भाषाविज्ञान कितने प्रकार के होते हैं?...


play
user
1:06

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भाषा विज्ञान को दो शाखाओं में बैठते हैं एक जिसको भी वर्णनात्मक भाषाविज्ञान कहते हैं जिसमें भाषा की संरचना पर बात होती है और दूसरे व्यावहारिक भाषा में है जिसमे भाषा के प्रयोग के बारे में अध्ययन किया जाता है जो संरचना के बारे में हमारी समझ बनती है भाषा के बारे में उसका प्रयोग करके भाषा के संगवारी के सवालों को संबोधित होते हैं जैसे भाषा का ज्ञापन है या समाज में भाषा का प्रयोग बताएं पाई जाती हैं और जैसे-जैसे मशीन अनुवाद का काम है जान बाद का काम है यह सारी बातें जो है व्यवहारिक भाषा विज्ञान में आती हैं जिसको आमतौर पर अनुप्रयुक्त भाषाविज्ञान देते हैं और दूसरे को हम डिस्क्रिप्टिव की स्थितियां वर्णनात्मक भाषाविज्ञान कहते हैं भाषा की संरचना की रचना की है मनीष रचना शब्द रचना वाक्य रचना अब सूरज नाथ

bhasha vigyan ko do shakhaon mein baithate hain ek jisko bhi varnanaatmak bhashavigyaan kehte hain jisme bhasha ki sanrachna par baat hoti hai aur dusre vyavaharik bhasha mein hai jisme bhasha ke prayog ke bare mein adhyayan kiya jata hai jo sanrachna ke bare mein hamari samajh banti hai bhasha ke bare mein uska prayog karke bhasha ke sangwari ke sawalon ko sambodhit hote hain jaise bhasha ka gyapan hai ya samaj mein bhasha ka prayog bataye payi jaati hain aur jaise jaise machine anuvad ka kaam hai jaan baad ka kaam hai yah saree batein jo hai vyavaharik bhasha vigyan mein aati hain jisko aamtaur par anuprayukt bhashavigyaan dete hain aur dusre ko hum Descriptive ki sthitiyan varnanaatmak bhashavigyaan kehte hain bhasha ki sanrachna ki rachna ki hai manish rachna shabd rachna vakya rachna ab suraj nath

भाषा विज्ञान को दो शाखाओं में बैठते हैं एक जिसको भी वर्णनात्मक भाषाविज्ञान कहते हैं जिसमें

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  215
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!