मैं प्रेम विवाह करना चाहता हूँ पर भारत में लोग प्रेम विवाह को बुरा क्यों मानते हैं?...


user

Sefali

Media-Ad Sales

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह जो है भारत में लोग प्रेम विवाह को बुरा मानते थे यह पहला हुआ करता था ना कि ऐसा था कि भैंस पूरी जिम्मेदारी लेते थे जो कि बेटा है या बेटी है उसके लिए जो जगह सही लाइफ पार्टनर है वह खुद ही चीज करेंगे जो फैमिली की बैकग्राउंड से सब कुछ खुद ही चेक कर के खुद ही एलिजिबिलिटी फिक्स करके खुद करेंगे ब्राइड ग्रूम अपने गांव बच्चे के लिए अभी जो है मेरे से काफी मॉडर्न हो गया है अब भारत और प्रेम विवाह में कोई भी मेरे से आपत्ति नहीं आ रही है उल्टा लोग बहुत अच्छी तरीके से एक्सेप्ट कर रहे हैं बहुत यहां तक कि ऐसा दो जो पहले हुआ करता था इंटर कास्ट भी वह भी अभी काफी ज्यादा एक्सेप्ट टेबल है इस सोसाइटी में लोग एक्सेप्ट कर रहे हैं और जो मेंटलिटी बहुत ज्यादा ब्रॉड और रो कर रही है तो भेजो कि बहुत अच्छी बात है अपने बेटे या बेटी को राइट दे रहे कि खुद चूस करें अपना लाइफ पार्टनर अपने सक्षम के हिसाब से अपने कंपेटिबिलिटी के हिसाब से बहुत अच्छी बात है

yah jo hai bharat mein log prem vivah ko bura maante the yah pehla hua karta tha na ki aisa tha ki bhains puri jimmedari lete the jo ki beta hai ya beti hai uske liye jo jagah sahi life partner hai vaah khud hi cheez karenge jo family ki background se sab kuch khud hi check kar ke khud hi eligibility fix karke khud karenge bride groom apne gaon bacche ke liye abhi jo hai mere se kaafi modern ho gaya hai ab bharat aur prem vivah mein koi bhi mere se apatti nahi aa rahi hai ulta log bahut achi tarike se except kar rahe hain bahut yahan tak ki aisa do jo pehle hua karta tha inter caste bhi vaah bhi abhi kaafi zyada except table hai is society mein log except kar rahe hain aur jo mentaliti bahut zyada broad aur ro kar rahi hai toh bhejo ki bahut achi baat hai apne bete ya beti ko right de rahe ki khud chus kare apna life partner apne saksham ke hisab se apne kampetibiliti ke hisab se bahut achi baat hai

यह जो है भारत में लोग प्रेम विवाह को बुरा मानते थे यह पहला हुआ करता था ना कि ऐसा था कि भैं

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  171
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ishita Seth

Obstinate Programmer

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चीन भारत में लोगों ने प्रेम विवाह को बुरा इसलिए माना जाता है क्योंकि भारतीय है उनके दूरी कंज़र्वेटिव है थोड़ी नेहरू है और यह दिखाते दबाने से ऐसा ही चला जा रहा है पहले जमाने में तो ऐसा होता था कि आप बिना किसी जो आपके पैर हैं जो आपके माता-पिता हैं मैं आपकी शादी फिक्स करते थे और जो आपका जीवन साथी हम उसकी शक्ल भी नहीं कभी देख पाते थे शादी होने के बाद ही उनकी शक्ल देखने का उससे बात करने का उससे पहले आप हमसे बात कर सकते थे ना पूरे कभी देख सकते थे यह और धीरे धीरे धीरे धीरे देखा जाए आज के टाइम में भी काफी हसीन हो गया है आजकल के लोग भारत में अपनी मां को बुरा नहीं मानते हैं कुछ लोग को लेकिन अगर हम तुम आयोजन करें तो पहले के जमाने में और अब के जमाने में बहुत ही धर्म परिवर्तन और कई बार अगर आजकल जो है वह इंटर कॉलेज इंटर कास्ट मैरिज होती हैं लोग उसको बुरा मानते हैं मतलब कि अगर ऐसा मेरा सुनने में आया है कि मेरे साथ ऐसे इंसान पर हुई थी अगर देखा जाए कि आप प्रेम करें लेकिन हम अपने ही कास्ट के लोग से करिए अपनी काश एक इंसान से करिए आपकी शादी करा देंगे पर लेकिन अगर आप किसी और इंसान से प्रेम करते हैं तो आप ही रास्ता नहीं है तो आप उसे भूल जाइए और मेरे हिसाब से आपको शादी सिर्फ उसी से करनी चाहिए जब टीम कर दो क्योंकि आपको पूरी जिंदगी बितानी है और भारत की सूची से जुड़ा बदलने का इसे थोड़ी बदलने की जरूरत है और देखना चाहता है काफी हद तक बदली है और आने वाले टाइम तक ही और ज्यादा बदल सकती है

