भारत के इतिहास में अब तक का सबसे चतुर भारतीय (वास्तविक व्यक्ति) कौन है?...


user
0:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आकाश वाले भारत इतिहास में अब तक का सबसे चतुर भारतीय कौन है दोस्तों भारत के इतिहास में अब तक सबसे चतुर व्यक्ति बीरबल था

akash waale bharat itihas me ab tak ka sabse chatur bharatiya kaun hai doston bharat ke itihas me ab tak sabse chatur vyakti birbal tha

आकाश वाले भारत इतिहास में अब तक का सबसे चतुर भारतीय कौन है दोस्तों भारत के इतिहास में अब त

Romanized Version
Likes  118  Dislikes    views  1719
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है कि भारत के इतिहास में अब तक का सबसे चतुर भारतीय कौन है तो इसका जवाब है कि पावर चतुर में तो पहला स्थान श्री कृष्ण कथा और दूसरा आसान चाणक्य जी करता है तीसरा स्थान बीरबल जी का आता है

aapka sawaal hai ki bharat ke itihas me ab tak ka sabse chatur bharatiya kaun hai toh iska jawab hai ki power chatur me toh pehla sthan shri krishna katha aur doosra aasaan chanakya ji karta hai teesra sthan birbal ji ka aata hai

आपका सवाल है कि भारत के इतिहास में अब तक का सबसे चतुर भारतीय कौन है तो इसका जवाब है कि पाव

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  144
WhatsApp_icon
user

Ishita Seth

Obstinate Programmer

1:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे हिसाब से अगर देखा जाए तो भारत के इतिहास में अब तक का सबसे चतुर भारतीय चाणक्य जी थे l उन्हें यह पर उन्हें यह पद, उन्हें यह ख़िताब चतुर होने का और जब तब मिला जब चंद्रगुप्त मौर्य रुल कर रहे थे l तो उन्हें इतनी इंपॉर्टेंटस इतना तभी हो पाया जब वह नोटिस पर सभी उपाय सब चंद्रगुप्त मौर्य रुल कर रहे थे जो एक बहुत ही ज्यादा कुशल किंग बन पाए और सिर्फ और सिर्फ चाणक्य जी के इन्फ्लुएंस के कारण l चाणक्य जी ने जाने किसी ने उन्हें अपने जो किंग बनने के लिए चंद्रगुप्त मौर्य जी को राजा बनने के लिए और राजा बनके उनके सामने तो हर एक सिचुएसंस आ रही थी उन्होंने उनकी जो उन्होंने जो प्रॉब्लम सॉल्व किया l अपनी प्रजा की वह बहुत ही ज्यादा चाणक्य जी के इन्फ्लुएंस के अंदर आकर की है जिनको कौटिल्य या विष्णु गुप्ता ने कहा जाता है l और तो और देखा जाये तो चाणक्य जी ने अपनी चतुर दिमाग से पॉलिटिक्स और इकोनॉमिक्स के ऊपर बुक्स भी लिखी है और यह दोनों सब्जेक्ट पढ़ाते हुए थे l और जो यूनिवर्सिटीज में जो भी बहुत ज्यादा पहले इंडिया के सबसे बहुत ज्यादा पुरानी हो पहले यूनिवर्सिटी थी तक्षशिला में और ऊपर से अगर हम देखते हैं तो एक और चीज की जो चाणक्यगिरी है वह अब तक इस्तेमाल की जा रही है l तो इसे देखा जाता चाणक्य ने बहुत ही ज्यादा चतुर और बहुत ही ज्यादा इंटेलिजेंट व्यक्ति थे l

mere hisab se agar dekha jaaye toh bharat ke itihas mein ab tak ka sabse chatur bharatiya chanakya ji the l unhe yah par unhe yah pad unhe yah khitab chatur hone ka aur jab tab mila jab chandragupta maurya rule kar rahe the l toh unhe itni impartentas itna tabhi ho paya jab vaah notice par sabhi upay sab chandragupta maurya rule kar rahe the jo ek bahut hi zyada kushal king ban paye aur sirf aur sirf chanakya ji ke influens ke karan l chanakya ji ne jaane kisi ne unhe apne jo king banne ke liye chandragupta maurya ji ko raja banne ke liye aur raja banke unke saamne toh har ek sichuesans aa rahi thi unhone unki jo unhone jo problem solve kiya l apni praja ki vaah bahut hi zyada chanakya ji ke influens ke andar aakar ki hai jinako kautilya ya vishnu gupta ne kaha jata hai l aur toh aur dekha jaye toh chanakya ji ne apni chatur dimag se politics aur economics ke upar books bhi likhi hai aur yah dono subject padhate hue the l aur jo universities mein jo bhi bahut zyada pehle india ke sabse bahut zyada purani ho pehle university thi takshashila mein aur upar se agar hum dekhte hain toh ek aur cheez ki jo chanakyagiri hai vaah ab tak istemal ki ja rahi hai l toh ise dekha jata chanakya ne bahut hi zyada chatur aur bahut hi zyada Intelligent vyakti the l

