मैं जब भी किसी नए व्यक्ति से बात करता हूँ, तो मुझे बहुत हीं झिझक महसूस होती है, मैं अपनी झिझक को दूर कैसे करूँ?...


user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

न्यूरो लिंग्विस्टिक प्रोग्रामिंग की बहुत ही एक सिंपल टेक्निक मैं आपको बताना चाहती हूं जिसका असर आप को एक दिन में ही महसूस हो जाएगा अब दिन में तीन चार बार खुद से यह पूछा कि आजकल में कैसे नए लोगों के साथ बहुत ही आसानी से और बहुत ही स्मार्ट ही बात कर पा रहा हूं यह सवाल आप दिन में अपने आप से तीन-चार बार पूछे और देखिए एक दिन मैं आपको कितना फर्क महसूस होगा

neuro linguistic programming ki bahut hi ek simple technique main aapko bataana chahti hoon jiska asar aap ko ek din mein hi mehsus ho jaega ab din mein teen char baar khud se yah poocha ki aajkal mein kaise naye logo ke saath bahut hi aasani se aur bahut hi smart hi baat kar paa raha hoon yah sawaal aap din mein apne aap se teen char baar pooche aur dekhiye ek din main aapko kitna fark mehsus hoga

न्यूरो लिंग्विस्टिक प्रोग्रामिंग की बहुत ही एक सिंपल टेक्निक मैं आपको बताना चाहती हूं जिसक

Romanized Version
Likes  65  Dislikes    views  1091
WhatsApp_icon
11 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कई बार हम लोग जब मैं लोगों को देखते हैं हमें अपने अंदर एक जैसी होती है स्टेशन होती है वह उनकी बजे बाहर वालों की तरफ से भी अपने अंदर क्योंकि हम लोग को अपने आप से कौन सी डेंट हुआ हो जिसकी वजह से बात करना पसंद नहीं करते यह जाना चाहिए कॉन्फिडेंस लेवल कैसे बढ़े चलो बढ़े और कॉन्फिडेंस लेवल की फिल्म से बात करना अगर ठीक से पसंद नहीं आया क्या पूजा पाठ करना चाहिए कि हम लोग की उनके बारे में जानना उन लोगों को हम कैसे मदद कर सकते हैं वह सोचना सोचने से कम हो जाती है और दूसरों के साथ हम लोग

kai baar hum log jab main logo ko dekhte hain hamein apne andar ek jaisi hoti hai station hoti hai vaah unki baje bahar walon ki taraf se bhi apne andar kyonki hum log ko apne aap se kaun si dent hua ho jiski wajah se baat karna pasand nahi karte yah jana chahiye confidence level kaise badhe chalo badhe aur confidence level ki film se baat karna agar theek se pasand nahi aaya kya puja path karna chahiye ki hum log ki unke bare mein janana un logo ko hum kaise madad kar sakte hain vaah sochna sochne se kam ho jaati hai aur dusro ke saath hum log

कई बार हम लोग जब मैं लोगों को देखते हैं हमें अपने अंदर एक जैसी होती है स्टेशन होती है वह उ

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  151
WhatsApp_icon
play
user

Kishore Kapoor

Business Coach, Leadership Coach, Life Coach BE(Hons), MBA , Certified Leadership Coach (ICF), Master SPIRIT LIFE Coach (CCA), Certified Business Innovation Facilitator

1:19

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

काफी अच्छा अच्छा प्रश्न है मैं किशोर कपूर लाइसेंस कितने में जितने सन मंडेला अब्राहम लिंकन आम आदमी अपने आपको हम करना चालू करते हैं दूसरों की बातों में एक ही प्यार बनाए हैं आपके अंदर से आना चाहिए आप अपना कॉन्फिडेंस और हर चीज लाइफ में आगे बढ़ेंगे और देश-दुनिया

kafi accha accha prashna hai kishore kapur license kitne mein jitne san mandela abraham lincoln aam aadmi apne aapko hum karna chaalu karte hain dusro ki baaton mein ek hi pyar banaye hain aapke andar se aana chahiye aap apna confidence aur har cheez life mein aage badhenge aur desh duniya

काफी अच्छा अच्छा प्रश्न है मैं किशोर कपूर लाइसेंस कितने में जितने सन मंडेला अब्राहम लिंकन