china bharat mein logo ne prem vivah ko bura isliye mana jata hai kyonki bharatiya hai unke doori kanzarvetiv hai thodi nehru hai aur yah dikhate dabane se aisa hi chala ja raha hai pehle jamane mein toh aisa hota tha ki aap bina kisi jo aapke pair hain jo aapke mata pita hain main aapki shadi fix karte the aur jo aapka jeevan sathi hum uski shakl bhi nahi kabhi dekh paate the shadi hone ke baad hi unki shakl dekhne ka usse baat karne ka usse pehle aap humse baat kar sakte the na poore kabhi dekh sakte the yah aur dhire dhire dhire dhire dekha jaaye aaj ke time mein bhi kaafi Haseen ho gaya hai aajkal ke log bharat mein apni maa ko bura nahi maante hain kuch log ko lekin agar hum tum aayojan kare toh pehle ke jamane mein aur ab ke jamane mein bahut hi dharm parivartan aur kai baar agar aajkal jo hai vaah inter college inter caste marriage hoti hain log usko bura maante hain matlab ki agar aisa mera sunne mein aaya hai ki mere saath aise insaan par hui thi agar dekha jaaye ki aap prem kare lekin hum apne hi caste ke log se kariye apni kash ek insaan se kariye aapki shadi kara denge par lekin agar aap kisi aur insaan se prem karte hain toh aap hi rasta nahi hai toh aap use bhool jaiye aur mere hisab se aapko shadi sirf usi se karni chahiye jab team kar do kyonki aapko puri zindagi bitani hai aur bharat ki suchi se jinko badalne ka ise thodi badalne ki zarurat hai aur dekhna chahta hai kaafi had tak badli hai aur aane waale time tak hi aur zyada badal sakti hai

चीन भारत में लोगों ने प्रेम विवाह को बुरा इसलिए माना जाता है क्योंकि भारतीय है उनके दूरी क

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  198
WhatsApp_icon
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी मुझे लगता है कि जिस समाज में हम रहते हैं जिस देश में रहते हैं वहां कल्चर की बात बहुत ज्यादा हो जाती है और कल्चर की बात होती है जिस वजह से 25 साल पहले पीछे जाते तो आपको पता चलता है कि 25 साल पहले प्रेम विवाह नाम की कोई चीज नहीं होती थी जो माता-पिता जिस लड़की को चूस कर देते थे उसी से शादी करनी होती थी और सभी लोग राजी हो जाते थे लेकिन आज मुझे लगता परिस्थितियां चेंज हो गया समाज भी मैं भी बदलाव आया है माता ने t i हमारे समाज के अंदर वह मुझे लगता है कि बहुत अच्छा है आज के समय में मुझे नहीं लगता कोई व्यक्ति लव मैरिज से को बुरा मानता है उसे क्या पूछ आता है बशर्ते कभी कोई प्रॉब्लम नहीं आ जाती है इंटर कास्ट मैरिज की है लेकिन आज सभ्य समाज के अंदर मुझे नहीं लगता कि इस नंबर से किसी भी तरह का कोई परेशान होना चाहिए

vicky mujhe lagta hai ki jis samaj mein hum rehte hain jis desh mein rehte hain wahan culture ki baat bahut zyada ho jaati hai aur culture ki baat hoti hai jis wajah se 25 saal pehle peeche jaate toh aapko pata chalta hai ki 25 saal pehle prem vivah naam ki koi cheez nahi hoti thi jo mata pita jis ladki ko chus kar dete the usi se shadi karni hoti thi aur sabhi log raji ho jaate the lekin aaj mujhe lagta paristhiyaann change ho gaya samaj bhi main bhi badlav aaya hai mata ne t i hamare samaj ke andar vaah mujhe lagta hai ki bahut accha hai aaj ke samay mein mujhe nahi lagta koi vyakti love marriage se ko bura manata hai use kya puch aata hai basharte kabhi koi problem nahi aa jaati hai inter caste marriage ki hai lekin aaj sabhya samaj ke andar mujhe nahi lagta ki is number se kisi bhi tarah ka koi pareshan hona chahiye

