पढ़ने में बच्चे कमज़ोर क्यों होते हैं?...


user

Purushottam Choudhary

ब्राह्मण Next IAS institute गार्ड

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसे कोई भी बच्चा पढ़ने में कभी कमजोर नहीं होता अगर उनका पेरेंट्स अनपढ़ होता है तो कमजोर होता है ऑटोमेटिक का कोई कोई अनपढ़ करंट के बच्चे भी आगे निकल जाते हैं बहुत आगे निकल जाते हैं बच्चों में ईश्वरीय आकर्षण की व्यवस्था हो नहीं तो बच्चे तो सब एक समान ही होते हैं जो जिस तरह उनके दिमाग में 10 आएंगे उसी तरह के दिमाग में उसका काम करना शुरू करता है यह हमारे और हम सब पेरेंट्स के ऊपर डिपेंड करता है कि मैं अपने बच्चों के ऊपर किस कदर ध्यान दे रहा बच्चे क्या कर रहे हैं यह माता-पिता को इसकी जानकारी होनी चाहिए यह जानकारी तभी होगा जब आप खुद शिक्षित होंगे जब आप शिक्षित नहीं होंगे तो बच्चे आपको किताब खोल कर बैठेंगे और यही गाना गुनगुना रहा है इसलिए बच्चों से सवाल जवाब करते रहे यही तरीका है उनके विषय में जानने का कि वह क्या कर रहा है किस तरह पढ़ रहा है जी हां क्योंकि हर सवालों का जवाब देने की क्या स्थिति होनी चाहिए आपके अंदर में भी है कभी किसी का बच्चा कमजोर नहीं करता ठीक है धन्यवाद

jaise koi bhi baccha padhne me kabhi kamjor nahi hota agar unka parents anpad hota hai toh kamjor hota hai Automatic ka koi koi anpad current ke bacche bhi aage nikal jaate hain bahut aage nikal jaate hain baccho me ishwariya aakarshan ki vyavastha ho nahi toh bacche toh sab ek saman hi hote hain jo jis tarah unke dimag me 10 aayenge usi tarah ke dimag me uska kaam karna shuru karta hai yah hamare aur hum sab parents ke upar depend karta hai ki main apne baccho ke upar kis kadar dhyan de raha bacche kya kar rahe hain yah mata pita ko iski jaankari honi chahiye yah jaankari tabhi hoga jab aap khud shikshit honge jab aap shikshit nahi honge toh bacche aapko kitab khol kar baitheange aur yahi gaana gunguna raha hai isliye baccho se sawaal jawab karte rahe yahi tarika hai unke vishay me jaanne ka ki vaah kya kar raha hai kis tarah padh raha hai ji haan kyonki har sawalon ka jawab dene ki kya sthiti honi chahiye aapke andar me bhi hai kabhi kisi ka baccha kamjor nahi karta theek hai dhanyavad

जैसे कोई भी बच्चा पढ़ने में कभी कमजोर नहीं होता अगर उनका पेरेंट्स अनपढ़ होता है तो कमजोर ह

Romanized Version
Likes  107  Dislikes    views  2115
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!