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  20
WhatsApp_icon
user

Vaibhav kedia

Life Coach

1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

माय टॉकिंग मोर आप उससे और बात करिए आपको लगता क्या प्रेजेंट टाइम परिवार में बात करने में से सब के साथ होता है मतलब कोई नया नहीं है मतलब हर कोई नर्वस फील करता है आपको बस बात करना उससे बात क्या करना है आप लोग रास्ता भटक जाते की बात क्या करना क्वेश्चन पूछो तो क्या करते हैं कहां रहते हैं कैसे और खुशी-खुशी को किस चीज के बारे में कुछ और लोग क्या करते हैं वह सफल तो मुझे पता मुझे उनको क्लेरिफाई नहीं हो पाता इसमें लिप्त होने का कोई बात नहीं इसमें आपको पता नहीं क्या कुछ बात क्या करना है सिला फेलस्टेड होते हो रही बात क्या करना है तो आप किसी से भी बुरा कर आराम से बिंदास बात कर सकते हो अबे किसी से बात कर सकते हो अगर कोई आदमी किस चीज के एक्सपर्ट आप उससे पूछ सकते हो कितना कैसे काम करते हैं कैसे पैसा कमाया जाता कैसे लोग आते हैं क्या आप उसे जानते जाएगा

my talking mor aap usse aur baat kariye aapko lagta kya present time parivar mein baat karne mein se sab ke saath hota hai matlab koi naya nahi hai matlab har koi nervous feel karta hai aapko bus baat karna usse baat kya karna hai aap log rasta bhatak jaate ki baat kya karna question pucho toh kya karte hain kahaan rehte hain kaise aur khushi khushi ko kis cheez ke bare mein kuch aur log kya karte hain vaah safal toh mujhe pata mujhe unko klerifai nahi ho pata isme lipt hone ka koi baat nahi isme aapko pata nahi kya kuch baat kya karna hai sila felasted hote ho rahi baat kya karna hai toh aap kisi se bhi bura kar aaram se bindas baat kar sakte ho abe kisi se baat kar sakte ho agar koi aadmi kis cheez ke expert aap usse puch sakte ho kitna kaise kaam karte hain kaise paisa kamaya jata kaise log aate kya aap use jante jaega

माय टॉकिंग मोर आप उससे और बात करिए आपको लगता क्या प्रेजेंट टाइम परिवार में बात करने में से

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  395
WhatsApp_icon
user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर रास्ते में जब भी किसी नए व्यक्ति से बात करता हूं तो मुझे बहुत ही झिझक महसूस होती है मैं अपनी झिझक को दूर कैसे करूं देखे इस तरह की प्रॉब्लम अगर आपको होती है इसका मतलब आप मिनट प्रति के इंसान हैं यानी कि अंतर्मुखी स्वभाव के आपने कोशिश करें कि अपना जो वह टॉकिंग है उसका थोड़ा सा एक्सट्रोवर्ट करने की थोड़ा सा लोग हर घुल मिलकर बात करने की आदत भाई इस तरह की प्रॉब्लम की वजह से आप कभी भी अच्छे से बात सामने वाले के साथ नहीं कर पाएंगे तो थोड़ा सा अपने आप को इंप्रोवाइज करिए फोन करिए निश्चित रूप से आपको सफलता मिलेगी मेरी शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद

agar raste mein jab bhi kisi naye vyakti se baat karta hoon toh mujhe bahut hi jhijhak mehsus hoti hai apni jhijhak ko dur kaise karu dekhe is tarah ki problem agar aapko hoti hai iska matlab aap minute prati ke insaan hain yani ki antarmukhi swabhav ke aapne koshish kare ki apna jo vaah talking hai uska thoda sa eksatrovart karne ki thoda sa log har ghul milkar baat karne ki aadat bhai is tarah ki problem ki wajah se aap kabhi bhi acche se baat saamne waale ke saath nahi kar payenge toh thoda sa apne aap ko improvise kariye phone kariye nishchit roop se aapko safalta milegi meri subhkamnaayain aapke saath hain dhanyavad

अगर रास्ते में जब भी किसी नए व्यक्ति से बात करता हूं तो मुझे बहुत ही झिझक महसूस होती है मै