विकी मुझे लगता है कि जिस समाज में हम रहते हैं जिस देश में रहते हैं वहां कल्चर की बात बहुत

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  290
WhatsApp_icon
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखित बिल्कुल हमारी सोच कितनी बदल जाए हम युवाओं की सोच कितनी बदल जाए हम कितने एडवांस हो जाए हमारे पेरेंट्स आज भी लव मैरिज प्रेम विवाह इंटर कास्ट मैरिज सलूशन मालिक आपको बहुत गलत मानते हैं मुझे यह तो नहीं समझ आता कि वह ऐसा क्यों करता है शायद उनमें ऐसा होता है कि उनकी कास्ट पीरियड होगी या दूसरे लड़की से चक्कर किसी से नहीं होता कोई किसी से ऐसा होता है कि लड़की ज्यादा कमा रही होती है लड़की का सबसे छोटे लड़के के बजाय यह वॉइस WhatsApp पर फिर भी पेरेंट्स बहुत पर ऑब्जेक्शन करते हैं ऐसा होता नहीं है क्योंकि अगर कोई मतलब मुझे ऐसा नहीं होता कि अगर कोई बच्चा अपने लाइफ पार्टनर ढूंढ रहा था इसका मतलब वह समझदार है वह समझ जाएगी वह पूरी जिंदगी सुधर बताएगा और आज सोमनाथ लड़कियां पागल है ना लड़के पागल है कि किसी ऐसे व्यक्ति के साथ रहेंगे जुने लगता क्यों नहीं खुश नहीं रख सकता या उनकी जिंदगी सक्सेसफुल नहीं होगी तुम्हारे पेरेंट्स की सोच बदलने में टाइम लगेगा बहुत टाइम लगेगा बट मुझे ऐसा लगता है कि जो हमारी जनरेशन होगी वह ऐसे नहीं होगी तेरी क्या आने वाले कुछ समय में लगा लीजिए 10:00 12 सालों के बाद मुझे लगता है कि एक प्रेम विवाह को लेकर आज प्रॉब्लम होती है उतनी कम नहीं होंगे क्योंकि तब हमारी जनरेशन शुरू हो जाएगी एनी के जो 20 साल की उम्र के बच्चे हैं और 24 साल थोड़ा सा कम उम्र क्या थोड़ा ज्यादा उम्र के हैं 10 साल के बाद वह माता-पिता पर जाएंगे और मुझे लगता नहीं कि आजकल के बच्चे रोक पाए रोकेंगे अपने बच्चों को प्रेम विवाह करने से तो हमारे पैर ऐसा क्यों सोचते हैं वह उनकी उनको ऐसा ही पाल पोस कर बड़ा किया गया है बल्कि आज के समय में भी बहुत सारे पैसे जो अपनी लड़कियों को लड़को से बात तक नहीं करने दे से लड़कों के स्कूल में भी नहीं भेजते तो यह सब चीजें टाइम के साथ-साथ धीरे-धीरे बदलेगी

likhit bilkul hamari soch kitni badal jaaye hum yuvaon ki soch kitni badal jaaye hum kitne advance ho jaaye hamare parents aaj bhi love marriage prem vivah inter caste marriage salution malik aapko bahut galat maante hain mujhe yah toh nahi samajh aata ki vaah aisa kyon karta hai shayad unmen aisa hota hai ki unki caste period hogi ya dusre ladki se chakkar kisi se nahi hota koi kisi se aisa hota hai ki ladki zyada kama rahi hoti hai ladki ka sabse chote ladke ke bajay yah voice WhatsApp par phir bhi parents bahut par objection karte hain aisa hota nahi hai kyonki agar koi matlab mujhe aisa nahi hota ki agar koi baccha apne life partner dhundh raha tha iska matlab vaah samajhdar hai vaah samajh jayegi vaah puri zindagi sudhar batayega aur aaj somnath ladkiyan Pagal hai na ladke Pagal hai ki kisi aise vyakti ke saath rahenge june lagta kyon nahi khush nahi rakh sakta ya unki zindagi successful nahi hogi tumhare parents ki soch badalne mein time lagega bahut time lagega but mujhe aisa lagta hai ki jo hamari generation hogi vaah aise nahi hogi teri kya aane waale kuch samay mein laga lijiye 10 00 12 salon ke baad mujhe lagta hai ki ek prem vivah ko lekar aaj problem hoti hai utani kam nahi honge kyonki tab hamari generation shuru ho jayegi any ke jo 20 saal ki umr ke bacche hain aur 24 saal thoda sa kam umr kya thoda zyada umr ke hain 10 saal ke baad vaah mata pita par jaenge aur mujhe lagta nahi ki aajkal ke bacche rok paye rokenge apne baccho ko prem vivah karne se toh hamare pair aisa kyon sochte hain vaah unki unko aisa hi pal pos kar bada kiya gaya hai balki aaj ke samay mein bhi bahut saare paise jo apni ladkiyon ko ladko se baat tak nahi karne de se ladko ke school mein bhi nahi bhejate toh yah sab cheezen time ke saath saath dhire dhire badalegi

