टेक्सटाइल के सामान में कितना प्रतिशत टैक्स लगता है?...


play
user

Abhishek Sharma

Forest Range Officer, MP

0:35

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

टेक्सटाइल की अलग-अलग सामान पर अलग-अलग टैक्स रेट किस लिए लगाई गई है अगर आपको बताऊं जूट का उत्पादन और हमारे देश में काफी ज्यादा होता है और झूठ को बढ़ावा देने के लिए और जीरो पर्सेंट का टैक्स लगाया गया है इसके अलावा अगर कपड़ों की बात की जाए जो हैंड मेड या हैंड क्राफ्ट की चीजें हैं और महंगी उनके ऊपर 18 परसेंट जीएसटी लग रहा है और जो हजार रुपए से कम की चीज हैं उनके पर पांच पर्सेंट टैक्स लग रहा है इसके अलावा जो सिंथेटिक चीजें हैं उन पर भी टैक्स स्लैब जो रखी गई है वह 5:00 पर्सेंट रखी गई है थैंक यू

textile ki alag alag saamaan par alag alag tax rate kis liye lagayi gayi hai agar aapko bataun jute ka utpadan aur hamare desh mein kaafi zyada hota hai aur jhuth ko badhawa dene ke liye aur zero percent ka tax lagaya gaya hai iske alava agar kapdo ki baat ki jaaye jo hand made ya hand craft ki cheezen hain aur mehengi unke upar 18 percent gst lag raha hai aur jo hazaar rupaye se kam ki cheez hain unke par paanch percent tax lag raha hai iske alava jo synthetic cheezen hain un par bhi tax slab jo rakhi gayi hai vaah 5 00 percent rakhi gayi hai thank you

टेक्सटाइल की अलग-अलग सामान पर अलग-अलग टैक्स रेट किस लिए लगाई गई है अगर आपको बताऊं जूट का उ

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  143
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Vatsal

Engineering Student

0:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

टेक्सटाइल के सामान में यदि मैं सैनिक हो और झूठ की बात करूं दूसरी को झूठ में कोई भी जीएसटी नहीं लग रहा है इस समय और कॉटन के प्रोडक्ट में यह फाइबर के जो भी चीज है उसमें 5 परसेंट लग रहा है हजार रुपए से कम की खरीद पर कोई जीएसटी नहीं है समय और उसके बाद जो मैं 90% अधिक पाई = 18 परसेंट

textile ke saamaan mein yadi main sainik ho aur jhuth ki baat karu dusri ko jhuth mein koi bhi gst nahi lag raha hai is samay aur cotton ke product mein yah fiber ke jo bhi cheez hai usme 5 percent lag raha hai hazaar rupaye se kam ki kharid par koi gst nahi hai samay aur uske baad jo main 90 adhik payi 18 percent

टेक्सटाइल के सामान में यदि मैं सैनिक हो और झूठ की बात करूं दूसरी को झूठ में कोई भी जीएसटी

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  202
WhatsApp_icon
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां देखे हैं ना केंद्र सरकार ने जो है वह तय किया है कि जो दिल को लूट के कपड़े होते हैं जितने भी उन पर जो है वह कोई भी टैक्स नहीं लगेगा जितने भी कपड़े हजार रुपए से कम की कीमत टैक्स लगेगा और जितने भी कॉटन हैं उन पर जो है उन पर भी 5% ही टैक्स लगे उनकी कीमत कितनी भी हो और जो सिंथेटिक और मैन मेड फाइबर होते हैं जो 18% तक का टैक्स लगेगा

haan dekhe hain na kendra sarkar ne jo hai vaah tay kiya hai ki jo dil ko loot ke kapde hote hain jitne bhi un par jo hai vaah koi bhi tax nahi lagega jitne bhi kapde hazaar rupaye se kam ki kimat tax lagega aur jitne bhi cotton hain un par jo hai un par bhi 5 hi tax lage unki kimat kitni bhi ho aur jo synthetic aur man made fiber hote hain jo 18 tak ka tax lagega

हां देखे हैं ना केंद्र सरकार ने जो है वह तय किया है कि जो दिल को लूट के कपड़े होते हैं जित

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  133
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

DJ टेक्सटाइल के सामान के ऊपर अलग-अलग तरह के टैक्स स्लैब लगाई गई है जिसमें सिल्क और झूठ की चीजों के ऊपर सिर्फ 0% टाइट जाने की कोई भी टैक्स नहीं लगेगा उन चीजों पर उसके अलावा को टर्न ऑन नेचुरल फाइबर से आने की जो ऑर्गेनिक्स फैब्रिक है ऑर्गेनिक फाइबर है उनके ऊपर पांच पर्सेंट की टेक्स्ट क्लब लगाई गई है उसके अलावा जो भी कपड़े हजार रुपए से कम की मात्रा में आते हैं उनके ऊपर भी 5:00 पर्सेंट टैक्स लाभ से लेकिन जो वह सिंथेटिक या फिर मैन मेड चीजे हैं मैन मेड फाइबर है उन पर 18 पर्सेंट जीएसटी लगाने का फैसला हुआ है

DJ textile ke saamaan ke upar alag alag tarah ke tax slab lagayi gayi hai jisme silk aur jhuth ki chijon ke upar sirf 0 tight jaane ki koi bhi tax nahi lagega un chijon par uske alava ko turn on natural fiber se aane ki jo argeniks Fabric hai organic fiber hai unke upar paanch percent ki text club lagayi gayi hai uske alava jo bhi kapde hazaar rupaye se kam ki matra mein aate hain unke upar bhi 5 00 percent tax labh se lekin jo vaah synthetic ya phir man made chije hain man made fiber hai un par 18 percent gst lagane ka faisla hua hai

DJ टेक्सटाइल के सामान के ऊपर अलग-अलग तरह के टैक्स स्लैब लगाई गई है जिसमें सिल्क और झूठ की

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  134
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!