कन्हैया कुमार के राजनैतिक विचार कहाँ तक सही हैं?...


play
user

साकेत कुमार

Senior Software Developer

3:54

Likes  441  Dislikes    views  6955
WhatsApp_icon
8 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Girish Soni

Indian Politician

0:60
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए जो जहां तक सवाल है नेताओं को पेंशन का है क्योंकि अगर वह एक पद पर चुनकर आ चुका है अगर वह कुछ कर चुका है तो वह अपनी कुछ चीजें छोड़ चुका होता है हमसे दूर हो चुका होता है उसमें लग चुका होता है उसके लिए फंक्शन चाहिए 5 साल लेता रहता है पापा के पास में आ गया क्या अपने अपने बच्चे सेटल कर ली है वह सोचता के मेरे को जो मिलेगा जो सरकार मुझे टेंशन में क्यों की मैंने भी 5 साल सेवा किसके पक्ष में हूं थोड़ा बहुत कुछ मिलना चाहिए ताकि वह समाज के लिए ही काम कर रहा है उसके बाद यह आर्मी जाता है नहीं भी होता है तो वह समाज के लिए काम ही करता है

dekhiye jo jaha tak sawaal hai netaon ko pension ka hai kyonki agar vaah ek pad par chunkar aa chuka hai agar vaah kuch kar chuka hai toh vaah apni kuch cheezen chod chuka hota hai humse dur ho chuka hota hai usme lag chuka hota hai uske liye function chahiye 5 saal leta rehta hai papa ke paas mein aa gaya kya apne apne bacche settle kar li hai vaah sochta ke mere ko jo milega jo sarkar mujhe tension mein kyon ki maine bhi 5 saal seva kiske paksh mein hoon thoda bahut kuch milna chahiye taki vaah samaj ke liye hi kaam kar raha hai uske baad yah army jata hai nahi bhi hota hai toh vaah samaj ke liye kaam hi karta hai

देखिए जो जहां तक सवाल है नेताओं को पेंशन का है क्योंकि अगर वह एक पद पर चुनकर आ चुका है अगर

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  560
WhatsApp_icon
user
0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कन्हैया कुमार का विचार से मैं बिल्कुल सहमत नहीं हूं ठीक है इसलिए सहमत नहीं हूं देश के डेवलपमेंट में के लिए वह आदमी सोच नहीं सकता कि कन्हैया के बारे में बहुत ज्यादा कमाई

kanhaiya kumar ka vichar se main bilkul sahmat nahi hoon theek hai isliye sahmat nahi hoon desh ke development mein ke liye wah aadmi soch nahi sakta ki kanhaiya ke bare mein bahut zyada kamai

कन्हैया कुमार का विचार से मैं बिल्कुल सहमत नहीं हूं ठीक है इसलिए सहमत नहीं हूं देश के डेवल

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  259
WhatsApp_icon
user

Ghanshyam Mehar

Indian Politician

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कन्हैया कुमार के विचार चाहिए सपना की रागनी देश को ईमानदार और अच्छे स्तर के नेताओं की

kanhaiya kumar ke vichar chahiye sapna ki ragni desh ko imaandaar aur acche sthar ke netaon ki

कन्हैया कुमार के विचार चाहिए सपना की रागनी देश को ईमानदार और अच्छे स्तर के नेताओं की

Romanized Version
Likes  76  Dislikes    views  949
WhatsApp_icon
user

Manoj Verma

Senior Journalist

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यूरोपीय देश में रहकर भी हमारी संस्कृति हमारे देश के बारे में देश के अंदर के दूसरे देश के बारे में उन्होंने कहा कि

european desh mein rahkar bhi hamari sanskriti hamare desh ke bare mein desh ke andar ke dusre desh ke bare mein unhone kaha ki

यूरोपीय देश में रहकर भी हमारी संस्कृति हमारे देश के बारे में देश के अंदर के दूसरे देश के ब

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  247
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

1:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कन्हैया कुमार का राजनीतिक विचार कहीं तक भी सही नहीं है इसका कोई विचार ही नहीं है जो इंसान पाकिस्तान जिंदाबाद और हिंदुस्तान मुर्दाबाद का नारा लगाता है उसका सपोर्ट करता है जो कम्युनिस्ट विचारधारा का है तो ऐसे लोगों की विचारधारा को हम विचार मानते ही नहीं है आप कहेंगे कि लालू मुलायम तेज प्रताप यादव यह लोग नेता हैं यह लोग नेता में इनको नेता मानता नहीं हूं मैं लालू को मुलायम को तेज प्रताप यादव को श्रीमती मायावती जी को जो कि चिट्ठी में देखकर पड़ती है अगर कक्षा 4 के बच्चे को उनके जगह मुख्यमंत्री बना दिया जाए तो वह भी उनसे अच्छा बोलेगा इन सभी लोगों को मैं नेता नहीं मानता हूं अन्ना मानूंगा कभी पूरे देश की जनता आज इनको नेता नहीं मानती है क्योंकि उन्होंने हमेशा भ्रष्टाचार की राजनीति की है हमारे देश में हमेशा गलत काम किया है बुराइयों को बढ़ावा दिया है शिक्षा व्यवस्था बहुत सारी टीटू में इनके माध्यम से खराब हुआ है जिसके माध्यम से आज बेरोजगारी है तो यह सारे लोग अच्छे नेता नहीं है आज हमारा देश जागरुक हो चुका है अगर हमारे देश हित के लिए कोई कार्य करता है तू एक ऐसी पार्टी है वह भारतीय जनता पार्टी भारतीय जनता पार्टी ही देश हित के लिए कार्य करती है देश के बारे में सोचती है देश के विकास के बारे में सोचती है भ्रमित होने की जरूरत नहीं है 15203 बाद चुनाव है लोकसभा का हमें अपना ध्यान सिर्फ कमल के फूल पर ध्यान देना होगा और अपने परिवार के सभी लोगों को मोटिवेट करना होगा ताकि उनका महत्वपूर्ण वोट भारतीय जनता पार्टी को जाए और हमारा देश आने वाले टाइम में दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश बन सके और इन गद्दारों को फांसी पर लटकाया जा सके धन्यवाद

kanhaiya kumar ka raajnitik vichar kahin tak bhi sahi nahi hai iska koi vichar hi nahi hai jo insaan pakistan zindabad aur Hindustan murdabad ka naara lagaata hai uska support karta hai jo communist vichardhara ka hai toh aise logo ki vichardhara ko hum vichar maante hi nahi hai aap kahenge ki lalu mulayam tez pratap yadav yah log neta hain yah log neta mein inko neta manata nahi hoon main lalu ko mulayam ko tez pratap yadav ko shrimati mayawati ji ko jo ki chitthi mein dekhkar padti hai agar kaksha 4 ke bacche ko unke jagah mukhyamantri bana diya jaaye toh vaah bhi unse accha bolega in sabhi logo ko main neta nahi manata hoon anna manunga kabhi poore desh ki janta aaj inko neta nahi maanati hai kyonki unhone hamesha bhrashtachar ki raajneeti ki hai hamare desh mein hamesha galat kaam kiya hai buraiyon ko badhawa diya hai shiksha vyavastha bahut saree titu mein inke madhyam se kharab hua hai jiske madhyam se aaj berojgari hai toh yah saare log acche neta nahi hai aaj hamara desh jagruk ho chuka hai agar hamare desh hit ke liye koi karya karta hai tu ek aisi party hai vaah bharatiya janta party bharatiya janta party hi desh hit ke liye karya karti hai desh ke bare mein sochti hai desh ke vikas ke bare mein sochti hai bharmit hone ki zarurat nahi hai 15203 baad chunav hai lok sabha ka hamein apna dhyan sirf kamal ke fool par dhyan dena hoga aur apne parivar ke sabhi logo ko motivate karna hoga taki unka mahatvapurna vote bharatiya janta party ko jaaye aur hamara desh aane waale time mein duniya ka sabse shaktishali desh ban sake aur in gaddaaron ko fansi par latkaaya ja sake dhanyavad

कन्हैया कुमार का राजनीतिक विचार कहीं तक भी सही नहीं है इसका कोई विचार ही नहीं है जो इंसान

