क्या भारत का संविधान केवल नाम मात्र ही रह गया है?...


user

Ansh jalandra

Motivational speaker

0:28
Play

Likes  113  Dislikes    views  1757
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Ghanshyam Mehar

Indian Politician

0:21

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

संविधान तो खुद तो कुछ कर नहीं सकता खुद तो चल नहीं सकता वह तो एक पुस्तक में पवित्र संविधान उसको चलाने की सरकार करती है और सरकार की मंशा उसके अनुसार चला में चर्चित सरकार तो उसके विपरीत चल पड़ा तो अपनी मनमर्जी से चलती है संविधान की मर्जी से नहीं चलती

samvidhan toh khud toh kuch kar nahi sakta khud toh chal nahi sakta wah toh ek pustak mein pavitra samvidhan usko chalane ki sarkar karti hai aur sarkar ki mansha uske anusaar chala mein charchit sarkar toh uske viprit chal pada toh apni manmarzi se chalti hai samvidhan ki marji se nahi chalti

संविधान तो खुद तो कुछ कर नहीं सकता खुद तो चल नहीं सकता वह तो एक पुस्तक में पवित्र संविधान

Romanized Version
Likes  62  Dislikes    views  725
WhatsApp_icon
user

Girish Soni

Indian Politician

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

संविधान को लागू नहीं किया जा रहा संविधान पर गौर नहीं किया जा रहा संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही है लोकतंत्र का मजाक उड़ने लगा है अब ऐसा लगा लोकतंत्र है ही नहीं जब जिस देश के अंदर आप देखिए अगर जो मीडिया अगर उसका काम करें एक नेता के स्पेशल उसी के बारे में बताएं तो आप समझ सकते हैं कि मुताबिक तरह से लोकतंत्र स्वतंत्र पत्रकारिता नहीं है इस देश में

samvidhan ko laagu nahi kiya ja raha samvidhan par gaur nahi kiya ja raha samvidhan ki dhajjiya udai ja rahi hai loktantra ka mazak udane laga hai ab aisa laga loktantra hai hi nahi jab jis desh ke andar aap dekhiye agar jo media agar uska kare ek neta ke special usi ke bare mein bataye toh aap samajh sakte hain ki mutabik tarah se loktantra swatantra patrakarita nahi hai is desh mein

संविधान को लागू नहीं किया जा रहा संविधान पर गौर नहीं किया जा रहा संविधान की धज्जियां उड़ाई

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  417
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है क्या भारत का संविधान केवल नाम मात्र ही रह गया है मैं आपको बताना चाहता हूं कांग्रेस पार्टी अगर सत्ता में रहती तो हमारा संविधान खत्म हो जाता हमारा लोकतंत्र खत्म हो जाता है लेकिन भारतीय जनता पार्टी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी मंत्र को मंदिर मानते हैं सवा सौ करोड़ देशवासियों का वह मंदिर है मोदी जी सवा सौ करोड़ देशवासियों का सर झुकने नहीं देते हैं तो हम सवा सौ करोड़ देशवासियों को भी सोचना चाहिए उनका सर 2019 के चुनाव में नाचू के उनको अपना वोट हमें देना पड़ेगा तभी हमारा देश आगे बढ़ेगा देखिए कांग्रेस पार्टी के शासनकाल में आतंकवादी बॉर्डर से अंदर आते थे अब सोए हुए हमारे आर्मी के जवानों के ऊपर बम फेंक कर चले जाते थे बहुत सारे हमले हुए लेकिन प्रधानमंत्री जी के कार्यकाल में पाकिस्तान को जवाब मिला उसके घर में घुसकर हम लोग मारे और वापस चले भी आए तो बीजेपी और कांग्रेस में बहुत अंतर है जमीन आसमान का अंतर है बीजेपी की विचारधारा है जो लोग कभी पोस्टर लगाते हैं बूथ लेवल पर काम करते हैं वह लोग उनको राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया जाता है और एक दिन वह सांसद सांसद के भी लायक होते हैं उसका भी पर्चा भरा जाता है उनका गरीब लोग अगर आगे बढ़ते हैं तो बीजेपी के पार्टी में आता है कांग्रेस की पार्टी में तो परिवारवाद की राजनीति है जातिवाद की राजनीति है जो परिवारवाद की राजनीति करनी थी तो राजा महाराजा क्यों बुरे थे कम से कम 1 लोगों की जवाबदेही तो हो तो वह करती थी लेकिन कांग्रेस पार्टी में अभी भी राजीव गांधी प्रधानमंत्री थे तो उनका बेटा राहुल गांधी भी प्रधानमंत्री बनेगा बताइए परिवारवाद की राजनीति वाले क्या कर पाएंगे कुछ कर पाए में कुछ कर पाएंगे नहीं कर पाएंगे आइए अपना वोट भारतीय जनता पार्टी को करें ताकि देश तरक्की कर सके धन्यवाद

