मैं प्रेम विवाह करना चाहता हूँ पर भारत में लोग प्रेम विवाह को बुरा क्यों मानते हैं?...


user

Sefali

Media-Ad Sales

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह जो है भारत में लोग प्रेम विवाह को बुरा मानते थे यह पहला हुआ करता था ना कि ऐसा था कि भैंस पूरी जिम्मेदारी लेते थे जो कि बेटा है या बेटी है उसके लिए जो जगह सही लाइफ पार्टनर है वह खुद ही चीज करेंगे जो फैमिली की बैकग्राउंड से सब कुछ खुद ही चेक कर के खुद ही एलिजिबिलिटी फिक्स करके खुद करेंगे ब्राइड ग्रूम अपने गांव बच्चे के लिए अभी जो है मेरे से काफी मॉडर्न हो गया है अब भारत और प्रेम विवाह में कोई भी मेरे से आपत्ति नहीं आ रही है उल्टा लोग बहुत अच्छी तरीके से एक्सेप्ट कर रहे हैं बहुत यहां तक कि ऐसा दो जो पहले हुआ करता था इंटर कास्ट भी वह भी अभी काफी ज्यादा एक्सेप्ट टेबल है इस सोसाइटी में लोग एक्सेप्ट कर रहे हैं और जो मेंटलिटी बहुत ज्यादा ब्रॉड और रो कर रही है तो भेजो कि बहुत अच्छी बात है अपने बेटे या बेटी को राइट दे रहे कि खुद चूस करें अपना लाइफ पार्टनर अपने सक्षम के हिसाब से अपने कंपेटिबिलिटी के हिसाब से बहुत अच्छी बात है

yah jo hai bharat mein log prem vivah ko bura maante the yah pehla hua karta tha na ki aisa tha ki bhains puri jimmedari lete the jo ki beta hai ya beti hai uske liye jo jagah sahi life partner hai vaah khud hi cheez karenge jo family ki background se sab kuch khud hi check kar ke khud hi eligibility fix karke khud karenge bride groom apne gaon bacche ke liye abhi jo hai mere se kaafi modern ho gaya hai ab bharat aur prem vivah mein koi bhi mere se apatti nahi aa rahi hai ulta log bahut achi tarike se except kar rahe hain bahut yahan tak ki aisa do jo pehle hua karta tha inter caste bhi vaah bhi abhi kaafi zyada except table hai is society mein log except kar rahe hain aur jo mentaliti bahut zyada broad aur ro kar rahi hai toh bhejo ki bahut achi baat hai apne bete ya beti ko right de rahe ki khud chus kare apna life partner apne saksham ke hisab se apne kampetibiliti ke hisab se bahut achi baat hai

यह जो है भारत में लोग प्रेम विवाह को बुरा मानते थे यह पहला हुआ करता था ना कि ऐसा था कि भैं

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  171
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!