Romanized Version
Likes  558  Dislikes    views  5587
WhatsApp_icon
user

Aditi Garg

Meditation Expert

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका क्वेश्चन है उसी में अपने आंसर दे दिया मैं जब भी किसी नए व्यक्ति से बात करता हूं तो मुझे बहुत इज्जत महसूस होती है मैं अपनी झिझक को कैसे दूर करूं लेकिन बहुत ही अच्छा आप को दूर करना और कुछ नहीं करना आपको नहीं रखती हो तो मिलते रहना है आप ठीक नहीं रहती तो मिलेंगे तो थोड़ी जीजा को भी दूसरे से तीसरे से चौथे से पांचवें से छठे पर आप आएंगे जब इंसान से मिलेंगे यार बहुत हो चुका है और आपको पता हो कैसे बात करनी है दूसरी जॉब कर सकते आप का हिस्सा बन जाएगी और आप बहुत कंफर्टेबल हो गए लोगों के साथ बात करने में थैंक यू

aapka question hai usi mein apne answer de diya main jab bhi kisi naye vyakti se baat karta hoon toh mujhe bahut izzat mehsus hoti hai apni jhijhak ko kaise dur karu lekin bahut hi accha aap ko dur karna aur kuch nahi karna aapko nahi rakhti ho toh milte rehna hai aap theek nahi rehti toh milenge toh thodi jija ko bhi dusre se teesre se chauthe se panchwe se chhathe par aap aayenge jab insaan se milenge yaar bahut ho chuka hai aur aapko pata ho kaise baat karni hai dusri job kar sakte aap ka hissa ban jayegi aur aap bahut Comfortable ho gaye logo ke saath baat karne mein thank you

आपका क्वेश्चन है उसी में अपने आंसर दे दिया मैं जब भी किसी नए व्यक्ति से बात करता हूं तो मु

Romanized Version
Likes  146  Dislikes    views  1427
WhatsApp_icon
user

Dr Anil Shalwa

Life Coach, Past Life Regression Therapist

3:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भी आपने लिखा जब भी पर किसी नए व्यक्ति से बात करता हूं तो मुझे बहुत ही झिझक महसूस होती मैं अपने जीजा को कैसे दूर करूं लेकिन अभी से बात करते हैं आप कुछ महसूस होती है तो बहुत ही ज्यादा संभव है ऐसा नहीं आप यह न सोचे कि आप क्या केले के साथ ऐसा होता है और कुछ इंट्रोस्पेक्ट लोग होते हैं कुछ लोग ऐसे होते हैं जो बहुत ज्यादा बातचीत करना पसंद करते हैं कुछ लोग ऐसे होते हैं जो अपने अंदर की दुनिया में रहते हो ज्यादा बातचीत करना मिलना भी नाम बोलो उसे पसंद नहीं होता है तो ऐसा ना सोचे क्या करेगा आपके साथ यह तो बहुत ही गलत है यह बहुत कुछ गलत आपके साथ हुआ है या अपना अपना नहीं सर होता है हां लेकिन तब भी अगर आपको लगता है कि ज्यादा लोगों से मिलना चाहिए आपको ज्यादा लोगों से बात करना चाहिए इसके लिए आपके के लिमिटेशन को आपके बैरियर को आपको स्वयं को तोड़ना होगा तो इसके लिए करें आप यह कि अपने आपसे प्रॉमिस करें कि मैं इस वीक में 2 नए लोगों से मिलूंगा और उनको से मैं अपनी दोस्ती बनाऊंगा मैंने बात करने की कोशिश करें जानने की कोशिश करें कि उनके इंटरेस्ट के सब्जेक्ट क्या है और जिस शब्बीर ने उनका इंटरेस्ट ऑफ सब्जेक्ट के ऊपर बात करना शुरू करें तब जब ऐसे शब्द के बात करेंगे जिसमें उनका इंटरेस्ट है तो आपसे खुद होकर आगे बात करेंगे और बहुत सारे टॉपिक निकलेंगे बात करने के लिए अक्सर ही चीज होती है कि हम इस कला को नहीं जानते हैं कि कैसे हम दूसरे पर इंग्लिश करेंगे कैसे हम बात करने में प्रेस करें और वह इंप्रेशन नहीं पढ़ पाता उसका कारण आप एक-दो डायलॉग बोलते हैं और बात खत्म हो जाती है तो इसलिए इस पर ध्यान दें थोड़ा समझने की कोशिश करें इंसान से जब आती शुरू करें तो उससे पूछा कि आपका क्या इंटरेस्ट है आप क्या प्रोफेशन है आपका आप क्या करते हैं तो इस तरह के सवाल कुछ होते हैं जो बातों को आगे बढ़ाते हैं तो कुछ अगर आप ऐसे सवाल करेंगे जो क्लोज एंडेड होंगे क्या आपने पूछा आपका नाम क्या है कहां रहते हैं तो आप नाम पूछेंगे वह नाम बता देगा पूछे कहां रहते हो आपने एड्रेस बता दे इसके आगे बात खत्म हो जाएगी तो ऐसा ना करें बातों को खींचे तो आपका कॉन्फिडेंस पड़ेगा जब कॉन्फिडेंट पड़ेगा तो आपको बात करने में मजा आएगा फिर और लोगों से आप बात कर पाएंगे फिर नए लोगों से आपको बात करने में झिझक पैदा नहीं होगी पहली दूसरी किस बात का विश्लेषण अपने आप पर नंदा निरीक्षण करें एनालिसिस करें इस बात का कि कहीं ऐसा तो नहीं है क्या आपका इगो बहुत हाई है इसलिए आपको लगता है कि अगर आप दूसरों से बात करेंगे तो आप उनके सामने खुल जाएंगे और फिर आपकी रिस्पेक्ट नहीं रहेगी या वह इमेज खराब हो जाएगी तो थोड़ा सा काम करने की जरूरत है इमो को देखने की क्या अपना हाई हो तो नहीं है कई बार ही होता है तो हम सोचते हैं कि मैंने अपनी की इमेज बना ली है और अगर किसी से बात करूंगा तो यह इमेज बिगड़ जाएगी तो थोड़ा सा डाउन टो अर्थ ओं थोड़ा सा जिंदगी को हल्के से लें और बिना किसी परिणाम के बिना किसी रिजल्ट के बात करने की कोशिश करें उससे कोई एक्सपेक्टेशन ना रखें इससे क्या रिजल्ट होगा वह सब जवाब देगा या नहीं देगा वह मुझे अच्छा समझे गया नहीं समझेगा मैं था दिखता हूं या नहीं दिखता हूं मैं अच्छे से बात करना जानता हूं या नहीं मेरा क्या इंप्रेशन पड़ेगा इसके बारे में उसके सीधे जाकर बात करें बिना किसी परिणाम के बारे में सोचो

