dislikes    views  5407
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Rahul kumar

Junior Volunteer

1:03

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मानव जीवन का हर दिन का सबसे महत्वपूर्ण होते हैं कि किसी के मन की बात की है तो 1 दिन के तौर पर चार पैर होते हैं चार हिस्से में बांट सकते हैं बचपन यह गलती नहीं होते हैं जवान होने होते तब व्यस्त होते हैं तब उसके अलावा बुढ़ापा 143 में हम लाइफ को बांट दो हर एक रिश्ते का अपना अलग मजा है कि बचपन में हमें बहुत सारी कोई टेंशन नहीं होती वह सही हो कि हम लाइफ को एंजॉय करते हैं बेसिक मतलब जो सही मेजरमेंट होती है उसका सीन कर पाते कि जैसे से अलग अलग तरह का पेपर है पढ़ाई का प्रेशर होता है अलग तरह का है गारमेंट होता है इसके अलावा अब जब 10 कोड़े होता है जब बेदार तो हो जाते हैं तो पैसे का पैसे कमाने का दौर होता है उस वक्त भी अलग एंजॉयमेंट होता है खुलकर इंडिपेंडेंट होकर जी सकते हैं सबकी अपनी-अपनी मतलब अच्छी चीज है बड़ी चीज है बोर्डिंग होता है इस समय फोन उठाइए Samsung

manav jeevan ka har din ka sabse mahatvapurna hote hain ki kisi ke man ki baat ki hai toh 1 din ke taur par char pair hote hain char hisse mein baant sakte hain bachpan yah galti nahi hote hain jawaan hone hote tab vyast hote hain tab uske alava budhapa 143 mein hum life ko baant do har ek rishte ka apna alag maza hai ki bachpan mein hamein bahut saree koi tension nahi hoti vaah sahi ho ki hum life ko enjoy karte hain basic matlab jo sahi measurement hoti hai uska seen kar paate ki jaise se alag alag tarah ka paper hai padhai ka pressure hota hai alag tarah ka hai garment hota hai iske alava ab jab 10 kode hota hai jab bedar toh ho jaate hain toh paise ka paise kamane ka daur hota hai us waqt bhi alag enjoyment hota hai khulkar independent hokar ji sakte hain sabki apni apni matlab achi cheez hai badi cheez hai boarding hota hai is samay phone uthaiye Samsung

मानव जीवन का हर दिन का सबसे महत्वपूर्ण होते हैं कि किसी के मन की बात की है तो 1 दिन के तौर

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  155
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
मानव जीवन ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!