मेरे हिसाब से अगर देखा जाए तो भारत के इतिहास में अब तक का सबसे चतुर भारतीय चाणक्य जी थे l

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  296
WhatsApp_icon
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आधी कि अगर हमें भारत में अब तक का सबसे चतुर भरते हो या फिर हम वास्तविक व्यक्ति अगर हमें कहना है तो मेरे हिसाब से वह हो और कश्मीर आवा ही होगी आपकी आयु 11 साल की भारतीय लड़की है जो कि UK में रहती है वह एक आई क्यू टेस्ट में जो है 162 भाग लेकर आई है और यह 162 मांगती बताते हैं कि आज सबसे चतुर भारतीय क्योंकि इतना स्कूल से 1 साल पढ़ाई से मुक्ति के लोगों को भी नहीं मिला है और कितनी खुद माना जाता है कि किसानों की मदद से दोनों का एक ही तरीका है और कश्मीर जो कि एक आईटी मैनेजमेंट कंसल्टेंसी प्रक्रिया मां का नाका बरौनी 162 मिला है तो मेरे हिसाब से यह जो है सबसे चतुर होने का एक निशानी ऐसे भाई कश्मीर जो है वह दुनिया की सबसे चतुर व्यक्ति को एक प्रशन के लिस्ट में भी आ चुकी है तो मेरे हिसाब से नाम भारत के इतिहास में अब तक का सबसे चतुर व्यक्ति वास्तविक व्यक्ति जो होगा वो काठियावाड़ी होगी

aadhi ki agar hamein bharat mein ab tak ka sabse chatur bharte ho ya phir hum vastavik vyakti agar hamein kehna hai toh mere hisab se vaah ho aur kashmir ava hi hogi aapki aayu 11 saal ki bharatiya ladki hai jo ki UK mein rehti hai vaah ek I kyu test mein jo hai 162 bhag lekar I hai aur yah 162 mangati batatey hai ki aaj sabse chatur bharatiya kyonki itna school se 1 saal padhai se mukti ke logo ko bhi nahi mila hai aur kitni khud mana jata hai ki kisano ki madad se dono ka ek hi tarika hai aur kashmir jo ki ek it management consultancy prakriya maa ka naka barauni 162 mila hai toh mere hisab se yah jo hai sabse chatur hone ka ek nishani aise bhai kashmir jo hai vaah duniya ki sabse chatur vyakti ko ek prashn ke list mein bhi aa chuki hai toh mere hisab se naam bharat ke itihas mein ab tak ka sabse chatur vyakti vastavik vyakti jo hoga vo kathiyavadi hogi

आधी कि अगर हमें भारत में अब तक का सबसे चतुर भरते हो या फिर हम वास्तविक व्यक्ति अगर हमें कह

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  161
WhatsApp_icon
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

1:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर हम इतिहास के सबसे चतुर व्यक्ति की बात करें तो मैं आचार्य चाणक्य को सबसे चतुर व्यक्ति कहना चाहूंगी आपसे करीब 24 वर्ष पहले पैदा हुए आचार्य चाणक्य भारतीय राजनीति में अर्थशास्त्र के प्रथम विचारक माने जाते हैं नंद वंश का खात्मा अपने शिष्य चंद्रगुप्त मौर्य को राजा बनाने में उनका अत्यधिक योगदान था वह राजनीति के चतुर खिलाड़ी है उन्होंने अपनी क्षमता व वैधता के बल पर भारतीय इतिहास की धारा को बदल दिया कितनी सदियां बीतने के बाद भी आचार्य चाणक्य द्वारा बनाए गए सिद्धांत और नियम प्रासंगिक लगते हैं क्योंकि उन्होंने अपने गहन अध्ययन चिंतन और जीवन के अनुभवों से अर्जित अमूल्य ज्ञान को पूरी तरह से निस्वार्थ होकर माननीय कल्याण के उद्देश्य से प्रस्तुत किया था वर्तमान समय में भी सामाजिक संरचना भूमंडलीकरण अर्थव्यवस्था और शाह प्रशासन को सुचारु रुप से चलाने के लिए उनके सिद्धांत व नीतियां कारगर सिद्ध हो सकते हैं उनकी सीखी कि दूसरों को सुधारने के बजाय खुद को सुधारो स्थित अपने कार्य में अवश्य विजय पाओगे दुनिया को नसीहत देने वाला कुछ नहीं कर सकता है परंतु स्वयं उसका पालन करने वाला कामयाबी की ऊंचाइयों तक जरूर पहुंच जाता है