bhi aapne likha jab bhi par kisi naye vyakti se baat karta hoon toh mujhe bahut hi jhijhak mehsus hoti main apne jija ko kaise dur karu lekin abhi se baat karte hain aap kuch mehsus hoti hai toh bahut hi zyada sambhav hai aisa nahi aap yah na soche ki aap kya kele ke saath aisa hota hai aur kuch introspekt log hote hain kuch log aise hote hain jo bahut zyada batchit karna pasand karte hain kuch log aise hote hain jo apne andar ki duniya mein rehte ho zyada batchit karna milna bhi naam bolo use pasand nahi hota hai toh aisa na soche kya karega aapke saath yah toh bahut hi galat hai yah bahut kuch galat aapke saath hua hai ya apna apna nahi sir hota hai haan lekin tab bhi agar aapko lagta hai ki zyada logo se milna chahiye aapko zyada logo se baat karna chahiye iske liye aapke ke limitation ko aapke Barrier ko aapko swayam ko todna hoga toh iske liye kare aap yah ki apne aapse promise kare ki main is weak mein 2 naye logo se milunga aur unko se main apni dosti banaunga maine baat karne ki koshish kare jaanne ki koshish kare ki unke interest ke subject kya hai aur jis shabbir ne unka interest of subject ke upar baat karna shuru kare tab jab aise shabd ke baat karenge jisme unka interest hai toh aapse khud hokar aage baat karenge aur bahut saare topic nikalenge baat karne ke liye aksar hi cheez hoti hai ki hum is kala ko nahi jante hain ki kaise hum dusre par english karenge kaise hum baat karne mein press kare aur vaah impression nahi padh pata uska karan aap ek do dialogue bolte hain aur baat khatam ho jaati hai toh isliye is par dhyan de thoda samjhne ki koshish kare insaan se jab aati shuru kare toh usse poocha ki aapka kya interest hai aap kya profession hai aapka aap kya karte hain toh is tarah ke sawaal kuch hote hain jo baaton ko aage badhate hain toh kuch agar aap aise sawaal karenge jo close ended honge kya aapne poocha aapka naam kya hai kahaan rehte hain toh aap naam puchenge vaah naam bata dega pooche kahaan rehte ho aapne address bata de iske aage baat khatam ho jayegi toh aisa na kare baaton ko khinche toh aapka confidence padega jab confident padega toh aapko baat karne mein maza aayega phir aur logo se aap baat kar payenge phir naye logo se aapko baat karne mein jhijhak paida nahi hogi pehli dusri kis baat ka vishleshan apne aap par nanda nirikshan kare analysis kare is baat ka ki kahin aisa toh nahi hai kya aapka ego bahut high hai isliye aapko lagta hai ki agar aap dusro se baat karenge toh aap unke saamne khul jaenge aur phir aapki respect nahi rahegi ya vaah image kharab ho jayegi toh thoda sa kaam karne ki zarurat hai imo ko dekhne ki kya apna high ho toh nahi hai kai baar hi hota hai toh hum sochte hain ki maine apni ki image bana li hai aur agar kisi se baat karunga toh yah image bigad jayegi toh thoda sa down toe arth on thoda sa zindagi ko halke se le aur bina kisi parinam ke bina kisi result ke baat karne ki koshish kare usse koi expectation na rakhen isse kya result hoga vaah sab jawab dega ya nahi dega vaah mujhe accha samjhe gaya nahi samjhega main tha dikhta hoon ya nahi dikhta hoon main acche se baat karna jaanta hoon ya nahi mera kya impression padega iske bare mein uske sidhe jaakar baat kare bina kisi parinam ke bare mein socho