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  428
WhatsApp_icon
user
0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं कन्हैया कुमार के भूत पसंद करता हूं क्योंकि वह जो भी बात करता है गंदा बुद्धि की बातें करते हैं इस समाज से कृतियों के कुछ करने की लालसा जिज्ञासा कुछ मुझे लगता है कि कुछ करेगा समझ के लिए कन्हैया कुमार के राजनीतिक जीवन है और उसे राजनीति के बारे में बहुत वह जाने किस विद्यालय में पढ़े और उसके पास नॉलेज ओं का भंडार है वह अपने देश के लिए कुछ करेगा विकास बहुत आएगा

main kanhaiya kumar ke bhoot pasand karta hoon kyonki vaah jo bhi baat karta hai ganda buddhi ki batein karte hain is samaj se kritiyon ke kuch karne ki lalasa jigyasa kuch mujhe lagta hai ki kuch karega samajh ke liye kanhaiya kumar ke raajnitik jeevan hai aur use raajneeti ke bare mein bahut vaah jaane kis vidyalaya mein padhe aur uske paas knowledge on ka bhandar hai vaah apne desh ke liye kuch karega vikas bahut aayega

मैं कन्हैया कुमार के भूत पसंद करता हूं क्योंकि वह जो भी बात करता है गंदा बुद्धि की बातें क

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  351
WhatsApp_icon
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मुझे लगता है कन्हैया कुमार हुए या कन्याकुमारी ऐसे व्यक्ति हुए उनका भारतवर्ष के अंदर जन्म लेना ही एक अभिशाप है क्योंकि यह वह लोग हैं जो देश को बर्बाद करने के सपने देखते देश को बांटने के सपने देखें जिस तरह जिन्होंने जेएनयू के अंदर नारे लगाए भारत तेरे टुकड़े होंगे इंशाल्लाह इंशाल्लाह तुम तुम कितने अफजल मारोगे हर घर से अफजल निकलेंगे तो इस तरह के नारे लगाने वाले इस तरह से देश को तोड़ने की बात करने वाले कभी देश के साथ नहीं हो सकते मुझे लगता है कि जनता इस चीज को देखती है और इनका सही वक्त आने पर इन लोगों को जरुर सबक सिखाएगी हमारे देश में सबसे बड़ी दिक्कत है क्या राइट टू फ्रीडम मिला हुआ है राइट टू फ्रीडम आर्टिकल 33 के अंतर्गत महिला को लेकिन हर व्यक्ति इसका मिस यूज करना चाहता है इतनी स्वतंत्र हमारे देश में राइट टू फ्रीडम का मतलब यह नहीं है राइट टू स्पीच का मतलब यह नहीं है कि आप कुछ भी बोलते रहो किसी व्यक्ति की इमेज धूमिल कर दो जिस तरह से हमारे सम्मानित प्रधानमंत्री के बारे में बहुत सारे लीडर अपशब्द बोल दिया जाता मुझे लगता बिल्कुल एक सभ्य समाज में कहीं एडजस्ट नहीं करते इन लोगों को सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए ताकि एक सबक ग्रेड किया जा सके और ऐसे लोग जो इस तरह के काम में लिप्त होने को सख्त से सख्त सजा दी जाए

dekhiye mujhe lagta hai kanhaiya kumar hue ya kanyakumari aise vyakti hue unka bharatvarsh ke andar janam lena hi ek abhishap hai kyonki yah vaah log hai jo desh ko barbad karne ke sapne dekhte desh ko baantne ke sapne dekhen jis tarah jinhone jnu ke andar nare lagaye bharat tere tukde honge inshallah inshallah tum tum kitne afzal maroge har ghar se afzal nikalenge toh is tarah ke nare lagane waale is tarah se desh ko todne ki baat karne waale kabhi desh ke saath nahi ho sakte mujhe lagta hai ki janta is cheez ko dekhti hai aur inka sahi waqt aane par in logo ko zaroor sabak sikhaegi hamare desh mein sabse baadi dikkat hai kya right to freedom mila hua hai right to freedom article 33 ke antargat mahila ko lekin har vyakti iska miss use karna chahta hai itni swatantra hamare desh mein right to freedom ka matlab yah nahi hai right to speech ka matlab yah nahi hai ki aap kuch bhi bolte raho kisi vyakti ki image dhumil kar do jis tarah se hamare sammanit pradhanmantri ke bare mein bahut saare leader apashabd bol diya jata mujhe lagta bilkul ek sabhya samaj mein kahin adjust nahi karte in logo ko sakht se sakht saza milani chahiye taki ek sabak grade kiya ja sake aur aise log jo is tarah ke kaam mein lipt hone ko sakht se sakht saza di jaaye

देखिए मुझे लगता है कन्हैया कुमार हुए या कन्याकुमारी ऐसे व्यक्ति हुए उनका भारतवर्ष के अंदर

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  164
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!