लिखित बिल्कुल हमारी सोच कितनी बदल जाए हम युवाओं की सोच कितनी बदल जाए हम कितने एडवांस हो जा

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  219
WhatsApp_icon
user

.

Hhhgnbhh

1:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए भारत के लोग प्रेम विवाह को बुरा नहीं मानते, पर जो हमारी पुरानी पीढ़ी है, उनके दिमाग में यह सोच बनी हुई थी कि हम खुद से सक्षम नहीं हो पाते कि हम दो परिवारों को मिलाने का फैसला ले सके| तो इसलिए अरेंज मेरेज का जो यहां पर बहुत ज्यादा एक कह सकते हैं कि अरेंज मेरेज का एक कल्चर ही फैला हुआ था कि सब लोग अरेंज मेरेज ही करते थे अपने माता-पिता की सहमति से| लव मैरिज बहुत कम होती थी क्योंकि ऐसा लगता था कि लव मैरिज दो दिलों को मिला सकते हैं पर हो सकता कि दो परिवारों को ना मिलाएं| तो इसीलिए यह कुछ कारण थे जिनकि वजह से प्रेम विवाह लोग बुरा मानते थे| तो मेरे हिसाब से पर अब जो नई पीढ़ी आई है और नई जो सोच बदल रही है, उसमें प्रेम विवाह को बुरा नहीं माना जाता अच्छे से लोग सपोर्ट करते हैं| परिवार भी प्रेम विवाह को आगे मानते हैं और अगर प्रेम विवाह की बात आगे रखते हैं तो अब उतना ज्यादा उस पर बड़ी बात नहीं मानते बैठ के दोनों परिवार बात करते है और जो भी आगे की क्रिया होती है उसे आगे बढ़ाते हैं| तो समय बदलता रहा है, तो यह सोच भी बदल रही है कि प्रेम विवाह बुरा हो गया है यह सोच बदल चुकी है अब|

dekhiye bharat ke log prem vivah ko bura nahi maante par jo hamari purani peedhi hai unke dimag mein yah soch bani hui thi ki hum khud se saksham nahi ho paate ki hum do parivaron ko milaane ka faisla le sake toh isliye arrange merej ka jo yahan par bahut zyada ek keh sakte hain ki arrange merej ka ek culture hi faila hua tha ki sab log arrange merej hi karte the apne mata pita ki sahmati se love marriage bahut kam hoti thi kyonki aisa lagta tha ki love marriage do dilon ko mila sakte hain par ho sakta ki do parivaron ko na milaen toh isliye yah kuch karan the jinki wajah se prem vivah log bura maante the toh mere hisab se par ab jo nayi peedhi I hai aur nayi jo soch badal rahi hai usme prem vivah ko bura nahi mana jata acche se log support karte hain parivar bhi prem vivah ko aage maante hain aur agar prem vivah ki baat aage rakhte hain toh ab utana zyada us par badi baat nahi maante baith ke dono parivar baat karte hai aur jo bhi aage ki kriya hoti hai use aage badhate hain toh samay badalta raha hai toh yah soch bhi badal rahi hai ki prem vivah bura ho gaya hai yah soch badal chuki hai ab

देखिए भारत के लोग प्रेम विवाह को बुरा नहीं मानते, पर जो हमारी पुरानी पीढ़ी है, उनके दिमाग

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  374
WhatsApp_icon
play
user

Garvita

Influencer

2:01

Likes  38  Dislikes    views  675
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!