agar hum itihas ke sabse chatur vyakti ki baat kare toh main aacharya chanakya ko sabse chatur vyakti kehna chahungi aapse kareeb 24 varsh pehle paida hue aacharya chanakya bharatiya raajneeti mein arthashastra ke pratham vicharak maane jaate hain nand vansh ka khatma apne shishya chandragupta maurya ko raja banane mein unka atyadhik yogdan tha vaah raajneeti ke chatur khiladi hai unhone apni kshamta va vaidhata ke bal par bharatiya itihas ki dhara ko badal diya kitni sadiyan beetane ke baad bhi aacharya chanakya dwara banaye gaye siddhant aur niyam prasangik lagte hain kyonki unhone apne gahan adhyayan chintan aur jeevan ke anubhavon se arjit amuly gyaan ko puri tarah se niswarth hokar mananiya kalyan ke uddeshya se prastut kiya tha vartaman samay mein bhi samajik sanrachna bhoomandalikaran arthavyavastha aur shah prashasan ko suruchi roop se chalane ke liye unke siddhant va nitiyan kargar siddh ho sakte hain unki sikhi ki dusro ko sudhaarne ke bajay khud ko sudharo sthit apne karya mein avashya vijay paoge duniya ko nasihat dene vala kuch nahi kar sakta hai parantu swayam uska palan karne vala kamyabi ki unchaiyon tak zaroor pohch jata hai

अगर हम इतिहास के सबसे चतुर व्यक्ति की बात करें तो मैं आचार्य चाणक्य को सबसे चतुर व्यक्ति क

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  161
WhatsApp_icon
play
user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:14

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे हिसाब से भारत के इतिहास में सबसे पहले चतुर भारतीय तो कृष्ण जी रहेंगे क्योंकि हम मानते हैं कि उनके अंदर छत्तीसगढ़ हुआ करते थे और वह किसी भी तरह चाहे वह चालू हो जाए वह सच में चाहे वो झूठे किसी भी तरह किसी भी इंसान को मनाना है उसका स्वभाव बदलने की शक्ति रखते थे उसके बाद जो जो दूसरे व्यक्ति इतिहास में थोड़ा आगे आकर हम देखेंगे तो वह चाणक्य रहेंगे वह इसलिए क्योंकि हम सभी जानते हैं कि चाणक्य बहुत ही बुद्धिमान और बहुत ही चतुर इंसान हुआ करते थे और उनकी चाणक्य नीति को आज तक लोग मानते चले आए हैं और उनकी चाणक्य नीति एक ऐसी नहीं थी थी जिससे इंसान बहुत ही आसानी से सफल हो सकता है अपनी जिंदगी में और उसको अगर वह माने तो वह कुछ भी कर सकता है अपनी जिंदगी में उसके बाद अगर मैं आज के इंसानों की बात करें तो आज के इंसान में सबसे अच्छा दोस्त लेकिन वह गलत तरीके से मैं कहूंगी तो वह सोनिया गांधी को कह सकते हैं वह इसलिए क्योंकि वह एक बाहर की महिला होने के बावजूद भी उन्होंने हमारी भारत की राजनीति राजनीति को इतना उलटफेर किया है कितने सालों तक हमारे देश में कांग्रेस की सरकार रही उन्होंने जो चाहा वह करवाया वह बाहर की थी परंतु उन्होंने पूरे देश को चलाने में कोई भी हाथ पीछे नहीं रखा है

mere hisab se bharat ke itihas mein sabse pehle chatur bharatiya toh krishna ji rahenge kyonki hum maante hain ki unke andar chattisgarh hua karte the aur vaah kisi bhi tarah chahen vaah chaalu ho jaaye vaah sach mein chahen vo jhuthe kisi bhi tarah kisi bhi insaan ko manana hai uska swabhav badalne ki shakti rakhte the uske baad jo jo dusre vyakti itihas mein thoda aage aakar hum dekhenge toh vaah chanakya rahenge vaah isliye kyonki hum sabhi jante hain ki chanakya bahut hi buddhiman aur bahut hi chatur insaan hua karte the aur unki chanakya niti ko aaj tak log maante chale aaye hain aur unki chanakya niti ek aisi nahi thi thi jisse insaan bahut hi aasani se safal ho sakta hai apni zindagi mein aur usko agar vaah maane toh vaah kuch bhi kar sakta hai apni zindagi mein uske baad agar main aaj ke insano ki baat kare toh aaj ke insaan mein sabse accha dost lekin vaah galat tarike se main kahungi toh vaah sonia gandhi ko keh sakte hain vaah isliye kyonki vaah ek bahar ki mahila hone ke bawajud bhi unhone hamari bharat ki raajneeti raajneeti ko itna ulatafer kiya hai kitne salon tak hamare desh mein congress ki sarkar rahi unhone jo chaha vaah karvaya vaah bahar ki thi parantu unhone poore desh ko chalane mein koi bhi hath peeche nahi rakha hai

मेरे हिसाब से भारत के इतिहास में सबसे पहले चतुर भारतीय तो कृष्ण जी रहेंगे क्योंकि हम मानते

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  145
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
भारत का सबसे महान व्यक्ति कौन है ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!