बोर्डिंग स्कूल / विश्वविद्यालय जाने के बारे में सबसे अच्छी और बुरी बात क्या है?...


user

Ishita Seth

Obstinate Programmer

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अगर इस बात पर मैं आपको अपनी पर्सनल बैंकिंग बताऊं तू मेरे को ऐसा लगता है कि कम से कम वर्क क्लास 10 12 वीं कक्षा तक तो हर एक बच्चे को हर एक छात्र को अपने माता-पिता के साथ रहना चाहिए अपने पेरेंट्स के साथ रहना चाहिए क्योंकि उसके बाद अपने आप छात्र हैं जिसमें हम अपने कार्य में इतना ज्यादा मत हो जाते हैं और इतनी ज्यादा टेंशन सुनते आ जाती है तथा 10 वर्ष होता है लाइफ में की और उसके बाद शायद मुझे कभी दोस्त के बाद चांस होता है कि वह अपने माता पिता के साथ रहे तो मेरे हिसाब से जब तक उनके पास ऑप्शन है उनके बच्चे के साथ अपने पेरेंट्स के साथ रहने का तूने अपनी पेंसिल है तेरे नैना रहना चाहिए एक लीप वर्ष तक और जहां तक रही क्वेश्चन का आंसर की बोर्डिंग स्कूल में सबसे ज्यादा अच्छी भाषा रहने के प्रसाद अच्छी बात यह है कि जो स्टूडेंट होते हैं जो छात्र होता है उसमें डिसिप्लिन आ जाता है जो कि शायद घर पर रहकर एक डिसिप्लिन मेंटेन बहुत ज्यादा मुश्किल है और इससे अच्छी बात और सबसे बुरी बात यह है कि वह अपने माता पिता से दूर है कभी-कभी होम सिकनेस बहुत ज्यादा हो जाती है चाह कर भी मिल नहीं पाते तुझे डिप्रेशन में जा सकता है तो मेरे हिसाब से बुरी बात तो यही होगी

dekhiye agar is baat par main aapko apni personal banking bataun tu mere ko aisa lagta hai ki kam se kam work class 10 12 vi kaksha tak toh har ek bacche ko har ek chatra ko apne mata pita ke saath rehna chahiye apne parents ke saath rehna chahiye kyonki uske baad apne aap chatra hain jisme hum apne karya mein itna zyada mat ho jaate hain aur itni zyada tension sunte aa jaati hai tatha 10 varsh hota hai life mein ki aur uske baad shayad mujhe kabhi dost ke baad chance hota hai ki vaah apne mata pita ke saath rahe toh mere hisab se jab tak unke paas option hai unke bacche ke saath apne parents ke saath rehne ka tune apni pencil hai tere naina rehna chahiye ek leap varsh tak aur jahan tak rahi question ka answer ki boarding school mein sabse zyada achi bhasha rehne ke prasad achi baat yah hai ki jo student hote hain jo chatra hota hai usmein discipline aa jata hai jo ki shayad ghar par rahkar ek discipline maintain bahut zyada mushkil hai aur isse achi baat aur sabse buri baat yah hai ki vaah apne mata pita se dur hai kabhi kabhi home sickness bahut zyada ho jaati hai chah kar bhi mil nahi paate tujhe depression mein ja sakta hai toh mere hisab se buri baat toh yahi hogi

देखिए अगर इस बात पर मैं आपको अपनी पर्सनल बैंकिंग बताऊं तू मेरे को ऐसा लगता है कि कम से कम

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  134
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!