क्या साउथ चीन समुन्दर में अपनी दमदार भूमिका से भारत चीन पर दबाव बना सकता है?...


play
user

Dr. KRISHNA CHANDRA

Rehabilitation Psychologist

1:39

Likes  2  Dislikes    views  147
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जेहन दिखेगा साउथ चाइना सी में अगर धाम भारत में अपना दबदबा थोड़ा बनाता है तो चीन पर जवाब जरूर पड़ेगा क्योंकि अभी फिलहाल जो है और चीन भारत पर दबाव बनाने की कोशिश करें पाकिस्तान के साथ दोस्ती कर लिया और जो साउथ चाइना सी है उस पर भी और अपने छोटे-छोटे वगैरह बना रहा है और श्रीलंका पर भी वह दोस्ती करने के चक्कर में है और उसका सपोर्ट पाने के चक्कर में

jehan dikhega south china si mein agar dhaam bharat mein apna dabdaba thoda banata hai toh china par jawab zaroor padega kyonki abhi filhal jo hai aur china bharat par dabaav banane ki koshish kare pakistan ke saath dosti kar liya aur jo south china si hai us par bhi aur apne chhote chhote vagera bana raha hai aur sri lanka par bhi vaah dosti karne ke chakkar mein hai aur uska support paane ke chakkar mein

जेहन दिखेगा साउथ चाइना सी में अगर धाम भारत में अपना दबदबा थोड़ा बनाता है तो चीन पर जवाब जर

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  141
WhatsApp_icon
user

Abhishek Sharma

Forest Range Officer, MP

1:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

साउथ चाइना सी एक बहुत भौगोलिक संसाधनों से परिपूर्ण विशाल समुद्री क्षेत्र है जिस पर चीन अपना आधिपत्य हमेशा जमाते हुआ आया है हालांकि चीन के अलावा इस जगह पर लाओस वियतनाम तथा अन्य कई देश जो चीन के साथ इस विवाद में हमेशा से रहे हैं इसमें कि फिलीपींस का नाम सबसे ऊपर आता है वह भी चाहिए साउथ चाइना सी पर अपना आधिपत्य स्थापित करने की कोशिश कर रहा है भारत के लिए सबसे अच्छी बात यह है कि भारत का अभियान के साथ यानी कि आर्यन कंट्री इन द कंट्री है जिन कंट्री को मासिक बोलते हैं सिंगापुर लाओस मलेशिया और बाकी सारी जो कंट्री है कंबोडिया म्यांमार इन सारी कंट्री के साथ भारत का बहुत से संबंध है इनकी हर साल एक समिति होता है अगले साल यह समेटने चालीसा मैच हुआ था जो फिलीपींस में हुआ था इस साल की समय 26 जनवरी पर होने वाला है 26 जनवरी के दिन हमारे मैं पानी प्रधानमंत्री न्यूज़ आसीन कंट्री के दसों देश के नेताओं को इन्वाइट किया है पहली बार ऐसा हो रहा है कि 26 जनवरी के दिन हमारे देश में एक साथ 10 दिनों के मेहमान शामिल हो रहे कूटनीति का बहुत बड़ा हिस्सा है तो हमारे प्रधानमंत्री सुबह से काफी आ गए हैं और इसी तरह से जवाब क्रिएट किया जाता है किसी इंटरनेशनल जवाब किसी कंट्री पर डिलीट करना है तो यही तरीका होता है कि आप उस कंट्री के जो देश के खिलाफ लड़ रहे हैं उनको अपना मित्र बनाएं और सबसे अच्छा तरीका यही है और सबसे अच्छी बात यह है कि इंडिया भी कभी नहीं कहता कि चाइना के साथ जाना चाहिए चाइना खुद इसका केस हार चुका है इंटरनेशनल कोर्ट कोर्ट में लेकिन वह चीज को मानने को भी तैयार नहीं है थैंक यू

south china si ek bahut bhaugolik sansadhano se paripurna vishal samudri kshetra hai jis par china apna aadhipatya hamesha jamate hua aaya hai halaki china ke alava is jagah par laos vietnam tatha anya kai desh jo china ke saath is vivaad mein hamesha se rahe hain isme ki philippines ka naam sabse upar aata hai vaah bhi chahiye south china si par apna aadhipatya sthapit karne ki koshish kar raha hai bharat ke liye sabse achi baat yah hai ki bharat ka abhiyan ke saath yani ki aryan country in the country hai jin country ko maasik bolte hain singapore laos malaysia aur baki saree jo country hai cambodia myanmar in saree country ke saath bharat ka bahut se sambandh hai inki har saal ek samiti hota hai agle saal yah sametane chalisa match hua tha jo philippines mein hua tha is saal ki samay 26 january par hone vala hai 26 january ke din hamare main paani pradhanmantri news aaseen country ke deso desh ke netaon ko invite kiya hai pehli baar aisa ho raha hai ki 26 january ke din hamare desh mein ek saath 10 dino ke mehmaan shaamil ho rahe kootneeti ka bahut bada hissa hai toh hamare pradhanmantri subah se kaafi aa gaye hain aur isi tarah se jawab create kiya jata hai kisi international jawab kisi country par delete karna hai toh yahi tarika hota hai ki aap us country ke jo desh ke khilaf lad rahe hain unko apna mitra banaye aur sabse accha tarika yahi hai aur sabse achi baat yah hai ki india bhi kabhi nahi kahata ki china ke saath jana chahiye china khud iska case haar chuka hai international court court mein lekin vaah cheez ko manne ko bhi taiyar nahi hai thank you