भी आपने लिखा जब भी पर किसी नए व्यक्ति से बात करता हूं तो मुझे बहुत ही झिझक महसूस होती मैं

Romanized Version
Likes  65  Dislikes    views  550
WhatsApp_icon
user

Shyamal Khobragade--Kamble

Medical General Consellor

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां पर्सनालिटी डेवलपमेंट डिपार्टमेंट को

haan personality development department ko

हां पर्सनालिटी डेवलपमेंट डिपार्टमेंट को

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  144
WhatsApp_icon
user

Saneet Kumar

Psychologist

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ब्रिटिश कॉन्फिडेंस की वजह से ही होती है ना किसी को करने का कॉन्फिडेंस नहीं होता है और हम कॉन्फिडेंट नहीं होते होते हैं जब हमें और किसी भी टॉपिक कि अच्छे से नॉलेज होगी तो हम उसके बारे में बात करने में भी सिगरेट नहीं करेंगे तो अति में जो लाइन होती है कि ऑन द बेस्ट वह सोच के सामने वाले से बात करना चाहिए कि जो मैं बोल रहा हूं अमृत और पूरा कॉन्फिडेंस होना चाहिए

british confidence ki wajah se hi hoti hai na kisi ko karne ka confidence nahi hota hai aur hum confident nahi hote hote hain jab hamein aur kisi bhi topic ki acche se knowledge hogi toh hum uske bare me baat karne me bhi cigarette nahi karenge toh ati me jo line hoti hai ki on the best vaah soch ke saamne waale se baat karna chahiye ki jo main bol raha hoon amrit aur pura confidence hona chahiye

ब्रिटिश कॉन्फिडेंस की वजह से ही होती है ना किसी को करने का कॉन्फिडेंस नहीं होता है और हम क

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  103
WhatsApp_icon
user

gurpreet singh

Computer graduate

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने आपको तैयार रखो और शांत रहो टेंशन नहीं लो हो और हमेशा पॉजिटिव सोचो और उसकी मिलन के सामने आप प्रैक्टिस भी कर सकते हो किसी के सामने प्रेक्टिस किया करो की ऑक्सीडेशन नहीं होगी कुछ चीजें कि नहीं होगी आपको किसी ने पर्सन से अगर बात करोगे तो

apne aapko taiyar rakho aur shaant raho tension nahi lo ho aur hamesha positive socho aur uski milan ke saamne aap practice bhi kar sakte ho kisi ke saamne practice kiya karo ki oxidation nahi hogi kuch cheezen ki nahi hogi aapko kisi ne person se agar baat karoge toh

अपने आपको तैयार रखो और शांत रहो टेंशन नहीं लो हो और हमेशा पॉजिटिव सोचो और उसकी मिलन के साम

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  185
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!