aapka sawaal hai kya bharat ka samvidhan keval naam matra hi reh gaya hai aapko bataana chahta hoon congress party agar satta mein rehti toh hamara samvidhan khatam ho jata hamara loktantra khatam ho jata hai lekin bharatiya janta party pradhanmantri shri narendra modi ji mantra ko mandir maante hain sava sau crore deshvasiyon ka vaah mandir hai modi ji sava sau crore deshvasiyon ka sir jhukane nahi dete hain toh hum sava sau crore deshvasiyon ko bhi sochna chahiye unka sir 2019 ke chunav mein nachu ke unko apna vote hamein dena padega tabhi hamara desh aage badhega dekhiye congress party ke shasankal mein aatankwadi border se andar aate the ab soye hue hamare army ke jawano ke upar bomb fenk kar chale jaate the bahut saare hamle hue lekin pradhanmantri ji ke karyakal mein pakistan ko jawab mila uske ghar mein ghuskar hum log maare aur wapas chale bhi aaye toh bjp aur congress mein bahut antar hai jameen aasman ka antar hai bjp ki vichardhara hai jo log kabhi poster lagate hain booth level par kaam karte hain vaah log unko rashtriya adhyaksh banaya jata hai aur ek din vaah saansad saansad ke bhi layak hote hain uska bhi parcha bhara jata hai unka garib log agar aage badhte hain toh bjp ke party mein aata hai congress ki party mein toh parivaarvaad ki raajneeti hai jaatiwad ki raajneeti hai jo parivaarvaad ki raajneeti karni thi toh raja maharaja kyon bure the kam se kam 1 logo ki javabdehi toh ho toh vaah karti thi lekin congress party mein abhi bhi rajeev gandhi pradhanmantri the toh unka beta rahul gandhi bhi pradhanmantri banega bataye parivaarvaad ki raajneeti waale kya kar payenge kuch kar paye mein kuch kar payenge nahi kar payenge aaiye apna vote bharatiya janta party ko kare taki desh tarakki kar sake dhanyavad

आपका सवाल है क्या भारत का संविधान केवल नाम मात्र ही रह गया है मैं आपको बताना चाहता हूं कां

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  379
WhatsApp_icon
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी दोस्त मुझे नहीं लगता कि हमारे देश को समझना इतना कमजोर है कि जो एक नाम मात्र का बन के रह गया है संविधान में समय समय पर चेंज होना जरूरी है अब हमें भी चाहिए मुझे लगता है क्योंकि जिस तरह से हमारे समाज चेंज सोसाइटी चेंज हो रही है मॉडल नहीं आ रही है तो मुझे लगता है चीन भी होना चाहिए क्योंकि जब संविधान बनाया गया तो सब परिस्थितियां लगती आज परिस्थितियों लगे बिल्कुल संविधान का सम्मान होना चाहिए संविधान का फोटो भी हुआ है हमारा सुप्रीम कोर्ट संविधान की रक्षा के लिए कोई व्यक्ति संविधान के विरुद्ध कार्य करता है तो उसको सजा दी जाती है तो मुझे नहीं होता हमारे देश के संविधान इतना कमजोर है कि जो नाम मत रह गया है

vicky dost mujhe nahi lagta ki hamare desh ko samajhna itna kamjor hai ki jo ek naam matra ka ban ke reh gaya hai samvidhan mein samay samay par change hona zaroori hai ab hamein bhi chahiye mujhe lagta hai kyonki jis tarah se hamare samaj change society change ho rahi hai model nahi aa rahi hai toh mujhe lagta hai china bhi hona chahiye kyonki jab samvidhan banaya gaya toh sab paristhiyaann lagti aaj paristhitiyon lage bilkul samvidhan ka sammaan hona chahiye samvidhan ka photo bhi hua hai hamara supreme court samvidhan ki raksha ke liye koi vyakti samvidhan ke viruddh karya karta hai toh usko saza di jaati hai toh mujhe nahi hota hamare desh ke samvidhan itna kamjor hai ki jo naam mat reh gaya hai

विकी दोस्त मुझे नहीं लगता कि हमारे देश को समझना इतना कमजोर है कि जो एक नाम मात्र का बन के

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  149
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!