साउथ चाइना सी एक बहुत भौगोलिक संसाधनों से परिपूर्ण विशाल समुद्री क्षेत्र है जिस पर चीन अपन

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  127
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां बिलकुल साउथ चाइना सी एम के मामले में अपनी दमदार भूमिका से भारत चीन पर दवा बिल्कुल बना सकता है वह इसलिए क्योंकि और साउथ चाइना सी में जितने भी और बाकी के निशान से चाइना के अलावा वह सभी अपना राज चाइना के अगेंस्ट होकर लड़ रहे हैं उनका मानना है कि यह साउथ चाइना सी में जो कि चाइना अपनी टेरिटरी बता रहा है कि वह बोल रहा है कि मेरे अंदर आएगा कोई अच्छी सी मेरे अंदर का है वह सब नहीं है और सारे नेशंस उसके खिलाफ है क्या जाना ऐसा नहीं कर सकता और यूनाइटेड नेशंस में भी इसके खिलाफ काफी बातें हुई हैं और इसमें यह अमेरिका भी चाइना के खिलाफ है वह भी नहीं चाहता कि साउथ चाइना सी में चाइना का दबदबा रहे तो इसमें जो भारत का स्टैंड है वह यह है कि भारत ने चाइना को सपोर्ट नहीं कर रहा है वह भी इस बात का गिफ्ट है कि चाइना का कहीं भी किसी भी चीज पर दबाव बनाकर अपना हक हक हासिल नहीं कर सकता और अगर उसका हक होता तो उनको पहले ही दे दिया जाता है और अब वह एकदम से सिर्फ दबाव बनाकर हक हक हासिल नहीं कर सकते हैं किसी भी चीज के ऊपर और इसमें हम सभी जानते कि जैसे के चाइना ने डोकलाम में हमारे देश के सिपाहियों से लड़ाई की थी और काफी अपना फायरिंग वगैरा भी हुई थी वहां पर तो अगर वहां से एक तरह से वो हम पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे तो हम चाहे तो भारत अपना दबाव चेहरा साउथ चाइना सी मछली के ऊपर बना सकता है चाइना के ऊपर वैसे क्योंकि अमेरिका भी भारत का साथ देगा इस चीज में तो वही तरीका हो सकता है चाइना के ऊपर दबाव बनाने का और जैसा कि हम जानते हैं कि पाकिस्तान और चाइना में दोस्ती हो रही है तो वह अगर आगे कोई भी बोर होती है नहीं कोई भी लड़ाई होती है तो उसमें भारत अपना अच्छा स्टैंड ले पाएगा अगर वह पहले से ही चाइना के ऊपर दबाव बनाकर चलेगा तो

ji haan bilkul south china si M ke mamle mein apni dumdaar bhumika se bharat china par dawa bilkul bana sakta hai vaah isliye kyonki aur south china si mein jitne bhi aur baki ke nishaan se china ke alava vaah sabhi apna raj china ke against hokar lad rahe hain unka manana hai ki yah south china si mein jo ki china apni Territory bata raha hai ki vaah bol raha hai ki mere andar aayega koi achi si mere andar ka hai vaah sab nahi hai aur saare nations uske khilaf hai kya jana aisa nahi kar sakta aur united nations mein bhi iske khilaf kaafi batein hui hain aur isme yah america bhi china ke khilaf hai vaah bhi nahi chahta ki south china si mein china ka dabdaba rahe toh isme jo bharat ka stand hai vaah yah hai ki bharat ne china ko support nahi kar raha hai vaah bhi is baat ka gift hai ki china ka kahin bhi kisi bhi cheez par dabaav banakar apna haq haq hasil nahi kar sakta aur agar uska haq hota toh unko pehle hi de diya jata hai aur ab vaah ekdam se sirf dabaav banakar haq haq hasil nahi kar sakte hain kisi bhi cheez ke upar aur isme hum sabhi jante ki jaise ke china ne Doklam mein hamare desh ke sipaahiyon se ladai ki thi aur kaafi apna firing vagera bhi hui thi wahan par toh agar wahan se ek tarah se vo hum par dabaav banane ki koshish kar rahe toh hum chahen toh bharat apna dabaav chehra south china si machli ke upar bana sakta hai china ke upar waise kyonki america bhi bharat ka saath dega is cheez mein toh wahi tarika ho sakta hai china ke upar dabaav banane ka aur jaisa ki hum jante hain ki pakistan aur china mein dosti ho rahi hai toh vaah agar aage koi bhi bore hoti hai nahi koi bhi ladai hoti hai toh usme bharat apna accha stand le payega agar vaah pehle se hi china ke upar dabaav banakar chalega toh

जी हां बिलकुल साउथ चाइना सी एम के मामले में अपनी दमदार भूमिका से भारत चीन पर दवा बिल्कुल ब

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  180
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!