हमें टेंशन क्यों होती है?...


play
user

SWETA SUREKA

Life Coach

1:28

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

टेंशन आजकल हमारे जीवन का अनिवार्य अंग बन चुका है इससे हमें मानसिक रूप से फिजिकल रूप से हमें बहुत नुकसान भी पहुंचता है आज के आज का लिया बहुत पहले से भी यह चलता है हमें टेंशन इसलिए होता है क्योंकि हम छोटी-छोटी बातों को लेकर उसमें उलझ जाते हैं उसके बारे में विचार करने लगते हैं सोचने लग जाते हैं कि किसी ने हमें यह क्यों कहा उसे ऐसा नहीं करना चाहिए था हमने यह शक्ति नहीं है कि हम लेट गो कर सके चीजों को चीजों को अनदेखा कर सके जो व्यर्थ की चीजें हैं उस पर अपना ध्यान नहीं दे तो जो वही है जो छोटी-छोटी चीजों पर हम अपना ध्यान केंद्रित कर देते हैं उनके बारे में सोचने लग जाते जो हमारे दिमाग में 24 घंटे चलती रहती है और उसके कारण हमें धीरे-धीरे टेंशन होने लग जाता है टेंशन होने से कई सारी बीमारियां हमारे शरीर में पैदा हो जाती है ब्लड भर जाता है हमें स्पष्ट हो जाता है हमें धीरे-धीरे डायबिटीज होने लग जाती है तो बहुत जरूरी है कि हम व्यर्थ की टेंशन ना ले जिंदगी में मुश्किलें आएंगी डिफिकल्ट सिचुएशंस आएंगे बर्थ टेंशन लेने से उसका कोई हल नहीं निकलेगा उसका हल उसे सामना करने से ही निकलेगा तो टेंशन लेने का कोई फायदा नहीं है

tension aajkal hamare jeevan ka anivarya ang ban chuka hai isse hamein mansik roop se physical roop se hamein bahut nuksan bhi pahuchta hai aaj ke aaj ka liya bahut pehle se bhi yah chalta hai hamein tension isliye hota hai kyonki hum choti choti baaton ko lekar usme ulajh jaate hai uske bare mein vichar karne lagte hai sochne lag jaate hai ki kisi ne hamein yah kyon kaha use aisa nahi karna chahiye tha humne yah shakti nahi hai ki hum late go kar sake chijon ko chijon ko andekha kar sake jo vyarth ki cheezen hai us par apna dhyan nahi de toh jo wahi hai jo choti choti chijon par hum apna dhyan kendrit kar dete hai unke bare mein sochne lag jaate jo hamare dimag mein 24 ghante chalti rehti hai aur uske karan hamein dhire dhire tension hone lag jata hai tension hone se kai saree bimariyan hamare sharir mein paida ho jaati hai blood bhar jata hai hamein spasht ho jata hai hamein dhire dhire diabetes hone lag jaati hai toh bahut zaroori hai ki hum vyarth ki tension na le zindagi mein mushkilen aayengi difficult sichueshans aayenge birth tension lene se uska koi hal nahi niklega uska hal use samana karne se hi niklega toh tension lene ka koi fayda nahi hai

टेंशन आजकल हमारे जीवन का अनिवार्य अंग बन चुका है इससे हमें मानसिक रूप से फिजिकल रूप से हमे

Romanized Version
Likes  101  Dislikes    views  1194
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
kyon tension ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!